health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर तीन सत्रों में सिर्फ महिलाओं को लगा कोविड-19 टीका जिले में कुल 5314 लोगों को लगे टीके, 2258 वरिष्ठ महिलाओं ने लगवाया टीका


 जौनपुर 08 मार्च
-  अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर स्वास्थ्य विभाग ने  महिलाओं को सम्मानित करने के लिए अनूठा प्रयास किया। इसके लिए जिला पुरुष चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) बरसठी में एक-एक अलग सत्र मात्र महिलाओं के लिए लगाया गया। इन तीनों सत्रों पर 172  वरिष्ठ महिलाओं ने टीका लगवाया जबकि पूरे जिले की कुल 51 स्वास्थ्य इकाइयों पर 5314 लोगों ने कोविड-19 के टीके की पहली डोज लगवाई। इसमें से 2258 महिलाएं थीं। बता दें कि 60 वर्ष से ऊपर वरिष्ठ महिलाओं एवं 45 से 59 वर्ष तक की गंभीर बीमारी से ग्रसित महिलाओं के साथ ही वरिष्ठ लोगों और गंभीर बीमारी से ग्रसित व्यक्तियों का टीकाकरण तीसरे चरण में किया जा रहा है ।      

      मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ राकेश कुमार ने बताया कि शासन के निर्देशानुसार 08 मार्च को विश्व महिला दिवस के दिन होने वाले टीकाकरण के दिन जिले तीन अलग-अलग स्वास्थ्य इकाइयों पर एक-एक अलग सत्र महिलाओं के लिए आयोजित किए गए । जिला पुरुष चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) बरसठी में महिलाओं के लिए बने विशेष टीकाकरण सत्र पर महिलाएं टीकाकरण करने से लेकर सारी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी निभा रहीं थीं। इन तीनों विशेष सत्रों पर 172 महिलाओं ने टीके की पहली डोज लगवाई जबकि पूरे जिले में 51 स्वास्थ्य इकाइयों पर कुल 5314 लोगों ने टीके की पहली खुराक ली। इसमें से 536 कोमार्विड रोगी, 4672 लोग 60 वर्ष से ऊपर, 74 फ्रंटलाइन वर्कर जिन्होंने टीके की पहली डोज लगवाई तथा 32 वे लोग भी शामिल हैं जिन्हें टीके की दूसरी डोज लगी है।

    हुसैनाबाद की कमला देवी (66) बिना रजिस्ट्रेशन कराए टीका लगवाने आईं थीं लेकिन उन्हें कोई दिक्कत नहीं होने पाई। वहां मौजूद स्वास्थ्यकर्मियों ने पोर्टल के माध्यम से ही उनका रजिस्ट्रेशन कर दिया। 49 साल की शकुंतला की सांस फूलती है और वह दवा की पर्ची और आधार लेकर आईं थीं। मीना श्रीवास्तव (52 साल) की रक्तचाप की दवा चलती है और बीएचयू से मानसिक रोग की दवा लेतीं हैं। इन लोगों ने अखबार से जाना कि बिना पंजीकरण के भी टीका आसानी से लग जाएगा, इसलिए टीका लगवाने चली आईं। उनका भी पंजीकरण आसानी से हो गया और उन्होंने टीके की पहली डोज लगवाई।

  सीएमओ ने बताया कि सोमवार को जिले में 5314 लोगों को टीका लगाया गया। इसमें से 536 लोग 45 से 59 साल के कोमार्विड रोगी यानी गंभीर बीमारियों से ग्रसित मरीज थे और 4672 लोग 60 वर्ष से ऊपर के थे। 

   अब तक जिले में कुल 30,702 लोगों को टीके की पहली डोज लगाकर प्रतिरक्षित किया जा चुका है । इनमें से 4,500 बुजुर्ग तथा कोमोर्बिड रोगी हैं। इसके अलावा 9,344 फ्रंटलाइन वर्कर्स और 12,260 स्वास्थ्यकर्मी भी शामिल हैं | इनमें से ही 10,512 को टीके की दूसरी डोज भी लग चुकी है। 

  उन्होंने बताया कि 60 वर्ष की उम्र या इससे अधिक उम्र के लोगों तथा कोमार्विड रोगियों जिनकी उम्र 45 से 59 वर्ष है, उनका भी टीकाकरण किया जा रहा है । कोमार्विड रोगियों के लिए अपनी बीमारी का सर्टीफिकेट तथा पहचान पत्र लेकर टीकाकरण स्थल पर जाना अनिवार्य है। इस चरण के टीकाकरण के लिए हर लाभार्थी को अपना आईडी जैसे आधार कार्ड, वोटर कार्ड आदि टीकाकरण स्थल पर लेकर जाना जरूरी है। इस चरण से आम लोगों का टीकाकरण शुरू कर हो गया है। 

  यहां पर इस दिन सुविधा: उन्होंने बताया कि इस चरण में टीकाकरण जिले के प्रत्येक प्राथमिक/सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर सप्ताह में तीन दिन प्रत्येक सोमवार, गुरुवार और शुक्रवार को हो रहा है। साथ ही जिला महिला एवं जिला पुरुष चिकित्सालय में सप्ताह के प्रत्येक कार्य दिवस यानि छह दिन चलाया जा रहा है। इसके अलावा आयुष्मान भारत में सूचीबद्ध निजी चिकित्सालयों में भी यह टीकाकरण प्रत्येक कार्य दिवस पर हो रहा है। सार्वजनिक अवकाश के दिन टीकाकरण का कार्य नहीं हो रहा।

    ऐसे उठाएं लाभ: मार्च महीने में करीब 1.13 लाख लोगों का टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा गया है। इस चरण में टीकाकरण के लिए लाभार्थी को स्वयं से कोविन पोर्टल पर पंजीकरण करना होगा। लाभार्थी को cowin.gov.in पर अपना पंजीकरण करना होगा। स्वयं रजिस्ट्रेशन करने वाले लाभार्थी अपनी सुविधा के अनुकूल स्वास्थ्य इकाई का चयन कर टीकाकरण करा सकेंगे। जो लाभार्थी स्वयं से अपना पंजीकरण करने में सक्षम नहीं हैं, वह अपना आधार कार्ड लेकर टीकाकरण सत्र पर जाएंगे तो कोविन पोर्टल के माध्यम से उनका भी टीकाकरण कर लिया जाएगा।

यहांं पर टीकाकरण की सुविधा: सीएमओ ने बताया कि सोमवार, गुरुवार और शुक्रवार को जिले की 51 स्वास्थ्य इकाइयों पर टीकाकरण की सुविधा मिलेगी। जिला पुरुष चिकित्सालय, जिला महिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) बदलापुर, बख्शा, चोरसंड, डोभी, रेहटी, मछलीशहर, मड़ियाहूं, मुफ्तीगंज, सतहरिया, रामनगर, रामपुर, शाहगंज, सिरकोनी, सुइथाकला, बरसठी, केराकत, खुटहन, महराजगंज, सुजानगंज, सिकरारा-चांदपुर, मेंहरावां त था प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) बख्शा, धरमपुर, जलालपुर, मातापुर (अरबन), मुंगराबादशाहपुर, सोंधी, करंजाकला, सिकरारा, सिंगरामऊ, बजरंग नगर, जमुहाई, अमहित, गभिरान, कुंवरपुर, राजा बाजार, रामपुर नड्डी, नेवढ़िया, नोनारी, राजेपुर, अर्सिया, बेलवार, तेजी बाजार, चावरी, बारी, पवारा, बांकी में यह सुविधा मिलेगी। वहीं जिला महिला एवं जिला पुरुष चिकित्सालय में सप्ताह के प्रत्येक कार्यदिवस यानि छह दिन चलाया जाएगा। इसके अलावा आयुष्मान भारत में सूचीबद्ध निजी चिकित्सालयों में भी यह टीकाकरण प्रत्येक कार्य दिवस पर होगा। सार्वजनिक अवकाश के दिन टीकाकरण का कार्य नहीं होगा।

प्रबंध अध्ययन संकाय भवन में परीक्षाएं शुरू प्रथम पाली में 350 परीक्षार्थी शामिल हुए


जौनपुर
- वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के प्रबंध अध्ययन संकाय भवन में विश्वविद्यालय परिसर के संचालित पाठ्यक्रमों की परीक्षा सोमवार से शुरू हो गई।

प्रथम पाली की परीक्षा में शासन द्वारा जारी कोविड-19 गाइडलाइन का पालन सुनिश्चित किया गया है। सभी परीक्षार्थियों के लिए मास्क जरूरी किया गया है। परीक्षा केंद्र के केंद्र व्यवस्थापक डॉक्टर रसिकेश में बताया कि प्रथम पाली में लगभग 350 परीक्षार्थी परीक्षा में सम्मिलित हुए हैं। इसमें बीए-एलएलबी, बीकॉम (ऑनर्स) बी.फार्मा. एम.एससी. केमिस्ट्री, एम.एससी. अप्लाइड जियोलॉजी, एमएससी/एम ए. मैथ, एम.एससी. फिजिक्स, एम. ए.अप्लाइड साइकोलॉजी, एम.ए. मास काम के परीक्षार्थी शामिल हुए हैं। शांतिपूर्ण परीक्षा कराने और  शुचिता बनाए रखने के लिए आंतरिक टीम बनाई गई है, जो अपना काम सफलतापूर्वक कर रही है। परिसर पाठ्यक्रमों की परीक्षा का केंद्र इंजीनियरिंग संस्थान में भी है। इसमें बीसीए, एमसीए, बीटेक एवं एमटेक एवं प्रबंध अध्ययन संकाय में अन्य पाठ्यक्रमों की परीक्षा चल रही है।

महिला दिवस स्पेशल-बच्चों के लिए मां भगवान की प्रतिमूर्ति स्वरूप-अंकिता राज


जौनपुर स्थित माउंट लिटेरा ज़ी स्कूल में नारी की अस्मिता एवम समाज निर्माण में उसकी सहभागिता की याद दिलाने वाले नारी के सम्मान में अर्पित अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस कार्यक्रम का आयोजन अत्त्यन्त ही उत्साहवर्धक तरीके से किया गया।

 छात्र  छात्राओं के बीच एक नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति भी की गयी,  जिसके माध्यम से उनमे नारी सशक्तिकरण एवम समाज में उनकी एक सामान भागीदारी को दर्शाते हुए समानता के अधिकार को दर्शाया गया।


इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डा अंकिता राज ( अध्यक्ष आकांक्षा समिति जौनपुर) ने छात्राओं  को सम्बोधित करते हुए कहा  की  हर जगह भगवान नहीं मिल सकते है, लेकिन भगवान स्वरुप माँ हर वक्त साथ होती है , छात्र  छात्राओं  को जीवन की चुनौतियों  से सामना करते हुए संयम के साथ  जीवन में आगे बढ़ने की प्रेरणा दी| इस कार्यक्रम में विद्यालय  के डायरेक्टर अरविन्द सिंह एवम विख्यात सिंह ने स्मृति चिन्ह प्रदान कर स्वागत किया तथा उपस्थित जनो को आश्वासन दिया की माउंट लिटेरा ज़ी स्कूल जौनपुर में महिलाओ के उत्थान ,में  हर समय कटिबद्ध रहेगा |एवम इस अवसर पर विद्यालय की प्रधानाचार्या श्री मती प्रतीक्षा सिंह ने कहा की हर जुल्म के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए, क्योकि आज  सरकार महिलाओ के उत्थान के लिए हर तरह से प्रयासरत है | इसमें हम सभी का दायित्व बनता है की समाज में  फैली  कुरीतियों को दूर करे तथा सबको शिक्षित करे|

इस अवसर को यादगार बनाने के लिए अतिथि और समस्त महिला स्टाफ ने केक काटकर उत्साह जताया | इस अवसर पर उप प्रधानाचार्या श्वेता मिश्रा ,शक्ति राय, सदफ मसूद, नाज़िआ ज़ैदी,ऋचा सिंह,आशा मिश्रा, रूचि घोष, सोनी सिंह, साहिला मसूद,  एवम समस्त स्टाफ उपस्थित रहा|

11 वर्षीय नाबालिग बच्ची के साथ दुष्कर्म के मामले में कोर्ट ने सुनाई फांसी व जुर्माना

जौनपुर- जिले के मड़ियाहूं थाना क्षेत्र निवासी 11 वर्षीय बच्ची से 6 अगस्त 2020 की रात आठ बजे दुराचार कर उसकी हत्या करने के दोषी बाल गोविंद को अपर सत्र न्यायाधीश पाक्सो एक्ट प्रथम प्रथम रवि यादव ने  मृत्यु दंड व 10000 रुपये जुर्माने की सजा का सुनाया सोमवार को सुनाया। शनिवार को सुनवाई के बाद फैसला जज ने सुरक्षित कर लिया था। इस मामले की प्रतिदिन सुनवाई चली। मुकदमे की मानिटरिंग शासन से की जा रही है। घटना की एफआइआर बालिका के पिता ने दर्ज कराया था।

         बता दें कि अभियोजन के अनुसार ईंट भट्टे पर काम करने वाला चंदौली निवासी बालगोविंद उर्फ गोविंदा अपने ससुराल मड़ियाहूं में रह रहा था। गत छह अगस्त 2020 की रात 11 वर्षीय बालिका व उसकी बहन को एक दुकान से टाफी -बिस्किट दिलाया। छोटी बहन को घर भेज दिया और मृतका को बहला फुसलाकर मक्के के खेत में ले जाकर दुष्कर्म किया। इसके बाद गला व मुंह दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद चेहरे पर एसिड डालकर जला दिया और शव को खेत में छिपाकर भाग गया। छोटी बहन ने घर जाकर बताया तो घर वाले खोजबीन करने लगे। दो दिन बाद गांव वालों ने बताया कि बालिका का शव खेत में है। पुलिस ने पोस्टमार्टम कराया। जिसमें मृतका के साथ दुष्कर्म होने और सांस रुकने से मौत की पुष्टि हुई।


पुलिस ने आरोपित को चंदौली से गिरफ्तार किया और कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की। गत 26 नवंबर 2020 को आरोप तय हुआ। मृत बालिका की छोटी बहन व जिस दुकान से आरोपित ने टाफी -बिस्किट जाकर खरीदा था, दोनों ने कोर्ट में आरोपित का नाम लेते हुए गवाही दी। विशेष लोक अभियोजक राजेश उपाध्याय व एडीजीसी वीरेंद्र मौर्य ने 11 गवाह पेश किया। कोर्ट ने दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद आरोपित को अपहरण, दुष्कर्म, हत्या, साक्ष्य छिपाने व पाक्सो एक्ट की धाराओं में दोषी करार दिया है।

परिषदीय विद्यालय अब निजी विद्यालय से बेहतर सुविधाएं: सांसद,मुफ्तीगंज ब्लॉक में हुआ भव्य प्रेरणा ज्ञानोत्सव व शिक्षा चौपाल कार्यक्रम


जौनपुर-उच्च प्राथमिक विद्यालय उमरी तारा के प्रांगण में प्रेरणा ज्ञानोत्सव व शिक्षा चौपाल में बतौर मुख्य अतिथि सांसद मछलीशहर बीपी सरोज ने अपने संबोधन में कहा कि हमारे परिषदीय विद्यालय अब निजी विद्यालयों से बेहतर हैं हमारे शिक्षक भी निजी विद्यालयों के अपेक्षा अत्यधिक योग्य कुशल व प्रशिक्षित हैं, सांसद ने कार्यक्रम का संचालन कर रही कक्षा 6 की बच्ची आकांक्षा विश्वकर्मा की तारीफ करते हुए कहा कि ऐसा संचालन एक बच्ची के द्वारा हमने आज तक नहीं देखा उसके लिए पूरे विद्यालय परिवार को बधाई कि ऐसे प्रतिभाओं को खोज कर सामने लाकर निखारा एवम उनको उचित मंच मुहैया कराया है। सांसद ने जौनपुर में बेसिक शिक्षा विभाग में हो रहे रचनात्मक व सकारात्मक परिवर्तन के लिए जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण कुमार तिवारी के कुशल नेतृत्व की तारीफ की।

   इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी जौनपुर प्रवीण कुमार तिवारी ने बच्चों के सुंदर सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति की जमकर तारीफ करते हुए संचालन कर रही कक्षा 6 की बच्ची आकांक्षा को माला पहनाकर सम्मानित किया और बच्चों के सांस्कृतिक प्रदर्शन की तारीफ करते हुए कहा कि ऐसे सुंदर प्रदर्शन माननीय प्रधानमंत्री जी और मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रमों में बच्चों के सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति में देखने को मिलता है लेकिन यहाँ का प्रदर्शन उससे एक इंच भी कम नहीं है, इसके लिए सभी बच्चों को उनके अभिभावकों को शिक्षकों को बहुत-बहुत बधाई क्योंकि जो बच्चे सांस्कृतिक कार्यक्रमों में अच्छा प्रदर्शन करते हैं वह पढ़ाई लिखाई खेलकूद सब में अच्छा प्रदर्शन करते हैं सही मायने में यही सर्वांगीण विकास होता है जिसके लिए यहां विद्यालय परिवार बधाई के पात्र है।

 विशिष्ट अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी सिकरारा राजीव यादव ने कहा कि परिषदीय विद्यालयों में कितना अच्छा कार्य हो रहा है उसका एक रोल मॉडल यह उच्च प्राथमिक विद्यालय उमरी तारा है यहां के भौतिक प्रवेश जितना सुंदर खूबसूरत दर्शनीय है उतना ही यहां के बच्चों के अंदर का आत्मविश्वास और उनका प्रदर्शन भी खूबसूरत अद्भुत और अद्वितीय है इसके लिए विद्यालय के प्रधानाध्यापक राजेश सिंह एवं उनके पूरे स्टाफ को हमारी तरफ से बहुत-बहुत बधाई व शुभकामनाएं।

विशिष्ट अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी केराकत राजेश यादव ने भव्य प्रेरणा ज्ञानोत्सव व शिक्षा चौपाल के लिए विद्यालय परिवार व खंड शिक्षा अधिकारी मुफ्तीगंज को हार्दिक बधाई देते हुए कहा कि यह दिखाता है कि हमारे बेसिक शिक्षा परिवार में कितनी क्षमता वह कार्य कुशलता है।

 खंड शिक्षा अधिकारी मुफ्तीगंज संजय यादव ने कार्यक्रम में आए हुए मुख्य  अतिथि विशिष्ट अतिथि शिक्षक प्रतिनिधियों क्षेत्र के सम्मानित जनता और अभिभावकों का हार्दिक अभिवादन करते हुए कहा कि हमारा प्रयास निरंतर है कि मुफ्तीगंज में बेसिक शिक्षा का एक ऐसा अनोखा रोल मॉडल प्रस्तुत हो जिसकी चर्चा सभी अभिभावकों में खुद हो।

इस अवसर पर जिला अध्यक्ष अमित सिंह ने भव्य सफल आयोजन के लिए विद्यालय परिवार देते हुए कहा कि हमे गर्व है कि हमारे टीम के अंदर इतनी कार्यकुशलता व क्षमता है, यह कार्यक्रम दूसरे लोगों के लिए अनुकरणीय है।

संगठन मंत्री अश्वनी सिंह ने कहा कि विद्यालय में आकर ऐसा लग रहा है कि हम परिषदीय विद्यालय नहीं बल्कि किसी मेट्रो सिटी के कॉन्वेंट विद्यालय में हैं जितना शानदार, खूबसूरत विद्यालय का भौतिक परिवेश है उतना ही दिव्य, अद्वितीय बच्चों की सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति भी है जिसके लिए प्रधानाध्यपक राजेश सिंह सहित पूरा विद्यालय परिवार को बधाई।

इस अवसर पर एसआरजी डॉक्टर अखिलेश सिंह भाजपा नेता उमेश सिंह ग्राम प्रधान प्रतिनिधि लालता यादव, राजेश्वर सिंह डॉ अनुज सिंह, संतोष सिंह बघेल, मुन्ना लाल, यादव, सतीश पाठक, डॉक्टर सरोज सिंह, संजय राय रामकृपाल, यादव राम सिंह राव, शचीन्द्र नाथ यादव, दशरथ राम, संतोष यादव, प्रियंका सिंह, मधु रानी, अनिल पांडेय, सर्वेश, अवनीश,संजय सिंह सहित तमाम शिक्षक व बहुत ही भारी संख्या में अभिभावक व क्षेत्र की जनता उपस्थित रही।

अंत में विद्यालय के प्रधानाध्यपक राजेश सिंह टोनी ने कार्यक्रम में आये हुए सभी लोगों का धन्यवाद ज्ञापित किया।

रेलवे ट्रैक पार करते समय युवक की ट्रेन की चपेट में आने से मौत,कान में हेड फोन लगाना बन गया मौत की वजह।

जौनपुर।जिले के गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के बालेमऊ गांव के एक युवक की रेलवे ट्रैक पार करते समय ट्रेन की चपेट में आने से मौत हो गई। 

          बता दें कि गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के बालेमऊ गांव में रविवार शाम को लगभग साढ़े पांच बजे बालेमऊ गांव का बीस वर्षीय युवक शुभम यादव पुत्र मुरारी लाल यादव अपने खेत से सरसो का बोझ लेकर अपने कान में हेड फोन लगाकर जौनपुर - औड़िहार रेलवे ट्रैक पार कर रहा था। उसी समय गाजीपुर के तरफ से मालगाड़ी ट्रेन आ गई। स्थानीय लोगों के मुताबिक ट्रेन हॉर्न बजा रही थी लेकिन कान में हेड फोन लगने के वजह से शुभम सुन नही सका। ट्रेन शुभम को रौदते हुए आगे निकल गयी। जिससे उसका दोनो पैर कट गया तथा सिर कुचल गया। स्थानीय लोगो ने युवक के घर पर सूचना दिया। परिजन शुभम को एक निजी वाहन से लेकर इलाज के लिए जिला अस्पताल की तरफ भागे। अस्पताल पर चिकित्सको ने युवक को देखते ही मृत घोषित कर दिया। मौत की खबर से पूरे गांव में कोहराम मच गया। युवक आर्मी की तैयारी कर रहा था।

राज्य मंत्री ने चौपाल लगाकर जन समस्याएं सुनी और सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत जानी,, ----- सदर विधानसभा की हड़ही, तरसावा ,आर्य नगर कला गांव में आज लगाई गई चौपाल

 


   जौनपुर 7 मार्च - प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री आवास एवं शहरी नियोजन गिरीश चंद्र यादव द्वारा विकासखंड शाहगंज की ग्राम सभा हड़ही, तरसावां एवं आर्यनगर कला में चौपाल लगाकर जनता की समस्याओं की सुनवाई की गई तथा सरकारी योजनाओं के क्रियान्वयन की हकीकत जानी।

            इस अवसर पर राज्य मंत्री ने कहा कि सरकार की मंशा है कि सरकारी योजनाओं का लाभ प्रत्येक व्यक्ति को मिले। प्रत्येक गरीब को आवास, शौचालय, रोजगार मिले तथा किसानों को किसान सम्मान निधि मिले।उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा है कि गरीबों के जीवन मे बदलाव आये।
              राज्यमंत्री ने चौपाल में पूर्ति निरीक्षक को निर्देश दिया कि छूटे हुए पात्र व्यक्तियों के कैंप लगाकर राशन कार्ड बनवाए जाएं, आयुष्मान योजना के लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड बनाए गए हैं उनका वितरण कराया जाए, गांव में सर्वे कराकर आयुष्मान योजना तथा मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के पात्र लाभार्थियों की सूची एक हफ्ते के अंदर बनाकर उपलब्ध करायी जाए। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए राज्यमंत्री ने कहा कि आवास एवं शौचालय के नाम पर कोई भी पैसे की मांग करे तो उसकी सूचना तत्काल उन्हें उपलब्ध करायें। उन्होंने निर्देश दिया कि पेंशन के लंबित आवेदनों का सत्यापन कराकर पात्रों को पेंशन का लाभ दिलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत पात्रों का पंजीकरण कराया जाए। राज्यमंत्री ने कहा कि सरकार गरीबों के हित के लिए निरंतर कार्य कर रही है। कोरोना काल के संकट में सरकार ने गरीबों की सहायता के लिए उन्हें फ्री राशन तथा धनराशि उपलब्ध कराई । उन्होंने कहा कि अब सरकारी स्कूलों में बच्चों के बैठने के लिए बेंच तथा डेस्क लगवाई जाएगी, कोई भी बच्चा जमीन में बैठ कर पढ़ाई नहीं करेगा। उन्होंने बताया कि ग्राम सभा तरसावां में केंद्रीय विद्यालय के लिए प्रस्ताव शासन को भेजा गया है ,पूरा प्रयास किया जाएगा कि भारत सरकार द्वारा प्रस्ताव पर स्वीकृत मिल जाए। राज्यमंत्री ने समस्त ग्राम वासियों से अपील किया कि पशुओं की ईयर टैगिंग अवश्य कराएं, उन्होंने कहा कि रोजगार सेवक पशुओं की ईयर टैगिंग कराने में सहयोग करें।
               इस अवसर पर सहायक श्रमायुक्त कुलदीप सिंह, उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी,खण्ड विकास अधिकारी, शाहगंज अनुराग राय उपस्थित रहे।