health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

एक तेरही कार्यक्रम में शिरकत करने गए हिन्दू युवा वाहिनी के अध्यक्ष के भाई की गोली मारकर हत्या से क्षेत्र ने सनसनी

जौनपुर- केराकत कोतवाली क्षेत्र के  बम्मावन  गांव  में आयोजित एक तेरही कार्यक्रम में सोमवार की देर रात्रि  हिन्दू युवा वाहिनी अध्यक्ष के भाई की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। मृतक अनिल प्रजापति  हिन्दू युवा वाहिनी‌ के अध्यक्ष अशोक प्रजापति का छोटा भाई था और लालगंज में लेखपाल था।घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुची पुलिस छानबीन में जुट गयी है।
   जिले के केराकत कोतवाली के बम्मावन गांव  निवासी भाजपा नेता राजेन्द्र प्रजापति के पिता का सोमवार को त्रयोदशाह संस्कार कार्यक्रम था।राजेन्द्र के लालगंज आजमगढ़ निवासी रिश्तेदार हिन्दू युवा वाहिनी के तहसील अध्यक्ष अशोक प्रजापति अपने तीन भाइयों के साथ तेरही में शामिल होने आए थे। वे सभी लोग भोजन करने के बाद घर के लिए निकलने को तैयार थे। कि उसी समय थाना देवगांव के करियवा गोपालपुर निवासी श्लोक यादव वहां पहुंच गया और गाली बकते हुए तमंचा निकाल लिया।हमलावर अशोक प्रजापति को लक्ष्य लेकर गोली चला दी उसी समय अशोक का छोटा भाई लेखपाल अनिल प्रजापति बीच मे आ गया। गोली अनिल के सिर में लगी और वह जमीन पर गिरकर तड़पने लगा।बदमाशो के इस दुस्साहस और गोली चलने से चीख पुकार मच गयी। गोली मारने के बाद हमलावर वहां से फरार हो गया।घबराए परिजन आनन- फानन में उसे केराकत स्थित एक निजी अस्पताल में ले गये जहा चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया।परिजनो का दिल नही माना तो वे वाराणसी के एक निजी अस्पताल में भी अनिल को ले गए पर वहां भी डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित किया।।
बता दें कि मंगलवार की सुबह मृतक अनिल प्रजापति का शव लेकर परिजन केराकत कोतवाली पहुंच गए। मृतक के भाई अशोक प्रजापति ने श्लोक यादव को अनिल की हत्या का आरोपी बताते हुए लिखित तहरीर दी।पुलिस शव को कब्जे में लेकर  पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और आरोपी की तलाश में जुट गयी।जानकारी मिलते ही जब तक पुलिस दबिश देती तब तक हत्यारा फरार हो चुका था। मृतक अनिल प्रजापति लालगंज तहसील के चेवार का लेखपाल था।
घटना के संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक शहर डॉ अनिल कुमार पांडेय ने बताया कि 13 जनवरी को बम बम बम बमन गांव में पालु प्रजापति के यहां उनके पिता की तेरहवीं   थी। इसमें अनिल प्रजापति सुभाष और अशोक प्रजापति जो आजमगढ़ के रहने वाले हैं आए थे।तेरहवीं  से लौटने की तैयारी चल रही थी की इसी बीच श्लोक यादव जो गोपालपुर थाना देवगांव  करने रहने वाला है आ गया इनकी किसी बात को लेकर पुरानी रंजिश थी और यह अनिल प्रजापति को एक साइड ले जाकर फायर कर दिया जब तक लोग समझ पाते वह भाग गया आनन-फानन परिवार के लोग उसे लेकर वाराणसी ले गए जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया।तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है जो  भागा है उसकी तलाश की जा रही है।
हैरत की बात तो यह है कि कल ही बगल के बिसुई  गांव में सांसद रविकिशन के पिता की तेरही में सी एम, डिप्टी सीएम के आने की चर्चा नेताओ, सिने स्टार सिने तारिकाओं और गायकों का जमघट था।  चप्पे चप्पे पर पुलिस तैनात थी। डीएम और एसपी सहित आला अफसर भी चक्रमण करते रहे बावजूद इसके पुलिस की नाक के नीचे बदमाशों ने  गोलियां तड़तडाई।और हत्या कर हत्यारा फरार भी हो गया।बहरहाल हत्या के पीछे की कहानी जो भी हो केराकत में एक बार फिर बदमाशो ने दुस्साहस दिखाते हुए लेखपाल को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया।

No comments:

Post a Comment