health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

भोजपुरी को उसका अधिकार मिलने तक संघर्श जारी रहेगा-डा0 सरिता बुद्धू

जौनपुर। भारत सरकार द्वारा भोजपुरी भाषा को यथोचित सम्मान न दिए जाने पर खेद ब्यक्त करते हुए मारिशस भोजपुरी स्पीकिंग युनियन की पूर्व चेयरमैन डा0 सरिता बुद्धू ने कहा कि अपने देष में भोजपुरी को भले ही सरकार सम्मान देने से परहेज कर रही है लेकिन मारिषस युनियन ने लड़ कर संसद में बिल पास कराके उसे प्राथमिक षिक्षा से जोड़ दिया गया है। मारिशस में भोजपुरी सरकारी भाशा हो गयी है। लोकसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी ने वादा किया था कि केन्द्र में सरकार बनने के बाद भोजपुरी भाशा को आठवीं अनुसूची में डालने का काम सरकार द्वारा किया जायेगा। इस बाबत मेरे द्वारा उन्हे पत्र दिया जा चुका है। पुनः 8 जनवरी 15 को गुजरात आयोजित प्रवासी भाशी दिवस कार्यक्रम में इस मुद्दे पर उनसे बात होनी है।
   डा0 बुद्धू अपने भारत आगमन पर यहां जौनपुर आने के बाद मीडिया से मुखातिब हुई और अपना उदगार ब्यक्त करते हुए कहा कि हम पूरे विष्व में भोजपुरी भाशा के प्रचार प्रसार के लिए संघर्श कर रही हूं। अगले वर्श 2015 में विष्व भोजपुरी साहित्य सम्मेलन भारत स्थित बाबा भोले नाथ की नगरी वाराणसी में कराये जाने का निर्णय लिया गया है। डा0 बुद्धू ने बताया कि गुजरात के गांधी नगर में आयोजित 7,8,एवं9 जनवरी 15 को होने वाले प्रवासी भाशी दिवस कार्यक्रम में मेरे द्वारा बिहार एवं पूर्वी उ0प्र0 के लोगेा के रहन सहन पहनावा खान पान आदि बिशयों पर चर्चा की जानी है।
    विष्व के लगभग 17 देषों में करीब 25 करोण से अधिक लोगो के बीच बोली जाने वाली भोजपुरी भाशा को आठवीं अनुसूची में षामिल किये जाने तक युनियन का संघर्श जारी रहेगा जब मारीषस में सफलता मिल गयी तो भारत में हम सफल होगे ऐसा विस्वास है।  साथ ही केन्द्र सरकार के स्वच्छता मिषन की सराहना करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री के इस काम को पूरे विष्व में सराहा जा रहा है। उन्होने विस्वास ब्यक्त किया कि जल्द ही मां गंगा भी साफ एवं स्वच्छ हो जायेगी।

No comments:

Post a Comment