health

Breaking News

जौनपुर - बीजेपी के लिए जौनपुर से चुनाव का आगाज करना शुभ है-सतीश कुमार सिंह 24UPNEWS.COM पर

शादी समारोह में, हर्ष फायरिंग पर खुद गंभीर हो पुलिस

हर्ष फायरिंग पर एफआईआर की प्रतीक्षा न करे पुलिस - हाईकोर्ट 
Image result for image of wedding homeलखनऊ। शादी समारोह में हर्ष फायरिंग के दौरान आये दिन हो रही दुर्घटनाओं पर हाईकोर्ट ने कड़ा रुख अख्तियार किया है।
उच्च न्यायालय ने पुलिस को यह निर्देश दिया है कि शादी समारोह में हर्ष फायरिंग की सूचना मिलते ही बिना एफआईआर की प्रतीक्षा किये ही इलाकाई पुलिस तत्काल मौके पर जाकर दोषीयों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करे। 
यह आदेश उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति सुधीर सक्सेना की एकल पीठ ने बीते माह एक शादी समारोह में हर्ष फायरिंग के दौरान चली गोली में दूल्हे की मौत की घटना का स्वतः संज्ञान लेते हुए दिया है।
हाईकोर्ट नेप्रदेश के प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी को भी आदेश है कि वे हर्ष फायरिंग की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए त्वरित कार्यवाही करने का जिम्मेदारों को निर्देश दें।
उच्च न्यायालय की पीठ ने वर्ष 2012 में भी शादी समारोह में हर्ष फायरिंग के सम्बन्ध में योजित जनहित याचिका पर कई आदेश पारित कर चुकी है। जिसके आधार पर प्रदेश के डीजीपी ने भी एक सर्कुलर जारी कर समारोहों में हर्ष-फायरिंग की घटनाओं पर कड़ाई से पालन करने का आदेश दिया था। बावजूद इसके हर्ष के माहौल में फायरिंग जैसी घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रही हैं। बावजूद इसके हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना होने पर डीजीपी ने हाईकोर्ट के आदेश पर इलाकाई पुलिस को यह अधिकार दे रखा है कि समारोह में हर्ष फायरिंग की सूचना मिलते ही इलाकाई पुलिस बिना प्राथमिकी की परीक्षा किये मौके पर जाकर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही करे।

No comments:

Post a Comment