health

Breaking News

जौनपुर - बीजेपी के लिए जौनपुर से चुनाव का आगाज करना शुभ है-सतीश कुमार सिंह 24UPNEWS.COM पर

आयोग में 55 हजार मामले विचाराधीन

जौनपुर: राज्य सूचना आयुक्त राजकेश्वर सिंह ने कहा कि इस समय लगभग 55 हजार मामले आयोग में विचाराधीन हैं। समय से सूचना न देने वाले अधिकारियों को 25 हजार रुपये का जुर्माना लगता है, इसे उनके वेतन से वसूला जाता है।
श्री सिंह सोमवार को वाराणसी से लखनऊ जाते समय नगर के गूलरघाट मोहल्ले में मिथिलेश प्रताप सिंह 'गुड्डू' के आवास पर पत्रकारों से मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि आयोग के समक्ष संबंधित जिलों व विभागों के जन सूचना अधिकारियों को ही उपस्थित होने का प्रावधान है। ऐसा न करने वालों से लिखित स्पष्टीकरण लिया जाता है कि किन परिस्थितियों में वे स्वयं नहीं आए।
उन्होंने कहा कि जन सूचना अधिकारी द्वारा समय से सूचना न देने पर प्रथम अपील की जाती है और वहां से भी समय से सूचना न मिलने पर राज्य सूचना आयोग में अपील होती है। राज्य सूचना आयोग पहली ही तारीख में संबंधित जन सूचना अधिकारी को जुर्माना नहीं लगाता है। पर्याप्त मौका देने पर अगर सूचना नहीं दी जाती है तो आयोग संबंधित जन सूचना अधिकारी पर जुर्माना लगाता है, वह भी उसके वेतन से काटा जाता है।
उन्होंने कहा कि जन सूचना कानून देश के नागरिकों को बहुत ताकत देता है। इसके माध्यम से देश में चल रही तमाम योजनाओं, गतिविधियों और विकास कार्यो की जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

No comments:

Post a Comment