health

Breaking News

जौनपुर केराकत थाना क्षेत्र के बेहाड़ा गांव में पुलिस और बदमाशो के बीच मुठभेड़ हुई । पुलिस को सूचना मिली कि कुछ बदमाश लूट की योजना की योजना बना रहे , केराकत पुलिस औऱ चन्दवक पुलिस ने घेराबंदी की तो बदमाश पुलिस टीम पर फायरिंग करने लगे, वारदात में दोनो तरफ से हुई फायरिंग में एक पुलिस कर्मी सहित दो बदमाश अनिल राय और सुभाष यादव और प्रदीप राजभर को पुलिस ने तीन बाइक एक पिस्टल, एक तमंचा सहित गिरफ्तार कर लिया और चार बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे 24upnews.com

अपर जिला सूचनाधिकारी की सेवानिवृत पर विदाई

जौनपुर - अपर जिला सूचना अधिकारी के.के. त्रिपाठी की अधिवर्षता सेवानिवृत के अवसर पर आज जिला सूचना कार्यालय में कर्मचारियों द्वारा एक विदाई समारोह आयोजित कर उन्हे माल्र्यापण एवं अंग वस्त्रंम तथा ग्रंथ एवं गीता देकर स्वागत किया गया। इस अवसर पर कंचन सिंह लेखाकार, निगार फात्मा वरिष्ठ सहायक, के.के.यादव संरक्षक, लल्लन यादव, मुन्नीलाल आदि कर्मचारियों ने अपर जिला सूचना अधिकारी त्रिपाठी जी के कार्यकाल की दौरान उनके द्वारा सम्पादित किये गये कार्य एवं उनकी लगन, मेहनत, दृढ़ इच्छा शक्ति के बारे में विस्तार से चर्चा किये तथा उनके अनुभवों को साझा किया। इस कार्यक्रम का सफल संचालन करते हुए गंगा प्रसाद चैबे सेवानिवृत अध्यापक व पत्रकार ने भी त्रिपाठी जी के कार्यो की भूरि-भूरि प्रंशासा करते हुए उनके कार्यो का अनुश्रवण करने पर बल दिया। अतं में अपर जिला सूचना अधिकारी त्रिपाठी जी ने कहा कि मेरे द्वारा वर्ष 1980 में इस जनपद में कार्यभार ग्रहण किया गया, अपनी मेहनत एवं लगन की बदोलत हमने 37 वर्ष से अधिक जिले में कार्य किया। वर्तमान समय अपर जिला सूचना अधिकारी के पद पर पहुंचकर आज सेवानिवृत हो रहा हूॅ मैने विभाग एवं सरकार के हित में हमेशा कार्य किया है अगर मेरे द्वारा किसी कार्मिक को कुछ कहा गया होगा तो शासकीय हित में कहा गया होगा उसका संज्ञान न लेते हुए आप सभी लगन एवं निष्ठा से कार्य करते रहे, क्योकि कार्य का फल सदैव मीठा होता है जो आपको गगन की ऊचाईयों तक पहुंचायेगा। इस अवसर पर लालबहादुर से.नि., अवनीश यादव, सुमित सिंह, अतुल शुक्ला, सुक्खू राम, महेन्द्र प्रसाद, विनोद चैबे, पत्रकार शम्भूनाथ सिंह, राकेश कान्त पाण्डेय, दिलीप शुक्ला, संजय शुक्ला, छोटेलाल राजपूत, संजय उपाध्याय, डा. यंशवन्त गुप्ता, मंगला तिवारी, दीपक मिश्रा, मनोज दूबे, समर बहादुर सिंह आदि पत्रकार बन्धुओ ने अपने विचार व्यक्त किया तथा त्रिपाठी जी के कार्यो की प्रंशासा किया और कहा कि आप हमेशा इसी तरह कार्यो में मार्ग दर्शित करते रहे।  
          

केन्द्र कि सत्ता में अगर वापस आये तो करेंगे GST में बदलाव : राहुल गाँधी


 नई दिल्ली-उत्तरी पूर्वी राज्यों त्रिपुरा, मेघालय और नगालैंड में अगले माह होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस का प्रचार अभियान आक्रामक होता जा रहा है। 27 फरवरी को होने वाले मेघालय विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी जोर-शोर से प्रचार में जुट गए हैं। राहुल गांधी ने बुधवार को बीजेपी और आरएसएस पर जमकर हमला बोला। उन्होंने शिलांग में कहा कि अगर हम केंद्र की सत्ता में वापस आए तो जीएसटी की संरचना में बदलाव करेंगे, उसे और आसान बनाएंगे।राहुल गांधी ने कहा कि हम पूरे देश में आरएसएस की विचारधारा से लड़ रहे हैं। पूरे देश पर एक विशेष तरह की सोच थोपने का प्रयास किया जा रहा है। बीजेपी और आरएसएस पूरे भारत, खासतौर पर उत्तर-पूर्वी भारत में यही कर रही है। बीजेपी और आरएसएस आपकी संस्कृति, भाषा और जीवन के तरीके को कमजोर करने का प्रयास कर रही है।कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि आरएसएस की विचारधारा महिलाओं को कमजोर करने वाली है। क्या किसी को पता है कि आरएसएस में कितनी महिलाएं नेतृत्व करती हैं? शून्य। यदि आप महात्मा गांधी की तस्वीरें देखते हैं तो आपको उनके आसपास महिलाएं दिखेंगी, लेकिन अगर आप मोहन भागवत की तस्वीरें देखते हैं, तो वह अकेले या पुरुषों से घिरे होंगे।राहुल ने कहा कि कांग्रेस में इस बात का संतुलन रखा गया है कि चुनाव में महिला और पुरुषों की संख्या में ज्यादा अंतर न आए। उन्होंने कहा कि वह मेघालय में महिलाओं को पार्टी में शामिल होने के लिए आमंत्रित करते हैं, जिससे हम ज्यादा से ज्यादा महिलाओं को मौका दे सकें।त्रिपुरा की 60 विधानसभा सीटों पर 18 फरवरी को वोटिंग होगी और मेघायल में 27 फरवरी को मतदान होगा। मेघायल में भी विधानसभा की 60 सीटें हैं। दोनों राज्यों में 3 मार्च को मतगणना होगी।





विद्वता प्राप्त करने में लगता है समय- प्रो कीर्ति सिंह

जौनपुर -व्यवसाय प्रबंध  विभाग वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय जौनपुर एवं अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के संयुक्त तत्वाधान में  शैक्षणिक नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ बुधवार को अवैद्यनाथ संगोष्ठी भवन में  हुआ. यह चार दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार के  पंडित  मदन मोहन मालवीय राष्ट्रीय शिक्षक मिशन एवं शिक्षण द्वारा उत्प्रेरित एवं समर्थित है।                                                                                                                                                                            
उद्घाटन सत्र में बतौर मुख्य अतिथि पूर्व कुलपति प्रो कीर्ति सिंह ने कहा कि यह विश्वविद्यालय के लिए गौरव की बात है यहाँ पर शिक्षकों और प्रशासनिक अधिकारियों को शासन की मंशा के अनुरूप शैक्षणिक नेतृत्व के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा है.विद्वता प्राप्त करने में समय लगता है।  यात्रा लम्बी है पड़ाव कई है।  सफलता का एक मूलमंत्र ख़ुशी है। कौशल विकास के प्रयास सतत जारी रहने चाहिए। उन्होंने कहा कि 5 वर्षों तक मस्तिष्क अपना पूर्ण आकार प्राप्त कर लेता है, आगे का विकास व्यक्ति के प्रशिक्षण और अध्ययन पर  है। 
विशिष्ट अतिथि रुहेलखंड विश्वविद्यालय बरेली के पूर्व कुलपति प्रोफेसर एम मुजम्मिल ने कहा कि उच्च शिक्षण संस्थानों में गुणवत्ता बनाए रखने की जरूरत है।उस  गुणवत्ता को उच्चतम शिखर तक ले जाने के लिए सदैव प्रयास करते रहना होगा।  उन्होंने कहा कि बुलंदियों पर पहुंचना कमाल नहीं ठहरना कमाल होता है। अपनी पहचान और  संस्कृति के साथ शिक्षा को उच्चतम शिखर पर ले जाना भी बड़ी चुनौती है। उन्होंने उच्च शिक्षा सुधार के लिए गुणात्मक, मात्रात्मक एवं समरूपता पर जोर दिया। उन्होंने विश्वेश्वरैया सभागार  में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम के सत्रों में उच्च शिक्षा की गुणवत्ता, विश्वविद्यालय अनुदान आयोग, एआईसीटीई,पीसीआई, एमसीआई, आतंरिक गवर्नेंस में सूचना एवं संचार तकनीकी के प्रयोग तथा शोध के उन्नयन पर लोगों को जानकारी दी । संकायाध्यक्ष प्रो विक्रम देव ने कहा कि शिक्षण संस्थानों की बेहतरी एवं उच्च शैक्षिक मापदंडों के लिए यह कार्यक्रम लाभकारी होगा।समन्यवयक  डॉ मुराद अली ने कार्यक्रम की रूप रेखा प्रस्तुत की एवं अतिथियों का स्वागत डॉ अमित वत्स ने  किया। धन्यवाद् ज्ञापन डॉ सुशील  सिंह ने किया। इस अवसर पर डॉ सतेंद्र सिंह, प्रो ए के श्रीवास्तव, प्रो अजय प्रताप सिंह,प्रो अजय द्विवेदी  प्रो अविनाश पथर्डीकर, प्रो वंदना राय, प्रो राजेश शर्मा, डॉ संतोष कुमार, डॉ मनोज मिश्रा, डॉ वंदना दुबे, डॉ दिग्विजय सिंह राठौर, डॉ सुधीर उपाध्याय, प्रमेन्द्र विक्रम सिंह समेत छात्र छात्राएं मौजूद रहे।   

आज 31जनवरी को लग रहा हैं चंद्रग्रहण


नई दिल्ली - माघ पूर्णिमा का दिन शास्त्रों के मुताबिक दान-पुण्य के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है। मान्यता है कि इस दिन अच्छे कर्म करने से सीधे मोक्ष का द्वारा खुलता है। लेकिन इस बार माघ पूर्णिमा के दिन चंद्र ग्रहण भी है।ग्रहण काल शाम को 5 बजकर 18 मिनट से शुरू हो रहा है। लेकिन, इसका सूतक चंद्रग्रहण शुरू होने के लगभग 9 घंटे पहले शुरू हो जाता है। इस वजह ग्रहण का सूतक सुबह 8 बजकर 18 मिनट पर लग जाएगा।सूतक के बाद भगवान की प्रतिमा के दर्शन वर्जित हैं इसलिए सभी मंदिरों के पट  बंद हो जाएंगे।वैसे तो चंद्रग्रहण हर साल ही पड़ते हैं, लेकिन इस बार माघ पूर्णिमा के दिन चंद्रग्रहण का लगना एक दिव्य संयोग बताया जा रहा है। इसलिए इस दिन स्नान और दान-पुण्य से कई गुना फल प्राप्त होगा।हालांकि यह दान-पुण्य का समय सूतक लगने से पहले ही था। लेकिन, शास्त्रों के मुताबिक ग्रहण के मौके पर दान करने के लिए सबसे उत्तम समय वह माना गया है जब ग्रहण का मोक्ष काल समाप्त हो जाता है। इसके  मुताबिक रात 8 बजकर 41 मिनट के बाद स्नान करके दान करना ज्यादा फलदायी होता है।नियम के मुताबिक ग्रहण से पूर्व और मोक्ष के बाद भी स्नान करना चाहिए।
यहां देखिए चंद्रग्रहण समय
स्पर्श का समय- शाम 5 बजकर 18 मिनट 27 सेकंड
खग्रास आरंभ- शाम 6 बजकर 21 मिनट 47 सेकंड
खग्रास समाप्त- शाम 7 बबजकर 37 मिनट 51 सेकंड 
मोक्ष काल- रात 8 बजकर 41 मिनट 11 सेकंड
बुरे प्रभाव से बचने के उपाय-
चंद्र  ग्रहण कर्क राशि में लग रहा है। इसलिए कुछ राशि पर इसके बुरे प्रभाव हो सकते हैं, इस दौरान 'ओम सोम सोमाय नमः' मंत्र का जाप कर सकते हैं। इसके अलावा महामृत्युंजय मंत्र, ईष्ट देवता और राशि का मंत्र का भी जाप कर सकते हैं। 



एक ही घर के 4 लोगो की गला रेतकर बेरहमी से कर दी हत्या


नई दिल्ली - प्रदेश के बांदा जिले में एक ही परिवार के चार लोगों की धारदार हथियार से गला काटकर हत्या की गई है। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।स्थानीय रिपोर्ट्स के मुताबिक जिले के बाहरी इलाके में स्थित छोटका कपुरवा में यह दिल दहला देने वाली वारदात हुई है।गांव के लोगों ने इस घर में चार लोगों की खून से सनी लाशें देखी तो तुरंत पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची और देखा कि घर के अंदर सभी तरफ खून के छींटे हैं और चार लाशें पड़ी हुई हैं।प्राथमिक जानकारी के अनुसार किसी धारदार हथियार से लोगों की हत्या की गई है। मरने वालों में पति-पत्नी और दो बच्चे शामिल हैं। परिवार में कुल 6 लोग थे जिसमें से 4 लोगों की हत्या की गई है।इस हमले में एक बेटा और बेटी बच गए हैं, पुलिस ने लाशों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।


कासगंज हिंसा: पर बोले सीएम योगी अराजकता फ़ैलाने वालो से सख्ती से निपटेंगे


नई दिल्ली- यूपी के कासगंज में 26 जनवरी को हुए सांप्रदायिक हिंसा में युवक चंदन की मौत पर आज सीएम योगी आदित्यनाथ ने चुप्पी तोड़ी।सीएम योगी ने कहा, 'राज्य सरकार हर नागरिक को सुरक्षा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है और अराजकता फैलाने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा।'उन्होंने कहा, 'भ्रष्टाचार और अराजकता के लिए कोई जगह नहीं और ऐसे लोगों से सराकर सख्ती से निपटेगी।'दूसरी तरफ कासगंज में हालात अभी भी तनावपूर्ण बने हुए हैं। हिंसा की छिटपुट घटनाएं आज भी हुई। इलाके में कर्फ्यू तो हटा लिया गया है लेकिन बीती रात भी कुछ अज्ञात लोगों ने एक दुकान में आग लगा दी थी।पुलिस ने पूरे कासगंज को छावनी में तब्दील कर दिया है और हर आने जाने वाले पर नजर रख रही है।गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस के दिन तिरंगा यात्रा के दौरान दो गुटों में हिंसक झड़प हो गई थी जिसके बाद गोली लगने से चंदन नाम के युवक की मौत हो गई थी। युवक की मौत के बाद पूरे इलाके में हिंसा शुरू हो गई और कई गाड़ियों और दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया था।

एआरटीओ के सख्ती के बाद हजारों ई रिक्शा चालकों ने कलक्ट्रेट गेट पर किया जोरदार हंगामा ...

रामपुर -एआरटीओ द्वारा सख्ती करने,चालान काटने व पंजीकरण की चेतावनी देने के विरोध में हजारों ई रिक्शा चालकों ने कलेक्ट्रेट गेट पर किया हंगामा। पुलिस और एआरटीओ प्रशासन द्वारा अवैध वसूली का आरोप लगाते हुए डीएम मुर्दाबाद के लगाये नारे। ई रिक्शा संचालन किया ठप। रोजी रोटी संकट आने की दी सभी चालको और मालिको ने दी दुहाई।

मुआवजे की आस में टूटती 20 गांवो के लोगों की साँस, केराकत तहसील N.H. 233 का मामला

जौनपुर। केराकत तहसील स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग के तहत अधिग्रहण किए गए करीब 20 गांवो के लोग पिछले 6 वर्षों से नजरें गड़ाए बैठे हैं, लेकिन आज तक न तो उन्हें कोई नोटिस मिली और ना ही मुआवजे की कोई रकम । इंतजार करते-करते कितने लोगों ने अपनी सांसे छोड़ दी, परन्तु मुआवजा उनके खाते तक नहीं पहुंचा । 
बता दें कि आए दिन जौनपुर जिले के इन गांवो में राष्ट्रीय राजमार्ग के तहत लिए गए जमीनों के लिए चर्चाएं होती रहती हैं । लेकिन उन चर्चाओं का क्या फायदा जो अपने ही बीच में हो पर ऊपर तक ना पहुंच सके। बता दें कि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 233 जो वाराणसी से  इंडो नेपाल बॉर्डर सोनौली तक का अधिग्रहण का गजट हुआ , यह गजट 19 मई 2012 में किया गया था । लेकिन आज तक सरकार और राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों द्वारा ना तो मुआवजा दिया गया और ना ही उनकी बातों पर अमल किया गया । इसके अलावा इस राजमार्ग के बाद अधिकृत किए गए राष्ट्रीय राजमार्ग वाराणसी - गाजीपुर,  राष्ट्रीय राजमार्ग वाराणसी- जौनपुर के अलावा इसके बाद अन्य कई राष्ट्रीय राज्य मार्गों का अधिग्रहण हुआ और वहां पर मुआवजा इत्यादि बट गया और काम भी शुरू कर दिया गया।  इसके अलावा बता दें कि शुरू हुए इन राष्ट्रीय राजमार्गों पर करीब- करीब 1 लेन का कार्य पूर्ण कर लिया गया है । यह विडंबना ही कहेंगे कि सबसे पहले हुए राष्ट्रीय राजमार्ग 233 के अधिग्रहण में इतनी खामियां हुई कि आज तक उसका मुआवजा तो दूर किसी प्रकार की नोटिस भी नहीं भेजी गई। इसके अलावा रामगढ़ , बीरभानपुर, बलुआ , आराजी बलुआ व बरइछ इत्यादि गांवो के निवासियों और किसानों का कहना है कि हम लोग दर्जनों की संख्या में कई बार जौनपुर जिलाधिकारी एवं राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारी इसके अलावा वाराणसी में बैठे राष्ट्रीय राजमार्ग के कई अधिकारियों से दर्जनों बार मिले लेकिन उन्होंने कोई भी संतुष्टि भरी बात नहीं कही सिर्फ इतना कहा कि कार्यवाही हो रही है जल्द ही पूर्ण कर ली जाएगी । यह बात पिछले 6 वर्षों से अनवरत सुनने को मिल रही है लेकिन इसका कोई भी आज तक हल नहीं निकला । इसके अतिरिक्त किसानों का कहना है कि लग रहा है कि मुआवजे की आस में सांस भी टूट जाएगी, तो इसका जिम्मेदार कौन होगा। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लोगों का कहना है कि इससे जुड़े कुछ असामाजिक तत्व ऐसे भी हैं जो नहीं चाहते की क्षेत्र का विकास हो , अपने भले में समाज का नुकसान करने पर उतारू हैं । अब प्रशासन को जनता के हित में कड़े से कड़े निर्णय लेने की जरूरत है, ताकि ख्वाबों में फंसे यह लोग सुकून पा सके ।बताते चलें कि गांव के लोगों का यह भी कहना है कि पिछले 6 वर्षों में हम लोग अपने खेतों का या फिर आवास का समुचित उपयोग नहीं कर सके हैं दिल में हमेशा डर बना रहता है कि कब सरकार की नोटिस आ जाए और तोड़फोड़ की कार्यवाही शुरु हो जाए । अगर हम लोग कोई रोजगार करने की भी सोच रहे हैं, तो वह भी करने से डरते हैं। अब देखना यह है कि सरकार और राष्ट्रीय राजमार्ग कब तक इन 20 गांव का दुख दर्द समझती है और आपन निर्णय सुनाती है।

सात बिल्डर्स के विरुद्ध डीएम ने रिपोर्ट दर्ज करने के दिये आदेश, राजस्व की 334 करोड़ 13 लाख रुपए की क्षति हुई

नोएडा- जनपद में स्टांप ड्यूटी से मिलने वाले राजस्व में बढ़ोतरी करने के उद्देश्य से जिलाधिकारी बीएन सिंह ने आज कलेक्ट्रेट के सभागार में जनपद के बिल्डर्स के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक करते हुए स्टांप ड्यूटी वसूल करने के संबंध में गहनता के साथ समीक्षा की। जिसमें उन्होंने पाया कि नोएडा एवं ग्रेटर नोएडा में 7 बिल्डर्स के द्वारा अपने भवनों में 10318 वायर्स को बिना रजिस्ट्री के कब्जा प्रदान किया गया है। जिससे सरकार को 334 करोड 13 लाख की क्षति हुई है । इस संबंध में उन्होंने स्टांप विभाग के अधिकारियों को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि 1 सप्ताह में सभी बिल्डर्स को नोटिस जारी करते हुए स्टांप एक्ट की धारा 64 सी के अंतर्गत प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई की जाए । ज्ञातव्य हो कि संबंधित एक्ट में 3 माह की सजा एवं ₹10000 जुर्माने की व्यवस्था है। उन्होंने समीक्षा के दौरान पाया कि आम्रपाली ग्रुप, डिवाइन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड,  एसोटैक, सेलिस्टे टावर, विक्ट्री क्रॉस रोड, मैसर्स मैन रियलर्टस प्राइवेट लिमिटेड बिल्डर, मेसर्स एजीसी अजनारा होम्स तथा एक्वायर गार्डनिया एम्स गिलोरी के द्वारा 10318 वायर्स को बिना रजिस्ट्री के अपने फ्लैटो में कब्जा प्रदान किया गया है। जिससे राजस्व की 334 करोड़ 13 लाख रुपए की क्षति हुई है। इन सभी बिल्डर्स के विरुद्ध डीएम ने 1 सप्ताह में कार्रवाई करते हुए रिपोर्ट दर्ज करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए हैं । इस अवसर पर जिलाधिकारी ने स्पष्ट करते हुए कहा कि जनपद में जो भी बिल्डर्स कार्य कर रहे हैं उनके द्वारा सरकार के नियमों के अनुसार वायर्स को भवन देने में नियमों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए । अन्यथा की स्थिति में उनके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई करते हुए राजस्व वसूली की कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। जिलाधिकारी ने स्टांप विभाग के अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि प्राधिकरणों के द्वारा जिन भवनों की सीसी   कर दी गई है वहां का निरीक्षण करते हुए जांच की जाए कि क्या सभी भवनों की  रजिस्ट्री कर दी गई है यदि बिना रजिस्ट्री के कोई भी वायर्स किसी भवन में रहता हुआ पाया जाए तो उस संबंध में बिल्डर्स के खिलाफ कार्रवाई सुनिश्चित की जाए ताकि अधिक से अधिक स्टाम्प राजस्व सरकार को प्राप्त हो सके। जिलाधिकारी ने इस अवसर पर सभी बिल्डर्स का यह भी आह्वान किया कि उनके द्वारा जो भवन तैयार कर लिए गए हैं उनमें तत्परता से कार्रवाई करते हुए तथा वायर्स को सुविधा प्रदान करते हुए आगामी मार्च तक सभी प्रकरणों में पंजीकरण की कार्यवाही सुनिश्चित करने की कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि वायर्स को प्रत्येक स्तर पर सुविधा प्रदान की जाए ताकि सभी बायर्स अपनी रजिस्ट्री करा सकें। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने बिल्डर्स की समस्याओं का भी अनुश्रवण किया । जिसमें पाया गया कि रजिस्ट्री करने में सर्वर डाउन होने के कारण वायर्स को काफी देरी का सामना करना पड़ रहा है। इस संबंध में जिलाधिकारी ने उच्च स्तरीय कार्रवाई करने के लिए स्टांप विभाग के अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। जिला अधिकारी के संज्ञान में यह भी आया कि प्राधिकरण नोएडा के माध्यम से रजिस्ट्री के संबंध में जिस स्टाफ की ड्यूटी लगाई जाती है वह 3:30 बजे स्टाम कार्यालय आता है जिसके कारण रजिस्ट्री करने में अन्यथा देरी हो रही है। इस संबंध में जिलाधिकारी ने मुख्य कार्यपालक अधिकारी से दूरभाष के माध्यम से बात करते हुए इस समस्या का निराकरण भी कराया। इस महत्वपूर्ण बैठक में अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व केशव कुमार, एआईजी स्टांप नोएडा ए के सिंह तथा रजिस्ट्रीकरण अधिकारी, बिल्डर्स में जेपी इंफ्राटेक, गुलशन होम्स, जेपी ग्रीन, अजनारा, सुपरटेक, एटीएस, प्रतीक एचआर ओरकल, पंचशील, गृह प्रवेश, लॉजिक्स से रानी प्रमोटर्स, ग्रेड वैल्यू, सन वर्ल्ड वनालिका आदि बिल्डर्स के द्वारा बैठक में भाग लिया गया।

U.P. में 16 IAS अफसरों के तबादले,संगीता सिंह डीएम सुल्तानपुर बनाई गईं

लखनऊ - आज देर शाम प्रदेश के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने 16 आईपीएस का किया तबादला, जिसमे प्रमुख नाम निम्न है ।
समीर वर्मा गृह सचिव बनाए गए,
गौरी शंकर प्रियदर्शी सचिव नगर विकास,
राम विकास मिश्रा कमिश्नर चित्रकूट बने,
हरेंद्र वीर सिंह चकबंदी आयुक्त बने,
कर्ण सिंह चौहान सचिव मानवाधिकार आयोग,
जगतराज सचिव संस्कृति बनाए गए,
अनिल ढींगरा डीएम मेरठ बनाए गए,
दिव्य प्रकाश गिरि डीएम बांदा बनाए गए,
महेंद्र बहादुर सिंह डीएम रामपुर बनाए गए,
शिव सहाय अवस्थी डीएम झांसी बनाए गए,
सहदेव डीएम महोबा बनाए गए,
संगीता सिंह डीएम सुल्तानपुर बनाई गईं,
राजीव शर्मा डीएम मुजफ्फरनगर बनाए गए
अटल राय डीएम बिजनौर बनाए गए
अरविंद कुमार सिंह निदेशक नेडा बने
सुशील मौर्या डीएम बस्ती बनाए गए

जिला प्रोबेशन अधिकारी ने संभाला कार्यभार

जौनपुर - आज चंदौली से स्थानान्तरण होकर आये जिला प्रोबेशन अधिकारी संतोष कुमार सोनी ने जौनपुर जिला प्रोबेशन अधिकारी का कार्यभार ग्रहण किया। जिला प्रोबेशन अधिकारी इसके पूर्व जनपद चंदौली, मऊ जनपद में तैनात रह चुके है। 

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा कैम्प का हुआ आयोजन

जौनपुर - सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण रवि यादव ने बताया कि सोमवार को मा. जनपद न्यायाधीश अजय त्यागी के निर्देशन में प्राथमिक विद्यालय हुसैनाबाद देहत जौनपुर में एक कैम्प का आयोजन जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव द्वारा किया गया। इस कैम्प में सहायक श्रमायुक्त बीएन दुबे, तहसीलदार न्यायिक मदन मोहन वर्मा, जिला समाज कल्याण अधिकारी विपिन कुमार यादव, बाल संरक्षण अधिकारी चदन राय, महिला समाख्या जौनपुर से सुशीला चैधरी, निर्भया ट्रस्ट रेनू सिंह, श्रम विभाग से अजय सिंह उपस्थित रहे। कैम्प का आयोजन इस उद्देश्य से किया गया कि लोगों की समस्याओं का तत्काल निस्तारण किया जा सके। आसंगठित श्रामिकवर्ग के लोगों का श्रम विभाग द्वारा रजिस्टेªशन कराया गया। समाज कल्याण अधिकारी विपिन यादव द्वारा वृद्ध पेंशन, विधवा पेंशन के साथ ही सरकार द्वारा संचालित कल्याण वर्ग की सभी योजनाओं का विस्तार से वर्णन किया गया। जिसमें 181 महिला हेल्प लाइन योजना विशेष रही। इस सन्दर्भ में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव रवि यादव ने बताया कि समाज का विकास सभी निधन एवं गरीब तबके के लोगो को साथ लेकर किया जा सकता है कार्यक्रम के अन्त में मदन मोहन वर्मा तहसीलदार न्यायिक द्वारा आभार व्यक्त किया गया। 
 

रोजगार मेला में 253 को मिली नौकरी

जौनपुर - जिला सेवायोजन कार्यालय जौनपुर में आयोजित रोजगार मेला में 253 बेरोजगार युवाओं को नौकरी मिली, जिला सेवायोजन अधिकारी राजीव कुमार सिंह ने बताया कि रोजगार मेले में निजी क्षेत्र की प्रतिष्ठित कम्पनी में 665 बेरोजगार अभ्यर्थियों ने भाग लिया, जिसमें लार्सन एण्ड टुब्र्रों प्रा.लि.के एच.मैनजर हनीफ अहमद ने नौकरी के लिए साक्षात्कार प्रक्रिया में 360 अभ्यर्थी को सम्मिलित किया, जिसमें से 203 अभ्यर्थी का चयन टेªनी के रूप में इलेक्ट्रिशियन, वायरमैन एवं अन्य पदो ंके लिए किया गया, इसी प्रकार एम.बी.टी. प्रा.लि. के एच.आर. मैनेजर इदरिश के द्वारा 103 अभ्यर्थी का साक्षात्कार लिया गया, जिसमें से 21 का चयन कम्पनी द्वारा मार्केटिंग के विभिन्न पदों पर किया गया, तथा विथुना फर्टिलाइजर्स प्रा.लि. के एच.आर. गोपाल कृष्ण के द्वारा 165 बेरोजगार अभ्यर्थी का  साक्षात्कार लिया गया, जिसमें से 21 अभ्यर्थियों का चयन कम्पनी में सेल्स मैनेजर के लिए किया गया एवं भारतीय जीवन बीमा निगम जौनपुर के विकास अधिकारी अम्बुज श्रीवास्तव, जैनुल आब्दीन के द्वारा अभिकत्र्ता पद हेतु 37 युवाओं को साक्षात्कार लिया गया, जिसमें 8 बेरोजगार अभ्यर्थियों का चयन किया गया। 
इस अवसर पर मेला प्रभारी शिव कुमार यादव, आर.पी.पाण्डेय, आनन्द भूषण त्रिपाठी, जीशान अली, अजय आदि उपस्थित रहें।
         

सुबह टहलने गई महिला के ऊपर बदमाशों ने किया हमला,महिला की हालत गम्भीर,जिला स्पताल रेफर

जौनपुर- जलालपुर थाना क्षेत्र के जरहिला गांव मे आज सुबह टहलने गई महिला के ऊपर बदमाशों ने हमला कर दिया जिससे वह गम्भीर रूप से घायल हो गयी । घायलावस्था मे उसे स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहां पर उसकी गम्भीरा -वस्था को देखते हुए डॉक्टरों की टीम ने जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया ।बताते है कि मदीना उम्र 40 वर्ष पत्नी अनवर सुबह छ: बजे अपने घर से कुछ दूर टहलने गयी हुई थी कि तीन चार की संख्या मे पहुचे अज्ञात बदमाशों ने उनके ऊपर हमला बोल दिया और पास के अरहर के खेत मे ले जाकर उसके आभूषण छीनने लगे जब महिला ने विरोध किया तो उसे मारपीट कर गम्भीर रुप से घायल कर नाक की कील कान की बाली तथा गले का मंगलसूत्र छीन लिया ।महिला की चीख पुकार सुनकर पास पड़ोस के लोग जुटने लगे  बदमाशो ने अपने को घिरता देख आभूषण लेकर फरार हो गये परिजनों ने घायल महिला को लेकर स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ले आये जहां पर डॉक्टरों की टीम ने महिला की गम्भीरावस्था को देखते हुए जिला चिकित्सालय के लिए रेफर कर दिया । परिजनो ने घटना की सूचना स्थानीय थाने पर दे दिया है। पुलिस मामले को संज्ञान मे लेकर जांच पड़ताल मे जुट गयी है ।

उपभोक्ता सहकारी समिति का चुनाव सकुशल सम्पन्न

जौनपुर। उपभोक्ता सहकारी समिति उपक्षेत्र-अ जौनपुर का चुनाव मंगलवार को निर्वाचन अधिकारी प्रदीप सिंह ग्राम पंचायत अधिकारी की देख-रेख में सकुशल सम्पन्न हो गया। इस दौरान निर्विरोध निर्वाचित किये गये पदाधिकारियों में रामकुशल सिंह संचालक एवं सभापति, राकेश सिंह संचालक एवं उप सभापति के अलावा रूपेन्द्र शर्मा, बिन्दू सिंह, सुशीला जायसवाल, मोहन लाल शुक्ला, विनोद सिंह संचालक हैं। इससी तरह उत्तर प्रदेश राज्य निर्माण एवं श्रम विकास सहकारी संघ लखनऊ डा. विजय प्रताप सिंह व राजेश सोनकर, जिला सहकारी बैंक लिमिटेड वीरेन्द्र प्रताप सिंह व राजेश सोनकर, जिला सहकारी फेडरेशन लिमिटेड गार्गी सिंह व राजेश सोनकर और केन्द्रीय उपभोक्ता सहकारी भण्डार लिमिटेड जौनपुर गार्गी सिंह, शोभनाथ आर्य व राजेश सोनकर हैं।
साधन सहकारी समिति न्याय पंचायत छतौरा का चुनाव मंगलवार को सम्पन्न हुआ जहां विद्या देवी पत्नी पारसनाथ वर्मा निर्विरोध प्रशसक चुनी गयीं। बता दें कि विद्या देवी पूर्व में ईश्वरपुर उर्फ सलहदीपुर की ग्राम प्रधान थीं जबकि उसी समय उनके पति पारसनाथ वर्मा छतौरा के प्रशासक थे। इस समय मंगलवार को सर्वसम्मत से विद्या देवी प्रशासक चुनी गयीं। कुल मिलाकर लगातार 10 वर्षों से पति-पत्नी उपरोक्त पदों पर विराजमान हैं जो परिवार सहित क्षेत्रीय लोगों के लिये खुशी की बात है।
करंजाकला संवाददाता के अनुसार स्थानीय विकास खण्ड के साधन सहकारी समिति कलीचाबाद के सरपंच (सभापति) का चुनाव सम्पन्न हुआ जहां युवा नेता संतोष यादव को निर्विरोध सरपंच चुन लिया गया। बता दें कि समिति में कुल 9 डेलीगेट्स हैं जिनमें से किसी एक को सरपंच चुना जाता है। चुनाव अधिकारी महेन्द्र पाल व सचिव अशोक कुमार की मौजूदगी में सम्पन्न चुनाव में मुस्तफाबाद निवासी संतोष यादव ने सरपंच और जय प्रकाश ने उप सरपंच के लिये नामांकन पत्र दाखिल किया। किसी अन्य के नामांकन न करने पर दोनों निर्विरोध चुन लिये गये। बता दें कि इसके पहले समिति के सभी डेलीगेट्स निर्विरोध चुने गये थे जिसमें मथुरा प्रसाद, माता प्रसाद, सोना देवी, पिंकी, अनीता देवी, रामेश्वर, कलावती, संतोष, जय प्रकाश हैं। चुनाव कार्यक्रम में जितेन्द्र यादव, वेद प्रकाश यादव, सभासद तिलकधारी यादव, रामू सोनकर, शशिकांत यादव, जगदीश निषाद, विक्रम चौहान, जय प्रकाश चतुर्वेदी, बलराम सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।

एक असलहा तस्कर गिरफ्तार, पिस्टल व कारतूस बरामद

जौनपुर - जनपद के केराकत पुलिस एक असलहा तस्कर जो लम्बे समय से तस्करी में संलिप्त है एवं कई बार जेल भी जा चुका है, वह कदहरा गेट पर मौजूद हैं एवं उसके पास अवैध तमंचा हो सकता है,सूचना पर तत्काल पुलिस टीम कदहरा गेट पर पहुंची तो देखा की एक संदिग्ध व्यक्ति  पुलिस टीम को देखकर भागने का प्रयास कर रहा है समय करीब रात्रि 09.00 बजे तत्काल पुलिस द्वारा उसे दौडाकर पकड लिया गया एवं उसके कब्जे से .32 बोर पिस्टल एवं दो अदद जिन्दा कारतूस बरामद हुआ । पूछ-ताछ में उसने अपना नाम अभयजीत सिंह उर्फ गप्पू पुत्र सूर्यबली सिंह निवासी कदहरा थाना केराकत जौनपुर बताया, थाना केराकत पर मुकदमा पंजीकृत कर अभियुक्त को  जेल भेजा गया ।

पीयू में योग शिविर का हुआ आयोजन

जौनपुर।  वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना परिसर इकाई द्वारा आयोजित कार्य शिविर के अंतर्गत विश्वविद्यालय के मुक्तांगन में योग शिविर का आयोजन किया गया। योग शिविर में योग के माध्यम से स्वस्थ रहने का संदेश दिया गया।  वक्ताओं ने कहा कि योग के माध्यम से सभी प्रकार के रोगों का विनाश किया जा सकता है। योग शिविर में डॉ संजय श्रीवास्तव, डॉ धर्मशीला गुप्ता, ममता भट्ट, अंजुम   ने स्वयंसेवक सेविकाओं को योग सिखाया। कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर अमरेंद्र सिंह ने कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना से प्रेरणा लेकर आप अपने जीवन को साकार बना सकते हैं। जो विद्यार्थी राष्ट्रीय सेवा योजना से जुड़े होते हैं उनका व्यक्तित्व विकास अलग तरीके से होता है। योग शिविर के साथ ही मतदाता साक्षरता अभियान के अंतर्गत निबंध प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें अंबुज को प्रथम, प्रदीप को द्वितीय एवं श्याम को तृतीय स्थान मिला। योग शिविर में विद्यार्थियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये गए।धन्यवाद ज्ञापन कार्यक्रम अधिकारी विनय वर्मा एवं स्वागत सुधीर सिंह ने किया।

संत रविदास थे सामाजिक समरसता के अग्रदूत

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में मंगलवार को संत रविदास जयंती की पूर्व संध्या पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें वक्ताओं ने संत रविदास को सामाजिक समरसता का अग्रदूत बताया। जनसंचार विभाग के अध्यक्ष डॉ मनोज मिश्र ने कहा कि संत रविदास ज्ञानाश्रयी  शाखा के कर्मवादी  संत थे।  उन्होंने जाति न पूछो साधु की के अवधारणा पर अपने को समर्पित कर दिया।   उन्होंने भारतीय संस्कृति एवं समाज में पनप रहे कुरीतियों को समाप्त करने का हर स्तर पर प्रयास किया था।   इसी क्रम में डॉक्टर सुनील कुमार ने कहा कि संत रविदास अपनी रचनाओं के माध्यम से समाज को संदेश देते थे उनके विचारों से प्रभावित होकर हर वर्ग के लोग उनके भक्त थे। उन्होंने कहा कि सामाजिक समरसता को बनाए रखने के लिए प्रभु कभी राम, श्याम और कभी रविदास बनकर धरती पर जन्म लेते हैं। डॉ एस पी तिवारी ने संत रविदास के कई संस्मरणों को सुनाया और कहा कि ऐसे महात्मा के आदर्शों से हमें सीख लेने की जरूरत है। अधिष्ठाता छात्र कल्याण प्रोफेसर अजय द्विवेदी ने अध्यक्षीय संबोधन में कहा कि काशी में जन्मे संत रविदास के भक्त पूरे देश में फैले हुए हैं। आज के समय में संत रविदास के आदर्शों को आत्मसात कर हम समाज को एक सूत्र में रख सकते हैं।कार्यक्रम के संयोजक जनसंचार विभाग के प्राध्यापक डॉ दिग्विजय सिंह राठौर ने आभार व्यक्त किया।इस अवसर पर डॉ अवध बिहारी सिंह, डॉ अमरेंद्र सिंह, शुभांशु यादव, प्रभाकर,आशुतोष सिंह, संजय श्रीवास्तव  समेत विद्यार्थीगण मौजूद रहे। 

दो पक्षों में गैंगवार में कई राउंड चली गोलियां, एक की मौत 5 घायल,एसओ जगदीशपुर जे.बी.पांडेय को लाइन हाज़िर

अमेठी -  अमेठी ज़िले के जगदीशपुर थाने से कुछ दूरी पर हुई गैंगवार की वारदात में जहां एक व्यक्ति की मौत हो गई है वहीं क़रीब 5 लोगों के घायल होने की खबर है। वारदात से गुस्साए ग्रामीण सड़क पर उतर आये और पत्थर बाज़ी करते हुए प्रदर्शन किया। उधर मामले के बढ़ जाने के बाद लोगों ने अपनी-अपनी दुकानें बंद कर दी हैं। 
बता दें की जिले के जगदीपुर थाना क्षेत्र के आज करीब 12 बजे के आसापास जगदीशपुर बाज़ार में दो पक्षों के बीच हुई गैंगवार में थाना क्षेत्र के बड़ा गांव निवासी अशफाक पुत्र अंसार की गोली लगने से मौके पर मौत हो गई। जबकि 5 अन्य जख्मीं हुए हैं,  जिनका इलाज सीएचसी जगदीशपुर में चल रहा है। 
इस बीच दिनदहाड़े इलाके में हुई गैंगवार से गुस्साए ग्रामीण सड़क पर उतर आये। बताया जा रहा है कि गुस्साए ग्रामीणोंं ने पत्थराव किया और रोड को जाम किया। जिसकी खबर पाते ही डीएम शकुंतला गौतम और एसपी के.के. गहलौत मौके पर पहुंचे। अमेठी के एसपी के.के. गहलौत ने ग्रामीणोंं के आक्रोश को भांप तत्काल प्रभाव से एसओ जगदीशपुर जे.बी. पांडेय को लाइन हाज़िर कर दिया है। वहीं डीएम और एसपी स्थित को नियंत्रण करने के लिये लोगों की मान मनौवल कर रहे हैं।

आज देर शाम तक प्रदेश के दर्जनों भर पुलिस कप्तानों पर चल सकता है योगी का हंटर, किया जा सकते है भारी फेर बदल

लखनऊ -आज प्रदेश के दर्जनों भर पुलिस कप्तानों पर गिर सकती है गाज ,सूत्रों के हवाले से खबर है की योगी का हंटर कई पुलिस कप्तानों के ऊपर पद सकता है भारी। 
         बता दें की प्रदेश के कई कप्तानों को आज शाम तक तबादलों की तूफ़ान आ सकता है, अंदर खाने से खबर है योगी राज में जिन कप्तानो का पिछले कई दिनों से लगातार शिकायते आ रही थी आज उस पर चल सकता है योगी का चाबुक।    

प्रदेश सरकार पुलिस महकमे में 1,62हजार पदों पर करने जा रही नियुक्ति

लखनऊ - प्रदेश सरकार शीघ्र ही पुलिस महकमे में भारी संख्या में नियुक्ति करने जा रही है | उक्त बाते प्रदेश सरकार के मुखिया योगी आदित्यनाथ ने गत दिवंश गोरखपुर में कही ,पुलिस विभाग में करीब 1,62,000 पदों पर नियुक्ति हेतु विज्ञापन निकलने जा रहा है | 
पुलिस विभाग में भारी पैमाने पर होने जा रही नियुक्तियो को लेकर सीएम योगी ने स्पष्ट रूप से कहा है की नियुक्ति प्रक्रिया में जो भी भ्रस्ट्राचार्य की जद में आएगा उसकी जगह सीधे जेल होगी | 
बता दे की प्रदेश की योगी सरकार रोजगार के नए आवास सृजन करने हेतु कारगर कदम उठा रहे है सीएम योगी ने गत शनिवार को कानपूर आआईटी में एक कार्यक्रम में कहाँ की प्रदेश में राज्यसरकार 60 हजार गाँवों को 'स्टार्ट -अप 'से जोड़ेगी | ऐसे गाँव तकनिकी रूप से पूर्वतय सुसज्जित होगी | 

शाहगंज तहसील के विभिन्न गांव में हटाया गया अतिक्रमण

जौनपुर - एन्टी भू-माफिया अभियान के तहत शाहगंज तहसील के अन्तर्गत ग्राम भटपुरा चकमार्ग अवैध अतिक्रमण हटाये गये एवं चारा गाह से अतिक्रमण हटवाया गया। बडऊर गांव में खलिहान, चारागह, सम्पर्क मार्ग पर से हटवाया गया अतिक्रमण तथा उपजिलाधिकारी विमल कुमार दुबे द्वारा मछलीशहर तहसील के गांव में चैपाल लगाकर जनसुनवाई किया गया।   

30 जनवरी तक लम्बित आईजीआरएस निस्तारण न करने वाले अधिकारियों का रोका जायेगा वेतन


जौनपुर  - अपर जिलाधिकारी आर पी मिश्र की अध्यक्षता में आज सायं कलेक्टेªट सभागार में आईजीआरएस योजना के अन्र्तगत लम्बित सन्दर्भो की विभागवार समीक्षा किया। उन्होंने बताया कि समयावधि के उपरान्त लम्बित 207 प्रकरणों की 30 जनवरी 2018 तक निस्तारण न करने वाले अधिकारियों का रोका जायेगा वेतन। जिलास्तरीय अधिकारी समयावधि के अन्तर्गत लम्बित 269 समयावधि के उपरान्त 122, तहसील स्तरीय 641, समयावधि के बाद 35, ब्लाक स्तरीय 149, 15, थाना स्तरीय 138, 4, शासन एवं राजस्व परिषद स्तरीय 8, 0, एंटी भू-माफिया सन्दर्भ 77, 1, आर्थिक मदद सन्दर्भ 4, 30, कुल 1286 समयावधि तथा 207 समयावधि के उपरान्त कुल 1493 सन्दर्भ लम्बित है। 
   

सड़क हादसे में दो छात्रों की मौत पर महराजगंज पुलिस मौन ,फोन कर रहीं मिडिया कर्मियों को नहीं दे रहीं है जवाब ,आखिर क्यों

जौनपुर  - जनपद के महराजगंज थाना क्षेत्र  के राजा बाजार रोड पर आज सुबह नाहरपुर के सुमित्रा पेट्रोल पंप के पास ट्रक की चपेट में आने से बाईक सवार दो छात्र बदलापुर के  सेंट जेवियर्स स्कूल के पढने वाले छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए आनन फानन में ग्रामीणों ने पुलिस को सूचना दी मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों छात्रों को नजदीकी स्वास्थ केन्द्र बदलापुर भेजा गया जहाँ दोनों की हालत गंभीर देखते हुए जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया यहाँ पर भी दोनों को गंभीर चोटे आने से डॉक्टर ने इनको बेहतर इलाज के लिए वाराणसी रेफर कर दिया जहाँ रास्ते में  शिवम व किशन की मौत हो गई इस खबर को सुनते ही उनके गाँव अमरगढ़ में गम का माहौल व्याप्त हो गया इस घटना से परिजनों को रो -रोकर बुरा हॉल हैं फिलहाल खबर लिखे जाने तक थानाध्यक्ष महराजगंज इस घटना के बाबत जानकारी www24upnews.com के रिपोर्टर ने सुबह से दो बार घटना के सम्बन्ध में जानकारी चाही तो जवाब मिला साहब अभी व्यस्त हैं | 
                       

अकादमिक नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम 31 से

जौनपुर-वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के व्यवसाय प्रबंध विभाग एवं अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के सेंटर फॉर एकेडमिक लीडरशिप एंड एजुकेशन मैनेजमेंट के द्वारा चार दिवसीय अकादमिक नेतृत्व प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है।  यह कार्यक्रम 31 जनवरी से 3 फ़रवरी  तक विश्वविद्यालय में होगा।  व्यवसाय प्रबंधन के अध्यक्ष एवं संयोजक डॉक्टर मुराद अली ने बताया कि इस कार्यक्रम में राज्य के विश्वविद्यालयों के कुलपति, संकायाध्यक्ष, विभागाध्यक्ष, कॉलेज के प्राचार्य आदि प्रतिभाग करेंगे। इस कार्यक्रम का उद्देश्य अकादमिक नेतृत्व विकसित करना है।   कार्यक्रम द्वारा शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार, उच्च शिक्षा को वैश्विक स्तर पर प्रोत्साहित करना एवं उच्च शिक्षा प्रणाली को सरल बनाना है।

प्रशिक्षण कार्यशाला का हुआ आयोजन ,विद्यार्थियों का फार्मा कंपनियों के लिए होगा चयन


जौनपुर -  वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट सेल द्वारा सोमवार को विज्ञान एवं फार्मेसी पाठ्यक्रमों के विद्यार्थियों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित की गई. कार्यशाला में आए हुए प्रशिक्षकों ने दवा उद्योग की जरूरतों एवं देश की प्रमुख प्रयोगशालाओं के बारे में विस्तारपूर्वक बताया। ट्रेनिंग सॉफ्ट के विशेषज्ञ ए के केसवानी ने विज्ञान पाठ्यक्रम के विद्यार्थियों को साक्षात्कार की तकनीकी एवं बायोडाटा निर्माण की बारीकियों से परिचित कराया। उन्होंने कहा कि भारत में विज्ञान के विद्यार्थियों की बहुत मांग है इस मांग के अनुरूप अपने को तैयार करने की जरूरत है. प्रशिक्षण कार्यशाला में लाइमैन सॉल्यूशन के निदेशक प्रवीण सिंह, फार्मा करियर एकेडमी के निदेशक एस के गांधी, कारपोरेट ट्रेनर राहुल सिंह   भी विद्यार्थियों से रूबरू हुए. कार्यशाला के बाद वॉकहार्ड,  लूपिन, अजंता, लिंकन एवं आईसीपी दवा कंपनियों के लिए विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा। ट्रेनिंग एवं प्लेसमेंट सेल की निदेशिका प्रोफेसर रंजना प्रकाश ने कहा कि विज्ञान एवं फार्मेसी के विद्यार्थियों के लिए यह कार्यशाला लाभकारी होगी।
कार्यशाला में बायो टेक्नोलॉजी, माइक्रोबायोलॉजी, बायोकेमिस्ट्री, पर्यावरण विज्ञान एवं फार्मेसी पाठ्यक्रम के अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों ने प्रतिभाग किया। इस अवसर पर डॉ ए के श्रीवास्तव, डॉ राजकुमार,  डॉ एस पी तिवारी, डॉ ऋषि श्रीवास्तव  डॉ विनय पांडे, श्याम त्रिपाठी समेत तमाम लोग मौजूद रहे।  

कासगंज हिंसा पर नाइक ने कहाँ ,यूपी के लिए कलंक हैं सरकार इसपर कड़ी से कड़ी कदम उठाए

  
नई दिल्ली-उत्तर प्रदेश के कासगंज में गणतंत्र दिवस के मौके पर हुई हिंसा पर राज्य के राज्यपाल राम नाईक ने कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए इसे कलंक करार दिया है।विश्व हिंदू परिषद और एबीवीपी की रैली पर हुई पत्थरबाजी और झड़प के बाद अब वहां पर धीरे-धीरे स्थिति सामान्य हो रही है और तनाव कम हो रहा है।हिंसा में मृत चंदन की हत्या करने वाले मुख्य आरोपी शकील की पुलिस ने पहचान कर ली है। लेकिन फिलहाल वो पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। हालांकि पुलिस ने उसके घर पर छापेमारी भी की।छापेमारी के दौरान पुलिस को आरोपी के घर से देसी बम और पिस्टल जैसे खतरनाक हथियार मिले हैं। पुलिस ने अब तक इस मामले में 32 लोगों को गिरफ्तार किया है।उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने इस घटना को कलंक बताते हुए कहा है कि सरकार को कड़ी कार्रवाई करनी चाहिये ताकि इस तरह की घटना दोबारा न हो।उन्होंने कहा, 'जो कासगंज में घटना हुई है वो किसी को शोभा दायक नहीं है। वहां जो घटना हुई है वो यूपी के लिये कलंक के रूप में हुई है। सरकार उसकी जांच कर रही है। सरकार ऐसे कदम उठाए कि फिर से ऐसा न हो।'




कासगंज हिंसा: हत्या के आरोप में 32 लोगो को भेजा गया जेल ,इलाके में सभी इंटरनेट सेवाएं बंद

  
नई दिल्ली-उत्तर प्रदेश के कासगंज में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर विश्व हिंदू परिषद और एबीवीपी की मोटर साइकिल रैली पर हुई पत्थरबाजी के बाद झड़प में 16 वर्षीय एक युवक की मौत हो गई थी।रैली के दौरान शुरू हुई हिंसा आज भी देखने को मिली। उप्रदवियों के कल दो बसों और कुछ गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया था। वहीं कल जैसा मंजर आज भी दोहराया गया।

मृतक चंदन का मुख्य आरोपी शकील अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। शकील की तलाशी में पुलिस ने आज आरोपी के घर की तलाशी ली। उसके घर से देसी बम और पिस्टल पुलिस ने बरामद किये है।इस दौरान पुलिस ने शकील के घर की तलाशी ली, जहां देसी बम और पिस्टल मिले। पुलिस ने आस-पास के लोगों से भी शकील के बारे में पूछताछ की।आईजी संजीव कुमार ने कहा, 'अब तक हत्या के आरोप में 32 लोगों को जेल भेजा गया है। इसके अलावा 51 लोगों को हिरासत में लिया गया है। स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है। आज कोई घटना नहीं हुई, स्थिति पर नजर रखने के लिए पुलिस बलों को तैनात किया गया है।'दूसरी तरफ उप्रदवियों ने एक दुकान में आग लगा दी। कासगंज हिंसा मामले में पुलिस ने अबतक 49 लोगों को गिरफ्तार किया है। अभी भी वहां धारा 144 लागू है और दूसरे जिलों से सटे सीमा को सील कर दिया गया है।यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा, 'फ़िलहाल कासगंज में स्थिति काबू में है। पिछले कुछ घंटों में ऐसी कोई घटना सामने नहीं आई है।
पट्रोलिंग की जा रही है और काफी संख्या में लोगों को गिरफ्तार किया गया है।'पश्चिमी उत्तर प्रदेश में तनावपूर्ण इलाकों में  आज शाम 10 बजे तक इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है, ताकि सोशल मीडिया पर  किसी भी तरह की कोई अफवाह न फैल सके।प्रधान सचिव अरविंद कुमार ने कहा, 'दो मामले कल दर्ज किए गए थे। दो मामलों में नौ गिरफ्तारियां हुई है , 40 अतिरिक्त निवारक गिरफ्तार किए गए हैं।'उन्होंने कहा, 'पीएसी और 1 आरएएफ की पांच कंपनियां शुक्रवार को अतिरिक्त सिविल पुलिस अधिकारियों / पुलिसकर्मियों के साथ वहां पहुंच गईं थी। आरएएफ की एक और कंपनी आज वहां पहुंच गई है।गौरतलब है कि गणतंत्र दिवस पर समुदाय विशेष के लोगों ने एबीवीपी-विश्व हिंदू परिषद की तिरंगा यात्रा पर पथराव कर दिया था जिससे पूरे शहर में बवाल हो गया था। यात्रा पर जमकर फायरिंग और पथराव के साथ आगजनी की कोशिश की गई।इस दौरान गोली लगने से एक युवक चंदन गुप्ता की मौत हो गई जबकि दो घायल हो गए। चंदन की मौत के बाद कासगंज में हिंसा भड़क उठी थी। पथराव में आधा दर्जन चोटिल हैं, जिसमें कुछ पुलिस कर्मी भी शामिल हैं।कासगंज में तनाव वाले इलाके में जिला प्रशासन ने कर्फ्यू लगा दिया है। आगजनी, फायरिंग और पत्थरबाजी के दौरान एक युवक की मौत हो गई। मृतक की पहचान 16 वर्षीय चंदन के रूप में हुई है। दो लोगों को चोटें आई है। शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है।






स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन 30 जनवरी को

जौनपुर - तिलकधारी महिला महाविद्यालय के राष्ट्रीय सेवा योजना के सप्तदिवसीय शिविर के अन्तर्गत 30 जनवरी 2018 मंगलवार को प्रातः 10 बजे से स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का आयोजन किया गया है जिसमें महिला महाविद्यालय की 150 छात्राएं एवं चयनित गाॅव इस्मैला, शिवापार व खलीलपुर के ग्रामीणवासियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाना है। कार्यक्रम में मुख्य चिकित्साधिकारी डा. ओपी सिंह सम्मिलित रहेंगे।

डीएम ने पोलियों वैक्सीन की अतिरिक्त खुराक पिलाकर किया शुभारंभ


जौनपुर - प्रातः 8 बजे जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी के कर-कमलों द्वारा 0-5 वर्ष के बच्चों को जिला चिकित्सालय में स्थापित बूथ पर पोलियों वैक्सीन की अतिरिक्त खुराक पिलाकर शुभारंभ किया गया। मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आर पी सिंह ने बताया कि जिले में 28 जनवरी से 2 फरवरी तक पूर्व चक्रों की भाॅति सघन पल्स पोलियो प्रतिरक्षण अभियान चलाया जायेगा। इस अवसर पर सीएमएस डा. एसके पाण्डेय, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आईएन तिवारी, डा. आरके सिंह, डा. एसके यादव, यूनीसेफ श्रीमती रेनू सिंह, विनोद कुमार मौर्य, सुधीर अस्थाना, श्रीमती पूनम, श्रीमती टीना, डब्लू आदि उपस्थित रहे। सीएमओ डा. ओपी सिंह ने जनपद वासियों से अपील किया है कि घर-घर जाकर पोलियो की दवा पिलाने वाले टीम का सहयोग प्रदान करे। 
         

जौनपुर में माउंट लिट्रा जी स्कूल बच्चो की प्रतिभाओ को तरासने हेतु रखा कदम

जौनपुर - पुरे देश में शिक्षा जगत में तहलका मचाने वाला माउंट लिट्रा जी स्कूल  ग्रुप जिले में आने से ,जनपदवासी  गद्गद् है ,इस सत्र का शुभारम्भ 1 अप्रैल 2018 से प्रारम्भ होने जा रहा हैं |  
माउंट लिट्रा जी स्कूल का कैम्पस  शहर से इलाहाबाद -जौनपुर रोड पर फतेहगंज के पास 8 एकड में स्थित है | 
माउंट  लिट्रा जी स्कूल एक्सल ग्रुप के शिक्षा सम्बंधि अंग ,जी लर्न लिमिटेड के माध्यम से 21वी सदी के नेतृत्व करने वाले व्यक्तियों को तैयार करने का एक प्रयास है | 76 शहरों में 100 से अधिक स्कूलों के साथ अब यह निजी गैर -सहायता प्राप्त स्कूलों की श्रेणी में दूसरी सबसे बड़ी श्रृंखला है और यह भारत की सबसे तेज़ बढ़ती हुए श्रृंखला है | 
सिटी ऑफिस के अनावरण के अवसर पर पत्रकारों को सम्भोधित करने के लिए जी लर्न के हेड ऑफिस से रीजनल स्कूल डायरेक्टर ,नार्थ इंडिया  भूषण कुमार ,जी लर्न के मार्केटिंग और आपरेशन्स हेड ,उत्तर प्रदेश ,शिव पांडेय ,माउंट लिट्रा जी स्कूल जौनपुर के दोनों निर्देशक  अरविन्द सिंह जी और  विख्यात सिंह जी एवं फाउंडर सदस्यों में  निर्देश सिंह जी उपस्थित थे | 
इस अवसर पर रीजनल स्कूल डायरेक्टर ,भूषण कुमार जी ने पत्रकारों को सम्भोधित करते हुए कहा की एमएलजीएस जौनपुर का उद्देश्य है शहर के बच्चो को अच्छी शिक्षा के साथ -साथ समग्र विकास के लिए विश्वस्तरीय सुविधाएं प्रदान कर शसक्त बनाना | यह स्कूल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से अनुबंधित है | 
एमएलजीएस जौनपुर सर्वश्रेष्ठ मुलभुत सरचनाओ एवं सुविधाओं  से सुसज्जित है -इंडोर और आउटडोर खेल -कूद ,डिजिटल ,गेम्स ,मनोरंजन ,परिवहन के लिए स्कूल बसे ,सुरक्षा हेतु लगे हुए जीपीएस एवं वाई -फाई कैम्पस | यह स्कूल विभिन्न विषयों -गणित ,अंग्रेजी ,भाषा ,समिश्रित विज्ञान ,कंप्यूटर के लिए प्रयोगशालाए और पुस्तकों से भरपूर लाइब्रेरी भी मुहैया कराने का दावा करता हैं | उन्होंने स्कूल के निर्देशकों अरविन्द सिंह और  विख्यात सिंह को उनकी इस मुहीम के लिए बधाई दी है जिससे अब जौनपुर के बच्चो को राष्ट्रीय स्तर की शिक्षा और साथ  ही अन्य प्रतिभाओं जैसे खेल खुद इत्यादि के लिए भी नियुक्ति होती है और उसके बाद भी समय -समय पर जी लर्न के हेड ऑफिस की तरफ से उनके लिए ट्रेनिंग का आयोजन किया जाता रहेगा जिसका संचालन ओ स्वयं करते है | 
इस अवसर पर निदेशक  अरविन्द सिंह ने कहाँ की हम जौनपुर के बच्चो को बेहतर शिक्षा देने और उनके सर्वागिंड़ विकास के लिए सदैव तत्पर रहेंगे और उससे जुड़े सभी सुविधाएं हमारे विद्यालय में बच्चो को प्रदान की जाएगी ,उन्होंने ये भी कहा की हमारे कैम्पस में शिक्षा के अतिरिक्त एक राष्ट्रीय स्तर की स्पोर्टस अकादमी की भी व्यवस्था की जाएगी जिससे की अब जौनपुर के बच्चो को किसी भी अच्छे विद्यालय या मार्गदर्शन के लिए जौनपुर से बाहर न जाना पड़े ,निर्देशक विख्यात सिंह जे ने भी आश्वासन दिलाया की हम अपने विद्यालय में बच्चो को शिक्षा के अलावा उनकी सुरक्षा और अन्य सुविधाएं के लिए सदैव तत्पर रहेंगे | 

दिनदहाड़े नाबालिक युवती से घर में घुस कर युवक ने किया रेप, हालत गंभीर वाराणसी रेफर,आरोपी पुलिस हिरासत में

जौनपुर। जहाँ प्रदेश की योगी सरकार महिलाओ की सुरक्षा किम दम भरती है तो दूसरी घर दिनदहाड़े में घुस दबंग एक नाबालकी से रेप की घटना की अंजाम देते है ताजा मामला केराकत कोतवाली थाना क्षेत्र के एक गांव में एक दरिन्दे ने अपने ही गांव की नाबालिगं लड़की को अपने हबस का शिकार बना डाला। खून से लथपथ किशोरी किसी तरह से अपने घर पहुंचकर आपबीती सुनाई तो परिवार वालो के होश उड़ गये। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंचकर लड़की को अस्पताल ले गयी। जहां पर डाक्टरो उसकी हालत नाजुक देखते हुए वाराणसी बीएचयू रेफर कर दिया। उधर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। दिनदहाड़े इस घटना से पुरे इलाके में सनसनी। 
बता दें की केराकत कोतवाली के एक गाँव में रहे वाली कक्षा नौ की पढ़ने वाली उसकी बेटी कल शाम शौच के लिए पास तलाब के पास गयी थी। तलाब का मालिक उसको अगवा करके उसके मुंह में कपड़ा ठुसकर जबरदस्ती बलात्कार किया। किसी तरह से मेरी बेटी लहूलूहान हालत में घर आकर सारी बाते बतायी। आनन फानन पुलिस को सूचना दिया गया। पुलिस मौके पर पहुंचकर पीड़िता को अस्पताल ले गयी। लड़की हालत नाजुक देखते हुए वाराणसी रेफर कर दिया गया है। पीड़िता के भाई की तहरीर पर कोतवाल प्रशांत श्रीवास्तव ने अपनी टीम के साथ छापेमारी करके आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।

भ्रष्टाचार के आरोपी तीन सीएम हैं सलाखों के पीछे ,युवा पीढ़ी के सहयोग से निरन्तर जंग रहेगी जारी -पीएम

लखनऊ -देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहाँ की भ्रष्टाचार के आरोपों में तीन पूर्व  मुख्यमंत्री जेल के सलाखों के पीछे है , भ्रष्टाचार के मामले में युवाओं के सहयोग से मेरी लड़ाई निरन्तर जारी रहेगी | 
|पीएम ने स्पष्ट रूप से कहाँ की  भ्रष्टाचार के मामले में लिप्त कोई कितना भी प्रभावशाली क्यों न हो उसे उसके किये की सजा भुगतनी ही पड़ेगी ,भले ही विलम्ब हो ,उन्होंने कहाँ की बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव और जगनाथ मिश्र को चारा घोटाले मे सजा  भी हो चुकी हैं ,जबकि हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओपी चौटाला जेल में निरुद्ध है | उन्होंने कहा की  भ्रष्टाचार व कालेधन के खिलाफ जंग जारी रहेगी | यह लड़ाई भारत के युवाओं के भविष्य की है | पीएम मोदी ने एनसीसी रैली में विशाल जनसभा को सम्भोधित करते हुए कहा की आधार कार्ड के इस्तेमाल से विकास कार्यो को बल मिला है ,और विकास की योजनाओं का लाभ सही व्यक्ति तक पहुंचने में पूरी मदद मिली उन्होंने यह भी कहा की देश में आधार कार्ड के इस्तेमाल से 60 हजार करोड़ रुपये की बचत हुई है, जो इसके पहले गलत लोगो के पास चला जाता रहा हैं |                                                                                      

पद्मावत फिल्म को रिलीज़ कराने में योगी सरकार हुई पास ,अन्य भाजपा शासित राज्य हुई फेल

लखनऊ - पद्मावत  फ़िल्म को लेकर पूरे देश में उठे विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने  सारे तर्कों को सिरे से ख़ालिज करते हुए फिल्म को रिलीज़ करने का आदेश दिया  लेकिन कुछ प्रदेश फिल्म को रिलीज़ कराने में असफल हुए जहाँ तक उत्तर प्रदेश की बात करे तो सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ जो खुद राजपूत है ,ने सूबे के जनपदों में फिल्म को चलाने हेतु सिनेमा घरो में पूरी सुरक्षा व्यवस्था करायी  
मुख़्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कड़े तेवर को देखते हुए सूबे का पुलिस प्रशासन करणी सेना के उपद्रवियों के विरुद्ध निरोधात्मिक कार्यवायी कर रही है   जिसके चलते उत्तर प्रदेश में यह फिल्म शांतिपूर्ण तरीके से रिलीज़ हुई   जहाँ तक अन्य बीजेपी शासित राज्य गुजरात ,राजस्थान ,मध्यप्रदेश में पदमावत फिल्म रिलीज़ नहीं हो पाई उसके पीछे यह कहने से इंकार नहीं किया जा सकता की सूबे के मुखिया कही न कही से कानून व्यवस्था दुरस्थ कराने में फेलओवर साबीत हुई   


जिलाधिकारी करेंगे सघन पल्स पोलियों अभियान का शुभारम्भ


जौनपुर - मुख्य चिकित्सा अधिकारी ओपी सिंह ने बताया कि 28 जनवरी  को 9 बजे  जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी जिला अस्पताल में 0 से 5 वर्ष के बच्चों को पोलियों की खुराक पिलाकर सघन पल्स पोलियों अभियान की शुरूवात करेंगे।
                    

कासगंज में स्थिति तनावपूर्ण दंगाइयों ने बसों और दुकानों में लगाई आग


नई दिल्ली -  उत्तर प्रदेश के कासगंज में शुक्रवार को गणतंत्र दिवस के मौके पर विश्व हिंदू परिषद और एबीवीपी की मोटर साइकिल रैली पर हुई पत्थरबाजी के बाद झड़प में 16 वर्षीय एक युवक की मौत हो गई।हिंसा के दौरान मारे गए युवक चंदन गुप्ता का शनिवार को कड़ी सुरक्षा के बीच अंतिम संस्कार कर दिया गया। इस घटना के बाद से ही पूरे इलाके में भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। वहां पर स्थिति अब भी तनावपूर्ण है।  बीच, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस घटना का संज्ञान लेते हुए दोनो समुदायों से शांति बनाए रखने की अपील की है। इसके साथ ही उन्होंने इस घटना में शामिल दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई किए जाने का निर्देश दिया है।वहां पर स्थिति काफी तनावपूर्ण है। झड़प के दौरान दंगाइयों ने दुकानों और बसों में आग लगा दी।तनाव वाले इलाके में जिला प्रशासन ने कर्फ्यू लगा दिया है। जिला मजिस्ट्रेट आरपी सिंह ने कहा, 'आगजनी, फायरिंग और पत्थरबाजी के दौरान एक युवक की मौत हो गई। मृतक की पहचान 16 वर्षीय चंदन के रूप में हुई है। दो लोगों को चोटें आई है। शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है।'पुलिस के मुताबिक, दक्षिणपंथी समूह के युवकों ने मथुरा-बरैली पर अपने हाथ में तिरंगा लेकर एक बाइक रैली निकाली। इसी दौरान एक खास समुदाय के इलाके से गुजरते हुए इन पर कुछ छींटाकशी की गई। इसे लेकर कहा-सुनी के बाद उन पर पथराव किया गया, जिसमें एक की मौत हो गई।जिले के एक अधिकारी ने कहा कि गुस्साई भीड़ हिंसक हो गई और 12 से ज्यादा वाहनों व संपत्ति को नुकसान पहुंचाया।मुख्य सचिव  अरविंद कुमार ने कहा कि जिला प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है और भीड़ को तितर-बितर कर दिया गया। पुलिस की भारी मौजूदगी है और हालात तनावपूर्ण हैं। लोगों को एहतियात के तौर पर घरों में रहने के लिए कहा गया है|कासगंज शहर में उपद्रव के बाद धारा 144 लागू कर दी गई है। पुलिस माहौल खराब करने वालों के खिलाफ धरपकड़ कर कोतवाली में बंद करने का अभियान भी चला रही है। कई लोगों को पकड़ कर बंद किया गया है|पुलिस ने कहा कि तीन स्कॉर्पियो एसयूवी, दो मैजिक परिवहन वाहन व एक ट्रक को भी भीड़ द्वारा मथुरा-बरेली राजमार्ग पर निशाना बनाया गया|अनियंत्रित भीड़ ने पेट्रोल पंप के निकट एक गुमटी में आग लगा दी। आग बुझाने के लिए दमकल की गाड़ियां वहां पहुंचीं। राज्य पुलिस मुख्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि जिला मजिस्ट्रेट व पुलिस अधीक्षक तनावपूर्ण इलाके में मौजूद हैं और सुनिश्चित कर रहे हैं कि हिंसा और न फैले।




सघन पल्स पोलियो अभियान जागरूकता रैली का आयोजन किया गया

जौनपुर - मुख्य चिकित्सा अधिकारी ओपी सिंह ने बताया कि आज शाही किला से सघन पल्स पोलियो अभियान जागरूकता रैली का आयोजन प्रातः 9 बजे किया गया। रैली का शुभारम्भ मुख्य विकास अधिकारी आलोक सिंह एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी द्वारा हरी झण्डी दिखाकर किया गया। शाही किला से जन-जागरूकता रैली प्रारम्भ होकर आटाला मस्जिद, कोतवाली चैराहा, चहारसू चैराहा होते हुए सद्भावना पुल पर जनजागरूकता रैली का समापन किया गया। भारत सरकार एवं उ.प्र. सरकार की मंशा के अनुरूप जनपद में 28 जनवरी 2018 से 02 फरवरी 2018 तक सघन पल्स पोलियों अभियान चलाया जायेगा। सघन पल्स पोलियों अभियान में 0 से 5 वर्ष तक के सभी बच्चों को पोलियों ड्राप पिलाकर टीकाकरण से अच्छादित किया जायेगा। 28 जनवरी रविवार को बूथ पर पोलियों ड्राप बच्चों को घर से बुलाकर पिलाया जायेगा तथा 29 जनवरी से 02 फरवरी तक बूथ से छूटे हुए बच्चों को घर-घर जाकर पोलियों ड्राप पिलाया जायेगा। पल्स पोलियों अभियान में कुल 1909 बूथों एवं 1218 टीमो द्वारा घर-घर भ्रमण कर 0 से 5 वर्ष तक के 703509 बच्च्चों को पोलियों टीकाकरण से आच्छादित किया जायेगा। जनजागरूकता रैली में 98 यूपी बटालियन एन.सी.सी टीडी कालेज के 100 पतिभागी ,शहरी अॅागनबाड़ियों की 120, शहरी सी.एम.सी. यूनिसेफ की 35, कुंवर हरिबंश सिंह पैरामेडिकल कालेज की 150 प्रशिक्षु छात्रायें, राजा कृष्ण दत्त इण्टरमीडिएट कालेज के 800 छात्र/छात्राएं एवं शिया इण्टर कालेज के 550 छात्र/छात्राओं द्वारा प्रतिभाग किया गया।जनजागरूकता रैली में मुख्य रूप से डा0 आइ0एन0 तिवारी जिला प्रतिरक्षण अधिकारी, डा0 एस.के यादव उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी,डा. ए0के0 शर्मा उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी देवेन्द्र कुमार सिंह, श्री प्रवीन पाठक अर्बन हेल्थ को-आर्डिनेटर, रेनू सिंह डी.एम.सी. यूनिसेफ यूनिट, शेख अब्जाद बी.एम.सी., तबरेज बी.एम.सी, सुधीर अष्ठाना आदि लोग उपस्थित रहे।   

पूर्वांचल विश्वविद्यालय में गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया



जौनपुर- वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय में गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया. सरस्वती  सदन पर विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ  राजाराम यादव ने ध्वजारोहण किया। अपने संबोधन में कुलपति प्रोफेसर डॉ राजाराम यादव ने कहा कि विश्वविद्यालय को नई ऊंचाइयों पर ले जाने के लिए सबको मिल कर कार्य करना होगा।  उन्होंने कहा कि आने वाले समय में विश्वविद्यालय में नए पाठ्यक्रमों की शुरुआत होगी।  इसके साथ ही जौनपुर के मक्के से बने प्रोडक्ट को विश्वविद्यालय अंतर्राष्ट्रीय बाजार तक पहुंचाएगा। इससे जनपद के किसानों को बड़े पैमाने पर लाभ मिलेगा। बतौर मुख्य अतिथि पूर्व कुलपति डॉ प्रेमचंद्र पतंजलि ने कहा कि हमारा देश विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र है। विश्व के बदलते परिवेश में हमने और भी मजबूती पाई है। विश्वविद्यालय को नए लक्ष्य निर्धारित करने होंगे और उसको पूरा करने के लिए योजनाबद्ध तरीके से काम करना होगा। इस अवसर पर कुलसचिव संजीव सिंह ने स्वागत एवं वित्त अधिकारी एम के सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के शिक्षक कर्मचारी एवं विद्यार्थी मौजूद रहे।

13 विद्यालयों के छात्र-छात्राओं ने किया देशभक्ती, सांस्कृतिक कार्यक्रम किया प्रस्तुत


जौनपुर - मा. राज्यमंत्री नगर विकास अभाव सहायता एवं पुनर्वास उ.प्र. गिरीश चन्द्र यादव ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रातः 9.30 बजे पुलिस लाइन में ध्वजारोहण किया। ध्वजारोहण के उपरान्त शांति का प्रतीक कबूतर एवं गुबारा उड़ाया गया। पुलिस परेड का निरीक्षण, सलामी एवं शपथ दिलाई। इसके बाद राष्ट्रगान की धुन पर हर्ष फायरिंग की गयी, फायर विगे्रड द्वारा तिरंगा पानी की बौछार की गयी। इसके बाद 13 विद्यालयों के छात्र-छात्राओं द्वारा देशभक्ती से ओत-प्रोत सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया। जिसमें प्रथम स्थान पुलिस लाइन्स प्राथमिक विद्यालय, द्वितीय स्थान अमावां कला थाना सरपतहा, तृतीय स्थान नेहरु बालोद्यान स्कूल लाइनबाजार को दिया गया। इस अवसर पर जिलाधिकरी अरविन्द मलप्पा बंगारी, पुलिस अधीक्षक के के चैधरी को सम्मनित किया गया। इस  अवसर पर विशेष पुरस्कार जिले की गुगल गर्ल वैष्णवी श्रीवास्तव को गणतंत्र दिवस के मौके पर नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश यादव और जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी ने पुलिस लाईन के मैदान में आयोजित कार्यक्रम में सम्मानित किया। डीएम ने उसके उत्साह वर्धन के लिए पांच हजार रूपये का चेक भी प्रदान किया। नगर के हुसेनाबाद मोहल्ले के निवासी अनुराग श्रीवास्तव एडवोकेट की चार वर्षीय बेटी वैष्णवी को कुदरत ने गजब का दिमाग दिया है। वह  तीन वर्ष की उम्र से ही से पूरे विश्व के देशो की राजधानी राष्ट्रपति प्रधान मंत्री का नाम फर्राटे से बताती है। वैष्णवी को देश के प्रथम राष्ट्रपति प्रधान मंत्री समेत वर्तमान के केन्द्रीय मंत्रियो का नाम पता है। 24 जनवरी को यूपी दिवस समारोह में जब वैष्णवी सभी देशो की राजधानी और राष्ट्रपतियों प्रधानमंत्री का नाम बताना शुरू किया तो कार्यक्रम में मौजूद सांसद के पी सिंह, विधायक डा0 हरेन्द्र सिंह, लीना तिवारी, रमेश मिश्रा, डीएम अरविन्द मलप्पा बंगारी समेत सभी अधिकारी और गणमान्य नागरिक दांतो तले उंगलियां दबा लिया। सभी इसके टैलेन्ट की सराहना करते हुए तालियां बजायी थी। उसी समय डीएम ने मंच से इस बच्ची को गणतंत्र दिवस के मौके पर सम्मानित करने का एलान किया था।कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव ने 69वें गणतंत्र दिवस की बधाई देते हुए कहा कि आज हमारा देश मा. प्रधानमंत्री मोदी जी, मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ जी के नेतृत्व में तेजी से आगे बढ़ रहा है जल्द ही हमारा देश विश्व गुरु बन जायेगा। इसकी झल्किया दिल्ली के राजपथ परेड के मौके पर पूरे विश्व की 10 हस्तिया मौजूद है। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार पहली बार यू.पी. दिवस मनाया है। योगी जी के नेतृत्व में किसानों, नवजवानों, गरीबो के कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाया जा रहा है। 
प्रथम कमाण्डर विनय कुमार द्विवेदी, द्वितीय कमाण्डर कृपा शंकर कनौजिया, तृतीय कमाण्डर सखी चन्द्र गुप्ता के नेतृत्व में टोलीयों ने अच्छा प्रर्दशन किया। टोली नम्बर 1 पुलिस लाइन्स टोली कमाण्डर उ.नि.ना.पु. सुनील कुमार तिवारी, टोली नम्बर 2 पुलिस आफिस महेश कुमार शुक्ला, टोली नम्बर 3 अभियोजन कार्यालय बृजेश कुमार, टोली नम्बर 4 नागरिक पुलिस धीरेन्द्र कुमार सोनकर, टोली नम्बर 5 नागरिक पुलिस कौशलेन्द्र प्रताप सिंह, टोली नम्बर 6  पीएसी टोली योगेन्द्र यादव, टोली नम्बर 7 महिला टोली श्रीमती तारावती देवी, टोली नम्बर 8 होमगार्ड हृदय नारायण सिंह के द्वारा प्रदर्शित किया गया। इसके अलावा झांकी में मोटर साइकिल दस्ता बासुदेव प्रसाद, डाग स्क्वाड एचसीपी श्रीराम, वायरलेस दस्ता आरएसआई मुनौव्वर हुसेन, वूमेन पावर 1090 म.आ.रीना मुण्डा, फील्ड यूनिट दस्ता घनश्याम वर्मा, ब्रज वाहन/दंगा निरोधी दस्ता, कमाण्डो दस्ता विश्वनाथ यादव, क्रेन दस्ता एचसीपी नारायण सिंह, फायर सर्विस दस्ता एचसीपी दिवाकर मौर्य, एचसीपी शोभनाथ यादव, फायर सर्विस द्वारा तिरंगा बनाने में एचसीपी बनारसी प्रसाद, बैण्ड एचसीपी संजय कुमार सिंह ने किया। पेरड में प्रथम स्थान टोली नं. 7 महिला टोली कमाण्डर महिला श्रीमती तारावती देवी, द्वितीय स्थान टोली नं. 1 पुलिस लाइन्स की टोली कमाण्डर सुनील कुमार तिवारी, तृतीय स्थान टोली नं. 2 पुलिस कार्यालय महेश कुमार शुक्ला के नेतृत्व में प्राप्त किया।राज्यमंत्री जी द्वारा उपनिरीक्षक ना.पु. हीरामणि यादव को सराहनीय सेवा सम्मान चिन्ह एवं पांच हजार रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया। डीजीपी लखनऊ द्वारा पुलिस विभाग के उपनिरीक्षक विश्वनाथ यादव, अनिल कुमार सिंह, शशिचन्द्र चैधरी को सिल्वर, प्रशंसा चिन्ह व प्रशस्ति पत्र दिया गया। अभार पुलिस अधीक्षक के.के.चैधरी ने दिया। कार्यक्रम का संचालन अपर पुलिस अधीक्षक नगर डा. अनिल कुमार पाण्डेय ने किया। सांस्कृतिक कार्यक्रम का संचालन पत्रकार अविनाश दुबे को सम्मनित किया गया।इस अवसर पर जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी, जिला आंकाक्षा समिति अध्यक्ष, पुलिस अधीक्षक के.के.चैधरी, पुलिस अधीक्षक की पत्नी प्राची चैधरी, अपर पुलिस अधीक्षक द्वय डा. अनिल पाण्डेय, संजय राय, पुलिस क्षेत्राधिकारी नृपेन्द्र, रामभवन यादव, सौम्या पाण्डेय, उपजिलाधिकारी सदर प्रियंका प्रियर्दशी, जिला सेवायोजन अधिकारी राजीव सिंह, जिला होमगार्ड कमाण्डेड वीके झाॅ, जिला भाजपा अध्यक्ष सुशील उपाध्याय, सांसद मछलीशहर प्रतिनिधि विजय चन्द्र पटेल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारीगण, विभिन्न स्कूलों से बच्चे उपस्थित रहे।  
         

गणतंत्र दिवस हर्षोल्लास के साथ सम्पन्न


जौनपुर - गणतंत्र दिवस के अवसर पर प्रातः 7 बजे प्रभात फेरी निकाली गयी, इसका संचालन जिला विद्यालय निरीक्षक/बेसिक शिक्षा अधिकारी/अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत जौनपुर द्वारा किया गया। प्रातः 7 बजे से ही क्रास कन्ट्री रेस स्टेडियम में हुआ, जिसका आयोजन/संचालन जिला क्रीडा अधिकारी द्वारा किया गया। प्रातः 7.30 बजे से मन्दिरों, मस्जिदों व गिरजाघरों में सामूहिक प्रार्थना हुई, जिसका संचालन प्रधानाचार्य सस्कृत विद्यालय रासमण्डल, सिस्टर सेन्ट पैट्रिक्स स्कूल, फादर सेंट जान्स स्कूल व अन्य सभी धार्मिक स्थलों के धर्म गुरुओं व प्रबन्धकों द्वारा किया गया।जिलाधिकारी अरविन्द मलप्पा बंगारी ने गणतंत्र दिवस के अवसर पर कलेक्टेªट में 8ः30 बजे राष्ट्रीय ध्वजारोहण फहराया। राष्ट्रगीत गायन व संविधान में उल्लिखित प्रतिज्ञा व संकल्प का स्मरण दिलाया। कलेक्टेªट सभागार में जिलाधिकारी ने स्वत्रंतता संग्रम सेनानी बाके बिहारी तिवारी, बनारसी राम, ब्रहमदेव वर्मा को माल्र्यापण कर स्वागत किया। इस मौके पर कलेक्टेªट कर्मचारी संघ के पूर्व अध्यक्ष शिवमोहन श्रीवास्तव, वर्तमान अध्यक्ष प्रमोद कुमार यादव, सभाजीत द्विवेदी ’प्रखर’ ने गणतंत्र दिवस पर अपने बहुमूल्य विचार प्रस्तुत किये। अपर जिलाधिकारी द्वय आरपी मिश्र, रामआसरे सिंह, नगर मजिस्टेªट इन्द्रभूषण वर्मा ने उपस्थित जनों से अपील किया कि अपने दायित्वों का निर्वहन ईमानदारी एवं संवेदनशीलता, समय से आये हुए ग्रामीण जनता की समस्याओं का निस्तारण करे यही शहीदों की सच्ची श्रद्धांजलि होगी। जिलाधिकारी ने बताया कि हम सबका दायित्व है कि शासन के निर्देशों का पालन ईमानदारी से करे जिससे ग्रामीण जनता को उसका त्वरित लाभ मिल सके। उन्होंने कार्य में पारदर्शिता बरतने की अपील अधिकारियों एवं कर्मचारियों से किया। उन्होंने यह भी कहा कि समाज/कार्यालय में अच्छे और बूरे दोनो लोग पाये जाते है लेकिन कुछ लोगो के कारण सबकी बदनामी होती है। तदोपरान्त उन्होंने महात्मा गाॅधी, भीमराव अम्बेडकर की मूर्तियों पर माल्र्यापण किया।प्रातः 11 बजे से हाॅकी प्रतियोगिता का आयोजन सिद्दीकपुर स्टेडियम में किया गया, जिसका आयोजन/संचालन जिला क्रीडा अधिकारी द्वारा किया गया। विजेता/उपविजेता टीमों को पुरस्कार वितरण किया गया। 1 बजे से 2.30 बजे तक मलिन बस्ती तारापुर तकिया में निःशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण व दवा वितरण तथा साफ सफाई सम्बन्धित अधिकारियों द्वारा कराया गया।जिला जज अजय त्यागी, मुख्य विकास अधिकारी आलोक सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक, सहित अन्य जिलास्तरीय, तहसील स्तरीय एवं विकास खण्ड तथा ग्रामीण क्षेत्रों में भी सरकारी/अर्धगैरसरकारी कार्यालयों/भवनों पर ध्वजारोहण किया गया। 

लाइसेंसी पिस्टल से एक्सपोर्टर ने चलाई गोली,पत्नी की मौत



मुरादाबाद - कटघर में शुक्रवार रात एक एक्सपोर्टर ने अपनी लाइसेंसी पिस्टल से गोली चला दी। पत्नी के पेट मे गोली लगने से उसकी मौत हो गई , जबकि बेटे का दोस्त घायल हो गया। घायल को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस से बेटे की तहरीर पर एक्सपोर्टर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।कटघर थानाक्षेत्र दस सराय चौकी के पास शिव नगर गली नम्बर एक निवासी अख्तर हुसैन एक्सपोर्टर है। उसकी उपर इंडिया एक्सपोर्ट फार्म है। उनकी तीन पत्नियां और 13 बच्चे है। पत्नी शमीम बेगम और इशरत जहां उपर इंडिया फर्म में रहते है, जबकि समरीन लाजपतनगर में रहती है। सीओ कटघर सुदेश कुमार गुप्ता ने बताया कि गुरुवार को इशरत जहां का बेटा अराफत पिता की कार से दोस्तों संग गजरौला गया था। वह शुक्रवार को वहां से लौटा, इस पर अख्तर ने नाराज होकर उसकी डांट लगा दी। उसने पीटने को हाथ उठाया तो महिला बीच मे आ गई। इसे अख्तर आक्रोशित हो गया। उसने लाइसेंसी पिस्टल से गोली चला दी। गोली महिला के पेट में और बेटे का दोस्त सेखु निवासी रहमत नगर के पैर में लगने से घायल हो गए। महिला को लहूलुहान हालत में साईं अस्पताल और युवक को जिला अस्पताल में भर्ती कराया।महिला की इलाज के दौरान मौत हो गई। जानकारी पर पुलिस पहुची। पुलिस ने बेटे अराफत की तहरीर पर मुकदम दर्ज कर लिया।


दर्दनाक हादसा कानपुर में ,हुई तीन की मौत

कानपुर - घर से कार लेकर निकले दसवीं के छात्र ने शनिवार सुबह तीन की जान ले ली। जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज पुल पर बाइक सवार को टक्कर मारा और खुद कार समेत पलट गया। हादसे में कार चला रहा छात्र, एक खिलाड़ी तथा एक अन्य की मौत हो गई। कार में फंसे शवों को क्रेन की मदद से बाहर निकाला गया।आर्यनगर निवासी संगीत तिवारी का बेटा यमन तिवारी शीलिंग हाउस में दसवीं का छात्र था। सुबह करीब 7 बजे घर से लग्गजरी कार लेकर काकादेव की ओर जा रहा था। फर्राटा भरती कार जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज पुल से गुजर रही थी। इसी बीच ग्रीनपार्क से खेलकर बाइक से जा रहे बॉक्सिंग खिलाड़ी अनिल यादव को चपेट में ले लिया। कार की स्पीड इतनी अधिक थी कि अनिल को चपेट में लेते हुए एक अन्य को टक्कर मार दिया। थोड़ी दूर जाकर कार पलट गई। कार के चारो पहिए ऊपर की ओर हो गए।बाइक सवार अनिल और कार चला रहा यमन तिवारी कार में ही फंसकर काफी दूर तक घिसटते चले गए। तीनों की मौके पर ही मौत हो गई। अज्ञात राहगीर के बारे में अभी जानकारी उपलब्ध नहीं हो पाई है। उसके पास से पुलिस को कोई आईडी भी नहीं मिली है। घटना की जानकारी होने पर स्वरूप नगर पुलिस पहुंची और कार में फंसे लोगों को निकालना शुरू किया। दोनों कार में ऐसे फंस गए थे कि निकालना मुश्किल हो रहा था। तुरंत क्रेन मंगाई गई और कार से बाहर निकाला गया। तीनों को पुलिस ने हैलट अस्पताल पहुंचाया। यहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

बदमाशो ने डीजीपी को दिया चुनौती ,मलिहाबाद दौरे के छह घंटे के भीतर बदमाशो का धावा ,दो थानेदार हटे

लखनऊ- राजधानी लखनऊ के मलिहाबाद में डीजीपी के दौरे के छह घंटे के अंदर बदमाशों ने फिर से एक घर में धावा बोल दिया। बेखौफ बदमाशों ने क्षेत्र के अमानीगंज निवासी एक ग्रामीण के घर से असलहे के दम पर नकदी और करीब एक लाख के जेवरात लूट लिए। जबकि पुलिस हाथ मलती रह गई। राजधानी में पड़ी डकैतियों में अब तक कोई खुलासा न कर पाने के कारण मलिहाबाद थानाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह और चिनहट थानाध्यक्ष रवींद्रनाथ राय को लाइन हाजिर कर दिया गया है। अभी नई तैनाती नहीं हुई है।बता दें कि मलिहाबाद में लगातार पड़ रही डकैती और फिर शुक्रवार की रात हुई चोरी के बाद थानाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह पर ये एक्शन लिया गया है। वहीं, चिनहट में हुई डकैती के मामले में अल्टीमेटम के बावजूद तय समय में सीमा खुलासा न कर पाने के कारण रवींद्रनाथ राय को लाइन हाजिर किया गया है।मलिहाबाद थाना क्षेत्र के अमानीगंज गांव निवासी टेलर असलम गांव में आमने-सामने उसके दो घर हैं, जिनमें से एक में वह सिलाई का काम करता है। असलम ने बताया कि शुक्रवार रात वह अपनी दुकान वाले घर में था जबकि पत्नी और बेटी सामने वाले घर में सो रही थीं। करीब 12:15 बजे के आसपास जब वह लघुशंका के लिए निकला तभी घात लगाए बैठे बदमाशों ने उसे दबोच लिया। तमंचा सटाकर दो लोग उसे बाग में खींच ले गए और उससे घर में रखे पैसों और गहनों के बारे में पूछताछ की।असलम के मुताबकि दो बदमाश उसे दबोचे रहे जबकि दो घर में घुस आए। यहां बक्सा तोड़कर उसमें रखे 16 हजार रुपये और करीब एक लाख रुपये के गहने ले गए। उसने बताया कि कुछ देर बात गश्त पर निकली डायल 100 की गाड़ी से पुलिस मौके पर पहुंची और छानबीन कर चली गई। लेकिन जब सुबह तक कोई नहीं पहुंचा तो असलम ने फिर 100 नंबर डायल कर पुलिस को सूचना दी।उसके बाद पहुंची पुलिस ने मौके की छानबीन की और असलम की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया है। दोपहर करीब 12 बजे एसपी ग्रामीण सतीश कुमार सिंह और सीओ संतोष सिंह मौके पर पहुंचे। दोनों अफसर घटना को संदिग्ध बता रहे हैं और रात में पहुंची डायल 100 को भी नकार रहे हैं। इसे लेकर ग्रामीणों में रोष है। हालांकि, अफसरों ने जल्द ही मामले का खुलासा करने का आश्वासन दिया है।इस वारदात से करीब छह घंटे पहले 26 जनवरी को शाम 6:30 बजे डीजीपी ओपी सिंह, एसएसपी दीपक कुमार और एसपी ग्रामीण डॉ. सतीश कुमार सिंह मलिहाबाद थाने पहुंचे थे। यहां डीजीपी ने सिर्फ एसएसपी और एसपी ग्रामीण के साथ मीटिंग की थी बल्कि थानाध्यक्ष को भी निर्देश दिए थे। डीजीपी ने ग्रामीण इलाके में पुलिस फोर्स तैनात कर ग्रामीणों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। 25 मिनट के इस दौरे में उन्होंने पुलिस टीम को हर वक्त अलर्ट रहने का आदेश देते हुए को जल्द ही बदमाशों को पकड़ने का अल्टीमेटम दिया है।

आज़मगढ़ पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान ₹50000 के इनामी बदमाश मुकेश को मार गिराया

आज़मगढ़-  पुलिस द्वारा अपराध एवं अपराधियों के खिलाफ चलाए जा रहे मुहिम के क्रम में आजमगढ़ पुलिस को उस समय एक बड़ी कामयाबी मिल गई जब मुठभेड़ के दौरान पुलिस टीम ने ₹50000 के इनामी बदमाश मुकेश को मार गिराया डीआईजी रेंज और SSP आजमगढ़ के मुताबिक मारा गया आपराधी ही पिछले दिनों जिला जेल में हुए बंदी रक्षक पर हमले का मुख्य आरोपी है
बता दें कि पिछले दिनों जिला जेल में बंदी रक्षक मानसिंह यादव पर हुए हमले के आरोपी आजमगढ़ पुलिस टीम ने एक मुठभेड़ के दौरान मार गिराया पुलिस टीम के मुताबिक मारा गया अपराधी मुकेश ₹50000 का इनामी था और उसने लूट हत्या सहित कई घटनाओं को अंजाम दिया था मीडिया से बातचीत के दौरान पुलिस अधीक्षक अजय कुमार साहनी का कहना था कि इस पूरे घटना क्रम में एक पुलिसकर्मी को भी गोली लगी है जिससे वह बुरी तरह घायल है पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मारा गया अपराधी काफी शातिर था और इसने लगातार दो दिनों से जिले में कुछ घटनाओं को अंजाम भी दिया था उन्होंने बताया कि शाम को एक लूट के बाद पुलिस टीम काफी चौकन्नी थी और लगातार गश्त कर रही थी इस दौरान सिधारी थाना क्षेत्र के छतवारा मोड़ स्थित हलवा डी के पास 2 लोग संदिग्धावस्था में बाइक से आते दिखे पुलिस टीम ने जब उन्हें रोकने का इशारा किया तो उन्होंने पुलिस टीम पर फायर कर दिया जिससे पुलिस का एक सिपाही बुरी तरह घायल हो गया जवाबी कार्यवाही में मुकेश को भी गोली लगी और उसे आनन-फानन में जिला अस्पताल लाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई
इस पूरे मामले पर रेंज के डीआईजी विजय भूषण का कहना था कि अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध चलाए जा रहे इस मुहिम में आजमगढ़ पुलिस की या एक बड़ी कामयाबी है उन्होंने बताया कि मृत अपराधी मुकेश पर कई मुकदमे दर्ज और जेल में हुए बंदी रक्षक पर हमले के बाद उनके द्वारा मुकेश पर ₹50000 का इनाम भी घोषित किया गया था उन्होंने बताया कि मुकेश का आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है जिससे यह पता लगाया जा सके आजमगढ़ के अलावा उसने किन-किन जगहों पर आपराधिक वारदातों को अंजाम दिया है ।

मेडिकल और स्वास्थ्य कानूनों पर राष्ट्रीय सेमिनार, एमिटी यूनिवर्सिटी, लखनऊ में आयोजित

लखनऊ-भारत में चिकित्सा और स्वास्थ्य कानून के विभिन्न पहलुओं पर विचार और अंतर्दृष्टि साझा करने के लिए एक जीवंत मंच की नींव रखी गयी । यह "चिकित्सा और स्वास्थ्य कानूनों पर राष्ट्रीय संगोष्ठी" शीर्षक के साथ तीन दिवसीय संगोष्ठी है। इस संगोष्ठी में एक बहु अनुशासनिक दृष्टिकोण रखा गया यह संबंधित अधिकारों के संबंध में सार्वजनिक स्वास्थ्य को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर केंद्रित है - भोजन का अधिकार, स्वस्थ पर्यावरण के अधिकार, पानी के अधिकार आदि।
संगोष्ठी को  चार तकनीकी सत्रों और एक सामान्य सत्र इन केंद्रीय विषयों के साथ बांटा गया था:
- स्वास्थ्य और चिकित्सा पर वैश्वीकरण के प्रभाव
-स्वास्थ्य और चिकित्सा देखभाल के अधिकार: कानूनी परिप्रेक्ष्य
 -प्रजनन के अधिकार: सरोगेट, गर्भपात, गर्भधारण के मेडिकल टर्मिनेशन, कृत्रिम गर्भनाल आदि।
-ड्रग मार्केटिंग से संबंधित मुद्दे
आज जब की सभी तकनीकी सत्र  
सफलतापूर्वक समपन हो चुके है,  संगोष्ठी के वैलिडिटॄरी सत्र का आयोजन हुआ, जिसमें
 सुश्री अनुमेहा सहाय और श्री कौशलेश पांडे  संवाददाता (समापन सत्र) ने सत्र की शुरुआत कि। इसके बाद प्रत्येक गणमान्य व्यक्तियों को गुलदस्ता की प्रस्तुति एमिटी के प्रोसेसर श्री अभिषेक भारद्वाज, श्रीमती प्रियंका श्रीवास्तव और सुश्री ज्योत्सना सिंह ने दी।
इसके बाद, हमारे प्रिय प्रोफेसर बलराज चौहान, एमिटी लॉ स्कूल के निदेशक ने स्वागत किया | उन्होंने पिछले दो दिनों के संगोष्ठी का निष्कर्ष निकाला और कहा कि संगोष्ठी का पूरा उद्देश्य विद्यार्थियों, संकायों और अन्य लोगों के मन को शिक्षित करना था। उन्होंने तीनों गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया और सभी की सराहना की। उन्होंने कहा कि न्यायमूर्ति डी.पी. सिंह (निवृत्त), जो उच्च न्यायालय के न्यायाधीश थे, सशस्त्र सेना के आपराधिक कृत्य और अन्य कई चीजों के अध्यक्ष थे, लेकिन अब भी इतने विनम्र हैं। श्री आशुतोष शुक्ला, संपादक, दैनिक जागरण का 30 साल तक कैरियर रहा है और उन्होंने 3 पुस्तकें प्रकाशित की हैं। निदेशक बलराज चौहान ने उन्हें बहुत सराहना करते हुए कहा कि "वास्तव में शिक्षा क्या है यह जानने के लिए उनसे बेहतर कोई नहीं है।" डॉ. विनीत शर्मा, (प्रोफेसर के.जी.एम.यू.), एक बहुत ही प्रसिद्ध आर्थोपेडिक हैं और उन्हें अपना महत्वपूर्ण  समय निकालने के लिए धन्यवाद दिया बलराज सर ने इतने व्यस्त होने के बाद भी इस सेमिनार मे आने का उल्लेख किया कि और कहा की वह वास्तव में उदार और बहुत सम्माननीय मित्र हैं।
बलराज सर के बाद, सुश्री मालोबिका बोस, सहायक प्रोफेसर ने डॉ अशोक चौहान, एमिटी यूनिवर्सिटी के संस्थापक द्वारा अग्रेषित किए गए संदेश को संगोष्ठी के समक्ष पढा। डॉ अशोक कुमार  चौहान ने प्रत्येक व्यक्तियो को उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए धन्यवाद और सफल आयोजन के लिये बहुत बहुत बधाई दी।अपने संदेश में, उन्होंने प्रोफेसर डायरेक्टर बलराज चौहान और मेजर जनरल के.के. ओहरी, एवीएसएम (सेवानिवृत्त), प्रो व्हाइस चॅंसलर, एयूयूपी, लखनऊ कैंपस को उनके बहुमूल्य मार्गदर्शन और नेतृत्व के लिए धन्यवाद दिया है जिसके बिना इस संगोष्ठी की सफलता संभव नहीं था । अंत मे उन्होंने डॉ।असीम चौहान, अध्यक्ष, एयूयूपी, लखनऊ परिसर का धन्यवाद किया।
इसके अलावा, डॉ. अरविंद कुमार सिंह (समारोह के संयोजक) ने ठीक से ब्योरे में संगोष्ठी का सार किया।
इसके बाद, बलराज सर आए और दर्शकों के लिए एक अद्भुत और प्रेरणादायक कहानी सुनाई और प्रतिभागियों ने संगोष्ठी के बारे में अपने विचार साझा किए और संगोष्ठी के विषय की पसंद की सराहना की।
इसके बाद पुरस्कार वितरण समारोह में प्रत्येक सत्र के लिए विजेताओं को सर्वश्रेष्ठ पत्र और सर्वश्रेष्ठ प्रस्तोता को पुरस्कार दिया गया था।
सत्र 1: राज दीपक चौधरी (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और सी प्रशांति (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सत्र 2: स्वरलाता पांडे और शिवम (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और मेघा विनोद (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सत्र 3: दीपक अरोड़ा (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और आमना नाबेवा नकवी (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सत्र 4: क्षितिज प्रकाशन (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और धीरेंद्र कुमार (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सामान्य सत्र: डॉ जे के श्रीवास्तव (सर्वश्रेष्ठ पत्र) और सेतु गुप्ता (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
दैनिक जागरण के संपादक श्री आशुतोष शुक्ल ने भाषण दिया । उन्होंने सभी गणमान्य व्यक्तियों का धन्यवाद किया और कहा कि वह वास्तव में उन सभी का बहुत ही आदर करते है। उन्होंने भारत के नैतिक मूल्यों पर एक दिया दिल को छू लेने वाला भाषण दिया और कहा कि कुछ भी बनने से पहले "मनुष्य को पहले एक अच्छा इंसान बनना चाहिए।"
डॉ. विनीत शर्मा (प्रोफेसर के.जी.एम.यू.), व्यावहारिक उदाहरण साझा करके, व्यक्तिगत चिकित्सा अनुभवों को साझा करते हैं और कानून और चिकित्सा के बीच संबंध को प्रबुद्ध करने पर जोर दिया।
न्यायमूर्ति डी. पी. सिंह (सेवानिवृत्त) उच्च न्यायालय के न्यायाधीश, सशस्त्र सेना के आपराधिक कृत्य के अध्यक्ष और कई अन्य चीजों ने इस तरह की एक बड़े  समारोह के लिए एमिटी की सराहना की और हमें उच्च लक्ष्यों और उद्देश्यों को स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित किया।
और कहा की “सिर्फ कानून मनुष्य को  अनुशासन  बना सकता है और केवल अनुशासित व्यक्ति सभ्य समाज बना सकता है।“
मेमेटो को मेहमान को पेश किया गया था और प्रोफेसर एस के  गौर ने सभी लोग जिन्होंने अथक श्रम से इस कार्यक्रम को सफल बनाया
को धन्यवाद दिया जिसमें डॉ अरविंद कुमार सिंह (कार्यक्रम संयोजक) अमन श्रीवास्तव और याशवंत कुमार याश (छात्र संयोजक) साथ ही यशवर्धन नगेश, सिद्धार्थ, सुरभि आनंद, क्षितिज और टीम सम्मिलित हैं।

मेडिकल और स्वास्थ्य कानूनों पर राष्ट्रीय सेमिनार, एमिटी यूनिवर्सिटी, लखनऊ में आयोजित

लखनऊ-भारत में चिकित्सा और स्वास्थ्य कानून के विभिन्न पहलुओं पर विचार और अंतर्दृष्टि साझा करने के लिए एक जीवंत मंच की नींव रखी गयी । यह "चिकित्सा और स्वास्थ्य कानूनों पर राष्ट्रीय संगोष्ठी" शीर्षक के साथ तीन दिवसीय संगोष्ठी है। इस संगोष्ठी में एक बहु अनुशासनिक दृष्टिकोण रखा गया यह संबंधित अधिकारों के संबंध में सार्वजनिक स्वास्थ्य को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर केंद्रित है - भोजन का अधिकार, स्वस्थ पर्यावरण के अधिकार, पानी के अधिकार आदि।
संगोष्ठी को  चार तकनीकी सत्रों और एक सामान्य सत्र इन केंद्रीय विषयों के साथ बांटा गया था:
- स्वास्थ्य और चिकित्सा पर वैश्वीकरण के प्रभाव
-स्वास्थ्य और चिकित्सा देखभाल के अधिकार: कानूनी परिप्रेक्ष्य
 -प्रजनन के अधिकार: सरोगेट, गर्भपात, गर्भधारण के मेडिकल टर्मिनेशन, कृत्रिम गर्भनाल आदि।
-ड्रग मार्केटिंग से संबंधित मुद्दे
आज जब की सभी तकनीकी सत्र  
सफलतापूर्वक समपन हो चुके है,  संगोष्ठी के वैलिडिटॄरी सत्र का आयोजन हुआ, जिसमें
 सुश्री अनुमेहा सहाय और श्री कौशलेश पांडे  संवाददाता (समापन सत्र) ने सत्र की शुरुआत कि। इसके बाद प्रत्येक गणमान्य व्यक्तियों को गुलदस्ता की प्रस्तुति एमिटी के प्रोसेसर श्री अभिषेक भारद्वाज, श्रीमती प्रियंका श्रीवास्तव और सुश्री ज्योत्सना सिंह ने दी।
इसके बाद, हमारे प्रिय प्रोफेसर बलराज चौहान, एमिटी लॉ स्कूल के निदेशक ने स्वागत किया | उन्होंने पिछले दो दिनों के संगोष्ठी का निष्कर्ष निकाला और कहा कि संगोष्ठी का पूरा उद्देश्य विद्यार्थियों, संकायों और अन्य लोगों के मन को शिक्षित करना था। उन्होंने तीनों गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया और सभी की सराहना की। उन्होंने कहा कि न्यायमूर्ति डी.पी. सिंह (निवृत्त), जो उच्च न्यायालय के न्यायाधीश थे, सशस्त्र सेना के आपराधिक कृत्य और अन्य कई चीजों के अध्यक्ष थे, लेकिन अब भी इतने विनम्र हैं। श्री आशुतोष शुक्ला, संपादक, दैनिक जागरण का 30 साल तक कैरियर रहा है और उन्होंने 3 पुस्तकें प्रकाशित की हैं। निदेशक बलराज चौहान ने उन्हें बहुत सराहना करते हुए कहा कि "वास्तव में शिक्षा क्या है यह जानने के लिए उनसे बेहतर कोई नहीं है।" डॉ. विनीत शर्मा, (प्रोफेसर के.जी.एम.यू.), एक बहुत ही प्रसिद्ध आर्थोपेडिक हैं और उन्हें अपना महत्वपूर्ण  समय निकालने के लिए धन्यवाद दिया बलराज सर ने इतने व्यस्त होने के बाद भी इस सेमिनार मे आने का उल्लेख किया कि और कहा की वह वास्तव में उदार और बहुत सम्माननीय मित्र हैं।
बलराज सर के बाद, सुश्री मालोबिका बोस, सहायक प्रोफेसर ने डॉ अशोक चौहान, एमिटी यूनिवर्सिटी के संस्थापक द्वारा अग्रेषित किए गए संदेश को संगोष्ठी के समक्ष पढा। डॉ अशोक कुमार  चौहान ने प्रत्येक व्यक्तियो को उनके महत्वपूर्ण योगदान के लिए धन्यवाद और सफल आयोजन के लिये बहुत बहुत बधाई दी।अपने संदेश में, उन्होंने प्रोफेसर डायरेक्टर बलराज चौहान और मेजर जनरल के.के. ओहरी, एवीएसएम (सेवानिवृत्त), प्रो व्हाइस चॅंसलर, एयूयूपी, लखनऊ कैंपस को उनके बहुमूल्य मार्गदर्शन और नेतृत्व के लिए धन्यवाद दिया है जिसके बिना इस संगोष्ठी की सफलता संभव नहीं था । अंत मे उन्होंने डॉ।असीम चौहान, अध्यक्ष, एयूयूपी, लखनऊ परिसर का धन्यवाद किया।
इसके अलावा, डॉ. अरविंद कुमार सिंह (समारोह के संयोजक) ने ठीक से ब्योरे में संगोष्ठी का सार किया।
इसके बाद, बलराज सर आए और दर्शकों के लिए एक अद्भुत और प्रेरणादायक कहानी सुनाई और प्रतिभागियों ने संगोष्ठी के बारे में अपने विचार साझा किए और संगोष्ठी के विषय की पसंद की सराहना की।
इसके बाद पुरस्कार वितरण समारोह में प्रत्येक सत्र के लिए विजेताओं को सर्वश्रेष्ठ पत्र और सर्वश्रेष्ठ प्रस्तोता को पुरस्कार दिया गया था।
सत्र 1: राज दीपक चौधरी (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और सी प्रशांति (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सत्र 2: स्वरलाता पांडे और शिवम (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और मेघा विनोद (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सत्र 3: दीपक अरोड़ा (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और आमना नाबेवा नकवी (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सत्र 4: क्षितिज प्रकाशन (सर्वश्रेष्ठ पेपर) और धीरेंद्र कुमार (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
सामान्य सत्र: डॉ जे के श्रीवास्तव (सर्वश्रेष्ठ पत्र) और सेतु गुप्ता (सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुतकर्ता)
दैनिक जागरण के संपादक श्री आशुतोष शुक्ल ने भाषण दिया । उन्होंने सभी गणमान्य व्यक्तियों का धन्यवाद किया और कहा कि वह वास्तव में उन सभी का बहुत ही आदर करते है। उन्होंने भारत के नैतिक मूल्यों पर एक दिया दिल को छू लेने वाला भाषण दिया और कहा कि कुछ भी बनने से पहले "मनुष्य को पहले एक अच्छा इंसान बनना चाहिए।"
डॉ. विनीत शर्मा (प्रोफेसर के.जी.एम.यू.), व्यावहारिक उदाहरण साझा करके, व्यक्तिगत चिकित्सा अनुभवों को साझा करते हैं और कानून और चिकित्सा के बीच संबंध को प्रबुद्ध करने पर जोर दिया।
न्यायमूर्ति डी. पी. सिंह (सेवानिवृत्त) उच्च न्यायालय के न्यायाधीश, सशस्त्र सेना के आपराधिक कृत्य के अध्यक्ष और कई अन्य चीजों ने इस तरह की एक बड़े  समारोह के लिए एमिटी की सराहना की और हमें उच्च लक्ष्यों और उद्देश्यों को स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित किया।
और कहा की “सिर्फ कानून मनुष्य को  अनुशासन  बना सकता है और केवल अनुशासित व्यक्ति सभ्य समाज बना सकता है।“
मेमेटो को मेहमान को पेश किया गया था और प्रोफेसर एस के  गौर ने सभी लोग जिन्होंने अथक श्रम से इस कार्यक्रम को सफल बनाया
को धन्यवाद दिया जिसमें डॉ अरविंद कुमार सिंह (कार्यक्रम संयोजक) अमन श्रीवास्तव और याशवंत कुमार याश (छात्र संयोजक) साथ ही यशवर्धन नगेश, सिद्धार्थ, सुरभि आनंद, क्षितिज और टीम सम्मिलित हैं।

जौनपुर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के अध्यक्ष हसनैन कमर दीपू , कुंवर दीपक सिंह महामंत्री सर्वसम्मति से चुने गए

जौनपुर। जौनपुर इलेक्ट्रॉनिक मीडिया संघ की एक बैठक गुरुवार को कैम्प कार्यालय शारदा टॉवर पर हुई। बैठक में आगामी सत्र के लिए नई कार्यकारिणी के गठन पर चर्चा हुई। इस मौके पर सभी ने जावेद अहमद को चुनाव अधिकारी नियुक्त किया। 
सर्वसम्मति से सै. हसनैन कमर दीपू को अध्यक्ष, कुंवर दीपक
सिंह को महामंत्री, अरशद अब्बास को कोषाध्यक्ष, मनोज सिंह व अमित गुप्ता को उपाध्यक्ष मनोनीत किया गया। संघ के संरक्षक आईबी सिंह ने नई टीम को बधाई दी। इस अवसर पर निवर्तमान अध्यक्ष राजकुमार सिंह, राजेश श्रीवास्तव, आरिफ हुसैनी, मो. अब्बास, राजन मिश्रा, अजीत सिंह, कुंवर नितिश, मनोज ओझा, अर्जुन यादव सहित सभी पदाधिकारी मौजूद रहे। संचालन निवर्तमान महामंत्री दीपक श्रीवास्तव ने किया