health

Breaking News

राज्य कर्मचारियों का तीसरे दिन में धरना प्रदर्शन रहा जारी,सभी कार्यालयों में तालाबंदी से आम जनता रही परेशान,कर्मचारी नेता राकेश श्रीवास्तव सहित हजारों कर्मचारियों ने कलेक्ट्रेट परिसर में सरकार को सद्बुद्धि हेतु किया यज् 24upnews.com

उ0प्र0मा0 शिक्षक संघ नवीन की जिला इकाई और तहसील पदाधिकारियों की बैठक सम्पन्न

जौनपुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ नवीन की जिला इकाई और तहसील पदाधिकारियों की बैठक जिलाध्यक्ष धर्मेन्द्र यादव की अध्यक्षता में महावीर कान्वेंट स्कूल नखास के सभागार में सम्पन्न हुआ 
इस मौके पर 1 अप्रैल 2005 से नियुक्त शिक्षक-कर्मचारी के उज्ज्वल भविष्य से जुड़ी अति महत्वपूर्ण बुढ़ापे की लाठी रूपी पुरानी पेंशन बहाली सहित 9 सूत्रीय मांगों जिसमें प्रधानाचार्यों का चयन लिखित परीक्षा के माध्यम से करने, कैशलेस चिकित्सा व्यवस्था लागू करने, उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड द्वारा चयनित शिक्षकों का नियुक्ति पत्र सीधे निदेशालय स्तर से निर्गत कर 21 दिन के भीतर कार्यभार ग्रहण कराने सम्बन्धी आदेश जारी करने, वित्तविहीन शिक्षक-कर्मचारियों की सेवा नियमावली बनाने एवं टेªजरी से सम्मानजनक मानदेय देने, संस्कृत/मदरसा विद्यालयों में शिक्षकों की नियुक्ति लिखित परीक्षा के माध्यम से चयन बोर्ड द्वारा करने, सातवें वेतन आयोग की विसंगति दूर करने, सेवानिवृत्त शिक्षकों की उम्र 62 वर्ष से 65 वर्ष करने, 31 दिसम्बर 2000 तक नियुक्त तदर्थ शिक्षकों को विनियमित करने की मांग को लेकर दिनांक 8 अगस्त 2018 को कलेक्टेट परिसर में 11 बजे से एक दिवसीय धरना-प्रदर्शन करने का निर्णय लिया गया।
बैठक को सम्बोधित करते हुये जिलाध्यक्ष श्री यादव ने कहा कि संगठन लाखों शिक्षक-कर्मचारियों की ज्वलंत मांग पुरानी पेंशन बहाल करने के लिये कमर कस चुका है जिसमें सभी शिक्षकों को एकजुट होकर अधिक से अधिक संख्या कलेक्टेªट में होने वाले प्रदर्शन में जबर्दस्त प्रदर्शन करना होगा, तभी वादाखिलाफी कर रही सरकार भयभीत होकर दोहरी व्यवस्था को खत्म कर पुरानी पेंशन को 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के पूर्व बहाल करने को मजबूर होगी। जिलाध्यक्ष ने कहा कि समाज को आईना दिखाने को तत्पर शिक्षकों के हितों की अनदेखी व संवेदनहीन सरकार को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। जिला संरक्षक सुनील कान्त तिवारी ने कहा कि तहसील प्रभारियों की जिम्मेदारी है कि अपने तहसीलों से धरने को सफल बनाने के लिये अधिक से अधिक शिक्षकों को धरने में आने के लिये सम्पर्क करें। वरिष्ठ उपाध्यक्ष राजकेशर यादव, जिला मंत्री शैलेन्द्र सरोज, पूर्व जिला मंत्री अरविन्द चौरसिया, वरिष्ठ शिक्षक रीतेश कुमार, पूर्व कोषाध्यक्ष डा. चन्द्रसेन, कोषाध्यक्ष अवनीश मौर्य, विकास कुमार गुप्त, संतोष कुमार उपाध्याय, मनीष तिवारी, रामसूरत वर्मा, कमल नयन, राय साहब, प्रधानाचार्य सूर्यनाथ यादव आदि ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली को लेकर सरकार से आर-पार की लड़ाई लड़ने के लिये शिक्षकों को कलेक्टेªट आना होगा।
बैठक में मिथिलेश कुमार, रीतेश कुमार, रविन्द्र वर्मा, अनिल यादव, अजीत कुमार, ओम प्रकाश यादव, राजेन्द्र प्रसाद यादव, भोलेन्द्र कुमार, कमल नयन, डा. चन्द्रसेन आदि शिक्षक उपस्थित रहे। बैठक का संचालन जिला प्रवक्ता लाल बहादुर यादव ने किया।