health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

नाथुपर प्रधान पद के लिए 55 प्रतिशत हुआ मतदान


जौनपुर-सिरकोनी विकास खण्ड  के नाथुपुर ग्राम सभा मे प्रधान पद के लिए 55 प्रतिशत मतदान हुआ।कुल 4083 मतों में 2251 मत पड़े।

ज्ञान्त हो विगत दिनों हुए चुनाव में दुर्गावती सिंह ने चुनाव जीता था।हालांकि की मतगणना के पहले ही उनका देहांत हो गया था।इसी लिए यहां पर दुबारा चुनाव कराया गया।इस बार मैदान में 10 प्रत्याशी मैदान में थे।

इसके अलावा ब्लॉक के बीबीपुर, सुंगुलपुर, कल्याणपुर,समोपुर तथा परियावा गॉव में कुल 17 ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए भी चुनाव हुए।सभी स्थान पर चुनाव शांति पूर्ण ढंग से सम्पन्न हुआ।

मनबढ़ों ने महिला को पीटकर किया घायल


जौनपुर। जफराबाद थाना क्षेत्र के किरतापुर गांव में शनिवार को पुरानी रंजिश को लेकर मनबढ़ों ने घर पर मौजूद महिला को लाठी डंडे से पीटकर घायल कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल महिला को इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया। जानकारी के अनुसार जफराबाद थाना क्षेत्र के किरतापुर गांव के चन्द्रशेखर व सुरेंद्र यादव में काफी दिनों से जमीनी विवाद चला आ रहा है। इसी बात को लेकर शनिवार की सुबह दोनों पक्षो में गाली गलौज शुरू हो गया। उसी दौरान सुरेंद्र यादव, मनोज और विकास चन्द्रशेखर के द्वार पर पहुंचकर लाठी डंडे से हमला कर दिया जिसमें चन्द्रशेखर की पत्नी रीमा घायल हो गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल रीमा को इलाज के लिए सीएचसी भिजवाया। इस संदर्भ में थानाध्यक्ष विजय प्रताप सिंह ने बताया कि मारपीट की सूचना मिली है। 

सपा के कद्दावर नेता, पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय पारस नाथ यादव प्रथम पुण्यतिथि मनाई गई


जौनपुर-समाज वादी पार्टी के संथापक सदस्य, जिले के कद्दावर नेता , पूर्व कैबिनेट मंत्री स्वर्गीय पारस नाथ यादव की प्रथम पुण्यतिथि आज शनिवार को उनके जौनपुर नगर में स्थित पचहटिया स्थित कोल्डस्टोरेज पर मनायी गयी ।

                           जिले के मड़ियाहूं तहसील क्षेत्र के आदमपुर ( कारो ) गांव के निवासी पारस नाथ यादव पहली बार 1985 में जिले के बरसठी विधानसभा क्षेत्र से दमकिपा से विधायक चुने गए थे । उसके बाद इसी विधानसभा क्षेत्र से 1989 में जनतादल से चुनाव जीते और प्रदेश सरकार में मंत्री बने । श्री यादव बरसठी विधानसभा क्षेत्र से 1993 में समाजवादी पार्टी के टिकट पर विधायक बने मुलायम सिंह यादव की सरकार में ये कैबिनेट मंत्री बने । 1996 में इन्होंने अपना चुनाव क्षेत्र बदल कर मड़ियाहूं कर दिया और सपा से विधायक चुने गए । मड़ियाहूं से ही 2002 में पुनः सपा से विधायक बने और फिर अपना चुनाव क्षेत्र बदल कर नवगठित विधानसभा क्षेत्र मल्हनी को चुना और 2012 में वहां से विधायक बने , प्रदेश में अखिलेश यादव की सरकार में ये कैबिनेट मंत्री बने , इसके बाद 2017 में श्री यादव मल्हनी से भाजपा लहर के बावजूद फिर सपा के विधायक बने । विधायक के साथ ही साथ पारस नाथ यादव जौनपुर लोकसभा से 1998 और 2004 में समाजवादी पार्टी के सांसद भी चुने गए थे । श्री यादव सात बार विधायक , दो बार सांसद और तीन बार प्रदेश सरकार में मंत्री भी रहे हैं । श्री यादव को सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव बहुत मानते थे । जौनपुर में पार्टी को आगे बढ़ाने में श्री यादव का बहुत योगदान रहा है मुख्य रूप विधायक शैलेन्द्र यादव ,जगदीश सोनकर, जिलाअध्यक्ष लालबहादुर यादव ,पूर्व विधायक गुलाब सरोज,डां के पी यादव प्रवक्ता राहुल त्रिपाठी, आरबी यादव ,जे पी यादव उपस्थित रहे पूण्यतिथि में आये हुये सभी अतिथियों का स्व०पारसनाथ जी के  पुत्रगण विधायक लकी यादव ओम यादव वेद यादव ने आभार व्यक्त किया.

पुण्यतिथि पर याद किए गए पूर्व पालिकाध्यक्ष गिरीश


आजमगढ़। दिवंगत पूर्व पालिकाध्यक्ष गिरीश चन्द्र श्रीवास्तव की ग्यारहवीं पुण्यतिथि पर शनिवार को देर शाम स्व0 श्रीवास्तव के कुर्मीटोला स्थित पैतृक आवास पर कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुये श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया। यहां पर उपस्थित लोगों ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित करते हुये उनके व्यक्तित्व व कृतित्व पर प्रकाश डाला। श्रद्धांजलि सभा को सम्बोधित करते हुये कलाम मास्टर ने कहाकि दिवंगत पूर्व पालिकाध्यक्ष गिरीशचन्द्र श्रीवास्तव वंचित समाज के रहनुमा थे। उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकेगा। उन्होंने कहाकि यह और भी अच्छी बात रही कि खुद सेवा के रास्ते पर चलते हुये उन्होंने अपने परिवार को भी ऐसा ही संस्कार दिया। यही वजह है कि उनकी पत्नी पालिकाध्यक्ष श्रीमती शीला श्रीवास्तव और उनके पुत्र समाज सेवी प्रणीत श्रीवास्तव हनी उनके दिखाये रास्ते पर चलते हुये समर्पित भाव से समाज की सेवा के कार्य में जुटे हुये हैं। डा0 अफजल ने कहा स्व0 गिरीश के साथ उनके गहरी दोस्ती रही। वह जब भी उनसे बात करते तब उनके बातों के केन्द्र में गरीब और वंचित समाज ही होता था। वह सोचते थे कि वंचित समाज के लिये अधिक से अधिक क्या और कैसे कर दिया जाये। उन्होंने कहाकि कभी-कभी तो ऐसा भी समय आया जब कोई करीब अपने बच्चे की शिक्षा या बेटी की शादी के लिये मदद को उनके पास पहुंच गया और उनके पास मदद करने इतना धन मौजूद नहीं था ऐसी स्थिति में वह दूसरों से कर्ज लेकर उस जरूरत मंद की मदद कर देते थे और उसे एहसास तक नहीं होने देते थे। समाज के प्रति उनकी यही समर्पण भावना उनको हमेशा गिरीश के और करीब करती चली गयी। समाज सेवी शाह शमीम ने कहा कि मौजूदा राजनीति से इतर हटकर गिरीशचन्द्र श्रीवास्तव हमेशा समाज के हर तबके के लिये काम करते रहे। उन्होंने हमेशा विकास को अपना एजेण्डा बनाया। उनका यह मानना था कि यदि विकास कार्य हो जायेंगे तो आम आदमी को किसी तरह की कोई तकलीफ नहीं होगी। वह कभी भी जाति धर्म की राजनीति नहीं किये। यहां तक कि जाति धर्म की राजनीति करने वालों को अपने करीब तक नहीं भटकने दिया। ओमप्रकाश मिश्रा एडवोकेट ने कहाकि शहर के हर परिवार के साथ गिरीश चन्द्र श्रीवास्तव का पारिवारिक सम्बन्ध था। वह हर परिवार के किसी न किसी व्यक्ति को चेहरे के साथ-साथ नाम से पहचानते थे। यही वजह थी कि समूचा शहर उनको अपने परिवार का सदस्य मानता था। किसी के यहां शादी विवाह होने पर वह खुद परिवार के मुखिया के तरह से उपस्थित हो तो थे और बारात की अगवानी खुद किया करते थे। उन्होंने कहाकि गिरीश के निधन से समूचे शहर ने अपने परिवार का मुखिया खोया है। पालिकाध्यक्ष श्रीमती शीला श्रीवास्तव ने कहाकि यह तो सही है कि महिला होने की वजह से वह अपने पति जितना समाज के लिये नहीं कर पा रही हैं फिर भी उनकी यह कोशिश होती है कि वह अपने पति के दिखाये हुये रास्ते पर अधिक से अधिक चल सके। साथ ही अपने बेटे प्रणीत श्रीवास्तव हनी से वह हमेशा यह अपेक्षा करती हैं कि समाज के प्रति दायित्व निर्वहन में उनसे जो कमी रह जा रही है उसे वह पूरा करें। स्व0 गिरीशचन्द्र श्रीवास्तव के पुत्र प्रणीत श्रीवास्तव हनी ने लोगों को यह भरोसा दिलाया कि वह जीवन पर्यन्त अपने पिता की दिखाये गये आदर्शवादी रास्ते पर चलते रहेंगे। इस अवसर पर सुबह पूरे परिवार ने पौधरोपण करके भी श्रद्घांजलि दी। कार्यक्रम में शिरकत के लिये उन्होंने सभी आगतजनों के प्रति आभार ज्ञाापित किया। इस अवसर पर उपस्थित प्रमुख लोगों में राकेश श्रीवास्तव, डा0 आर एन श्रीवास्तव, किरन श्रीवास्तव, कलाम मास्टर, ओमप्रकाश मिश्रा, अवधेश श्रीवास्तव, महेश लाल श्रीवास्तव, एलके पाण्डेय, कैलाश बरनवाल, शैलेन्द्र त्रिपाठी,हैदर जमली, असगर मेंहदी, सुनील बाबा, रासिद पठान, भोला तिवारी, दीपक सिंह, राजू सिंह, आनन्द श्रीवास्तव, कैलाश लाल श्रीवास्तव, सदरूदïदीन खान प्रधान, नवीन श्रीवास्तव, महावीर श्रीवास्तव,सूरज जायसवाल, अरूण पाण्डेय, सुधीर अग्रवाल, महेन्द्र यादव,आनन्द देव उपाध्याय, महेन्द्र यादव आदि लोग रहे।

हिंदू भगवा वाहिनी की प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में पर्यावरण के दृष्टिकोण से वट वृक्ष लगाकर लोगों को किया गया जागरूक-


जौनपुर,-- हिंदू भगवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं द्वारा बट सावित्री पूजा के उपलक्ष में हिंदू भगवा वाहिनी की प्रदेश अध्यक्ष डॉ अंजना सिंह के नेतृत्व में नगर के चांदमारी स्थित एक स्कूल के प्रांगण में बरगद का पेड़ लगाकर लोगों को पर्यावरण के प्रति जागरूक किया गया इस अवसर पर हिंदू भगवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं पदाधिकारी भारी संख्या में उपस्थित रहे प्रदेश अध्यक्ष ने आम जनमानस से अधिक से अधिक पेड़ लगाकर पर्यावरण को सुरक्षित करने की अपील किया। मैंने कहा आज इस वैश्विक महामारी के दौर में लोगों को ऑक्सीजन की सख्त आवश्यकता है हरे भरे पेड़ों की कटाई होने के कारण पर्यावरण में ऑक्सीजन की कमी है ऐसे में पेड़ों को लगाकर ऑक्सीजन के संतुलन को बनाया जा सकता है इस अवसर पर अर्चना त्रिपाठी प्रियंका श्रीवास्तव मानसी सिंह रेनू श्रीवास्तव डॉक्टर बबीता सिंह विक्रम गुप्ता सहित तमाम कार्यकर्ता उपस्थित रहे कार्यकर्ताओं ने भी पेड़ लगाते हुए शपथ लिया कि भविष्य में इसी तरह हम लोग पेड़ लगाते रहेंगे और पर्यावरण को बचाने के लिए प्रयास करते रहेंगे और पेड़ लगाते रहेंगे जिससे लोगों को ऑक्सीजन प्राप्त होता रहे

जौनपुर जिले के इंस्पेक्टर दिलीप सिंह बने पुलिस उपाधीक्षक, परिवार व इष्ट मित्रो में खुशी लहर

लखनऊ-बुलंदशहर निरीक्षक से पुलिस उपाधीक्षक पद पर पदोन्नति करने वाले निरीक्षक दिलीप सिंह को पुलिस अधीक्षक एवं अपर पुलिस अधीक्षक अपराध द्वारा कंधों पर सितारे लगाकर उनका उत्साहवर्धन किया गया।

 बता दें कि दिलीप सिंह पुत्र स्व0 नन्द कुमार सिंह प्रदेश के जौनपुर जनपद के जफराबाद थाना क्षेत्र के सुल्तानपुर के रहने वाले है,मौजूदा समय मे बुलंदशहर में डीवाई कोतवाली में  बतौर कोतवाल थे,जनपद बुलंदशहर में नियुक्त निरीक्षक दिलीप सिंह वरिष्ठता के आधार पर पुलिस उपाधीक्षक के पद पर पदोन्नति प्राप्त होने पर एसएसपी बुलंदशहर संतोष कुमार सिंह व अपर पुलिस अधीक्षक अपराध कमलेश बहादुर द्वारा एसपी कार्यालय में पुलिस उपाधीक्षक पड़ पर प्रमोशन पाने वाले निरीक्षक दिलीप सिंह के कंधों पर  नए पद के सितारे लगाकर उनका उत्साहवर्धन करते हुए हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी तथा उनके उज्ज्वल भविष्य एवं दीर्घायु  की कामना की है।

 वही दिलीप सिंह के निरीक्षक से पुलिस उपाधीक्षक बनाये जाने पर की सूचना पर परिवार में हर्ष का माहौल है तो वही परिवार व इष्ट मित्रो में खुशी का माहौल व्याप्त है।

फायरिंग में महिला हुई घायल, महिला दुल्हन को विदा करने के गई थी बस्ती में

 


बरेली । आँवला थाने के गांव आसपुर में शादी समारोह की विदाई के दौरान हुई हर्ष फायरिंग में महिला गोली लगने से घायल हो गई। घटना से गांव में हड़कंप मच गया। वही मौके मिलते ही हर्ष फायरिंग का आरोपी भाग गया। जानकारी के मुताबिक रामविलास की 35 वर्षीय पत्नी विमला को रविवार को घायल अवस्था में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसके घर वालों ने बताया कि कल रात गांव में ही रहने वाले गजराम की बहन की शादी थी और आज सुबह विदाई के समय विमला विदाई देखने के लिए गांव की महिलाओं के साथ गई थी। इसी दौरान गांव के रहने वाले मोहन ने नन्हे के हाथों में तमंचा थमा दिया। नन्हे ने तमंचे से हर्ष फायरिंग की और गोली विमला को लग गई। गोली लगने से विमला जमीन पर गिर पड़ी और मौके पर अफरा-तफरी मच गई। घटना की सूचना मिलते ही विमला का पति रामविलास मौके पर पहुंचा और उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया। घटना के बाद नन्हे और मोहन मौके से फरार हो गए। पुलिस उन्हें तलाशने में जुट गई। एसएसपी मीडिया सेल ने बताया कि आंवला थाना क्षेत्र में शादी समारोह कार्यक्रम में विमला पत्नी रामविलास के गोली लग गई थी । इस सम्बन्ध में थाना आंवला जनपद बरेली पर पंजीकृत अभियोग में वांछित अभियुक्त नन्हें सिंह को नाजायज शस्त्र के साथ गिरफ्तार किया गया है।