health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

घोटाले को दबाने में विभागीय दलाल ले रहे बिकाऊ तथाकथित पत्रकारों की मदद,घोटाला छुपाने लगे जिम्मेदार

जौनपुर- पिछले एक हफ्ते जिले में कृषि विभाग की खूब किरकिरी हो रही है 2018-19 के फरवरी महीने में आये कुल 24 ब्लाकों में 289 किसानों को एक करोड़ 10 लाख का बजट अवमुक्त कर दिया गया लेकिन 2019 का अगस्त का महीना चल रहा है लेकिन अभी तक सिरकोनी विकास खण्ड के नेवादा गांव के कुछ कास्तकार खुद ही बता रहे है कि मीडिया में खबर चलने के बाद बुधवार को उनके घर पर प्लास्टिक की 10-15 पाइप विभाग द्वारा भेजा है यही नही एक परिवार के तीन लोगों के नाम से करीब 1 लाख 15 हजार रुपये निकाल लिए गए,ये बात यही खत्म नही होती विभाग पर दलाल तंत्र इतना हाबी है कि कुछ बिकाऊ पत्रकारों को खरीद सब कुछ सही दिखाने का प्रयास किया जा रहा है।
बता दें जौनपुर जिले के सिरकोनी विकास खण्ड के कुछ किसानों के बैंक के खाते में तो पैसे गए लेकिन किसानों को गुमराह करके उनके खाते से पैसे निकाल लिए गए,जब हमारी 24upnews.com की टीम ग्राउंड जीरो पर गयी तो एक नया मामला।प्रकाश में आया कि जो परिवार विभाग के दलाल के सम्पर्क में है उनके एक परिवार के सभी सदस्यों के खाते में पैसे भेज दिए गए जबकि वो कास्तकार इस योजना को लेने के लिए विभागीय कोरम नही पूरा करते है केकिन दलाल तंत्र का विभाग पर इस तरह का प्रभाव रखना की कुछ भी किसी के नाम पर पैसे भेज दिया जाता है,बीते मंगलवार में हमारी टीम पर इस खबर लिखा था कि सिरकोनी विकासखंड क्षेत्र के आराजी नेवादा गांव में सरकार के द्वारा स्प्लिनकर सेट के लिए धन आवंटित किए गए पात्रों की सूची के सर्वे में घोटाले का मामला उजागर हुआ था। उक्त गांव में पात्र रीता देवी, जय हिंद पटेल, अर्जुन पटेल तथा एहसान के यहां जांच पड़ताल किया गया तो पता चला कि इस योजना की उनको कोई जानकारी ही नहीं थी। इस योजना के तहत उनको कोई धन प्राप्त नहीं हुआ था। इन लोगों के अनुसार उक्त पात्रों में से एक पात्र जिसने कुछ महीने पहले अन्य सभी पात्रों से उनके खाते में अपना पैसा मंगाये जाने की बात कहकर पैसा ले लिया था। उसमें न जाने कौन-कौन विभागीय लोगों ने मिलकर बंदरबांट कर लिया। मामला प्रकाश में आने पर इस घोटाले में जिम्मेदार लोगों में हड़कंप मच गया है। शत्रुघन मौर्या ने बताया कि दो दिन पूर्व गांव के युवक  जिसने खाते से अपना पैसा निकाल लिया था, उसके साथ कुछ लोग माल वाहन से पाइप लाकर रख दिए मशीन व अन्य यंत्र को बाद में लाने को कहा है और विभाग तथा अन्य बाहरी लोगों के मिलीभगत से धोखाधड़ी कर घोटाला किया गया है। यदि मामले की गहराई व गंभीरता से जांच हुई तो इसमें बहुत अच्छे अच्छे जिम्मेदार लोग संलिप्त मिलेंगे।

No comments:

Post a Comment