health

Breaking News

जौनपुर की इत्र,इमरती व् ईमानदारी की दी जाती है मिसाल-सीएम योगी 24UPNEWS.COM पर

सिचाई के पानी को लेकर दो पड़ोसियों में विवाद ,एक अधिवक्ता को उतारा मौत के घाट,पीएसी और पुलिस बल तैनात

जौनपुर - जनपद शाहगंज थाना कोतवाली के समधिपुर गांव में सिचाई के पानी को लेकर दो पड़ोसियों में विवाद हो गया , जिसमे  एक अधिवक्ता को धारदार हथियारों से काटकर मौत के घाट उतारा  दिया। बदमाशों ने अधिवक्ता की बहन और पत्नी को भी हमला कर जख्मी कर दिया।अधिवक्ता की हत्या के बाद से पूरे इलाके में तनाव फैल गया है। खबर मिलते ही पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। महौल बिगड़ता देख इलाके में पीएसी और पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। घटना में घायल दोनों महिलाओं का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।  
खबरों के अनुसार जनपद के शाहगंज कोतवाली के समधिपुर गांव में सुबह करीब ग्यारह बजे दीवानी कचहरी के अधिवक्ता जीतेंद्र यादव का अपने ही पट्टीदारों से विवाद हो गया। मामला सिर्फ इतना था कि जितेंद्र ने सिचाई के लिए पाइप लगाया था। लेकिन उसके पट्टीदार जयप्रकाश यादव को ये बात नागवार गुजरी। इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में कहासुनी शुरू हो गई। मामला बढ़ा तो जीतेंद्र अपने घर घर चला गया। लेकिन बात यहां खत्म नहीं हो सकी। बौखालाया जयप्रकाश अपने भाईयो  ओमप्रकाश और शिवप्रकाश समेत पचासों समर्थकों के साथ हाथों में चाकू, कुल्हाड़ी, फावड़ा और कई धारदार हथियार लेकर जीतेंद्र के घर पहुंच गया। वहां पहुंचते सभीे दरवाजा तोड़कर अंदर घुस गए और घर में मौजूद जीतेंद्र पर हमला बोल दिया। पचासों की संख्या में मौजूद लोगों ने ताबड़तोड़ वार कर जीतेंद्र को वहीं मौत के घाट उतार दिया। इसी दौरान बीच बचाव के लिए पहुंची पत्नी मंजू और बहन ललिता पर धावा बोल दिया। हमले में मंजू के सिर और आंख पर गंभीर चोट आई जबकि ललिता के हाथों की दो उंगलियां कटकर अलग हो गईं। जीतेंद्र की हत्या करने के बाद सभी आराम से चलते बने। बदमाशों के जाने के बाद आसापास के लोगों ने किसी तरह मंजू और ललिता को जिला अस्पताल पहूचाया। इस घटना की सुचना पर जनपद न्यायालय  अधिवक्ताओ में शोक की लहर दौड़ गयी है। 

No comments:

Post a Comment