health

Breaking News

राज्य कर्मचारियों का तीसरे दिन में धरना प्रदर्शन रहा जारी,सभी कार्यालयों में तालाबंदी से आम जनता रही परेशान,कर्मचारी नेता राकेश श्रीवास्तव सहित हजारों कर्मचारियों ने कलेक्ट्रेट परिसर में सरकार को सद्बुद्धि हेतु किया यज् 24upnews.com

भाजपा का प्रदर्शन कल


जौनपुर। एक जुलाई को होने वाले भाजपा के धरना प्रदर्शन और जुलूस तथा कलेक्ट्रेट घेराव को सफल बनाने के लिए पार्टी ने कमर कस लिया है। जिलाध्यक्ष हरिश्चन्द सिंह व महामंत्री सुशील उपाध्याय ने पदाधिकारियों के साथ धरना स्थल का निरीक्षण किया। नगर इकाई भी बैठके कर पदाधिकारियों को नगर अध्यक्ष राजेश श्रीवास्तव निर्देश दे रहे है, और राष्ट्रीय कार्यकारणी (मजदूर मोर्चा ) के सदस्य संजय सिंह ने पदाधिकारियों और पार्टी के लोगों  तथा जनमानस से अपील की है की भारी सख्या में आकर प्रदर्शन और जुलुस को सफल बनाये। 

बेरोजगार अभ्यर्थियों के लिए पंजीयन की सुविधा हुई आसान


प्रतापगढ़। प्रदेश सरकार अधिक से अधिक नवयुवको एवं नवयुवतियों को रोजगार उपलब्ध कराने हेतु कृत संकल्प है। इसी उद्देश्य को दृष्टिगत रखते हुये सेवायोजन डाट ओआरजी पोर्टल का निर्माण कराया है। इस पोर्टल के माध्यम से सेवायोजन विभाग की समस्त सेवाएं बेरोजगार अभ्यर्थियों को त्वरित गत से आनलाइन प्राप्त हो सकेंगी। उक्त जानकारी डीएम अमृत त्रिपाठी द्वारा प्रेस को भेजी गयी विज्ञप्ति के माध्यम से बताया गया। उन्होंने बताया कि उक्त पोर्टल पर यह व्यवस्था की गयी हैं कि बेरोजगार अभ्यर्थी एवं सेवायोजक अपना पंजीयन करा सके। इससे बेरोजगार अभ्यर्थियों को एक ओर रोजगार के अवसर, प्रशिक्षण एवं कैरियर काउन्सिलिंग की सुविधा उपलब्ध होगी। वही सेवायोजक को कुशल एवं प्रशिक्षित मानव शक्ति की निःशुल्क आपूर्ति हो सकेगी। उक्त पोर्टल के माध्यम से सेवायोजक अपने संस्थान में होने वाली रिक्तिको को त्रैमासिक आधार पर सेवायोजन कार्यालयों को अधिसूचित करेंगे। जिसके सापेक्ष कार्यालय द्वारा उनको योग्य एवं प्रशिक्षित मानव शक्ति उपलब्ध करायी जायेगी। सेवायोजक अपने संस्थान के सभी रिटर्न भी इसी पोर्टल पर जमा कर सकेंगे। इस व्यवस्था से रिक्तियों के सम्बन्ध में अधिसूचना अधिनियम-1959 का अनुपालन भी सुगम हो सकेगा। डीएम ने बताया कि उक्त पोर्टल में शासन द्वारा यह प्राविधान भी कराया गया हैं कि प्रदेश के अन्तर्गत समस्त सरकारी एवं अर्द्धसरकारी विभागो में होने वाली नियमित संविदा रिक्तियों एवं भर्तियों की सूचना भी प्रदर्शित की जाय ताकि बेरोजगार अभ्यर्थियों को एक ही स्थान पर प्रदेश में होने वाली समस्त रिक्तियो एव भर्तियों एवं उनके परिणामों की जानकारी आसानी से हो सके। उक्त सम्बन्ध में 30 अप्रैल 2015 को शासन द्वारा शासनादेश निर्गत किया जा चुका है।

नदियों में नाव चलाने के लिए लेना होगा लाइसेंस


सुरक्षा कवच के बगैर बैठाई सवारी तो खैर नहीं
शिवेश शुक्ल (संवाददाता )
प्रतापगढ़। नदियों में नाव चलाने के लिए जल पुलिस से लाइसेंस लेना जरूरी हो गया है। बगैर पुलिस के अनुमति से अब किसी भी घाट पर नाविक नाव नहीं चला सकेगा। इसके लिए क्षेत्र के घाटों पर नाविको को नदी में अब अपनी नाव चलाने के लिए जल पुलिस से लाइसेंस लेना होगा। साथ ही नदी में नाव चलाते समय में सुरक्षा के समूचे उपाय करने होंगे तभी मल्लाहों को नदी में नाव चलाने की अनुमति दी जायेगी। इलाहाबाद के मण्डलायुक्त के इस फरमान से जिले के नाविको में हड़कम्प मचा है। इलाहाबाद में हुई नाव दुर्घटना को देखते हुए तत्कालीन मण्डलायुक्त बी0के0 सिंह ने एक आदेश जारी किया था, जिसके अन्तर्गत लोगो की सुरक्षा के लिए प्रत्येक नदियों में चलने वाली नावों मे सुरक्षा के सभी इन्तजाम करने के साथ नाविको ंको लाइसेंस दिया जाय और समय-समय पर सुरक्षा उपायो की जांच भी करायी जाय। इसी क्रम में अग्नि शमन दल के पुलिस कर्मियो ने जिले के बेलखरनाथ धाम, मोलनापुर, व पीपरी के घाटों पर पहुंच कर यहाँ पर चलने वाले नावों के बारे में जानकारी दी और नाव चलाने वाले मल्लाहों से भी वार्ता की। जांच को आये अधिकारियों ने भी नाव मालिको को भी निर्देशित किया कि 10 से अधिक यात्रियों को न बैठाये और यात्रियो ंपानी से बचाने के लिये नाव में बैठाने से पूर्व  जैकेट अवश्य पहनाये किसी दुर्घटना के बाद यात्रियों की जान बचायी जा सकें तथा समय-समय पर नाव की मरम्मत कराते रहें जिससे नाव के अन्दर पानी प्रवेश करने का खतरा न रहे। यदि उक्त निर्देशों का पालन न किया गया तो पकड़े जाने पर नाव मालिको के विरूद्ध सम्बन्धित थाने में मुकदमा पंजीकृत कराया जायेगा। 

डिजिटल इण्डिया वीक आयोजन आज से


प्रतापगढ़। इलेक्ट्रानिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी विभाग भारत सरकार के निर्देशो के क्रम में डिजिटल इण्डिया सप्ताह 01 जुलाई से 07 जुलाइ्र तक मनाया जायेगा जिसके तहत जिलेवार विभिन्न राष्ट्रीय एवं अन्य डिजिटल योजनाओं के प्रचार-प्रसार एवं उपयोगिता के विषय में जानकारी मुहैया करायी जायेगी। सप्ताह के दौरान नागरिको को डिजिटल लाकर बनाये जायेंगे। डिजिटल लाकर प्रणाली एक मानकीय कृत प्रक्रिया जिसके माध्यम से आधार संख्या धारको को निर्गत की जाने वाली शासकी दस्तावेज, ई-दस्तावेज एवं प्रिन्ट आउट सुविधा के साथ उपलब्ध कराये जा सकते है तथा उनको सुरक्षित रखने के साथ विभिन्न कार्याें अधिष्ठानो के साथ साझा भी किया जा सकता है। उक्त जानकारी जिला सूचना विज्ञान अधिकारी मयंक लाल शर्मा ने देते हुए बताया कि डीएम अमृत त्रिपाठी ने समस्त जिलास्तरीय अधिकारी को निर्देशित किया हैं कि वे अपने अधिष्ठान में कार्यरत अधिकारियों कर्मचारियों डिजिटल इण्डिया वीक को सफल बनाने हेतु अन्य योजनाओं के साथ डिजिटल लाकर की उपयोगिता के सम्बन्ध में अवगत कराये तथा डिजिटल लाकर क्रियेट कराना सुनिश्चित करें।

यूपीटीयू की लापरवाही का खमियाजा छात्र भुगतने को मजबूर


कुँवर दीपक सिंह (रिंकू)
जौनपुर। उत्तर प्रदेश टेक्निकल विश्वविधालय (यूपीटीयू) ने तो लापरवाही की सारी हदे पार कर दिया जिसके चलते भारी संख्या में तकनीकी शिक्षा ग्रहण करने वाले छात्रो का मामला अधर में लटक गया है। यूपीटीयू के अधिकारी एक शब्द सारी बोल कर अपनी लापरवाही से स्वयं को बरी मान रहे है। सवाल यह है कि क्या प्रदेश की सरकार इस मुद्दे को गम्भीरता लेते हुए छात्रो के जीवन के साथ लापरवाही का खेल करने वाले यूपीटीयू के जिम्मेदार अधिकारियों के बिरूद्ध कोई कार्यवाही करेगी या मौन रहकर कार्य के प्रति लापरवाह गैरजिम्मेदार भ्रष्टजनो को सहयोग करेगी। तकि भविष्य में इस तरह की हरकत करने का दुस्साहस फिर कोई अधिकारी न कर सके।
    मामला यह है कि शासना देश के आधार पर यूपीटीयू टेक्निकल शिक्षा के लिए प्रवेश हेतु परिक्षा करता है। परिणाम आने के बाद काउन्सलिंग भी इसी के जिम्मे होती है। यूपीटीयू ने लापरवाही किया कि इस वर्ष काउन्सलिंग के समय ही सरकार द्वारा संचालित पूर्वान्चल विश्वविधालय का नाम अपनी वेबसाइट से गायब कर दिया। काउन्सलिंग के बाद 29 जून को जब छात्रो को कालेज लाक करना हुआ तो साइड से पूर्वान्चल विश्व विधालय का नाम ही गायब मिला इसकी सूचना पूर्वान्चल विश्व विधालय प्रशासन को हुई तो कूलपति के द्वारा शिकायती पत्र यूपीटीयू को दिया गया। यूपीटीयू के अधिकारी एक शब्द सारी बोल कर दूसरी काउन्सलिंग में नाम शामिल करने का अश्वासन देदिया है।
    लापरवाही करने वाले अधिकारी तो सारी कहकर अपने को बेकसूर भले ही साबित कर ले परन्तु इनके इस कुत्य से पूर्वी उ0प्र0 के भारी संख्या में छात्रो भविष्य के साथ जो खिलावाड़ हुआ है उसकी भरपाई कैसे होगी इसका उत्तर किसके पास है। गरीब छात्रा जो सरकारी कालेज में कम शिक्षा शुल्क पर प्रवेश पा कर बी टेक एमबीए अथवा बी फार्मा जैसे ब्यवसायिक पाठ्यक्रमो मे शिक्षा ग्रहण कर अपने रोजी रोजगार की ब्यवस्था कर सकते थे। अब उनके समक्ष बड़ा संकट यह हो गया कि धनाभाव के अभाव में प्राईबेट कालेजो मे प्रवेश नही ले पा रहे है।
      प्रदेश सरकार को इस लापरवाही को संज्ञान लेना चाहिए और लापरवाह सभीजिम्मेदार जनो के बिरूद्ध सम्यक बिधिक कार्यवाही करनी चाहिए ताकि पुनः इस तरह की लापरवाही कर छात्रो के भविष्य के साथ खिलवाण करने का साहस कोई भी अधिकारी न कर सके। सूत्र की माने तो पूरे प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच होने पर किसी साजिस का बड़ा खुलासा सम्भव है।

सपा सरकार निर्दोषों पर गोलियां दाग कर अंग्रेजों को भी मात दे रही है -निषाद समाज


जौनपुर। निषाद समाज ने शहर के सद्भावना पुल से जुलूस निकालकर सपा सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए जिला मुख्यालय पर धरना दिया। सभा को सम्बोधित करते हुए तिलकधारी निषाद ने कहा कि सपा सरकार निर्दोषों पर गोलियां दाग कर अंग्रेजों को मात कर रही है। सात जून के दिन काला दिवस मगहर गोरखपुर में आरक्षण की मांग को लेकर आन्दोलन कर रहे निर्दोष लोगों पर पुलिस ने खुलेआम गोलियां चलाकर अति पिछड़े वर्ग के बीएससी के छात्र अखिलेश निषाद की हत्या कर दिया। इसको लेकर अब तक प्रदेश में एक हजार से धरना प्रदर्शन सपा के विरूद्ध हो चुका है। 33 लोगों को तुरन्त जेल से रिहा किया जाय। अन्य वक्ताओं ने सपा सरकार को निषाद विरोधी करार दिया और कहा कि इस सरकार को उखाड़ फेकना ही निषाद व मछुआरा समाज का लक्ष्य है। निषाद संघ के राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष तूफानी निषाद ने सपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुएकहा कि निषाद की हत्या इस सरकार को मंहगी दिखा पड़ेगी। कहा कि निषाद, गौड़, तरैहा, मझवार के पर्यायवाची को समाहित कर मछुआरा वर्ग को आरक्षण देने की मांग की। उन्होने कहा कि जब पहले से ही हम आरक्षित है तो पर्यायवाची शामिल करने में दिक्कत क्या है। प्रदेश स्पष्ट प्रस्ताव केन्द्र को भेजकर अनुसूचित जाति में शामिल करने की वकालत करे। अखिलेश निषाद की हत्या में दोषी पुलिस वालों पर कार्रवाई कर आन्दोलन कारियों को रिहा किया जाय। राजकुमार निषाद ने कहा कि सपा ने जोर और जुल्म की हद कर दी है। अब हत्या पर उतर आयी है। अखिलेश निषाद को न्याय नहीं मिला तो सपा सरकार की ईट से ईट बजाने का कार्य निषाद समाज करेगा। इस अवसर पर केवलधारी, प्यारे लाल, प्रदीप, फूल चन्द , बच्चू लाल, बाबू राम, राजनाथ, राजनाथ, राम किशुन आदि मौजूद रहे।

बीमार मिट्टी की जांच में केन्द्र एवं प्रदेश सरकारो की लापरवाही हुई उजागर


कपिलदेव मौर्य 
जौनपुर। केन्द्र एवं प्रदेश की सरकारें किसानो की बाते तो खूब करते है परन्तु आज तक एक अधेला का लाभ किसानो को किसी भी सरकार ने नही दिया है किसान कल भी भगवान भरोसे था आज भी उसी के सहारे है। सरकारे तो केवल गाल बजाकर योजना की घोषणा कर अपनी पीठ खुद थपथपाने में लगी है। किसानो के लिए न तो कोई सुविधा, न किसी योजना को धरा पर उतारने का प्रयास, नही कोई राहत किसानो को देने का काम इन सरकारो ने अब तक किया है। देश के प्रधानमंत्री जीम न की बात में किसानो को लालीपाप देते है तो प्रदेश के मुख्यमंत्री जी किसानो के मसीहा बनकर किसानो की भवनाओ के साथ खेल ते नजर आते है। एक दो जिले नही बल्कि पूरे प्रदेश के किसानो का हाल एक जैसा है।सभी दोनो सरकारो के झूठ के शिकार हो रहे है।
    उदाहरण के लिए किसानो से जुड़ी एक योजना पर नजर डाले तो दोनो सरकारो की पोल खुल जाती है क्योंकि इस योजना से दोनो का सम्बन्ध है। दोनो को साझे में  मिल कर किसानो को लाभ दिया जाना है। योजना का नाम है मृदा परिक्षण यानी किसानो के खेतो के मिट्टी के सेहत की जांच करना है। इस योजना पर नजर डाले तो एक बएत साफ हो जाती है कि योजना का सारा खेल कागजी बाजीगरी पर चल रहा है। वाराणसी मंडल के जिलो में इस योजना के बाबत खोज बीन की गयी तो जो सच खुलकर सामने आया वह खासा हैरान करने वाला है। किसानो के खेतो से मिट्टी का नमूना लिए जाने के साथउनसे सामान्य जांच का 07रू0 एवं सूक्ष्म जांच का 30 रू0 शुल्क लिया गया परन्तु एक भी नमूनू की जांच नही हो सकी है। इसके पीछे जो कारण उभर कर सामने आया है उसके तहत केन्द्र एवं प्रदेश की सरकारे शुद्ध रूप से जिम्मेदार नजर आ रही है।
     बिभाग के तकनीकी बिशषज्ञो के अनुसार मिट्टी की जांच मे प्रयोग में लाये जाने वाले रसायनो की खरीद पर दोनो सरकारो ने रोक लगा दिया है, जिसके चलते प्रदेश स्तर पर बिभाग ने रसायन की खरीद नही किया है।प्रश्न उठता है कि जिस रसायन के द्वारा जांच होनी है वह नही है तो बीमार मिट्टी की जांच कैसे होगी। खबर है कि रसायन की खरीद प्रदेश स्तर पर करके जिलो को आपूर्ति की जाती है जब खरीदा ही नही गया तो जिलो को कहां से मिलेगा। रसायन की खरीद में 75 फीसद धनराशि केन्द्र सरकार का होता है तो 25 फीसदी प्रदेश सरकार लगाती है दोनो सरकारो ने किसानो से सम्बन्धित इस योजना के लिए सरकारी खजाने से एक रूपये निकालना उचित नही समझा लेकिन जब किसान की बात आती है तो इतने लक्ष्छेदार भाषण होते है कि बाग बाग हो जाये। करना कुछ भी नही केवल वादो के सहारे किसानो को गुमराह करना इनकी फितरत बन गयी है।
     अभी केन्द्र सरकार के प्रधानमंत्री ने 28 जून15 को मन की बात करते समय किसानो के बिषय में उवाच किया कि हम देश के किसानो को नई तकनीक से खेती करने के लिए सहयोग करने का निर्णय ले चुके है। वाह क्या बात है किसानो के बीमीर मिट्टी की जांच यानी मृदा परिक्षण तो नही करा रहे है नई तकनीक से खेती कराने का नया वादा कर लिया है। ये तो रही पीएम की बात लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री जी भी पीछे नही है इन्होने भी एक लालीपाप किसानो का दिया किअब अगले रबी की फसल बोने से पहले किसानो के खेतों की मिट्टी की जांच निःशुल्क करायी जायेगी लक्ष्य नही होगा बल्किजिले की एक तिहाई ग्राम सभाओं के किसानो की सिंचित एवं असिंचित भूमि ग्रीड योजना के तहत मृदा परिक्षण कराके जमीन को उपजाऊ बनाया जायेगा तकि अधिक उत्पादन लिया जा सके। अभी तक सरकारो ने जिस तरह की अनदेखी किसानो के साथ दिखाया उसे देख नही लगता कि आगे इनके प्रति सरकारे गम्भीर हो सकेगी।
    एक मंडल वाराणसी परिक्षत्र के जिलो में मृदा परिक्षण के आंकड़े पर गौर करे तो आश्चर्य होता है कि रसायन नही है फिर जांच की आख्या शासन को प्रेषित की गयी है। जनपद वाराणसी में 6120 नमूने लिए गये जांच 450 की किया गया, जौनपुर में 10600 नमून लिए गये और जांच 3600 की कर ली गयी है।चन्दौली में 5400नमूने लिए गये जांच1120 की किया गया है भदोही में 4500 नमूने लिए गये जांच 780 की जांच कह गयी। गाजीपुर में 7690 नमूने लिए गये जांच 2300 की किया गया है। अब सवाल यह उठता है कि जब जांच करने में प्रयोग होने वाला रयसायन नही है तो जांच कैसे की गयी है। इससे तो साफ होता है कि कागजी बाजीगरी का खेल करके बिभाग लोग शासन मे अपनी आख्या प्रेषित कर रहे है। जिसके आधार पर सरकारे अपनी पीठ स्वयं थपथपा रही है जो भी हो किसान तो बेचारा है और गुमराह होने को मजबूर है।

धरौहरा गाँव में अधेड़ के शव का परिजनों ने न्याय न मिलने से पहले अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात


जौनपुर के शाहगंज स्थित धरौहरा गाँव में प्रशासन को आज सुबह उस समय भारी संख्या में पुलिस बल तैनात करना पड़ा जब पोस्टमार्टम के बाद घर पहुचे अधेड़  के शव का  परिजनों ने न्याय न मिलने से पहले अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया [ परिजनों का आरोप है की पुलिस क्षेत्रीय विधायक के दबाव में काम कर रही है और आरोपियों से मिली हुयी है वही पुलिस आरोपी के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज कर पी एम रिपोर्ट आने के बाद अन्य कारवाई करने की बात कर रही है [  गौरतलब हो की शुक्रवार की देर रात जमीनी विवाद के चलते दो पक्षों में खुनी संघर्ष हो गया था जिसमे कुल 9 लोग घायल हुए थे जिसमे से उपचार के दौरान वाराणसी में एक की मौत हो गयी थी जिसे लेकर परिजन काफी आक्रोशित है .
जिला मुख्यालय से 35 किमी दूर शाहगंज कोतवाली के धरौहरा गाँव में बीते शुक्रवार की रात मडहा रखने के विवाद को लेकर गाँव के ही माता बदन यादव और वीरेंद्र प्रताप के बीच खुनी संघर्ष हो गया जिसमे वीरेंद्र सहित कुल 9 लोगो घायल हुए जिन्हें उपचार के लिए शाहगंज अस्पताल पहुचाया गया जहा डाक्टरों ने वीरेंद्र को जिला अस्पताल रेफर किया और जिला अस्पताल के डाक्टरों ने हालत गंभीर बताते हुए वाराणसी के लिए रेफर कर दिया [ वाराणसी में उपचार के दौरान वीरेंद्र की मौत हो गयी [ पोस्टमार्टम के बाद कल रात जब शव घर पंहुचा तो परिजनों ने उसका अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया [ परिजनों का कहना है की पुलिस क्षेत्रीय विधायक के दबाव में काम कर रही है और आरोपियों के साथ मिली हुयी है वरना पुलिस हम लोगो के खिलाफ ही मामला क्यों दर्ज की है [ परिजनों जिद पर अड़े रहे की जब तक आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज नहीं किया जाता तब तक वो लोग शव का अंतिम संस्कार नहीं करेंगेपरिजनों द्वारा शव का अंतिम संस्कार न किये जाने की सुचना मिलते ही भारी संख्या में पुलिस बल गाँव में तैनात कर दिया गया जिसकी कमान खुद एस पी नगर रामजी सिंह यादव और सी ओ शाहगंज मयाराम वर्मा ने सम्भाल रखी थी . इस मामले में जब एस पी से पूछा गया तो उन्होने कहाकि आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज है और परिजन धारा बदलने की बात कर रहे है पुलिस भी पी एम रिपोर्ट का इंतज़ार कर रही है जिसके आने के बाद धारा में परिवर्तन किया जायेगा और जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जायेगा .
फ़िलहाल जो भी हो लेकिन शाहगंज पुलिस द्वारा आरोपी की तहरीर पर मृतक के परिजनों के खिलाफ मामला दर्ज करने से चर्चाये जोरो पर की आखिर पीड़ित को न्याय दिलाने वाली ये पुलिस कब बिना किसी दबाव के काम करेगी और कब मृतक के परिजनों को न्याय मिलेगा ?

मऊ में गैस रिसाव से लगी कमरे में आग से 4 की मौत, 4 झुलसे,कांप गया हर शख्स


पवन सिंह (जिला संवाददाता) 
मऊ-जनपद के लिए सोमवार की रात खौफनाक बन कर आयी, जब एक ही परिवार के चार लोगों की मौत सोते समय गैस सिलेण्डर में रिसाव के बाद कमरे में मार्टिन अगरबत्ती जलाने के दौरान आग लगने से हो गयी। जबकि चार लोग गंभीर रुप से आग की चपेट में आने से झुलस गये जिन्हे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के मुताबिक जनपद के घोसी कोतवाली के मझवारा बाजार में पड़ोस के देवरिया जनपद के बरहज बाजार निवासी किराये पर कमरा लेकर कृष्णा जायसवाल पूरे परिवार के साथ रहतें थे और बाजार में ही घर से सटे दुकान में साड़ी का व्यवसाय करते थे। सोमवार/ मंगलवार की रात्रि पूरा परिवार नित्य की भांति खाना पीना खा कर सोने चला गया। तभी रात 2:15 पर कृष्णा जायसवाल बिजली कटने के दौरान मच्छर अगरब्तती जला रहे थे तभी घर में अचानक आग लग गयी। रात को ही आस पड़ोस के लोग अपने अपने घरों से धू- धू कर उठती आग की लपटों की तरफ दौड़ पड़े।
तब तक काफी देर हो चुकी थी आग की चपेट में आने से साड़ी व्यवसायी कृष्णा जायसवाल 40 वर्ष, उनका मासूम पुत्र कुबेर 8 वर्ष, आनन्द 6 वर्ष व पुत्री दीक्षा 2 वर्ष की घटना स्थल पर ही मौत हो गयी। जबकि पत्नी शकुन्तला 35 वर्ष, पुत्री मोहिनी 10 वर्ष, साली अंकिता 20 वर्ष व साले की पुत्री मुस्कान 10 वर्ष बुरी तरह झुलसने के कारण जिला अस्पताल में भर्ती हैं जंहा उनका उपचार चल रहा है। मौत का मंजर इतना खतरनाक था कि देख कर हर शख्स कांप गया।
जिला अस्पताल पर घायलों का हाल जानने पहुंचे पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार सिंह ने बताया कि घटना प्रथम दृष्टया घर में गैस सिलेण्डर में रिसाव हो रहा था तभी परिजनों ने मार्टिन अगरबत्ती जलायी जिसके कारण होना प्रतित होता है।

विवाद के चलते कोटे की कार्यवाही स्थगित


 जौनपुर - जनपद के जलालपुर थाना  क्षेत्र के महिमापुर गाव के प्राथमिक विद्यालय पर सोमवार के दिन गाव सभा की खुली बैठक विवाद के चलते स्थगित हो गयी। गौरतलब हो की महिमापुर सरकारी सस्ते गल्ले की द्वितीय दूकान खाद्यान्न के कालाबाजारी के आरोप मे निरस्त कर दिया गया था जिसके सम्बन्ध मे 11 जून को गाव सभा का बैठक बुलाई गयी थी जो कोरम पूर्ण  न होने के कारण स्थगित कर दिया था। पुनः 29 जून को सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान हेतु बैठक बुलाई गयी थी और शनिवार के दिन बकायदे गाव मे मुनादी भी कराई गयी। लगातार वारिस होने के बाउजूद गाव की जनता से विद्यालय परिसर खचा खच भरा था बैठक मे सरकारी सस्ते गल्ले की दुकान हेतु आवेदन मागा गया परन्तु कार्यवाही रजिस्टर पर गाव  वालो का हस्ताक्षर नही कराया गया जिसमे सुरेश कुमार यादव शमशेर अली तथा मो0 इनाम ने आवेदन किया और अपने अपने समर्थको के साथ अलग अलग खेमो मे बैठ गये सबसे पहले सुरेश यादव कि गणना कराई गयी उनके पक्ष मे 6 सौ 21 लोगो ने समर्थन किया गणना के बाद उनके समर्थको को गेट के बाहर कर दिया गया तथा शमशेर मो0 इनाम की गणना शुरु होने वाली थी तो दोनो आवेदक आपस मे मिल गये इस पर उदय शंकर सिंह ए डी ओ पंचायत ने कहा कि यह नियम विरुधद्व है तब मो0 इनाम अपने कुछ समर्थको को साथ लेकर कहा की यही हमारे समर्थक है शेष समर्थक शमशेर अली के है और सारे लोग शमशेर अली के पक्ष मे नारे लगाने लगे इसी बात को लेकर बाद विवाद बढता गया। अन्त मे दोनो पक्षो के समर्थक बिना गणना कराये बैठक का बहिश्कार करके वले गये थानाध्यक्ष अनिल कुमार सिंह के चाक चैबन्द ब्यवस्था के चलते कोई अप्रिय घटना नही घट सकी और सभी को शान्ति पूर्ण ढंग से गोट के बाहर कर दिया बैठक मे नायब तहसीलदार केराकत रामनयन सिंह सहायक विकास अधिकारी आई एस बी प्रेम शंकर मिश्रा विकास अधिकारी नवीन चन्द्र श्रीवास्तव ग्राम पंचायत अधिकारी जित्तूराम यादव अमिलेश कुमार चैबे ग्राम रोजगार सेवक अभिषेक गुप्ता उपस्थित रहे अन्त मे बैठक को उच्चधिकारी से समझकर निर्णय लेने की बात कह कर बैठक को स्थगित करके चले गये।

फेसबुक पर चैट करना बंद कर दिया तो एक लड़के ने अपने दो दोस्‍तों के साथ मिलकर किया गैंगरेप


सुभाष पाण्डेय 
लखनऊ - प्रदेश के  बदायूं जनपद के सिविल लाइन थाना क्षेत्र के आवास विकास कॉलोनी में रहने वाली लड़की चॉकलेट लेने जा रही थी जिसने फेसबुक पर चैट करना बंद कर दिया तो एक लड़के ने अपने दो दोस्‍तों के साथ मिलकर उसका गैंगरेप किया। रास्ते में उसे पड़ोस का एक लड़का मिला। उसके साथ दो दोस्त भी थे। लड़की का आरोप है कि उन्होंने उसे जबरदस्ती अपनी बाइक पर बिठाया और उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। बाद में तीनों आरोपी लड़की को करीब दो किलोमीटर दूर गन्ने के खेत में ले गए। वहां उसके साथ रेप किया गया। बाद में सभी आरोपी भाग गए। एक किसान ने लड़की को गंभीर हालत में देखा तो उसे उसके घर पहुंचाया।
खबरों के अनुसार तीनों आरोपी भी नाबालिग बताए जाते हैं। लेकिन, पुलिस और डॉक्‍टर गैंगरेप के दावे पर शक जता रहे हैं।
सूत्रों के अनुसार लड़की की मेडिकल जांच करने वाले डॉक्टर हकीम सिंह ने सोमवार को बताया कि पीड़िता के प्राइवेट पार्ट से बोतल का ढक्‍कन, माचिस, लकड़ी का टुकड़ा, पॉलीथीन, कपड़े का टुकड़ा मिला है। ये सारी चीजें सूखी अवस्था में मिली हैं। लगता है कि ये चीजें एक दिन पहले ही प्राइवेट पार्ट में डाली गई हो, क्‍योंकि इनसे बदबू नहीं आ रही थी। अगर ज्‍यादा दिनों से ये चीजें अंदर होतीं तो पीड़ि‍त को ज्‍यादा परेशानी भी होनी चाहिए थी। बता दें कि लड़की की बहन का आरोप है कि गैंगरेप 23 जून को हुआ। हालांकि, इसकी एफआईआर 28 जून को दर्ज कराई गई।
बताया जाता है कि लड़की ने फेसबुक चैट करना बंद कर दिया तो लड़के ने दो दोस्‍तों के साथ उसका गैंगरेप किया। राज्‍य के गोरखपुर जिले से भी एक ऐसी ही घटना सामने आई है, जहां बलात्‍कार के बाद आरोपियों ने लड़की के प्राइवेट पार्ट में रॉड डाल दी थी। इस घटना को तो पुलिस ने सात दिन तक दबाए ।
डिप्रेशन में आई लड़की, बहन ने की मदद। 28 जून की रात को एफआईआर दर्ज हुई। लड़की की बहन ने फेसबुक के जरिए आरोपियों की पहचान की। इसके बाद पुलिस ने दो आरोपियों को अरेस्‍ट कर लिया है, लेकिन तीसरा अब भी फरार है।

रिमझिम बरसात से टूटा गर्मी का गुरूर, खिले किसानो के चेहरे


बारिश शुरू होते ही सड़के बनी जानलेवा
प्रतापगढ़। जिले में शुरू हुई रिमझिम बारिश ने लोगो को गर्मी के कहर से राहत दिलायी है। गर्मी का कहर झेल रहे लोगो को मानसून की दस्तक से जहां राहत मिली हैं वही  किसानो में खुशी दिखी है। रविवार की सुबह से शुरू हुई रिमझिम बरसात सोमवार को शाम तक जारी रही। जिससे मौसम सुहाना रहा। रूक-रूक कर हो रही बरसात से जहां किसानो के चेहरे खिल गये वहीं लोगो को गर्मी से निजात मिली। इससे तापमान में भी गिरावत आ गयी है। यह बात अलग हैं कि पहली बरसात में भी शहर में जगह-जगह जल जमाव नजर आया है। कई स्थानों पर टूटी सड़के जानलेवा बनती दिखीं। लगभग 3 माह से गर्मी की कहर झेल रहे लोगो को रविवार की सुबह राहत लेकर आयी। लोगो की आंख खुली तो आसमान में बादल छायें रहे। इसके बाद शुरू हुई रिमझिम रूक-रूक कर बरसात सोमवार को भी रूकने का नाम नहीं ली। बरसात से शहर में जगह-जगह जल जमाव होने से लोगो को परेशानी उठानी पड़ी। रोडवेज बस स्टैण्ड रेलवे स्टेशन समेत अन्य मोहल्लो में घुसने पर लोगो को कीचड से होकर गुजरना पड़ रहा है। बरसात से किसानो के चेहरे खिल गये जो लोग अभी तक धान की नर्सरी नहीं डाल सके थे वे अब अपनी धान की नर्सरी डाल सकेंगे। वहीं दूसरी ओर जिले की बदहाल सड़के लोगो के लिये मुसीबत बन गयी। बता दें कि जिले मंे कई स्थानो पर सड़को का निर्माण कार्य चल रहा है। सड़क के किनारे हुई खुदाई बरसात से जानलेवा हो गयी है। चिलबिला से किशुनगंज मार्ग से चलना खतरे से खाली नही रह गया है। विगत सात माह से इस माह पर कार्य चल रहा है। सड़क के किनारे दोनो गड्ढे खोदकर छोड़ दिये गये है। सड़क के बीचो बीच कही बालू  तो कही मिट्टी का ढेर लगा हुआ है। जिससे लोगो को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। 

मरीज को लेकर जा रही एम्बुलेंस ट्रेलर से टकराई, एक मौत, पांच घायल

file - photo
इलाहाबाद ले जाते समय हुई दुर्घटना
प्रतापगढ़। नगर के एक नर्सिंग होम में बीमारी से भर्ती मरीज को एम्बुलेंस से इलाज हेतु इलाहाबाद ले जाते समय रास्ते में एम्बुलेंस एक ट्रेलर से टकरा गयी जिसमें सवार चालक समेत पांच लोग गम्भीर रूप से घायल हो गये और इलाज के लिये जा रहे मरीज की मौत हो गयी। घटना की सूचना पर पहुंचे लोगो ने घायलो को इलाज हेतु अस्पताल पहुंचा और मृतक के शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर अन्त्य परीक्षण हेतु भेजा। जानकारी के अनुसार नगर के नरसिंह भान गांव निवासी सुशील 45 की तबियत अचानक खराब हो गयी थी जिसे परिजनो ने इलाज हेतु नगर के एक नर्सिंग होम में भर्ती कराया था जहां पर हालत बिगड़ने पर उसे इलाहाबाद के लिये रिफर कर दिया गया। सूचना पर पहुंचे परिजन लवकुश 30 व उसकी पत्नी गीता देवी, बेटा अनमोल 18 तथा पट्टी कोतवाली क्षेत्र के सरदहा निवासी रिश्तेदार मिठाई लाल 45, नगर के दहिलामऊ निवासी एम्बुलेंस चालक दीपक गौड़ के साथ इलाहाबाद इलाज हेतु जा रहे थे कि रास्ते में देल्हूपुर के पास तेज रफ्तार से आ रही ट्रेलर से एम्बुलेंस जा टकराई जिसमें सवार सुशील 45 की मौत हो गयी और लवकुश, गीता देवी, अनमोल, मिठाई लाल तथा चालक दीपक गौड़ घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलो को इलाज हेतु भिजवाया और मृतक के शव को कब्जे में लेकर अन्त्य परीक्षण के लिये भेजा।

होटल की घटना की जांच में लीपापोती का आरोप, निष्पक्ष जांच की वकीलो ने की मांग


शिवेश शुक्ला 
प्रतापगढ़। जूनियर बार एसोसिएशन पुरातन की पदाधिकारियों की एक बैठक अध्यक्ष भूपेन्द्र नाथ शुक्ल व महामंत्री दिनेश पाण्डेय के संचालन में हुई। बैठक में नगर के एक होटल में प्रबन्ध तंत्र व संचालको की लापरवाही से हुए मौत के मामले में जांच कमेटियों द्वारा लीपापोती करने की आम चर्चा पर विचार किया तथा घटना की कटु निन्दा करते हुए वक्ताओं ने शेष आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। इस मौके पर गया प्रसाद मौर्य विनोद चन्द्र, सन्तोष पाण्डेय, पुरूषोत्तम सोनी, निर्भय सिंह, अजय , शरीफ , मकरन्त आदि मौजूद रहे। सभी ने कहा कि यदि होटल हादसे में मारे गये लोगो की लाशो के साथ सौंदा करके लीपापोती करके घटना के जिम्मेदार लोगो को बचाने का प्रयास जांच अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है तो उसे अविलम्ब रोकर निष्पक्ष जांच करते हुए मौत को जिम्मेदार लोगो को सजा दिलायी जाने का कार्य करे अन्यथा अधिवक्ता व व्यापारी तथा छात्र व सामाजिक संगठनो के साथ मिलकर जांच अधिकारियों के विरूद्ध सख्त कदम उठाते हुए बेहया के फूलो से सम्मानित करने का कार्य किया जायेगा।

मैजिक-बाइक में भिडन्त, एक की मौत, दो घायल


प्रतापगढ़। एक बाइक पर तीन लोग सवार होकर किसी काम से नगर कोतवाली क्षेत्र के मोहनगंज बाजार आये थें कि इसी बीच तेज रफ्तार से आ रहे मैजिक की ट्रक्कर से एक की दर्दनाक मौत हो गयी और दो अन्य लोग घायल हो गये। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर अन्त्य परीक्षण के लिये भेजा। जानकारी के अनुसार मानधाता क्षेत्र के पीपरताली गांव निवासी-राम कुमार 35 पुत्र राम देव बाइक द्वारा गांव के ही दिलीप 19 व प्यारे लाल सरोज के साथ किसी काम से मोहन बाजार आये थे कि बढ़नी मोड़ के पास तेज रफ्तार से आ रही मैजिक की टक्कर से राम कुमार की मौत हो गयी और दिलीप व प्यारे लाल गम्भीर रूप से घायल हो गये। पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर अन्त्य परीक्षण के लिये भेज दिया। 

चोरी की पांच बाइक संग दो गिरफ्तार


जौनपुर।  जिले के बरसठी थाने की पुलिस ने  संदिग्ध व्यक्ति व वाहनो की चेकिंग के दौरान चोरी की मोटर पांच मोटर साइकिलों के साथ दो लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस के अनुसार मुखबिर सूचना मिली कि दो वाहन चोर एक चोरी की मोटर साइकिल अपाची विना नंम्वर के साथ सराय विक्रम डिह बाबा मन्दिर सब्जी मंण्डि के पास खडे है । पुलिस जैसे ही मन्दिर के पास  पहुचे तो अभियुक्त पुलिस की गाडी को देख कर भागने का प्रयास किये । लेकिन पुलिस टीम द्वारा घेरावन्दी कर के दोनो व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया गया । गिरफ्तार राज कुमार सिंह उर्फ राजू ग्राम सराय विक्रम थाना बरसठी  व  बाबा पाण्डेय पुत्र सुशील पाण्डेय निवासी सराय विक्रम पाण्डेयपुर थाना बरसठी  के कब्जे से एक मोटर साईकिल अपाची बिना नं0 बरामद हुई,  वाहन के सम्वन्ध में पुछने पर बताये कि ये मोटर साइकिल  प्रताप गढ से छिनैती कर के लाये थे, इसे बेचने के लिए ले जा रहे थे कि पकड लिये गये । इसके अतिरिक्त अभियुक्तो से सख्ती से पुछताछ करने पर रामपुर, बरसठी व गोपीगंज से और मोटर साइकिलो को चोरी करना बताये, जिन की निशानदेही पर  चोरी व लूट की अन्य चार मोटर साइकिले बरामद हुइ जिसमें एपाची बिना नंम्बर की, टीबीएस ,स्पलेण्डर बजाज , हीरो होण्डा सीडी डिलक्स बरामद हुआ।


S.P. सरकार को उखाड़ फेकेगी जनता: भाजपा


जौनपुर।  भारतीय जनता पार्टी नगर इकाई की एक बैठक जिलाकार्यालय ओलन्दगंज पर नगर अध्यक्ष राजेश श्रीवास्तव बच्चा भइया की अध्यक्षता में में हुई। संचालन नगर उपाध्यक्ष पंकज जायसवाल ने किया। बैठक में एक जुलाई को जिला मुख्यालय पर होने वाले होने वाले धरना प्रदर्शन व घेराव की चर्चा हुई। वक्ताओं ने कहा कि प्रदेश की सपा सरकार के कुशासन से, अत्याचार, बलात्कार, मीडिया कर्मियो ंपर हमला, मंत्रियों के भ्रष्टाचार और जमीन कब्जा आदि समस्याओं को लेकर भाजपा प्रदेश व्यापी आन्दोलन कर रही है। पूर्व विधायक सुरेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि प्रदेश सरकार तुुष्टिकरण की राजनीति कर रही है और भ्रष्टाचार चरम सीमा पर है। जिसे आन्दोलन द्वारा ही कुचला जा सकता है। जिलाध्यक्ष हरिश्चन्द सिंह ने मण्डल अध्यक्षों , पार्टी नेताओं व कार्यकर्ताओं से एक जुलाई को पूर्वान्ह 10 बजे पार्टी कार्यालय पहुंचने की अपील किया। जहां से जुलूस के रूप मंे कलेक्ट्रेट के रूप मंे कूंच किया जायेगा। जिला महामंत्री सुशील उपाध्याय व जिला उपाध्यक्ष नीरज सिंह ने कहा कि यह आन्दोलन अब तक का सबसे बड़ा प्रदर्शन होगा। जनता सपा सरकार को उखाड़ फेकेगी। नगर अध्यक्ष ने कहा कि नगर से एक हजार कार्यकर्ता प्रदर्शन में भाग लेगें। कार्यकर्ता अपने वार्ड से जुलूस निकालकर कार्यालय पहुंचेगें। व्यापारी नेता पंकज कुमार जायसवाल, सुनील सेठ ने कहा कि सपा सरकार से व्यापारी भी उत्पीडि़त है। व्यापार मण्डल सहयोग करेगा और सैकड़ों व्यापारी भाग लेगें। भाजयुमो के प्रदेशमंत्री पुष्पराज सिंह, विधि प्रकोष्ठ के नगर अध्यक्ष प्रशान्त पंकज श्रीवास्तव ने कहा कि अधिवक्ता भी प्रदर्शन में भाग लेगें। दीवानी व कलेक्ट्रेट अधिवक्ता संघ से भी समर्थन की मांग की जायेगी। आभार नगर मीडिया प्रभारी राजवीर सिंह दुर्गवंशी ने व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री का पुतला जलाकर दिया धरना


जौनपुर। प्रदेश सरकार द्वारा बिजली की दरों में की गयी वृद्धि के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी कार्यालय से जूलूस निकालकर सोमवार को सरकार विरोधी नारे लगाते हुए कलेक्ट्रेट में धरना प्रदर्शन हेतु निकलकर पुलिस के साथ नोक झोक के बीच प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव का पुतला गांधी तिराहे पर फूंका। इसके बाद जूलूस कलेक्ट्रेट पहुंचकर धरने में तब्दील हो गया। सभा को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष इन्द्र भुवन सिंह ने कहा कि प्रदेश की सरकार हर मोर्चे पर विफल हो गयी है। सपा सरकार ने आम लोगों की कमर तोड़ने के लिए तथा चहेते पूंजीपतियों  को फायदा पहुंचाने के लिए विजली की दरों में ंभारी वृद्धि किया है। जिसका कांग्रेजन विरोध करते है तथा वापस लेने की मांग करते है। उन्होने कहा कि जनहित के विरोध में बिजली की मूल्य वृद्धि अगर वापस नहीं हुई तो बड़ा आन्दोलन चलाया जायेगा। शहर अध्यक्ष नेयाज ताहिर शेखू ने कहा कि प्रदेश में जंगल राज कायम हो गया है। कोई व्यक्ति सुरक्षित नहीं है। रमजान के महीने में सरकार ने बिजली मूल्य में वृद्धि कर सरकार ने अपने समाजवादी चरित्र को उजागर किया है। इस अवसर पर शालिनी सिंह, मोती लाल बिन्द, अमित तिवारी,राम प्रताप सिंह, मुन्नी लाल यादव, राकेश उपाध्याय, दिनेश चैबे, देवेश उपाध्याय, विशाल सिंह, शिवेन्द्र दुबे, राकेश मिश्र, विशाल पाण्डेय, पंकज सिंह, विकास उपाध्याय, दिलीप गिरी, शिवेन्द्र दुबे ने अपने विचार व्यक्त किये। अन्त में राज्यपाल को सम्बोधित चार सूत्रीय ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से भेजा गया। संचालन विजय शंकर उपाध्याय एडवोकेट ने किया।

बाल विवाह के प्रति जागरूकता पर जोर


जौनपुर। समेकित बाल संरक्षण योजनान्र्तगत ब्लाक व ग्राम स्तरीय बाल संरक्षण समिति इण्टरफेस कार्यक्रम का आयोजन पूर्वान्चल विश्वविद्यालय व यूनिसेफ द्वारा ब्लाक रामनगर के सभागार में ब्लाक प्रमुख कैलाश नाथ यादव की अध्यक्षता में आयोजित किया गया। जिला समन्वयक यूनिसेफ मो0 जावेद अंसारी ने बताया कि बाल संरक्षण समितियों की संरचना, कार्य व दायित्वों , बच्चों से सम्बन्धित प्रमुख कानूनों की जानकारी प्रदान की गयी। बाल विवाह व बालश्रम के विरूद्ध समितियों को एकजुट होने का आह्वान किया गया तथा विभागीय योजनाओं की जानकारी प्रदान की गयी। बाल विकास परियोजना अधिकारी समीर सैनी ने बाल अधिकार व बाल संरक्षण को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर जोर दिया। समिति की नियमित बैठकें करने को निर्देशित किया तथा राज्य पोषण मिशन के बारे में भी जानकारी दिया। चन्दनराय संरक्षण अधिकारी, द्वारा देखरेख एवं संरक्षण वाले बच्चों, संस्थाओं व शिकायतों के निस्तारण की प्रक्रिया को बताया। ब्लाक प्रमुख ने बच्चों से सम्बन्धित समस्याओं को प्रतिभागियों के समक्ष रखा एवं शिक्षा, कुपोषण , बाल विवाह के विरूद्ध जागरूकता पर बल दिया। बीडीओ शेष नाथ चैहान ने समितियों के महत्व पर प्रकाश डाला एवं बच्चों से सम्बन्धित समस्याओं की रिपोर्टिग विभागों को करने का आह्वान किया। तिलकधारी, शोभनाथ राम एडीओ पंचायत ने भी अपने विचार व्यक्त किये। पूनम, इरशाद, संदीप, मनोज, प्रभुनाथ गिरीश कुमार का सहयोग रहा । संचालन जावेद अंसारी ने किया।

रिमझिम फुहारों से खेत लबालब, मकान ध्वस्त


जौनपुर। रिमझिम फुहारों की बरसात जारी है। वर्षा से खेत खलिहान भर गये है और रास्तों पर जलजमाव होने से मुसीबत पैदा हो रही है। किसानों को धान की बेहन की सिचाई से मुक्ति मिल गयी है। किसान खेतों में व्यस्त हो गये है। धान लगाने के लिए खेतों को तैयार किया जा रहा है। उधर बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। सड़क और गलियों में चलना दुश्वार साबित साबित हो रहा है। सड़क पर ठेला और खोमचा लगाने वालों के धन्धे में गिरावट आ गयी है। तमाम लोग ऐसे है जिनके धन्धे ही ठप हो गये है। रविवार को रातभर तथा सोमवार को सवेरे से ही बारिश थम थम कर हो रही है। इससे लोगों को नित्य के काम करने में मुसीबत पैदा हुई। बीच बीच में दस बीस मिनट के लिए बारिश रूकती है और अषाढ़ में सावनी फुहार पड़ने लगती है। लोगों को भीगते हुए अपने कार्यो को करना पड़ता है। वर्षा से अनेक प्रकार की मुसीबते पैदा हो रही है। बारिश से घरों के गिरने का सिलसिला शुरू हो गया है। शहर के कोतवाली क्षेत्र के आलमगंज मोहल्ले में दो मंजिला मकान ध्वस्त हो गया। मलवे में दबने से अब्दुल कादिर खान व उसकी पत्नी अफसाना घायल हो गये। दोनों का एम्बुलेन्स से जिला अस्पताल पहुंचाया गया वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में कई कच्चे घर और मड़हे भी ध्वस्त हो गये।

गुण्डागर्दी से करंते हैं जमीनों पर कब्जा


जौनपुर। जिले में इस समय जमीनों पर अवैध कब्जा के प्रकरण अप्रत्याशित रूप से बढ़ गये हैं और इनमें पुलिस की भूमिका संदिग्ध बतायी जाती है। अधिक हो हल्ला और संघर्ष होने की प्रबल संभावना को देखते हुए कब्जा रोक दिया जाता है। माननीयों से लेकर एक जाति विशेष के लोग इस कब्जा अभियान में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। थानों पर रकम दो और जमीन हथियाओं अभियान पर प्रशासन यदि गंभीरता से कार्यवाही करने के लिए सख्त कदम नहीं उठाता तो खून खराबे की बड़ी घटना से इन्कार नहीं किया जा सकता। लोगों का कहना है कि सपा शासनकाल में दंबग गरीब और निरीह लोगों को बर्बाद करने पर तुले हुए है। सत्ता की हनक ने प्रशासन को पंगु बना दिया है और वह पैमाइश का आदेश देकर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर ले रहा है। जिले के अधिकाशं थाना क्षेत्रों में बेशकीती जमीनों के अवैध कब्जे में सत्ताधारी दल के नेताओं का इशारा रहता है। थानों से सेटिंग कर यह खेल खुलेआम चल रहा है। प्रशासन मूक दर्शक बना रहता है। जब मामला विस्फोटक के करीब पहुंचता है तो पुलिस व प्रशासन के अधिकारी अपना दखल देते हैं। कई मामलांे में काबीना मंत्री तक पर अरोप लगाये गये हैं। विधायक और सपा के नेताओं के इशारे पर उनके लोग करोड़ों की जमीनों पर अपना झण्डा गाड़ कर विरोध करने वालों को सदा के लिए चुप रहने के लिए भी धमका रहे है। अनेक लोग धमकी से शान्त रहना ही मुनासिब समझ रहे है लेकिन कुछ मामले इधर विशेषकर उभर कर सामने आ रहे है। सभी मामलों में प्रशासन जांच और पैमाइश कराने की बात करता है। जमीनों को कब्जा कराने में राजस्व कर्मियों की भूमिका से भी इन्कार नहीं किया जा सकता। फर्जी बैनामा, फर्जी खतौनी के सहारे अपने पक्ष को मजबूत करने की कवायद के चलते गरीबों के आंखों के आगे अंधेरा छा जा रहा है। राजस्व अभिलेखों में हेराफेरी का खेल और गुण्डागर्दी ने निसम कानून को किरारे कर दिया है।

भारी बारिश से खेतों में नमी, गर्मी से राहत


जौनपुर। मानसून की जमकर हुई पहली भारी बारिश  से जहां खेत खलिहानों में जहां नमी दिखाई देने लगी वहीं तापमान गिरने से लोगों ने राहत की सांस ली और गर्मी तथा उमस से मुक्ति मिल गयी। वर्षा से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया और जगह जगह हुए जलजमाव ने सफाई व्यवस्था की पोल खोलकर रख दिया। सड़कों और गलियों में आना जाना दुश्वार साबित हो गया। कीचड़ और गन्दगी ने शहर की सुन्दरता को बदरंग कर दिया। गरीबों के घर टपकने लगे और दुश्वारियां पैदा हो गयी है। किसानों ने धान की बेहन डालने की तैयारी कर ली है। मेड़बन्दी और खेतों को दुरूस्त करना शुरू कर दिया है। रविवार को तड़के शुरू हुई हल्की वर्षा रूक रूक कर होती रही और इसके बाद मूसलाधार वर्षा कारूख अख्तियार कर लिया जो पूरे दिन जारी रहा। इसके कारण लोगों को सवेरे के आवश्यक कार्यो में व्यवधान पैदा हुआ। कार्यालय और दुकानें बन्द होने से लोग पंखे से निकलनी वाली कूलर की ठण्डी हवा का आनन्द लेते हुए असलसाये पड़े रहे। उधर बारिश से ग्रामीण क्षेत्रों में चकरोड और पगडण्डियों पर कीचड़ और पानी लगने से आवागमन प्रभावित हो गया। जानवर बाहर नहीं निकाले जा सके। किसानों में वर्षा से प्रसन्नता देखी जा रही है वे मक्का, उरद, धान की बेहन आदि डालने की तैयारियों में मशगूल हो गये है। कई दिनों से भीषण गर्मी और उमस ने लोगों को बेहाल कर दिया था। इस बारिश की वजह से लोगों को राहत मिल गयी है। ठण्डी हवायें चल रही है और अषाढ़ में सावन का नजारा दिखाई दे रहा है। वैसे तो वारिश का मौसम गरीबों के लिए दुःखदायी होता है उनके आशियाने कमजोर और जर्जर होते है। वर्षा का अधिकतर पानी घर में ही गिरता है। मंहगाई के कारण गरीबों को अपने परिवार का खर्च चलाने में ही सारी ताकत लगा देनी पड़ती है। छत और दीवारों को दुरूस्त कराना उनके बस की बात नहीं है। यह दीगर बात है कि पोलिथीन की चादरे मड़हे और टूटी छतों को दुरूस्त करने में इस्तेमाल कर वे अपना गुजारा करते है।

शार्ट सर्किट से इलेक्ट्रानिक दुकान में लगी आग से काफी सामान स्वाहा


जौनपुर। शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के सरायपोख्ता पुलिस चैकी अन्तर्गत मोहल्ला नखास में स्थित एक बंद दुकान में शार्ट सर्किट से आग लग गयी जिसके चलते हजारों रूपये का नुकसान हो गया। दुकान का ताला तोड़कर क्षेत्रीय लोगों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार अहियापुर निवासी डबलू प्रजापति नखास में मां वैष्णो इलेक्ट्रानिक नामक दुकान खोल रखा है जहां रविवार होने की वजह से वह बंद किया था कि शाम लगभग साढ़े 3 बजे अचानक दुकान में धुंआ निकलने लगा। यह देख आस-पास के लोग जुटे और दुकान का ताला तोड़कर राहत कार्य में जुट गये। लगभग दो घण्टे की कड़ी मशक्कत के बाद किसी तरह आग पर काबू पाया जा सका लेकिन तब तक हजारों रूपये का नुकसान हो गया था। आग बुझने के लगभग 35 मिनट बाद फायर ब्रिगेड के जवान मौके पर पहुंचे लेकिन तब तक आग पूरी तरह से नियंत्रित हो चुका था। भुक्तभोगी के अनुसार इस अग्निकाण्ड में 50 हजार रूपये से अधिक का नुकसान हुआ है। उसने बताया कि आग लगने से पंखा, लाइट, टार्च, चार्जर, बैट्री सहित इलेक्ट्रानिक के काफी सामान जले हैं।

युवक को मारी गोली, गम्भीर


प्रतापगढ़। बाजार में बैठे युवक को पहुंचे दबंगो ने गोली मारकर जमकर धुनाई की। शोर-शराबे पर पहुंचे परिजन आनन-फानन उसे इलाज हेतु जिला अस्पताल ले आये। जानकारी के अनुसार जेठवारा थाना क्षेत्र के गोसांई का पुरवा निवासी मो0 इदरीश का पुत्र जावेद (25) किसी काम से मानधाता थाना क्षेत्र के इन्दुपुर गया था कि वहां से वापसी समय लक्ष्मीगंज बाजार में बैठा था। इसी बीच गांव के कुछ दबंग लोग पहुंचे उसके पैर में गोली मारकर जमकर लाठी-डण्डे से पिटाई की। लोगो ने घायल अवस्था में उसे इलाज हेतु जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामले की हकीकत खंगालने में लगी है। 


मनरेगा में नहीं मिल रहा जरूरतमंद मजदूरो का हक-त्रिपाठी


प्रतापगढ। मनरेगा में व्याप्त भ्र्रष्टाचार को कोई अकेले नहीं खत्म कर सकता, लोगो द्वारा संघर्ष किया जाए तो सफलता जरूर मिलेगी । उक्त बातें  मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित मनरेगा लोकपाल भूपेन्द्र त्रिपाठी ने तरुण चेतना द्वारा आयोजित मनरेगा सोशल आॅडिट की प्रक्रिया विषयक जिला स्तरीय कार्यशाला में कही । यह कार्यशाला उपवन लखनऊ द्वारा अफीम कोठी में आयोजित की गयी। मनरेगा लोकपाल ने यह भी कहा कि दक्षिण भारत में यह योजना बहुत अच्छी चल रही है । लेकिन उत्तर प्रदेश में इस योजना में भ्रष्टाचार के कारण जरूरतमंद मजदूरों को उनका हक नहीं मिल पा रहा है । इसमें उच्च अधिकारियों से लेकर ग्राम स्तर के कर्मचारीगण भ्रष्टचार में लिप्त है । कार्यक्रम की शुरूआत तरुण चेतना के निदेशक नसीम अंसारी द्वारा प्रतिभागियों एवं मुख्य अतिथि एवं अन्य लोगों का स्वागत किया गया । इसके साथ ही साथ उन्होनें सोशल आॅडिट में आने वाली कठिनाइयों का भी विवरण प्रस्तुत किया। कार्यक्रम में मनरेगा जिला सोशल आॅडिट समन्वयक असित सिंह ने अपने सम्बोधन में कहा कि अधिकारियों द्वारा सोषल आॅडिट में नियमों का पालन नहीं किया जाता है । उन्होनें एक हिन्दी फिल्म का उदाहरण देते हुए कहा कि जैसे फिल्म में सभी पात्र इनाम की रकम में बन्दरबाट करते हैं उसी प्रकार मनरेगा में सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के बीच बन्दरबाट हो रही है । इसे रोकने के लिए सोशल आॅडिट के लिए अधिकारियों द्वारा नियमों को ताक पर रख दिया जाता है । इस अवसर पर  उ0प्र0 राज्य कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष मिथिलेश सिंह ने भी अपने विचार व्यक्त किये। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से अरूण देव, सुनील कुमार, हकीम अंसारी, राकेश, राम कृपाल, राम सरन वर्मा, अमृत लाल गौतम, मेहताब खान, चन्द्र प्रकाश, ओम प्रकाश आदि ने सहयोग किया । 

सड़क से संसद तक होगा आंदोलन: सोनकर


प्रतापगढ़/कुण्डा। भाजपा द्वारा आयोजित एक दिवसीय धरना प्रदर्शन तहसील कुण्डा परिसर में किया गया। धरने में मुख्य अतिथि के रूप में कौशाम्बी सांसद विनोद सोनकर मौजूद रहे। धरने में प्रदेश सरकार वक्ताओं के निशाने पर रही। प्रदर्शनकारियों द्वारा मुख्य रूप से चार बिंदुओं पर अपराध, दैवीय आपदा राहत धनराशि वितरण में अनियमितता, सिंचाई व बिजली की समस्या पर सरकार को घेरने का प्रयास  किया गया। जिले के लोहिया गांव में बनाये जा रहे आवास में की जा रही धन उगाही पर भी वक्ताओं द्वारा आक्रोश व्यक्त किया गया। धरने को सम्बोधित करते हुये भाजपा सांसद विनोद सोनकर ने कहा कि हम प्रशासन को आगाह कर रहे हैं, यदि प्रदेश सरकार समय रहते बिगड़ते हालात पर काबू पाने का प्रयास नहीं किया तो हम सड़क से संसद तक इसके लिए आंदोलन चलाएंगे। धरने में पूरे समय प्रदेश सरकार वक्ताओं के निशाने पर रही। धरना प्रदर्शन में मुख्य रूप से प्रभाशंकर पाण्डेय पूर्व विधायक नवाबगंज, जनार्दन मिश्र पूर्व जिलाध्यक्ष इलाहाबाद, त्रिभुवन नाथ टंडन, शिवमूर्ति मिश्र, केके मिश्र, अभय प्रताप सिंह, सतीश चैरसिया आदि मौजूद रहे। 

इस सरकार से विकास की उम्मीद नहीं - मोती सिंह


प्रतापगढ़ / पट्टी। स्थानीय तहसील में शनिवार को पूर्व विधायक मोती सिंह ने सपा सरकार के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन का आयोजन किया। इस आयोजन के दौरान उन्होने उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार हर मोर्च पर बिफल है। प्रतिदिन हत्या लूट बलातकार जैसी घटनायें हो रही है और सरकार मूक बनी देख रही है। गूगी बहरी सरकार में जनता को न्याय नहीं मिल पा रहा है। इस सरकार में किसानों की अनदेखी हो रही है। ओला बृष्टि व वर्षा से बरबाद हुई फसल के मुआवजे के लिए किसान अधिकारियों का चक्कर लगा कर थक चुके है। किसानों को उनका उचित मुआवजा नहीं मिल रहा है। चरमराई विद्युत व्यवस्था के चलते पूरा प्रदेश इस प्रचण्ड गर्मी मंे जल रहा है। नहरों मंे नाम मात्र का पानी देकर प्रशासन के लोग पीठ थपथपाने का काम कर रहे है। जबकि किसानों को इस गर्मी में भरपूर पानी की जरूरत है। श्री सिंह ने क्षेत्र की जनता को आगाह करते हुए कहा कि इस सरकार से विकास की कोई उम्मीद नहीं है। आने वाले विधान सभा चुनाव में प्रचण्ड बहुमत के साथ प्रदेश मंे भाजपा की सरकार बने इसके लिए हम सब को एक जुट होकर प्रयास करना होगा। इस दौरान पूर्व मंत्री राजेन्द्र प्रसाद सिंह उर्फ मोती सिंह ने एक ज्ञापन भी सरकार को सम्बोधित एसडीएम पट्टी रामशंकर को सौपा। कार्यक्रम की अध्यक्षता दयाशंकर पाठक व संचालन बंशबहादुर सिंह ने किया। इस मौके पर बार अध्यक्ष राधारमण मिश्र, लालबहादुर पूजा पासी, रामकैलाश गौतम, कमलाकान्त यादव, प्रमुख बाबाबेलखरनाथ धाम, जिला पंचायत सदस्य पंकज सिंह, पप्पू जायसवाल, ब्रम्हदेव मिश्र, सुरेश चैरसिया, हरीकान्त तिवारी, ओम प्रकाश सिंह, रामगुलाब सिंह विजय मिश्र समेत तमाम लोग मौजूद रहे। 

भाजपा का प्रदर्शन लालगंज में 30 को


प्रतापगढ़। भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रदेश सरकार के विरोध में आयोजित प्रदर्शन को ऐतिहासिक बनाने के लिए भाजपा कार्यालय पर एक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में मुख्य अतिथि के रूप में काशी क्षेत्र के प्रदर्शन प्रभारी उपेन्द्र तिवारी बलिया जनपद के विधायक रहे। उन्होंने अपील किया कि प्रदर्शन को ऐतिहासिक बनाने हेतु अधिक से अधिक संख्या की आवश्यकता है। जिसमें प्रदेश के भी नेता आयेंगे। बैठक में निर्णय लिया गया कि लालगंज तहसील आयोजित प्रदर्शन 29 जून को न होकर 30 जून को किया जायेगा। 29 जून को प्रदेश अध्यक्ष का कार्यक्रम पंचायत चुनाव की कार्यशाला हेतु लम्बुआ की जायेगी। बैठक में बृजेश शर्मा, पूर्व विधायक बृजेश सौरभ, विधायक लक्ष्मी नारायण पाण्डेय, प्रभा शंकर पाण्डेय व गिरधारी सिंह, संजय सिंह, बलवन्त सिंह, अवधेश मिश्रा, ओम प्रकाश पाण्डेय, गणेश नारायण, जवाहर लाल, धीरज ओझा, अजय सिंह, राम कृष्ण मिश्र आदि मौजूद रहे।

फाइलें बन रही कीटों का भोजन


जौनपुर। सरकारी कार्यालयों में अभिलेखों को रखने का उचित इन्तजाम न होने तथा विभागों के लापरवाही से कागजात और जरूरी फाइलें कीटों का भोजन बन रही है। अधिकतर कार्यालयों में फाइले इधर उधर फेकी रहती है और उनपर वर्षो से जमी धूल भी साफ नहीं किया जाता। इससे कागज सड़ जाता है और उसे कीड़े नष्ट कर रहे है। जल निगम की फाइले सड़ रही है और उनका पुरसाहाल कोई नहीं है। यदि कभी उच्चस्तरीय अधिकारी कार्यालय में निरीक्षण के लिए आते है तो उसे कपड़े आदि से ढक दिया जाता है और जरूरत पड़ने पर इन्ही फाइलों के लिए लोगों को दुश्वारियों से दो चार होना पड़ता है। प्रशासन इस बारे में गंभीर नहीं हो रहा है और अभिलेखों के रख रखाव में लापरवाही बरतने वालों के खिलाफ कार्यवाही करने से परहेज करता है।

जौनपुर को स्मार्ट सिटी में शामिल करने की मांग


जौनपुर। नवजवान छात्र संगठन ने जौनपुर को स्मार्ट सिटी योजना में शामिल करने के लिए प्रधानमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन शनिवार को जिलाधिकारी को दिया। संगठन के जिलाध्यक्ष अनुराग मिश्र ने बताया कि प्रधानमंत्री 100 स्मार्टसिटी बनाने की घोषणा किया है जिसमें 13 यूपी में बनाये जायेगें । उन्होने बताया कि जौनपुर ऐतिहासिक शहर है। इसकी स्थापना 14 वीं सदी में फिरोजशाह तुगलक ने अपने भाई सुल्तान मोहम्मद की याद में की थी। सुल्तान का नाम जौनाखां था इसी कारण शहर का नाम जौनपुर रखा गया। उन्होने बताया कि 1394 के आस पास मलिक सरवर ने जौनपुर शर्की साम्राज्य के रूप में स्थापित किया। उनके काल में यहां अनेक मकबरों ,मस्जिदों का निर्माण कराया गया। यह शहर हिन्दू मुस्लिम एकता और शिक्षा के केन्द्र के रूप में जाना जाता है। यहां अनेक ऐतिहासिक इमारते है। जिले की आबादी 45 लाख तथा शहर की चार लाख है। शिक्षा के क्षेत्र में इसकी उत्कृष्ट पहचान है। युवाओं का साक्षर अनुपात 95 प्रतिशत है। महिलाओं का अनुपात पुरूषों से ज्यादा है। जोकि एक शिक्षित तथा सभ्य समाज का उत्कृष्ट उदाहरण है। इस अवसर पर आशुतोष त्रिपाठी, रितेश यादव, रवि यादव, सुशील दुबे, मोहनीष गुप्ता, अश्वनी ओझा आदि मौजूद रहे।

वरिष्ठ सहायक के निधन से शोक


जौनपुर । कलेक्टेªट मीटिंग हाल में जिलाधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी की अध्यक्षता में कलेक्टेªट  के वरिष्ठ सहायक पन्नालाल मौर्य के आसमयिक निधन पर दो मिनट का मौन रखकर मृतात्मां की शांति एवं उनके परिवारीजन को यह सदमा बर्दास्त करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गयी। ज्ञातब्य हो कि स्व0 पन्नालाल मौर्य का देर रात निधन हो जाने की सूचना पर कलेक्टेªट के अधिकारियों एवं कर्मचारियों में शोक की लहर दौड़ गयी। जिलाधिकारी, कलेक्टेªट कर्मचारी मिनिस्ट्रीयल संघ के अध्यक्ष विजय प्रताप सिंह,मंत्री यतेन्द्र यादव ने कहा कि स्व0 मौर्य का निधन कलेक्टेªट परिवार के लिए अपूर्णीय क्षति है। शोकसभा में कलेक्टेªट बार के अध्यक्ष उदयप्रताप सिंह, जिला अभिहित अधिकारी वीपीसिंह, एआईजीस्टैम्प सरिता राय, तहसीलदार सदर केएनतिवारी, पूर्व कर्मचारी अध्यक्ष शिवमोहन श्रीवास्तव, श्यामविहारी सिंह, प्रमोद कुमार यादव, काशीनाथ सिंह, आशीष त्रिपाठी, शैलेन्द्र प्रताप सिंह, सदानन्द प्रजापति, सुनील कुमार सिंह, राजेश कुमार यादव, जवाहरलाल सोनकर, राजकुमार यादव, अखिलेश श्रीवास्तव, अरविन्द सिंह, जगन्नाथ, मो0 मामूर, चन्द्रशेखर सिंह, राकेश गौतम आदि अधिकारी/ कर्मचारी उपस्थित रहे। शोकसभा के बाद रामघाट पर दाह संस्कार कार्यक्रम में कलेक्टेªट परिवार के कर्मचारीगण भारी संख्या में उपस्थित रहे। इसी प्रकार जनपद के सभी तहसीलों में भी अधिकारी/कर्मचारी दो मिनट का शोकसभा किया। तहसील केराकत में कनिष्ठ उपाध्यक्ष लक्ष्मीकान्त यादव व ईश्वरी सिंह, मडि़याहूं में वरि0उपाध्यक्ष अशोक कुमार मिश्र व इकराम, मछलीशहर में सतेन्द्र सिंह व राजीव कुमार श्रीवास्तव, शाहगंज में क्रीड़ा मंत्री पंकज कुमार यादव व मंगला सिंह, तहसील बदलापुर में जयशंकर दूबे, राजेन्द्र सिंह, फतेह बहादुर यादव आदि लोग शामिल हुए। उक्त जानकारी कलेक्टेªट मिनिस्ट्रीय कर्मचारी संघ के अध्यक्ष विजय प्रताप सिंह मंत्री यतेन्द्र कुमार यादव ने दी है।
  

पत्रकार संगठनो ने मुख्यमंत्री को भेजा नौ सूत्रीय ज्ञापन


जौनपुर। पत्रकार संगठनो ने सयुक्त रुप से लाम्बन्ध होकर षनिवार को पत्रकारो से सम्बन्धित नौ सूत्रीय मागो को लेकर मुख्यमंत्री को सम्बोधित ज्ञापन जिला प्रशासन को सौपा । इसके पूर्व पत्रकार भवन में पत्रकार एकत्रीत हुए तथा जूलूस के रुप में जाकर ज्ञापन दिये । मुख्यमंत्री से माॅग किया गया है कि पत्रकारो पर हो रहे उत्पीडन के मामलो तत्काल कार्यवाही की जाय तथा उनके प्रकरण की जाॅच जिले के किसी उच्चाधिकारी द्वारा करायी जये। पत्रकार के बीमार अथवा दुर्घटनाग्रस्त होने पर तत्काल इलाज की तुरन्त निःशुल्क व्यवस्था की जाय पूर्व की भांति विगत दो माह के अन्र्तराल पर जनपद विभागध्यक्ष तथा पत्रकारो के साथ होने वाली बैठन नियमित रुप से करायी जाय पत्रकारो की आवास की सुविधा प्रदान की जाय। ज्ञापन में यह भी कहा गया है ग्रमीण पत्रकारो को भी वही सुविधा प्रदान की जाय जो जिला स्तर के पत्रकारो को प्राप्त होती है। पत्रकारो को 10 लाख रुपये का निः षुल्क बीमा उपलब्ध कराया जाय। पत्रकारो की हत्या अथवा दुर्घटना होने पर 50 लाख रुपये का मुआवजा एवं आश्रितो को सरकारी नौकरी उपलब्ध कराने की व्यवस्था सुनिष्चित की जाय। इस अवसर पर प्रेस क्लब के अध्यक्ष कैलाषनाथ , श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के जिलाध्यक्ष विजय प्रकाश मिश्र उपजा के जिला अध्यक्ष डा0 ज्ञान प्रकाश सिंह उ0प्र0 जिला मान्यता प्राप्त पत्रकार एसोशिएसन के जिला अध्यक्ष शमशी अजीज ,महामंत्री विरेन्द्र कुमार गुप्ता , उ0प्र0 ग्रामीण पत्रकार एशोसिएशन के जिलाध्यक्ष गुलाब चन्द पाण्डेय,  संपादक मण्डल तथा गोमती जर्नलिस्ट एसोषियसन केे प्रतिनिधि तथा विद्याधर राय विद्यार्थी, सुधाकर शुक्ला, राकेश कान्त पाण्डेय, शीतला प्रसाद मौर्य, कैलाश मिश्र, अजीत सिंह, आलोके गुप्ता, दीपक श्रीवास्तव, वीरेन्द्र पाण्डेय, मो0 अब्बासछोटेलाल सिंह शशिकान्त मौर्य चन्द्रमोहन , रमेश चन्द्र यादव , सुनिल मौर्य , दीपचन्द्र , पंकज वर्मा , सूरज साहू ,नौशाद अली , अनिरुद्ध कुमार , शैलेश यादव , समर बहादुर सिंह , नखडू विष्वकर्मा , प्रवेज अहमद , मो शकील , मगला प्रसाद तिवारी विरेन्द्र मिश्र , डा0 यसवन्त गुप्ता , अनिल पाण्डेय , विश्व प्रकाश श्रीवास्तव , शशिराज सिन्हा , अरविन्द पटेल , आदि मौजूद रहे। 

पूर्व सांसद धनन्जय सिंह अदालत में हुए हाजिर



जौनपुर। जनपद  के केराकत कोतवाली थाना क्षेत्र के बेलांव घाट पर हुए दोहरे हत्या काण्ड के आरोपी पूर्व सांसद धनन्जय सिंह शनिवार को दिल्ली से आकर अतिरिक्त जिला जज नसीर अहमद की अदालत में हाजिर हुए। अदालत में गवाह न उपस्थित हो पाने की स्थिति में सुनवाई की अगली तिथि 24 जुलाई निर्धारित की गयी है। ज्ञात हो कि इस हतयाकाण्ड में पूर्व सांसद को आरोपी बनाया गया था और वे काफी दिनों कारागार में थे तथा बाद में जमानत पर रिहा हुए है।

गवर्नर ने दिया सपा कार्यकर्ता की मुर्गियां खोजेने के लिए पुलिस को 5 दिन का अल्टीमेटम


सुभाष पाण्डेय 
लखनऊ - प्रदेश के रामपुर जनपद में हाल ही में  ही कैबिनेट मंत्री आजम खान और सपा विधायक की भैंसों के मामला तूल पकड़ा था , उसके बाद अब प्रदेश की पुलिस अब सपा कार्यकर्ता की चोरी हुई मुर्गियों की तलाश करेगी। रामपुर में एक सपा कार्यकर्ता ने मार्च में अपने घर से एक दर्जन मुर्गियों की चोरी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी, जिसमे डीएम रामपुर चंद्रप्रकाश त्रिपाठी के निर्देश पर कोतवाली पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।। कोई कार्रवाई न होने पर सपा कार्यकर्ता ने राज्यपाल राम नाइक को ईमेल किया था। राज्यपाल ने इस पर संज्ञान लेते हुए मुर्गियों की तलाश करने के संबंध में शुक्रवार को स्थानीय अफसरों को चिट्ठी भेजी है। उन्होंने पांच दिन के अंदर मामले का खुलासा करने को कहा है। 
खबरों के अनुसार प्रदेश के रामपुर जनपद के शहर कोतवाली क्षेत्र के मोहल्ला बंगला आजाद खान के रहने वाले फरहान उल्ला खान सपा कार्यकर्ता हैं। जो मुर्गी  पालन का शौक रखते है। बीते 21 मार्च की रात उनके घर से एक दर्जन मुर्गियां चोरी हो गई थीं। मुर्गियों की तलाश में कई लोगों को लगाया गया। जब कोई सुराग नहीं मिला तो सपा कार्यकर्ता ने इसकी रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए थाने में तहरीर दे दी। कई दिन तक जब पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की तो उन्होंने सीधे राज्यपाल को मेल कर दिया और उनसे मुर्गियां वापस दिलाने की गुहार लगाई।
सपा कार्यकर्ता फरहान के मुताबिक, राजभवन से करीब तीन महीने बाद शुक्रवार को मेल का जवाब आया है। इस संबंध में राज्यपाल राम नाइक ने स्थानीय अधिकारियों को चिट्ठी लिखी है और मुर्गियों को तलाशने के निर्देश दिए हैं। ऐसे में, अब कोतवाली पुलिस सपा कार्यकर्ता की मुर्गियों की तलाश में जुट गई है। शहर कोतवाल हरीश चंद्र जोशी ने बताया कि मामले की जांच शुरू कर दी गई है। जल्दी ही मुर्गियों का पता लगा लिया जाएगा।

मेडिकल कालेज में गिट्टी-बालू के सप्लाई के ठेकेदार को गोली मारने वाले आरोपियो को पुलिस ने किया गिरफ्तार, आरोपियों आरोप है कि पुलिस उन्हें फर्जी तरीके फँसा रही है

मेडिकल कालेज में गिट्टी-बालू के सप्लाई के ठेकेदार को गोली मारने वाले आरोपियो को पुलिस ने किया गिरफ्तार, आरोपियों आरोप है कि पुलिस उन्हें फर्जी तरीके फँसा रही है


जौनपुर- जनपद के सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के सिद्दीकपुर स्थित मेडिकल कालेज में गिट्टी-बालू के सप्लाई का ठेकेदार समय लगभग 02.30 बजे दोपहर प्रार्थी का भांजा रमाकान्त यादव पुत्र वीरेन्द्र यादव नि0 शेखवलिया थाना गौराबादशाहपुर जौनपुर मेरी गिट्टी-बालू की ट्रक को खाली कराने लगा था कि मौके पर दो सफेद फार्चुनर से असलहा से लैश जिनमें से 01 गाड़ी का नम्बर यूपी 65 बीएन 5466 था उतरे और ठेकेदारी की रंजिश को लेकर जान मारने की नीयत से प्रार्थी के भांजे के उपर कई गोलियां चलायी जिसमें से एक गोली प्रार्थी के भांजे की शरीर में लगी और वह घायल हो गया और अपराधी भाग गये, वही आरोपियों का पुलिस  ऊपर आरोप है कि उनको फर्जी तरीके से फसाया गयाहै। उक्त सूचना पुलिस अधीक्षक जौनपुर श्री भारत सिंह द्वारा जनपद के सभी थानाप्रभारी/क्षेत्राधिकारी/अपर पुलिस अधीक्षक नगर/ग्रामीण जौनपुर को वाहनों की गहन चेकिंग हेतु लगाया गया। चेकिंग करते हुये उ0नि0 श्री अमित कुमार थाना सरायख्वाजा जौनपुर कुत्तूपुर तिराहे पर आये कि ज्ञात हुआ कि कपूर गहना की तरफ से कुत्तूपुर होते हुये जौनपुर शहर की तरफ आने वाले हैं, इस सूचना पर कोबरा मोबाईल को तत्काल कुत्तूपुर तिराहे पर पहुचने का निर्देश दिया कि इस बीच घटना के सम्बन्ध में जारी आरटी संदेश के अनुक्रम में श्री चन्द्रभूषण सिंह प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर जौनपुर मय हमराही व सरकारी वाहन के कूत्तुपुर तिराहे पर आ गये जिन्हे साथ ले लिया गया। श्री संतोष कुमार दीक्षित थानाध्यक्ष सरायख्वाजा जौनपुर मय सरकारी गाड़ी के टेलीफोन वार्ता के क्रम में वाराणसी से वापस आते समय कूत्तुपुर तिराहे पर मिल गये, जिन्हे भी साथ लेकर कुत्तूपुर तिराहे से 50 मीटर आगे स्थित कपूर गहना मोड़ पर आकर फार्चुनर का इन्तजार करने लगे कि थोड़ी देर बाद कपूर गहना की तरफ से फार्चुनर गाड़ी आती हुयी दिखाई दी तो पुलिस पार्टी उक्त गाड़ी को रोकने का प्रयास किया गया तो फार्चुनर गाड़ी पर सवार लोग पुलिस पार्टी पर लक्ष्य बनाकर जान से मारने की नीयत से फायर कर दिये जिसमें पुलिस पार्टी बाल-बाल बच गयी। फार्चुनर गाड़ी को समय 09.50 बजे घेर कर पकड़ लिया गया।
वादी श्री रामआसरे यादव पुत्र स्व0 लक्ष्मीनारायण यादव नि0 सिद्दीकपुर थाना सरायख्वाजा की सूचना पर 26 जून को समय 2 .30 बजे थाना सरायख्वाजा जनपद जौनपुर में मु0अ0सं0 500/15 धारा 307 बनाम अज्ञात अभियुक्तगण के विरूद्ध पंजीकृत कराया गया, जिसकी विवेचना थानाध्यक्ष सरायख्वाजा श्री संतोष कुमार दीक्षित द्वारा की जा रही है।
इस घटना के उपरान्त थानाध्यक्ष सरायख्वाजा, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली द्वारा पुलिस मुठभेड़ के दौरान उक्त बदमाशों को गिरफ्तार करके उनके कब्जे से 01 फार्चुनर गाड़ी नम्बर यूपी 65 बीएन 5466, 01 एक  पिस्टल 32बोर, 05 जिन्दा कारतूस व 02 खोखा कारतूस, 07 मोबाईल, 03 फर्जी शस्त्र लाइसेन्स जो नागालैण्ड से बना हुआ है बरामद करने के सम्बन्ध में उ0नि0 अमित कुमार सिंह थाना सरायख्वाजा की सूचना पर दिनंाक 26.06.2015 समय 22.50 बजे मु0अ0सं0 501/15 धारा 307/467/468/471 भादवि व 3/25/27आर्म्स एक्ट मु0अ0सं0 502/15 धारा 207 एमबी ऐक्ट पंजीकृत हुआ, जिसकी विवेचना की जा रही है।   

बे मौसम बारिस से हुई बर्बाद फसल का नही मिला सहायता राशि


जौनपुर -  जनपद के जलालपुर थाना क्षेत्र के विकास खण्ड जलालपुर के अन्तर्गत आने वाले 55 गावो मे से लगभग 26 गाव को ही बे मौसम बारिस से हुई बर्बाद फसल नुकसान का सहायता राशि का चेक दिया गया परन्तु शेष गावो मे अभी तक चेक प्रदान नही किया गया बे मौसम बारिस से जहा फसलो को भारी क्षति हुई है वही खरीफ की फसल बोने के लिए खाद बीज के लिए पैसा आडे़ हाथो आ रहा है एैसे मे अगर किशानो की समय से सहायता राशि का चेक मिल जाता है तो वे अपनी बुआई समय से कर लेते जहा एक तरफ रबी की फसल बर्बाद हो गयी थी वही दूसरी तरफ खरीफ बोने की चिन्ता किसानो को सता रही है समय से चेक न मिलने से किसानो के मंसुबे पर पानी फिर रहा है ।

समग्र गांव रेहुआ में खामियां देख जमकर बिफरे डीएम


प्रतापगढ़। शासन द्वारा घोषित लोहिया समग्र ग्राम रेहुआलालगंज में गुरूवार को अचानक निरीक्षण को पहुंचे डीएम खामियों को देखकर जमकर विफर पड़े। गांव में डीएम अमृत त्रिपाठी ने पहुंचते ही एक एक पुरवों का भ्रमण कर ग्रामीणों से विकास कार्यों व उनको मिलने वाली सुविधाओं के बावत सीधी जानकारी हासिल करने लगे। ग्रामीणों ने जब डीएम को बताया कि कच्चे मकान व झोपड़ी में गुजर बसर के बावजूद उन्हे आवासीय पात्रता से बाहर रखा गया है तो डीएम अमृत त्रिपाठी का मिजाज भड़क उठा। डीएम ने निरीक्षण के दौरान मौजूद जिला विकास अधिकारी रमाकान्त तिवारी व बीडीओ सावित्री देवी को जमकर फटकार लगाते दो दिन के भीतर नया सर्वे कराकर सभी गरीब पात्रों को आवासीय सुविधा से जोड़े जाने की हिदायत दी। गांव में विकास कार्यों के समन्वय न सही मिलने पर नाराज डीएम ने जिला सेवायोजन अधिकारी टीडी वर्मा को प्रतिकूल प्रविष्टि प्रदान कर दी। समग्र गांव के पूरे शिवलोचन तिवारी के ग्रामीणों ने बताया कि विद्युतीकरण तथा विद्युत व्यवस्था में गड़बड़ी की जा रही है। इसपर डीएम ने साथ में मौजूद अधिशासी अभियन्ता विद्युत ओपी मिश्रा को भी जमकर फटकार लगाई। डीएम ने पूरे नेवली तथा रेहुआ खास में भी भ्रमण कर ग्रामीणांे से विकास कार्यों की जानकारी लेने के साथ उन्हे होने वाली परेशानियों के बावत जानकारी जुटाई। डीएम ने निरीक्षण में मौजूद जिला स्तरीय अधिकारियों को ग्रामीणों की समस्याओं के निदान तथा विकास कार्यों में पारदर्शिता को लेकर सख्त हिदायत दी। उन्होने चेताया कि शीघ्र ही वह फिर औचक निरीक्षण कर दिए गए निर्देशों को लेकर कार्य की प्रगति  की समीक्षा करेंगें।निरीक्षण के दौरान मौजूद मुख्य विकास अधिकारी मनीष वर्मा से उन्होने समग्र ग्राम में विकास कार्यों की प्रस्तावना के बावत भी जानकारी ली। प्रस्तावित विकास कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करने निकले डीएम की तनी भृकुटि देख  अफसरों के माथे पर पसीना छलक रहा था। जिलाधिकारी ने गांव में हाल ही में आईआईटी टापर राजू से भी मिलकर सफलता पर शुभकामनांए दी। जिलाधिकारी इसके बाद अचानक लालगंज निरीक्षण गृह आ धमके। यहां अफसरों के साथ राजस्व कार्यों की प्रगति को लेकर जानकारी हासिल की। लालगंज कस्बे में अभी तक अतिक्रमण न हटाए जाने तथा नालियों में गन्दगी पर डीएम ने एसडीएम को भी झिड़का। जिलाधिकारी ने निरीक्षण गृह में आए लोगों की समस्याओं की भी सुनवाई का सम्बन्धित अधिकारियों को निस्तारण के कड़े आदेश दिए। इस मौके पर एसडीएम वाईबी सिंह, तहसीलदार संतोष सोनकर, नायब तहसीलदार सदानन्द व जिला स्तरीय विभागों के प्रमुख मौजूद रहे। 

डीएम, एसपी व जिला जज ने किया जेल का निरीक्षण


प्रतापगढ़। डीएम, एसपी व जिला जज ने भारी पुलिस बल के साथ गुरूवार को जिला कारागार का निरीक्षण किया। इस दौरान अधिकारियों ने सभी बैरकों की सघन तलाशी की। बंदियों में हड़कंप मचा रहा। लगभग दो घण्टे तक चले तलाशी अभियान में कोई प्रतिबंधित सामान नहीं मिला। जानकरी पर प्रभारी जेल अधीक्षक एके श्रीवास्तव ने बताया कि यह रोटीन चेकिंग थी जिसके तहत् जिलाधिकारी अमृत त्रिपाठी व एसपी बलिकरन सिंह  यादव एवं जिला जज उमेश चन्द्र श्रीवास्तव समेत अन्य अधिकारीगण जेल का निरीक्षण करने पहुंचे थे। जिला जेल में अधिकारियों ने सघन तलाशी अभियान चलाया किन्तु निरीक्षण के दौरान सब कुछ ठीक ठाक मिला।

लम्बित विवेचनाओं का निस्तारण करें: एसपी


जौनपुर। पुलिस अधीक्षक भारत सिंह यादव ने क्षेत्राधिकारी कार्यालय पर केराकत व मछली शहर पर लम्बित विवेचनाओं के निस्तारण व अपराधियों के विरूद्ध अभियान की समीक्षा किया। इस दौरान एसपी ने लम्बित विवेचनाओं के निस्तारण की स्थिति का अवलोकन किया तथा पार्ट पेण्डिग एवं अग्रिम विवेचनाओं की जानकारी ली। सर्किल थानों केराकत, चन्दवक, गौराबादशाहपुर, एवं क्षेत्राधिकारी कार्यालय में लम्बित शिकायती प्रार्थना पत्रों के निस्तारण तथा वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी के साथ ही पुरस्कार घोषित अपरधियों की गिरफ्तारी की स्थिति की जानकारी ली। उन्होने अधीनस्थों को निर्देश दिया कि गैर जमानतीय वारण्टों का तामीला करा कर गिरफ्तारी की जाय लम्बित का अनावरण किया जाय। इसके अलावा लम्बित पारपत्र, पीवीआर, जीवीआर, एमवीआर,वीआर के सत्यापन की स्थिति का भी अवलोकन किया। इस दौरान लम्बित विवेचनाओं को जल्द से जल्द निस्तारण व वांछित अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु सम्वन्धित को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि कार्य में लापरवाही दिखाने वाले पुलिस जनों के विरुध्द सख्त कार्यवाही की जायेगी।

एसपी ने धुम्रपान छोड़ने का दिलाया शपथ


जौनपुर। धुम्र पान निषेध दिवस के अवसर पर शुक्रवार को पुलिस अधीक्षक भारत सिंह यादव ने अधीनस्थ अधिकारियों व कर्मचारियों को धुम्र पान से होने वाली कैासर जैसी बीमारियों के बारे में जानकारी देते हुए धुम्रपान छोड़ने के लिए पुलिस लाइन में शपथ दिलायी गयी। उन्होने कहा कि स्वास्थ्य से बढ़कर कोई चीज कोई नहीं है। गलत आदतों से बचे और स्वस्थ्य समाज की स्थापना करें।

सपा केराकत विधायक ने 5 और लोगों को दिलवाया बीमारी राशि


जौनपुर। जनपद के केराकत विधानसभा क्षेत्र के सपा विधायक गुलाब चन्द्र सरोज ने मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से 5 ऐसे लोगों को आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाया जो भयंकर जानलेवा बीमारी से ग्रसित हैं। इस संदर्भ में विधायक श्री सरोज ने बताया कि उन्होंने 12 मई के 25 जून के बीच में कुल 5 लोगों को बीमारी के उपचार हेतु धनराशि शासन से स्वीकृत करवाया। हालांकि इसके पहले अब तक सैकड़ों लोगों को यह सहायता दिलवा चुके हैं। उनके अनुसार निशा निवासी छोटी मढ़ी तहसील केराकत को कैंसर के उपचार हेतु 1 लाख, कान्ति पाठक निवासी भदवार तहसील केराकत को विद्युत दुर्घटना के कारण विकलांगता के उपचार हेतु 10 हजार, परवेज अंसारी निवासी दलाल टोला तहसील केराकत को कैंसर के उपचार हेतु 1 लाख, अहमद अली निवासी मढ़ी तहसील केराकत को हृदय रोग के उपचार हेतु 1 लाख 70 हजार और गीता मौर्य निवासी चैरा तहसील केराकत को कैंसर के उपचार हेतु 1 लाख 50 हजार रूपया आवंटित करवाया गया।

योग से संभव है मनुष्यत्व की पूर्णता



जौनपुर। रासमण्डल में आयोजित  तीन दिवसीय योग शिविर का  समापन हो गया। इस मौके पर योग प्रशिक्षक डा. हेमंत, डा. कमलेश ने ताणआसन, वृक्षासन, मण्डूक आसन और प्राणायाम में भस्तिका, कपालभांति, अनुलोम विलोम का योगाभ्यास कराया एवं इससे होने वाले लाभ के बारे में बताया। साथ ही बच्चों को स्वास्थ्य सम्बंधित जानकारी देते हुए बताया कि जैसे पानी कब पीना है, भोजन कब करना है। बच्चों को यह भी बताया गया कि राजयोग में योग के आठ अंग बताये हैं जिसमें यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रात्याहार, धारणा, ध्यान, समाधि शामिल है। इन आठों में प्रारम्भिक दो अंगों का सबसे अधिक महत्व है। इसीलिए उन्हें सबसे प्रथम स्थान दिया गया है। यम और नियम का पालन करने का अर्थ मनुष्यत्व का सर्वतोमुखी विकास है। योग का आरम्भ मनुष्यत्व की पूर्णता के साथ होता है। बिना इसके साधना का कोई प्रयोजन नहीं। राजयोग मनुष्य मात्र के लिए, स्त्री-पुरुष, गृहस्थ-विरक्त, बाल-वृद्ध, शिक्षित-अशिक्षित सबके लिए समान रूप से उपयोगी और सरल है। जिस साधना द्वारा आत्मा का पररमात्मा से मिलना हो सकता है, उसे योग कहा जाता है। आकृति गुप्ता ने सहज योग से बच्चों को एकाग्रता को नाए रखने के कई आसन सिखाया। उन्होंने बताया कि ध्यान करने से बीमारियों, चिंताओं तथा दुर्गुणों से मुक्ति मिलती है जिससे आनंदमय, शांतिपूर्ण, संतुलित जीवन की प्राप्ति होती है। अतिथि के रूप में डा. वीरेंद्र प्रताप सिंह प्रधानाचार्य तिलकधारी इण्टर कालेज, अवनीश मणि त्रिपाठी, दुर्गा प्रसाद सिंह ने कोचिंग के बच्चों को योग के प्रति प्रेरित किया। आयोजक कहा कि गांधी जी और स्वामी विवेकानंद की कही बातें हमें नहीं भूलना चाहिए, जो परिवर्तन हम लोगों में चाहते है वह परिवर्तन सर्वप्रथम हमें स्वयं में लाना होगा। योग करने से हमारी कार्यक्षमताएं बढ़ती ही है। साथ ही हम दीर्घायु तक स्वस्थ्य रह सकते है। अंत में योग प्रशिक्षकों को स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया। शिविर में गुरूपाल सिंह, विश्वप्रताप चैहान, नरेंद्र, संदीप सागर सिंह सहित कोचिंग के विद्यार्थी मौजूद रहे।


2005 से पूर्व की करेंसी बदलने की सीमा छः माह बढ़ी

कुंवर दीपक सिह (रिंकू)
जौनपुर - रिजर्व बैंक ने वर्ष 2005 से पहले के करेंसी नोटों को बदले की समय सीमा छः माह बढ़ाकर आवाम को भारी राहत पहुचाया है ,अब 2005 से पहले के सभी नोट बदलने की समय सीमा 31 दिसंबर 2015 कर दी है , इसके पहले रिजर्व बैंक ने एक आदेश के तहत नोट बदलने की समय सीमा 30 जून 2015 किया था , समय नजदीक आते ही आवाम में खलबली मच गयी थी ,  बैंको की तरफ रुख कर दिए थे। 
     रिजर्व बैंक द्वारा जारी प्रेस नोट के अनुसार 31 दिसम्बर 2015 के बाद 100 से लेकर 1000 तक के ये सभी नोट जो 2005 से पूर्व के होंगे वह प्रचलन से बाहर हो जायंगे , उनकी कोई कीमत नहीं रहेगी। भारती रिजर्व बैंक के अनुसार इस निर्णय के पीछे काला धन रखने वालो के ऊपर लगाम लगाना होगा , अब तक नोट बदलने की सीमा 30 जून थी ,  प्रत्येक दशा में 2005 से पहले सभी नोट बदल दिए जायंगे। 

तालाबों की खुदाई में घोटाला, बारिश की प्रतीक्षा


जौनपुर। सरकार लाख कवायद करे परन्तु विकास की योजनायें भष्ट्राचार की भेट चढ़ जाती है । मुख्यममन्त्री की जल बचाओ योजना का जिले में बन्दरबांट हो रहा है । विकास खण्ड जलालपुर में मनरेगा के तहत 15 गांवों में तालाब खुदवाने तथा सफाई एवं मरम्मत करके जल भरने हेतु क्षेत्र के ग्राम पंचायत कुसाॅव मंे दो महिमापुर., भवनाथपुर दरवेशपुर जरहिलाकला में  दो , मथुरापुर कोठवा, छतरीपुर, छितौना, प्रधानपुर, ककोरी, जगापुर, ओइना, कुसिया मे धनराशि आवंटित की गयी है परन्तु अधिकारियों व कर्मचारीयो के मिली भगत से तालाबों की खुदाई कागजांे में ही सिमट कर रह गयी है । तालाब की खुदाई के नाम पर बडे़ पैमाने पर घोटाला किया जा रहा है इसे छिपाने के लिए वर्षा का इन्तजार किया जा रहा है । अभी तक खुदाई नाममात्र की हो रही है । जब तालाब वर्षा से भर जायेगा तो सरकारी फाइलो में कार्य पूण हो जायेगा ।  मौके पर जाकर तालाबों की खुदाई का सच देखा गया तो महिमापुर में खुदीराम हरीजन के खेत में तालाब खुदाई  3 लाख 40 हजार से कराया जा रहा है मौके पर सई नदी के समीप खेत की सीर्फ मेड़ बन्दी करके तालाब का रुप दिया गया है बालू में पानी रुक नही सकता है और नदी का जलस्तर बढ़ने पर तालाब का अस्तित्व ही समाप्त  हो जायेगा । ग्रापंचायत छितौना पडाइन तालाब के खुदाई व सफाई का कार्य  3 लाख 26 हजार से हुआ मौके पर अब तक कोई कार्य नही हुआ है । ग्राम गगईचा तालाब के खुदाई का कार्य 5 लाख 95 हजार की खुदाई में मौके पर पुराने तालाब में कोई कार्य नही हुआ है । कुसाव जगापुर सरहद पर  3लाख 45 हजार से काम हो रहा है मौके पर मजदूरों ने बताया कि  एक हप्ता से काम चल रहा है । इसी गाॅव के पश्चिम तालाब  3 लाख 90 हजार से हुआ मौके पर कोई कार्य नही हुआ है । ओइना जू0हा0 स्कूल के पास तालाब के खुदाई  1 लाख 48 हजार मौके पर दो दिन से कार्य चल रहा है । मथुरापुर कोठवा यादव बस्ती मे परमावन  तालाब की खुदाई 5 लाख 42 हजार से हो रही है मौके पर कोई कार्य नही कराया गया है । इस सन्दर्भ मे विकास खण्ड अधिकारी ने कहा कि  इसकी जाॅच कराने के बाद ही स्पष्ट हो पायेगा।

हत्या की रिपोर्ट के लिए मचाया हंगामा


जौनपुर।जनपद के लाइन बाजार थाना क्षेत्र के चाचकपुर में युवक की हत्या कर फेकी गयी लाश की शिनाख्त हो गयी है। परिजनों ने शव की शिनाख्त 21 वर्षीय रतन चन्द मौर्य पुत्र माता प्रसाद के रूप में हुई। मृतक के परिजनों ने शुक्रवार को हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए पुलिस अधीक्षक कार्यालय का घेराव कर हंगामा मचाया। उनका कहना था कि कोतवाली और लाइन बाजार पुलिस एक दूसरे के क्षेत्र में लाश होने की बात कह कर टालमटोल कर रहे है। पुलिस अधीक्षक ने लाइनबाजार में मुकदमा दर्ज करने का निर्देश दिया। माता प्रसाद ने दिये गये तहरीर में बताया कि मोहल्ले में गुलाब चैरसिया ठेकेदार व उसका भाई दीपचन्द तथा साली शिवानी चैरसिया रहती है। जो उसके पुत्र के दुकान पर सब्जी लेने आती रहती है। दोनों का प्रेम प्रपंच भी चल रहा था। जब इस बात की जानकारी गुलाब तथा उसके भाई दीपचन्द को हुई तो धमकी दिया कि शिवानी से मिले तो लाश का पता नहीं लगेगा। इसके बाद उक्त लोगों ने रतन की हत्या कर शव फेक दिया। जिसे पुलिस ने लावारिश के तौर पर अन्तिम संस्कार कर दिया। उक्त लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर कार्यवाही की जाय।

फसल बीमा लेने वाले के साथ ही गैर फसल ऋण बीमा वाले किसान भी लाभ उठाये 30 जून तक-जिलाधिकारी


जौनपुर- जिलाधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी ने फसल बीमा की समीक्षा किया उन्होंने बताया कि फसल ऋण बीमा योजना के लिए तथा गैर फसल ऋण बीमा योजना के लिए किसानों को अवगत कराया है कि यदि गैर फसल के लिए ऋण लेने वाले किसान भी अपनी फसल का बीमा कराना चाहते है तो खतौनी, मतदाता कार्ड, बैंक पासबुक की फोटो कापी के साथ अपने सहायक खण्ड विकास अधिकारी कृषि के यहा जाकर फार्म भरकर 30 जून 2015 तक जमाकर इस योजना का लाभ उठा सकते है

डीएम के कड़े तेवर कामधेनु, मिनी कामधेनु में बैंको द्वारा लापरवाही बरतने पर होगी कड़ी कार्यवाही


जौनपुर-जिलाधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी की अध्यक्षता में  जिला परामर्श दात्री समिति (डी0सी0सी0, डी0एल0आर0सी0) की बैठक आज कलेक्टेªट सभागार में सम्पन्न हुई, जिसमे जिलाधिकारी  के कड़े तेवर कामधेनु, मिनी कामधेनु में बैंको द्वारा लापरवाही बरतने पर होगी कड़ी कार्यवाही । अग्रणी जिला प्रबन्धक द्वारा पिछले बैठक की कार्यवृत्त सदन में न प्रस्तुत करने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त किया तथा निर्देशित किया कि बैठक से पहले तैयारी करके आये। जिलाधिकारी ने बैंक शाखा प्रबन्धकों द्वारा कार्य में प्रगति न लाने वालों के विरूद्ध क्या कार्यवाही की गयी है। सरकार द्वारा 60 प्रतिशत लोन (शिक्षा, कृषि, हाउस लोन) देने का प्रविधान है बैंको द्वारा लोन के लिए समाचार पत्रांे में विज्ञापन प्रकाशन कराने का निर्देश दिया। प्रदेश में 3 हजार बैंक शाखा खोले जाने का लक्ष्य निधारित किया गया था जिसमेें अब तक 32 शाखाए जौनपुर जिले मंे खोली गयी है।  प्रधानमंत्री जनधन योजना में 16 अगस्त 2014 से 31 मई 2015 तक 548395 खाता खोले गये है। जिलाधिकारी ने बैंक प्रबन्धकों तथा एल0डी0एम0 को निर्देशित किया कि कैम्प लगाकर ज्यादा से ज्यादा लोन 30 जून 2015 तक कराये ताकि किसानों को फसल बीमा का लाभ मिल सके। इस वर्ष शिक्षा ऋण में 66 खातों में 109 करोड़ रूपये प्रेषित किये गये। किसान क्रेडिट कार्ड की प्रगति की समीक्षा बैक वार जिलाधिकारी द्वारा किया गया तथा ज्यादा से ज्यादा किसान क्रेडिट कार्ड बनाने का निर्देश दिया गया। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम गत वितीय वर्ष मंे 58 लक्ष्य के सापेक्ष में 92 आवेदन पत्र प्रेषित किये गये जिसमें अभी तक कुल 34 आवेदन पत्र स्वीकृत करके 437 लाख रू0 में से 249.98 लाख रूपया वितरित किया गया। मुख्यमंत्री रोजगार योजना में 23 के सापेक्ष 48 आवेदन पत्र प्रेषित किये गये जिसमें 15 स्वीकृत 118.50 लाख रू0 वितरित किये गये। स्वर्ण जयंती शहरी रोजगार योजना की समीक्षा जिलाधिकारी द्वारा बैंकवार किया गया तथा एल0डी0एम0 को स्वीकृति पत्रावलियों की सूची पी0ओ0 डूडा एम0पी0सिंह को आज ही उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। स्पेशल कंम्पोनेंट योजना भौतिक लक्ष्य 3560 के सापेक्ष 1603 आवेदन पत्र प्रेषित किये गये जिसमें 886 खातों में ऋण स्वीकृत कर 177.20 लाख रू0 वितरित किया गया। जिलाधिकारी द्वारा कामधेनु एवं मिनी कामधेनु योजना बैंकवार समीक्षा किया गया तथा योजना की प्रगति न लाने वाले बैंक प्रबन्धकों एवं एल0डी0एम0 के खिलाफ बैंक के उच्चाधिकारियों को आज ही पत्र प्रेषित करने के लिए मुख्य विकास अधिकारी पी0सी0श्रीवास्तव को निर्देश दिया। जिलाधिकारी के निर्देश पर जिला विकास अधिकारी तेज प्रताप मिश्र ने एरिया बेस्ड स्कीम की प्रगति बैंक प्रबन्धक वार समीक्षा किया। जिसमें युनियन बैंक प्रबन्धक जमालापुर द्वारा पशुपालन योजना के तहत 10 प्रार्थना पत्र स्वीकृत तथा 3 वितरण किया गया, युनियन बैंक सम्भूगंज द्वारा 16 स्वीकृत 4 वितरित तथा युनियन बैंक प्रबन्धक तेजीबजार  13 स्वीकृत 4 वितरित करने पर जिलाधिकारी ने प्रशंसा किया तथा अन्य सभी बैंक प्रबन्धकों को भी इसी प्रकार पशुपालन ऋण योजना के तहत उदारता से स्वीकृति करने का निर्देश दिया। कई शाखा प्रबन्धकों  द्वारा ऋण देने में बहाना बनाने के प्रकरण को जिलाधिकारी ने गम्भीरता से लेते हुए सभी खण्ड विकास अधिकारियों को बैंको से आस्वीकृत प्रार्थना पत्र की सूची लेकर पशुपालकों से मिलकर वास्तविक स्थिति की जानकारी देने का निर्देश दिया। यूनियन बैंक के डा0 पी0के मिश्रा द्वारा सफलता की कहानी की पत्रिका प्रकाशित करने पर प्रसंशा किया तथा इसी प्रकार समाचार पत्रों में भी सफलता की कहानी प्रकाशित कराने का निर्देश दिया। इस अवसर पर सी0डी0ओ0 पी0सी0श्रीवास्तव, ए0जी0एम0 ए0के0पी, उपनिदेशक सस्थागत वित्त प्रमोद कुमार, नावार्ड प्रबन्धक आशीष तिवारी, उप निदेशक कृषि अशोक उपाध्याय, जिला कृषि अधिकारी मनीष सिंह, सहायक निदेशक बचत अमरावती कुशवाहा सहित अन्य बैंको के प्रतिनिधि भी उपस्थित रहे।

शिक्षक संघ के चार सूत्रीय मांगो पर संतोषजनक प्रगति चल रही है-चेतनारायण सिंह


जौनपुर - आज टी0डी0इण्टर कालेज में उ0प्र0 माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष व सदस्य बिधान परिषद श्री चेतनारायण सिंह ने अपने प्रदेश मंत्री रमेश सिंह ,जिला अध्यक्ष नरसिंह बहादुर सिंह,जिला मंत्री सुधाकर सिंह व तमाम अन्य पदाधिकारियों के साथ प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि मूल्यांकन वहिष्कार के दौरान दी ,  सात अप्रैल को माननीय मुख्यमंत्री से जिन चार मांगो पर सहमति बनी थी उस पर संतोषजनक प्रगति चल रही है।मूल्यांकन पारिश्रमिक वृद्धि का शासनादेश पहले ही जारी हो चुका है।तदर्थ शिक्षको के विनयमितीकरण की फाइल व सरप्लस शिक्षको के समायोजन की पत्रवाली सारी औपचारिकता पूर्ण कर पंचम तल पर पहुँच चुकी है औऱ शीघ्र ही कैबिनेट की सहमति मिल जाएगी।शेष समस्याओं पर संतोषजनक प्रगति है। 
पुरानी पेंशन योजना हेतु दि 28 जून को वाराणसी में माननीय प्रधानमंत्री जी से मिलकर ज्ञापन सौंपा जाएगा एवं दि तीन सितम्बर को कर्मचारियों के राष्ट्रीय संयुक्त मोर्चे के माध्यम से दिल्ली में संसद भवन पर प्रदर्शन किया जाएगा औऱ सरकार के न मानने की दिशा में समस्त शिक्षक व कर्मचारी मिलकर दिसंबर में अनिश्चित हडताल पर चले जाएगे।श्री सिंह ने अपने साथियों को बताया कि हर साथ इस संघर्ष में भागीदारी कर अपने मान सम्मान व स्वाभिमान की सुरक्षा सुनिश्चित करें।

पीएम के वाराणसी दौरे की अंतिम तैयारी पूरी,वाराणसी में हाई एलर्ट जारी


सुभाष पाण्डेय 
लखनऊ। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 28 जून को वाराणसी दौरे को लेकर रिहर्सल के साथ ही अंतिम तैयारी पर मुहर लग गई। प्रधानमंत्री के अपने संसदीय क्षेत्र में आगमन को लेकर आज सभी तैयारियों पर मुहर लग गई। वाराणसी में पीएम मोदी बीएचयू में प्रदेश के सबसे बड़े ट्रामा सेंटर का उद्घाटन करेंगे।
केंद्रीय ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल कल से ही वाराणसी में जमे हैं और वह पीएम मोदी के हर कार्यक्रम स्थल पर अपेक्षित सुधार को अंतिम रूप देने में लगे  हैं। श्री गोयल ने कल बीएचयू में ट्रामा सेंटर व डीरेका के खेल मैदान का निरीक्षण किया। इसी मैदान में पीएम की 28 जून को सभा होनी है। उन्होंने कहा कि डीरेका में बनाए जा रहे तीनों हेलीपैड पर ईंटें बिछाई जाएं, ताकि बारिश होने पर किसी प्रकार की बाधा न आए। डीरेका में पीएम की सभा के मंच के पास पावर कारपोरेशन प्रदर्शनी लगाएगा। इसके लिए लखनऊ शक्ति भवन से विशेषज्ञों की टीम बनारस आई है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आगमन को देखते हुए वाराणसी में हाई एलर्ट जारी है। सकुशल आगमन व प्रस्थान को पुख्ता करने के लिए केंद्रीय गुप्तचर एजेंसी के साथ ही सीबीसीआईडी, स्थानीय खुफिया इकाई आदि को सक्रिय कर दिया गया है। आग जैसी घटनाओं से निबटने के लिए फायर ब्रिगेड के जवानों को तैनात किया जा रहा है। आधुनिक संसाधन भी मौके पर खड़े रहेंगे। तुरंत जवाबी कार्रवाई करने के लिए क्यूआरटी (त्वरित प्रक्रिया दल) के जवान भी मुस्तैद रहेंगे। इनकी 16 टीमों को तैनात किया जाएगा। जिन सड़कों से प्रधानमंत्री को गुजरना होगा वह रास्ता पूरी तरह सील रहेगा। कल एटीएस के कमांडो भी नगर में आ गए हैं।

मेडिकल कॉलेज निर्माण कार्य के ठीकेदारी को लेकर विवाद में चली गोली, एक घायल

जौनपुर - जनपद के सरायख्वाजा थाना क्षेत्र  में कताई मिल परिसर में बन रहे मेडिकल कालेज में स्थानीय और वाराणसी के ठेकेदारों में भिड़न्त हो गयी। इस दौरान जहां जमकर पथराव हुआ वहीं गोलियां भी चलायी गयी और एक ठेकेदार गोली लगने से घायल हो गया।  इस घटना को लेकर शुक्रवार को जौनपुर -शाहगंज मार्ग पर ग्रामीणों ने चक्का जाम कर दिया। प्रशासन द्वारा कार्यवाही का आस्वासन दिये जाने पर सड़क खाली हो सकी। बताते है कि मेडिकल कालेज का इस समय निर्माण जोरों पर चल रहा है और वाराणसी के ठेकेदारों द्वारा कई ट्रकों से बालू और सीमेण्ट गिरवाया जा रहा था जिसे स्थानीय ठेकेदारों ने रोक दिया। इसी बात को लेकर पहले दोनों गुटों में विवाद हो गया और वे आमने सामने हो गये। इसके बाद पथराव किया जाने लगा तो दूसरे पक्ष ने गोलियां चलायी । कन्धे पर गोली लगने से बबलू यादव निवासी कखौनियां थाना गौराबादशाहपुर घायल हो गया। इसके बाद गोली चलाने वाले भागने लगे। सूचना मिलते ही पुलिस ने पीछा किया और काफी दूर जाकर एक फार्चूनर सहित चार लोगों को दबोच लिया। इसके बाद बड़ी संख्या में ग्रामीण एकत्रित हो गये और गोली चलाने के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग को लेकर चक्का जाम कर दिया। 


शौचालय को स्वास्थ्य एवं प्रतिष्ठा से जोड़े ग्रामीण- जिलाधिकारी


जौनपुर- जिलाधिकारी भानुचन्द्र गोस्वामी ने बक्सा विकास खण्ड के मितावा गाँव के प्राथमिक पाठशाला पर चौपाल लगाकर वर्ष 2013-14 के डा0 राम मनोहर लोहिया समग्र ग्राम के योजनाओं की समीक्षा किया तथा अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये। जिलाधिकारी ने बताया कि मकान बनवाने से ज्यादा आवश्यक है कि शौचालय बनवाया जाये उससे ज्यादा जरूरी है कि उसका इस्तेमाल करके विभिन्न बीमारियो से स्वयं बचने के साथ ही गॉव वालों को भी बचाया जा सकता है। भारत में आधे से ज्यादा बीमारिया बाहर शौचालय जाने से होती है। उन्होंने चौपाल में उपस्थित लोगो से शौचालय बनवाने तथा उसका इस्तमाल करने का आश्वासन भी लिया। जिलाधिकारी ने ग्रामीणों से स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय को स्वास्थ्य एवं प्रतिष्ठा से जोड़कर देखने का अनुरोध किया। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी तेज प्रताप मिश्र ने चौपाल में 192 शौचालय लाभार्थियों का नाम लेकर सुनाया जिसे जनता ने सहमति जताई मात्र पन्नालाल पुत्र पौजदार ने बताया कि हमने अपने पास से शौचालय बनवाया है मुख्य विकास अधिकारी ने ग्राम पंचायत अधिकारी/ग्राम प्रधान को निर्देशित किया कि पन्नालाल के खाते में 9 हजार 1 सौ रू0 प्रेषित करे। इन्दिरा आवास दो बन रहे है। लोहिया आवास माधुरी सिंह पत्नी राय साहब सिंह तथा डिम्पल ंिसंह पत्नी सन्तोष सिंह के पात्रता की जॉच करने के साथ ही उपजिलाधिकारी बदलापुर ममता मालवीय को सुलह-समझौता के आधार पर आवास बनवाने अन्यथा की स्थिति में धन वापस कराने का निर्देश दिया। 1 लाख 30 हजार रू0 में लोहिया आवास में दो कमरे 1 रसोइय घर के साथ ही फर्स पक्की पलास्टर करवाने के साथ ही खिड़की दरवाजा लगवाने का प्राविधान है। 26 लाभार्थियों को 15 दिन के अन्दर आवास पूर्ण कराने का निर्देश दिया। सीडीओ पी0सी0श्रीवास्तव द्वारा बताया गया कि ए0एन0एम0 को बैग किट उपलब्ध कराया गया है। 12 से 18 वर्ष के किशोरियों को जाँच कराकर उनमें पायी गयी कमी के अनुसार उन्हे आयरन की गोली एवं पोषाहार देकर स्वस्थ्य रखना है। मौके पर ए0एन0एम0 एवं डॉक्टर द्वारा हिमोगोल्बिन, ब्लडप्रेसर, वजन की जाँच भी किया गया। किशोरियों, गर्भवती महिलाओं, कुपोषित बच्चों की जॉचकराकर दवा आदि भी दिलाया गया। इस अवसर पर उपायुक्त मनरेगा रामबाबू त्रिपाठी, जिला पंचायत राज अधिकारी ए0के0सिंह, खण्ड विकास अधिकारी बक्सा चन्द्रप्रकाश श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहें।