health

Breaking News

जौनपुर की इत्र,इमरती व् ईमानदारी की दी जाती है मिसाल-सीएम योगी 24UPNEWS.COM पर

पुलिस के हाथ लगा फर्जी कोतवाल बनकर कर रहा था वाहनो की वसूली


जौनपुर। जनपद के गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के बिथार गांव के पास मीरपुर पचेवरा वाले रास्ते पर एक थ्री स्टार वर्दीधारी द्वारा वाहनों को चेक करने के नाम पर रूपया वसूला जा रहा है। इस पर थानाध्यक्ष मयफोर्स वहां पहुंचे जहां देखे कि एक व्यक्ति उत्तर प्रदेश पुलिस के निरीक्षक की वर्दी पहने वाहनों को रोकने का इशारा कर रहा था। उससे पूछताछ हुई तो बताया कि वह जनपद चित्रकूट के कार्बी थाने पर तैनात है लेकिन सीयूजी, पीएनओ नम्बर सहित विभाग से सम्बन्धित जानकारी पूछे जाने पर वह अवाक रह गया और बेरोजगार बताकर माफी मांगने लगा। उसे थाने लाया गया जहां उसने अपना नाम विकास उपाध्याय पुत्र मंगला प्रसाद उपाध्याय निवासी सुल्तानपुर थाना फूलपुर जनपद आजमगढ़ बताया। 
आरक्षी अधीक्षक भारत सिंह यादव द्वारा शांति व्यवस्था बनाये रखने हेतु थानेदारों को गश्त करने के निर्देश के क्रम में थानाध्यक्ष गौराबादशाहपुर विश्वनाथ यादव ने क्षेत्र के प्रसाद तिराहे पर वाहन चेकिंग शुरू कर दिया। इस दौरान मालूम हुआ कि थ्री स्टार  वर्दीधारी द्वारा वाहनों को चेक करने के नाम पर रूपया वसूला जा रहा है। इस पर थानाध्यक्ष मयफोर्स वहां पहुंचे जहां देखे कि एक व्यक्ति उत्तर प्रदेश पुलिस के निरीक्षक की वर्दी पहने वाहनों को रोकने का इशारा कर रहा था , जो उसकी बुलेट मो.साई. नम्बर 131 के कागज दिखाने की बात कहने पर वह कुछ नहीं दिखाया जिस पर धारा 207 मोटर अधिनियम के तहत उसे सीज कर दिया गया। पुलिस के अनुसार बुलेट में बंधे बैग में उत्तर प्रदेश विकास प्राधिकरण लखनऊ का फर्जी नियुक्ति पत्र मिला। 3 लिफाफे मिले जिस पर लखनऊ विकास प्राधिकरण में नियुक्ति के समर्थन में पृष्ठांकित थे। उस पर उत्तर प्रदेश विकास प्राधिकरण लखनऊ की मोहर लगी थी। 50 रूपये के एक स्टैम्प पेपर पर उत्तर प्रदेश विकास प्राधिकरण लखनऊ में नियुक्ति के सम्बन्ध में कुछ लिखा व मोहर लगा हुआ मिला। तलाशी के दौरान पैंट की जेब से पर्स जिसमें उत्तर प्रदेश पुलिस का बिना भरा हुआ कार्ड एवं 1640 रूपये बरामद हुआ।

No comments:

Post a Comment