health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

सौहार्द एवं कानून व्यवस्था बिगाडने वाले के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी-डीएम जौनपुर

जौनपुर- जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में आगामी त्यौहारों एवं राम मंन्दिर से सम्बन्धित आने वाले अदालत के निर्णय को देखते हुए जनपद में शांति एवं सौहार्दपुर्ण वातावरण बनाये रखने के लिए धर्मगुरुओं के साथ कलेक्टेªट सभागार में बैठक सम्पन्न हुई। 
            बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि धनतेरस, दीपावली, भाई-दूज के त्यौहार भाईचारा एवं सौहार्दपूर्ण तरीके से मनाये। उन्होंने कहा कि जनपद जौनपुर गंगा जमुनी तहजीब का उत्कृष्ट उदाहरण रहा है। यह सभी धर्मो के लोग त्यौहारों मिल-जुल कर मनाते है। सभी लोग से अपेक्षा है कि आगे आने वाले त्यौहारों को भी आपसी सौहार्द के साथ मनायेंगे। इस अवसर पर कोई अप्रिय घटना न हो, इसका ध्यान रखना हमसब की जिम्मेदारी है। जिलाधिकारी ने कहा कि राम मन्दिर से सम्बन्धित अदालत में सुनवाई पूर्ण हो गयी है तथा इसका फैसला कभी भी आ सकता है। अदालत का फैसला जो भी हो हमे अपने जनपद में सौहार्द बनाये रखना है। उन्होंने सभी धर्मगुरुओं से अपील की कि किसी भी प्रकार पर दुष्प्रचार पर ध्यान न दे। सौहार्द एवं कानून व्यवस्था बिगाडने वाले के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी।
           पुलिस अधीक्षक रविशंकर छवि ने कहा कि सोशल मीडिया पर विशेष निगरानी रखी जा रही है, सोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों के विरुद्ध भी सख्त कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि किसी भी अप्रिय घटना के लिए पुलिस प्रशासन पूर्ण रुप से सतर्क रहेगा। उन्होंने बताया कि डायल 100 अब 26 अक्टूबर 2019 से डायल 112 हो जायेगा। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर अगर कोई झूठी, भड़काऊ समग्री सोशल मीडिया पर प्रचारित करता है तो उसकी सूचना सोशल मीडिया सेल के 9454457684 पर सूचित कर सकते है। सभी धर्म गुरुओ ने जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को आश्वस्त करते हुए कहा कि आने वाले त्यौहारों को सौहार्दपूर्ण एवं भाईचारा के साथ मनायेंगे तथा राम मन्दिर से सम्बन्धित अदालत का जो भी फैसला होगा उसे हम सहर्ष स्वीकार करेंगे। जनपद का माहौल किसी भी दशा में बिगड़ने नही दिया जायेगा।   
           इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा0 आर पी मिश्र, नगर मजिस्टेªट सुरेन्द्र नाथ, अपर पुलिस अधीक्षक देहात संजय राय, सीओ सिटी नृपेन्द्र, पूर्व विधायक हाजी अफजाल, रजनी कान्त द्विवेदी, मौलाना नहफुजूल हसन, अली मंजर डेजी, जगदम्बा पाण्डेय सहित विभिन्न धर्मगुरु उपस्थित रहे। 

डीएम जौनपुर ने जियो टैंगिग पूर्ण होने तक सभी पशु चिकित्साधिकारियों का रोका वेतन,

जौनपुर-जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक संपन्न हुई। 

          बैठक में जिलाधिकारी ने समस्त अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सभी अधिकारी शासन की योजना का लाभ आम जनता तक पहुंचाएं। शासन की प्राथमिकता वाली योजनाओं में प्रगति लाएं। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी अपने विभागों के लक्ष्य को समय से पूर्ण करें एवं कार्य में लापरवाही किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं की जाएगी। जिलाधिकारी ने बैठक में गौशालाओं की समीक्षा करते हुए निर्देश दिया कि जो भी निराश्रित गोवंश छुट्टा घूम रहे हैं उन्हें अस्थाई गौशाला में शिफ्ट करें। निर्माणाधीन अस्थाई गौशाला का कार्य शीघ्र पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि गोवंश संरक्षण माननीय मुख्यमंत्री की प्राथमिकता में है इसलिए किसी प्रकार की लापरवाही पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। गोवंश के जियो टैगिंग का कार्य पूर्ण होने, सभी पशु चिकित्सा अधिकारियों को वेतन जियो टैगिंग पूर्ण होने तक रोकने का निर्देश मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को दिया। 
            बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत 116266 लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड बनाया जा चुका है जिसे वितरित कराया जा रहा है। जनपद में 19 सरकारी एवं 07 प्राइवेट हॉस्पिटल पैनेल्ड है। जिसमें अब 1200 से ज्यादा लाभार्थियों का इलाज किया जा चुका है। जिलाधिकारी ने योजना का ज्यादा से ज्यादा प्रचार-प्रसार एवं गरीबों को लाभ पहुंचाने का निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिया। 
  उन्होंने कहा कि अस्पतालों में डाक्टरों की उपस्थिति एवं दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराएं। जननी सुरक्षा योजना के लाभार्थियों तथा आशाओं का शत-प्रतिशत भुगतान कराने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिये। 
  जिलाधिकारी द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण एवं शहरी का विस्तार से समीक्षा की गयी। उन्होंने कहा कि प्रत्येक पात्र व्यक्ति को आवास मिलना चाहिए। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की कार्य प्रगति धीमी होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। अधि0अभियन्ता पीडब्ल्यूडी ने बताया कि 26 सड़कों का नवीनीकरण करना था जिसमें 16 का कार्य पूर्ण हो गया है। सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत तहसील स्तर पर शादियां कराने का निर्देश समाज कल्याण अधिकारी विपिन कुमार यादव को दिया। पेंशन, विकलांग पेंशन, छात्रवृत्ति की विस्तार से समीक्षा की। अधिशासी अभियन्ता विद्युत को निर्देश दिया कि दिवाली पर विद्युत आपूर्ति हेतु अपनी तैयारी कर ले, दिवाली के अवसर पर विद्युत बाधित न हो, इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न होने पाए।
             इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी गौरव वर्मा, अपर जिलाधिकारी वि/रा0 आर पी मिश्रा, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 रामजी पाण्डेय, नगर मजिस्टेªट सुरेन्द्रनाथ, जिला विकास अधिकारी दयाराम, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी रामदरश यादव सहित जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित रहे। 

महिला सशक्तिकरण को सफल बनाने के लिए हर बालिकाओं को शिक्षित होना जरूरी-ऋतु सुहास

जौनपुर- मोहम्मद हसन पीजी कॉलेज के सौदागर हाल में महिला सशक्तिकरण के एक दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन हुआ जिसमें कार्यक्रम की मुख्य अतिथि महिला नोडल अधिकारी ऋतु सुहास एलवाई रही इस कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राचार्य डॉ अब्दुल कादिर खान में किया सबसे पहले मुख्य अतिथि का स्वागत बुके देकर प्राचार्य डॉ अब्दुल कादिर खान ने किया इसके बाद उन्होंने अपने स्वागत भाषण में कहा कि समाज में अगर बच्चियाँ  शिक्षित होती है तो समाज की एक नई दिशा और बदलने का अवसर प्राप्त होता है अगर कोई बच्ची शिक्षा से वंचित रह जाती है तो उसका परिवार ही नहीं बल्कि वह दो परिवार को नष्ट कर देती है आज के समय में शिक्षा की अहम भूमिका महिलाओं के सशक्तिकरण के साथ साथ शिक्षित होने की भी मुहिम चलाई जा रही है आए हुए सभी अतिथियों का उन्होंने एक बार पुनः स्वागत किया  अंत में नोडल अधिकारी  ऋतु सुहास एलवाई मिसेज इंडिया का खिताब मिलने की बधाई भी दी मुख्य अतिथि  ऋतु सुहास एलवाई ने अपने संबोधन  में कहा की महिला ऐसा कोई कार्य नहीं है जो न कर सके लेकिन हर कार्य करने के लिए उसको निडर और अनुशासित और शिक्षा का भी सहयोग लेने की आवश्यकता है किसी भी मुकाम पर पहुंचने के लिए उस कार्य को करने के साथ साथ इमानदारी का होना भी आवश्यक है महिला सशक्तिकरण का सबसे बड़ा उद्देश्य है कि समाज में किसी भी बच्चियों को अशिक्षित ना रखा जाए आज के समय में शिराज ए हिंद में डॉ अब्दुल कादिर खान ने बच्चियों को शिक्षित करने की जो मुहिम चलाई है शायद या जौनपुर ही नहीं बल्कि प्रदेश के हर कोने तक या आवास पहुंच चुकी है मैं पिछले वर्षों में यहां पर कार्यरत उपजिलाधिकारी पद पर रही लेकिन आज जो इसने और प्यार जौनपुर जनपद और मोहम्मद हसन पीजी कॉलेज के प्राचार्य और सभी जनता ने दिया है शायद वह पुरानी यादों को ताजा करता नजर आ रहा है आये हुए अतिथि का प्राचार्य ने  अंगवस्त्रम, स्मृति चिन्ह भेंट कर स्वागत किया इस मौके पर प्रधानाचार्य मोहम्मद नासिर खान, डाँ कमरूद्दीन शेख, डॉ के के सिंह, डॉ जीवन यादव ,डॉ निलेश कुमार सिंह डॉ अब्दुल हलीम हाशमी डाँ राकेश कुमार बिंद ,डाँ ज्योत्सना सिंह आकांक्षा सिंह डॉ अर्चना सिंह डाँ  ममता सिंह डाँ अजय विक्रम सिंह ,डाँ संतोष सिंह डॉ डीएन उपाध्याय ,प्रवीण यादव, डिम्पल सिंह  इत्यादि सभी बीटीसी,बीएड और अन्य विभाग के सभी छात्र छात्राएं मौजूद रहे कार्यक्रम का संचालन अहमद अब्बास खान ने किया

डीएम जौनपुर के तल्ख तेवर,ड्यूटी से नदारद डॉक्टरों को 15 दिन का मिला अल्टीमेटम,सभी लापरवाह कर्मचारियों में हड़कम्प

जौनपुर- आज जिला अधिकारी  दिनेश कुमार सिंह ने जिले का कार्यभार ग्रहण करते ही लेते ही अपने तल्ख तेवर दिखाना शुरू कर दिया है डीएम का पहला शिकार बना स्वास्थ्य महकमा। विभिन्न अस्पतालो में तैनात लापता डाक्टरो के खिलाफ कठोर कदम उठाया है। वे सभी लापता चिकित्सको को नोटिस भेजने का आदेश सीएमओ को दिया है। डीए के सख्त तेवर को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग समेत सभी विभाग में हड़कंप मच गया है। 
बता दें नवागत जिला अधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने कल चार्ज लिया और आज फूल एक्शन मूड में नजर आए,डीएम ने  सीएमओ डा. रामजी पांडेय के साथ हुई बैठक में डीएम ने चिकित्सकों की ड्यूटी और उनकी उपस्थिति के बारे में पूछताछ की तो ऐसे ही चौकाने वाले तथ्य उभर कर सामने आए। जिले के 13 अस्पतालों में तैनात 14 डाक्टर पिछले कई महीनों से लापता चल रहे हैं। डीएम ने बेहद गंभीरता से लेते हुए सीएमओ को निर्देशित किया कि सभी डाक्टरों को नोटिस भेज कर कार्रवाई करें। 
जिले के जिन सरकारी अस्पताल के डाक्टरों को नोटिस दी गई है उनमें सीएचसी सतहरिया के चिकित्सा अधिकारी डा. नीरज सिन्हा व डा. प्रमोद कुमार, अतिरिक्त स्वास्थ्य प्राथमिक केन्द्र कुद्दूपुर के डा. अनुप्रास राय,  अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र गुतवन के डा. प्रिंस मोदी, अतिरिक्त पीएचसी अमहित में तैनात डा. संजय सिंह, पीएचसी जलालपुर में तैनात डा. कमलेश राम, सीएचसी सिरकोनी में डा. संध्या सिंह , सीएचसी रामनगर में तैनात डा. शिवराम मिश्र, सीएचसी रामपुर में तैनात डा. राकेश कन्नौजिया, सीएचसी बदलापुर में तैनात डा. अतुल विश्वकर्मा, 
शाहंगज ब्लाक में स्थित अतिरिक्त पीएचसी नोनारी में तैनात डा. अरुण  त्रिपाठी, व  लीलावती देवी जिला महिला चिकित्सालय जौनपुर में तैनात डा.  पल्लवी बसंत लटपटे  को चिंहित किया गया है। नोटिस में कहा कि अगर 15 दिनों में वह ज्वाईन नहीं करते हैं तो उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई की जायेगी। 

राम केवट संवाद सुन भाव विभोर हुये दर्शक,मांगी नाव केवट आना कहहू तुम्हार मर्म हम जाना

जौनपुर- सुजानगंज थाना क्षेत्र के मोहरियाव ग्राम सभा में चल रहे आदर्श रामलीला धर्म मंडल समिति के तत्वाधान में गुरुवार को रात्रि राम केवट संवाद एवं सीता हरण का मंचन हुआ रामलीला का शुभारंभ गिरीश दुबे ने राम लक्ष्मण सीता जी की आरती उतार कर किया उन्होंने कहा कि राम के आदर्शों को हर व्यक्ति को अपने अंदर समाहित करना चाहिए और सदैव सत्य के मार्ग पर चलना चाहिए रामलीला मंच में राम केवट संवाद में मांगी नाव  केवट आना कहहू तुम्हारा मर्म हम जाना संवाद सुनकर पंडाल में श्रोता भावुक हो उठे राजा दशरथ ने कैकई के चारों वचनों को पूरा करने के लिए राम को वन भेजने के लिए विवश हो जाते हैं तब राम खुद वन गमन के प्रस्ताव मान लेते हैं महाराज दशरथ को समझाते हैं कि सीता व लक्ष्मण के साथ स्वयं मंत्री सुमंत के साथ बन की तरह प्रस्थान कर देते हैं अयोध्या की सीमा से सुमंत को वापस बुलाया केवट प्रभु राम को पहचान जाता है और नदी पार करने से मना कर देता है प्रभु राम कारण पूछते हैं तो केवट कहता है कि आपको बैठाने से मेरी नौका औरत बन जाएगी तो मैं क्या करूंगा प्रभु इसलिए आपके पांव पखारने के बाद ही नौका पर बैठा सकता हूं फिर प्रभु राम की सहमति से वह उनके पांव को धोकर नौका में बैठाकर नदी को पार कर आया यह मंचन देख दर्शक उत्साहित हुए और भावुक हो गए मित्रता का निर्वहन किस प्रकार से केवट ने किया. जिसमे राम का रोल कार्तिकेय विश्वकर्मा, लक्ष्मण ईश्वर चंद्र दुबे, सीता आदित्य चौबे, केवट ओम प्रकाश तिवारी बबलू, राजा दशरथ जनार्दन प्रसाद दुबे, कैकयी अवकाश तिवारी साजन, मंथरा मुकेश तिवारी मोनू, सेवरी रवीन्द्र तिवारी हनुमान,भरत प्रशांत तिवारी, आदि ने निभाई भूमिका.

टीडी कालेज के चुनाव की तारीख के ऐलान से छात्रों में खुशी की लहर,छात्र नेताओं ने कसी कमर

जौनपुर-आज तिलकधारी कालेज का छात्र संघ चुनाव की रणभेरी बज गया है,चुनाव का नामांकन 5 नवम्बर को होगा और ओटिंग और काउंटिंग 15 नवम्बर को होना सुनिश्चित किया गया। चुनाव की तारीख घोषित होते ही छात्र नेताओ में ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी है । चुनाव लड़ने वाले प्रत्याशियों ने पूरी ताकत झोक दिया है । 

अखण्ड सौभाग्य के लिये महिलाओं ने रखा करवा चौथ का निराजल व्रत

चन्द्रोदय के पश्चात् पति व चन्द्र दर्शन-पूजन के बाद किया व्रत का पारण
जौनपुर। अखण्ड सौभाग्य के लिये महिलाओं ने गुरूवार को करवा चौथ का व्रत रखा जो पूरे दिन निराजल होकर शाम को चन्द्र दर्शन किया। तत्पश्चात् पति के हाथ से जल ग्रहण करके व्रत का पारण किया। इसके पहले बुधवार-गुरूवार की मध्य रात दही का सेवन करके महिलाओं ने निराजल व्रत रखा। गुरूवार की सुबह से लेकर शाम तक व्रत रहने वाली महिलाओं ने शाम को स्नान के बाद नये वस्त्र धारण किये। साथ ही सोलह श्रृंगार करते हुये पूजन सामग्री लेकर घर की छत या जलाशयों के किनारे या सार्वजनिक स्थल पर स्थित मन्दिर प्रांगण में जाकर चन्द्र दर्शन कीं। इसके बाद भगवान शिव, माता पार्वती एवं भगवान गणेश व कार्तिकेय का विधि-विधान से पूजन करके चलनी में से पति का दर्शन कीं जहां पति ने मिष्ठान खिलाकर पानी पिलाया जिसके साथ ही इस निराजल व्रत का पारण हुआ। मान्यता है कि करवा चौथ का व्रत सुहागिन महिलाएं पति के दीर्घायु की कामना से निराजल रखती हैं। शाम को चन्द्र दर्शन से होने वाली पूजा के पहले घर के आंगन या छत पर गाय के गोबर से लीप करके आटा से चौक बनता है जिसमें मिट्टी का करवा रखा जाताहै। करवा पर पूस की लकड़ी रखी जाती है जिसके बाद शिव, पार्वती, गणेश व कार्तिकेय की तस्वीर रखकर पूजा की जाती है। चन्द्रोदय होते ही महिलाएं चलनी से चांद का दीदार करती हैं जिसके बाद पति का दर्शन कर उनकी भी पूजा करती हैं। उपरोक्त मान्यता के अनुसार सुहागिन महिलाओं व रिश्ता तय होने वाली लकड़ियों ने करवा चौथ का निराजल व्रत रखा और पूजा-पाठ के साथ शाम को व्रत का पारण किया। मान्यता है कि सूर्योदय से चन्द्रोदय तक रहने वाला यह व्रत केवल जल ग्रहण करके रखा जाता है जिसका पारण पति द्वारा पानी पिलाने के बाद ही होता है। इसके बाद घर में बने पकवान को ग्रहण किया जाता है।