health

Breaking News

पूविवि में स्वामी विवेकानंद की जयंती पर राष्ट्रीय युवा दिवस समारोह आयोजित ,बने चरित्रवान तब होगा देश महानः स्वामी रामदेव 24UPNEWS.COM पर

मैनपुरी की धरा में पुरातत्व का खजाना

मैनपुरी जिले की धरा में पुरातत्व का खजाना है। मैनपुरी विकास खंड के गांव अस्योली में रविवार देर शाम खेत में चल रही खुदाई के दौरान प्राचीन मूर्तियां निकलीं। इनमें पांच फीट ऊंचा लाल पत्थर का शिवलिंग और गणपति व दुर्गा की मूर्तियां शामिल हैं। महिलाओं ने पूजा-अर्चना शुरू कर दी। अभी यह पता नहीं है कि यह कितनी पुरानी हैं। रात होने के कारण खोदाई बंद कर दी गई है, जो सोमवार सुबह शुरू होगी। अनुमान है कि खेत के नीचे प्राचीन मंदिर है।
अस्योली गांव निवासी अंकित मिश्र रविवार शाम करीब पांच बजे खेत में पानी लगाने के लिए नाली की खोदाई करा रहे थे। करीब साढ़े चार फीट गहराई पर मजदूरों का फावड़ा किसी पत्थर से टकराया। आसपास खोदाई की तो दो फीट नीचे शिवलिंग दिखाई दिया। पांच फीट ऊंचा भारी-भरकम शिवलिंग बाहर निकाला। लाल पत्थर का बना शिवलिंग पत्थर के ही चौकोर स्टैंड पर रखा था। बाद में स्टैंड निकाला गया। करीब आठ फीट खोदाई के बाद पत्थर की नक्काशीदार गणपति और मां दुर्गा की प्रतिमा निकली। ये मूर्तियां मिंट्टी में सीधी गड़ी थीं।
जिस स्थान पर मूर्तियां निकली हैं, वहां से करीब तीन सौ मीटर दूर महाराजा तेज सिंह की गढ़ी है। अब ये भी जीर्णशीर्ण हो गई है। ग्रामीणों का मानना है कि पहले यहां मंदिर रहा होगा, जो मिंट्टी में दब गया।