health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने हेतु नियुक्त होंगे मास्टर ट्रेनर

वाराणसी। प्राथमिक और जूनियर विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए चुनिंदा सौ शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रत्येक ब्लाक से 10-10 शिक्षक चुने गए हैं। ये शिक्षक 'मास्टर ट्रेनर' कहलाएंगे।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वे अपने-अपने ब्लाक के शिक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे। प्रशिक्षण के दौरान उन्हें मुख्य रूप से 'शिक्षागृह' साफ्टवेयर का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
बता दें कि एक जुलाई से 'शिक्षागृह' साफ्टवेयर का संचालन शुरू हो जाएगा। साफ्टवेयर का उपयोग शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए किया जाएगा। साफ्टवेयर में सभी सरकारी स्कूलों के शिक्षकों और छात्रों का विवरण दर्ज किया गया है एवं इसकी अलग से सीडी तैयार की गई है। प्रत्येक छात्र और शिक्षक को अलग-अलग कोड दिया जाएगा।
बता दें कि पिछले दिनो जिला शिक्षा समिति की बैठक में यह तय हुआ था कि शिक्षकों को इस बात का प्रशिक्षण दिया जाए कि कैसे वे तैयार होकर क्लास में जाएं। कक्षा में पढ़ाते समय इस बात का ध्यान रखें कि सबसे कमजोर विद्यार्थी कितना समझ रहा है। उसके अभिभावकों से भी बात करें। ऐसे बच्चों पर लागातार नजर रखें। नगर क्षेत्र के शिक्षकों की ट्रेनिंग जूनियर हाईस्कूल (कबीरचौरा) में होगी।
'शिक्षागृह' साफ्टवेयर में यूनिट टेस्ट के नंबर अपलोड किए जाएंगे। जिसके आधार प्रत्येक स्कूल के छात्रों का भी आकलन होगा। उसी के आधार पर शिक्षकों का मूल्यांकन होना है। इसलिए जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग पहले ही शिक्षकों को पूरी प्रक्रिया समझा देना चाहता है।

No comments:

Post a Comment