health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

सपा समर्थक की बर्बर हत्या, एक नामजद समेत तीन के खिलाफ हत्या का केस

बाबूगंज बाजार में पसरा सन्नाटा, एसपी ने लिया हालात का जायजा
जेठवारा में पीडब्ल्यूडी कर्मी हत्याकांड में भी आधा दर्जन के खिलाफ दर्ज हुआ हत्या का मुकदमा

लालगंज-प्रतापगढ़़ः- स्थानीय कोतवाली क्षेत्र में बीती बुधवार की देर रात सपानेता की बेखौफ हत्यारों ने सरे बाजार ताबड़तोड़ गोलीबारी कर हत्या कर दी। कोतवाली क्षेत्र के डीहमेंहदी बाबूगंज निवासी मो0 इद्रीस (50) रात को मस्जिद में नमाज अदा कर घर वापस आ रहा था। इस बीच पहले से घात लगाये बैठे तीन युवकों ने अचानक उसे घेरकर गाली गलौज करते उस पर तमंचे से फायर शुरू कर दिया। गोली लगते ही इद्रीस मस्जिद की ओर भागा किंतु बाजार के बीएसएनएल टावर के पास लड़खड़ा कर गिर गया। ताबड़तोड़ फायरिंग में मृतक को चार गोलियां लगी। बाजार में फायरिंग की आवाज सुनकर जब तक लोग व परिजन हल्लागुहार करते दौड़ते हत्यारे सरेबाजार कई राउण्ड फायरिंग करने लगे। बदमाशो के लगातार फायरिंग को देख लोग घरों की ओर भागने लगे और खिड़किया तथा दरवाजे बंद कर सहम गये। परिजनों की चीख पुकार के बीच हत्यारे धमकी देते मौके से भाग निकले। परिजन लहूलुहान इद्रीस को आनन फानन में लालगंज सीएचसी उपचार को ले गये जहां से उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया किन्तु जिला अस्पताल में चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक इद्रीस डीहमेंहदी से बीडीसी मेम्बर भी रह चुका था और वह सपा के पूर्व मंत्री स्व0 राजाराम पाण्डेय का खाटी सर्मथक था। मृतक की बीबी राजिया बेगम की ओर से गुरूवार को लालगंज कोतवाली में दी गई तहरीर के आधार पर पुलिस ने गांव के ही इमरान पुत्र अंसार समेत दो अज्ञात हत्यारोपियों के विरूद्ध हत्या तथा जानलेवा धमकी व भय तथा दहशत का माहौल बनाने का मुकदमा दर्ज किया हैं। मृतक इद्रीस के दो पत्नियां हैं और उसके आठ बच्चे अनाथ हो गये हैं। मृतक सपानेता की हत्या को लेकर बाबूगंज बाजार में तनाव फैल गया गुरूवार को बाजार में सन्नाटा पसरा रहा। वहीं लालगंज समेत उदयपुर, सांगीपुर एसओ तथा क्यूआरटी समेत भारी पुलिस बल तैनात देखी गयी। मृतक के घर के सामने भी भारी भीड़ देखी गयी वहीं औरतों का विलाप देखकर हर किसी की आंख भी भर आई। हालांकि गोलीबारी की खबर मिलने के बाद बुधवार की देर रात ही एसपी एमपी वर्मा व एएसपी दिनेश प्रताप सिंह एसडीएम वाईबी सिंह सीओ बीआर प्रेमी ने बाबूगंज बाजार पहुंचकर हालात की समीक्षा की। बाजार में मृतक इद्रीस की हत्या को लेकर लोग दबी जुबान से कई तरह की चर्चा भी करते देखे गये। मसलन अभी हाल ही में बाजार में प्रतिबंधित मवेशी के मांस बरामदगी में पशु तस्करों की गिरफ्तारी को लेकर भी कुछ लोग उनसे अन्दर ही अन्दर खुन्नस खाये हुए थे। वहीं कुछ माह पहले कुछ गंवई सियासी रंजिश को लेकर जेल से भी मृतक की हत्या की साजिश की बात सामने आयी थीं। फिलहाल सपानेता इद्रीस को मिलनसार माना जाता था और गांव तथा आस पास के लोग उन्हें विधायक के नाम से पुकारा करते थे। इद्रीस हत्याकांड को लेकर इलाके में रंजोगम व तनाव का माहौल बना हुआ हैं। इधर जिले के जेठवारा थाना क्षेत्र के मनीराम का पुरवा प्राथमिक विद्यालयक के पास भवानीगढ़ निवासी रिटायर्ड पीडब्ल्यूडी कर्मी महानंद यादव की बीती बुधवार की रात पीट-पीटकर हत्या को लेकर आधा दर्जन आरोपियों के विरूद्ध बलबा व हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया हैं। मृतक के बेटे संजय यादव की तहरीर पर पुलिस ने झलिहन का पुरवा निवासी नंदकिशोर तिवारी के पुत्र लाले, मुन्ना, सतीश, व राजेन्द्र के पुत्र दिलीप, लल्लन के पुत्र नीरज तथा राजनारायण के पुत्र राजू के विरूद्ध हत्या का अभियोग पंजीकृत किया हैं। एक ही रात में जिले में दो हत्याओं को लेकर कानून और व्यवस्था को लेकर प्रतापगढ़ में फिर से सवालिया निशान खड़े हो गये हैं।

No comments:

Post a Comment