health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

24upnews.com की खबर का असर,स्प्रिंकलर सेट घोटाले में रातो रात पात्रों के यहां पहुंचने लगा स्प्रिंकलर सेट

रिपोर्ट-अखिलेश सिंह।
जफराबाद (जौनपुर) जनपद के 14 विकासखंड में जल संचय योजना के तहत स्प्रिंकलर सेट में 1. 10 करोड़ घोटाले की बात उजागर होते ही महकमे में हड़कंप मच गया है। घोटाले को तोपने के लिए रातो रात पात्रों के घर स्पेलिंकर सेट पहुंचाया जारहा है। इस योजना में हुए घोटाले को प्रमुखता से हमारे वेब पोर्टल 24upnews.com ने सोशल मीडिया पर इस खबर को प्रमुखता से स्थान दिया था, जिसका असर बहुत अच्छी तरह से देखने को मिलना शुरू हो गया है।
बता दें कि जिले के सिरकोनी विकासखंड क्षेत्र के आराजी नेवादा गांव में सरकार के द्वारा स्प्लिनकर सेट के लिए धन आवंटित किए गए पात्रों की सूची के सर्वे में घोटाले का मामला उजागर हुआ था। उक्त गांव में पात्र रीता देवी, जय हिंद पटेल, अर्जुन पटेल तथा एहसान के यहां जांच पड़ताल किया गया तो पता चला कि इस योजना की उनको कोई जानकारी ही नहीं थी। इस योजना के तहत उनको कोई धन प्राप्त नहीं हुआ था। इन लोगों के अनुसार उक्त पात्रों में से एक पात्र जिसने कुछ महीने पहले अन्य सभी पात्रों से उनके खाते में अपना पैसा मंगाये जाने की बात कहकर पैसा ले लिया था। उसमें न जाने कौन-कौन विभागीय लोगों ने मिलकर बंदरबांट कर लिया। मामला प्रकाश में आने पर इस घोटाले में जिम्मेदार लोगों में हड़कंप मच गया है। रीता देवी ने बताया कि रविवार को देर रात करीब 11:00 बजे मेरे घर पर, गांव के जिस युवक ने खाते से अपना पैसा निकाल लिया था, उसके साथ कुछ लोग माल वाहन से पाइप लेकर आए और रात में ही मेरे घर पर छत के ऊपर सुरक्षित रख दिए। उक्त लोगों ने कहा कि यदि कोई जांच पड़ताल व पूछताछ करने आता है तब, यह बताना है कि मेरे पास पहले से ही सेट खरीदकर रखा हुआ है। वहीं दूसरे पात्र जय हिंद से पूछे जाने पर उसने कहा कि मेरे घर पर भी रात में लोग आए थे और मुझे आश्वासन देकर गए हैं कि सोमवार या मंगलवार को शाम तक सेट दे दिया जाएगा। तीसरे पात्र एहसान यहां भी इसी तरीके का आश्वासन दिया गया है। उक्त पत्रों ने कहा कि इन लोगों ने मिलकर हम सभी के साथ धोखा किया है। इसकी शिकायत जिलाधिकारी से मिलकर करेंगे। जांच की मांग करेंगें। दोषियों के विरुद्ध कार्रवाई की मांग करने की बात कर रहे थे। इनके अलावा उक्त गांव में दो और नये पात्र मिले हैं, इनके साथ भी इसी तरीके का धोखा किया गया है।विभाग तथा अन्य बाहरी लोगों के मिलीभगत से धोखाधड़ी कर घोटाला किया गया है। यदि मामले की गहराई व गंभीरता से जांच हुई तो इसमें बहुत अच्छे अच्छे जिम्मेदार लोग संलिप्त मिलेंगे।

No comments:

Post a Comment