health

Breaking News

जौनपुर - बीजेपी के लिए जौनपुर से चुनाव का आगाज करना शुभ है-सतीश कुमार सिंह 24UPNEWS.COM पर

एक टीचर ने कक्षा पांच की छात्रा को बहाने से अपने कार्यालय में बुलाया जहा उसने उसके साथ अश्लील हरकत करने का किया प्रयास

 आलम अली 
कानपूर देहात में एक बार फिर गुरु शिष्य परम्परा कलंकित हुई है । जहा एक टीचर ने खुद के ही विद्यालय में पढ़ने वाली कक्षा पांच की छात्रा को बहाने से अपने कार्यालय में बुलाया जहा उसने छात्रा के साथ अश्लील हरकते शुरू कर दी । बदनीयती से जब इस शिक्षक ने माशूम को निर्वस्त्र करने का प्रयश किया तो किसी तरह यह माशूम शोर मचाते हुए वहा से भागने में कामयाब हो सकी । जिसके बाद घर पहुंचकर अपने माता पिता को आपबीती बताई । परिजनों ने इसकी शिकायत स्थानीय पुलिस से की जहा पुलिस मुकदमा तो दर्ज कर लिया लेकिन आरोपी टीचर आज भी पुलिस की जद  से कोसो दूर है । 
कानपूर देहात के मूसानगर इलाके में स्थित ये आदर्श पब्लिक स्कूल है जहां कक्षा पांच तक के बच्चो को पढ़ाया जाता है । लेकिन यहाँ बीते दिनों जो हुआ उसने इलाके के सभी लोगो को झगझोर दिया है । दरअसल इसी शिक्षा के मंदिर के पुजारी यानी टीचर ने पूरे समाज को शर्मसार कर देने वाली घटना को अंजाम दे दिया । इसी स्कूल बने कार्यालय में इस स्कूल के ही टीचर ने पांचवी कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा को बहाने से बुलाकर दरवाजा बंद कर उसके साथ बलात्कार का प्रयाश किया । डरी शाह्मी इस माशूम ने शोर मचाते हुए इस कमरे का दरवाजा खोला और भागने में कामयाब रही । जिसके बाद परिजनों को आपबीती बताई परिजनों ने इसकी शिकायत मूसानगर पुलिस से की लेकिन तबतक आरोपी टीचर मौके से फरार हो चूका था । पुलिस की टालमटोली के कारण आज भी एक बहशी टीचर फरार है और पीड़ित परिवार दहशत के साये में जीने को मजबूर है । 
 क्योकि यह इलाका भाजपा नेता साध्वी निरंजन ज्योति का कार्यक्षेत्र रहा है इसलिए घटना की जानकारी मिलते ही साध्वी भी पीड़ित परिवार से मिली और इस घटना की घोर निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे व्यक्ति के खिलाफ सख्त कार्यवाही होनी चाहिए ए ऐसे लोगो को समाज से निकाल देना चाहिए ए विद्या के नाम पर अपनी हवश मिटाने वाले विद्यालय बंद होने चाहिए ।  वही इस पूरे मामले में संवेदनहीन रही मूसानगर पुलिस की कारगुजारी पर किस तरह पुलिस आलाधिकारी पर्दा डालने का काम कर रहे है ये आप खुद ही सुन लीजिये ।  इस पूरे मामले में जिले के एसपी का कहना है कि बलात्कार का प्रयाश किया गया लेकिन आरोपी भाग गया है । 
बहरहाल भले इस मामले जहा  शिक्षा के मंदिर को कलंकित कर एक माशूम की अस्मत को तार तार करने की कोशिस की गयी वही महकमे की कारगुजारी के कारण एक बहशी आज भी खुली हवा में घूम रहा है पुलिस ने समय रहते इस मामले में अगर पीड़ित परिवार की मदद की होती तो ये बहशी टीचर आज सलाखों के पीछे होता ।

No comments:

Post a Comment