health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

शासन के अग्रिम आदेश तक जिले में लागू रहेगा आंशिक कर्फ्यू,आवश्यक सेवाओं के अतिरिक्त अन्य आवागमन रहेगा बाधित-D.M.


जौनपुर-जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा  द्वारा अवगत कराया गया कि शासन के निर्देश के क्रम में  कोविड-19 वायरस जनित महामारी पर प्रभावी नियंत्रण हेतु स्थानीय प्रतिबंध लगाए जाने संबंधी प्रावधान के अनुपालन में जनपद जौनपुर में कोविड-19 के संक्रमण के प्रकरणों पर नियंत्रण के दृष्टिगत पूर्व में 31 मई 2021 की प्रातः 07:00 बजे तक लागू कर्फ्यू को आंशिक कर्फ्यू के रूप में अग्रिम आदेश तक लागू रखा जाएगा, उक्त कर्फ्यू अवधि में आवश्यक सेवाएं अथवा स्वास्थ्य सेवाएं/सफाई आदि से जुड़े कार्मिकों के अतिरिक्त कोई अन्य आवागमन की अनुमति नहीं होगी। जिला स्तर पर अग्निशमन विभाग द्वारा नगर पालिका नगर पंचायत ग्राम पंचायत स्तर पर साफ सफाई का विशेष अभियान चलाकर सैनिटाइजेशन फागिंग की जाएगी। शहर/ग्रामीण क्षेत्र के हर कोने में मास्क की अनिवार्यता सुनिश्चित कराई जाए। इसका पालन ना होने पर पहली बार रुपए 1000 तथा दूसरी बार अधिकतम 10000 तक जुर्माना किया जाए। मास्क की अनिवार्यता सुनिश्चित करने हेतु संबंधित थानों के थानाध्यक्ष का सीधा उत्तरदायित्व होगा। कोरोना कर्फ्यू के प्रभावी अनुपालन सुनिश्चित किया जाए तथा वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा स्वयं भी चेकिंग की जाए तथा सभी कंटेनमेंट जोन में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए। कोविड-19 के प्रभावी नियंत्रण हेतु धार्मिक कार्यक्रमों को घर के अंदर ही मनाया जाए। बंद स्थानों अथवा खुले स्थानों पर एक समय में अधिकतम 25 आमंत्रित अतिथियों को मास्क की अनिवार्यता सामाजिक दूरी सैनिटाइजर का उपयोग एवं कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुसार अन्य सावधानिया के साथ अनुमति होगी। आयोजन/समारोह स्थलों पर आमंत्रित अतिथियों के बैठने की व्यवस्था में सामाजिक दूरी के प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन किया जाएगा। आयोजन/समारोह स्थल पर शौचालयों में साफ-सफाई एवं सैनिटाइजर की समुचित व्यवस्था व्यवस्था रखी जाएगी। उपरोक्त सभी शर्तें प्रतिबंधों का अनुपालन सुनिश्चित किए जाने की पूरी जिम्मेदारी समारोह आयोजन की होगी। पूर्व निर्धारित परीक्षाओं हेतु कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित करते हुए परीक्षा की अनुमति होगी, परीक्षार्थियों और उम्मीदवारों की आईडी कार्ड के तौर पर मान्य होगा। कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सार्वजनिक परिवहन को विशेष रूप से राज्य की परिवहन बसों में 50 प्रतिशत क्षमता के अनुसार चलने की अनुमति होगी। अंतिम संस्कार के लिए अधिकतम 20 व्यक्तियों को शामिल होने की अनुमति होगी। प्रेस प्रिन्ट/ इलेक्ट्रॉनिक मीडिया को परिचय पत्र के आधार पर अनुमति होगी। सरकारी/निजी अस्पतालों, सरकारी/निजी मेडिकल कॉलेजों में ऑक्सीजन की सप्लाई हेतु जनपद के ड्रग इंस्पेक्टर अपने स्तर पर कार्रवाई सुनिश्चित करेंगे। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग के कंट्रोल रूम के माध्यम से ऑक्सीजन से संबंधित समस्या के संबंध में सूचना उपलब्ध कराई जाए। निगरानी समिति के माध्यम से ग्राम पंचायतों में क्वॉरेंटाइन सेंटर की स्थापना की जाए एवं जो भी व्यक्ति ग्राम के बाहर से आ रहे हैं यदि होम क्वॉरेंटाइन कि घर में जगह नहीं है तो क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा जाए। कंटेनमेंट जोन में आवश्यक सेवाओं यथा दवा/मेडिकल सामान/दैनिक खाद्य वस्तुएं, फल, सब्जी, दूध इत्यादि तथा आबकारी के अतिरिक्त अन्य सभी कार्य सख्ती से बाधित रखे जाएं। दुकानदारों का उत्तरदायित्व होगा की दुकान पर सोशल डिस्टेंसिंग/ मास्क/ सैनिटाइजेशन का अनिवार्य रूप से अनुपालन किया जाना सुनिश्चित करेंगे। कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर किसी व्यक्ति के विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 से 60 तथा भा0दं0वि0 की धारा 188 में दिए गए प्रावधानों के अंतर्गत कार्यवाही की जाएगी। उप जिला मजिस्ट्रेट/क्षेत्राधिकारी/ थानाध्यक्ष/अधिशासी अधिकारी कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित कराएंगे। इसमें किसी प्रकार की विचलन होने पर संबंधित के खिलाफ उत्तरदायित्व निर्धारित किया जाएगा।

डीएम ने व्यापार संघ के प्रतिनिधियों के साथ बैठक सम्पन्न


जौनपुर-जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में व्यापार संघ के प्रतिनिधियों के साथ बैठक सम्पन्न  हुई । बैठक में कोरोना कर्फ्यू  हटाने से पूर्व की तैयारी के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई। जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि शासन के  आदेशानुसार जनपद  में कोरोना के सक्रिय मामले 600 से कम होने के उपरांत कर्फ्यू को समाप्त कर दिया जाएगा  लेकिन जैसे ही 600 से ज्यादा मामले आएंगे पुनः कर्फ्यू लागू कर दिया जाएगा।  उन्होंने कहा कि जनपद में कोरोना के मामले 600 से ज्यादा है अतः कर्फ्यू खुलने के पूर्व ही व्यापारी प्रतिनिधि मंडल द्वारा सभी व्यापारियों/दुकानदारों से वार्ता कर ली जाए ताकि कर्फ्यू खुलने के उपरांत कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन ना होने पाए।

पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर   ने निर्देश दिया कि जनपद के दुकानदार कोरोना कर्फ्यू खोलने के पूर्व अपनी दुकानों के सामने गोला बनवा ले, जिससे सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सामान को बेचा एवं खरीदा जाए, और कोरोना प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित किया जा सके। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामप्रकाश , अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व  राजकुमार दृवेदी, अपर पुलिस अधीक्षक व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष दिनेश टण्डन, जिला महामंत्री आरिफ हबीब,  जिला अध्यक्ष अखिल भारतीय व्यापार मंडल श्रवण जायसवाल, श्याम मोहन अग्रवाल ,संजीव साहू सुभाष चंद्र अग्रहरी,संजय , आशीष गुप्ता सहित अन्य अधिकारी एवं व्यापार मंडल के सदस्य उपस्थित रहे।

बक्शा थानाध्यक्ष के विदाई समारोह में कानून के रखवालों ने जमकर उड़ाई गई कोविड प्रोटोकॉल की धज्जियां,


जौनपुर बीती रात एसपी जौनपुर राजकरण नय्यर ने आधा दर्जन उप निरीक्षकों के कार्य क्षेत्र में किया था फेरबदल इसी क्रम में आज थानाध्यक्ष  वशिष्ठ यादव की विदाई समारोह में जमकर उड़ाई गई को भी प्रोटोकॉल की धज्जियां,इस विदाई कार्यक्रम में न तो सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा गया और ना ही एक दर्जन से ज्यादा पुलिसकर्मी बिना मास्क का प्रयोग किये जमकर किया अपने थानेदार का विदाई समारोह लखनऊ

       बता दे की किशन यादव हत्याकांड के बाद एसपी जौनपुर में वशिष्ट यादव को एसपी कार्यालय से थानाध्यक्ष बक्सा बनाया


था करीब 3 महीने के कार्यकाल के बीत जाने के बाद बीती रात एसपी जौनपुर नेआधा दर्जन उप निरीक्षकों की कार्यक्षेत्र में फेरबदल किया उसी क्रम में आज दोपहर विदाई समारोह में कानून के रखवाले ने जमकर तोड़ी कोविस प्रोटोकाल की धज्जियां,सबसे बड़ा सवाल है जब कानून के रखवाले ही इन प्रोटोकाल को नहीं मानते हैं तो आम जनता से कैसे नियमो का पालन कराया जाएगा ये सबसे बड़ा सवाल है,जब आम जनता सड़क पर बिना मास्क के मिलती है तो एक हजार रुपये के चालान की रसीद हांथ में थमा दी जाती है अब देखना ये है जौनपुर के तेज तर्रार पुलिस कप्तान राज करन नय्यर इन पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही करते है कि फिर इस तरह की लापरवाही को ठंडे बस्ते में डाल कर नजरअंदाज किया जाएगा.

प्रेमी जोड़े का शव नाले में मिलने से सनसनी,

जौनपुर-जिले के सरपतहां थाना क्षेत्र के सदरुद्दीनपुर गांव में उस समय हड़कम्प मच गया जब गांव के कुछ लोगो ने प्रेमी युगल का शव संदिग्ध हाल में देखकर पुलिस को सूचना दी सूचना पहुँची पुलिस ने शव की जाँच की जिसमे प्रथम दृष्टया जहर खाने की बात आ रही है सामने,आज सुबह दोनों का शव गांव के बाहर नाले में बरामद हुआ। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव कब्जे में लेकर छानबीन में जुट गई है। 

     बता दें कि जिले के सरपतहां थाना क्षेत्र के सदरुद्दीनपुर गांव निवासी एक युवक जिसकी उम्र लगभग (21) का गांव की ही एक युवती जिसकी उम्र लगभग (19) से बहुत दिनों से प्रेम संबंध चल रहा था। दोनों शादी भी करना चाहते थे, लेकिन घर वाले तैयार नहीं थे। रविवार की रात खाना खाने के बाद युवती अपने कमरे में सोने चली गई। सुबह वह कमरे में नहीं दिखी तो घरवालों ने खोजबीन शुरू की।

पता चला कि युवक भी रात से ही लापता है। परिजन दोनों की तलाश कर रहे थे, इसी बीच गांव के बाहर सूखे नाले में दोनों का शव पड़ा होने की सूचना मिली। मौके पर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर थाने ले आई,इंस्पेक्टर जय प्रकाश सिंह ने बताया कि शव पर कोई चोट के निशान नहीं है और न ही मौके पर ही कुछ मिला है। आशंका है कि दोनों ने जहर खाकर जान दी है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह स्पष्ट हो पाएगा। दोनों के घरवालों से पूछताछ की जा रही है

सी0ओ 0 खड्डा व एक्साइज इंस्पेक्टर के नेतृत्व में एस0एच्0ओ 0 ने मय फ़ोर्स शराब की दुकानों पर की ताबड़तोड़ छापेमारी। ........................... पुलिस व आबकारी विभाग की संयुक्त कार्रवाई में शराब माफियाओं में दहशत का माहौल

 


.लखनऊ- प्रदेश के कुशीनगर जनपद के खड्डा पुलिस क्षेत्राधिकारी व आबकारी निरीक्षक के नेतृत्व में एस0 एच0ओ खड्डा ने मय फोर्स क्षेत्र की कई दुकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की ।छापेमारी के दौरान सी 0ओ 0 खड्डा शिवाजी सिंह ने कड़े शब्दों में कहा कि यदि कहीं भी अवैध शराब  व मादक पदार्थों की बिक्री की सूचना मिली तो ऐसे समाज विरोधी तत्वों के विरुद्ध पुलिस कड़ाई से पेश आएगी ।उन्होंने हिदायत दी कि समाज विरोधी कार्य में लिप्त ऐसे लोग या तो अपना कारोबार बदल दे या तो क्षेत्र के बाहर  हो ले ,अन्यथा की स्थिति में शासन के निर्देश के क्रम में  ऐसे समाज विरोधी तत्वों को चिन्हित कर पुलिस उनके  साथ कड़ाई से पेश आएगी।

पुलिस क्षेत्राधिकारी  शिवाजी सिंह  व आबकारी विभाग की टीम ने स्थानीय पुलिस के साथ शराब की दुकानों पर स्टॉक और रेट की गहनता से छानबीन की, साथ में  हिदायत भी दिया कि यदि निर्धारित दर से अधिक शराब की बिक्री की सूचना मिली  तो उसके विरुद्ध  कठोर कार्रवाई की जाएगी। छापेमारी के दौरान आबकारी विभाग व पुलिस टीम का नेतृत्व कर रहे क्षेत्राधिकारी खड्डा  शिवाजी सिंह ने, शराब की दुकानों पर मौजूद  सेल्समैनो  को हिदायत दिया  कि कोविड-19 के नियमों का अक्षरश:  पालन हो। बता दे की पुलिस उपाधीक्षक  शिवाजी सिंह की हाल ही में  इंस्पेक्टर से डिप्टी एसपी पद पर पदोन्नति हुई है,  और वे मूलतः जनपद जौनपुर के केराकत तहसील क्षेत्र के सेनापुर गांव के निवासी है।


एसपी जौनपुर ने विनोद सिंह का बढ़ाया रुतबा दी बक्शा की कमान तो रामप्रवेश का ओहदा घटाते हुए बनाया मछलीशहर का वरिष्ठ उप निरीक्षक व श्री प्रकाश राय होंगे गौराबादशाहपुर नए थानाध्यक्ष

जौनपुर-एसपी राज करन नय्यर ने जिले में कानून व्यवस्था को सुदृण बनाने के लिए एवं अपराध व एवं अपराधियों पर प्रभावी नियंत्रण बनाए रखने जाने के दृष्टिगत आधा दर्जन निरीक्षक व उप निरीक्षकों के कार्य क्षेत्र में किया भारी फेरबदल।

लिस्ट इस प्रकार से है-

1-विनोद सिंह को व0उ0नि0 लाइन बाज़ार से थानाध्यक्ष बक्शा

2-वशिष्ट यादव को प्रभारी निरीक्षक बक्शा से पुलिस कार्यालय,

3-भरत कुमार गौतम वाचक पुलिस अधीक्षक से प्रभारी सर्विलांस

4-उ0नि0 राणा प्रताप पेशी कला पु0अ0 थानाध्यक्ष मीरगंज,

5-उ0नि0श्री प्रकाश राय थानाध्यक्ष मीरगंज से थानाध्यक्ष गौराबादशाहपुर,

6-उ0नि0राम प्रवेश कुशवाहा को थानाध्यक्ष गौराबादशाहपुर से व0उ0नि0 मछलीशहर बनाया गया है।

निजी अस्पतालों के गले की फांस बनी कोरोना मरीजों से लूट,एल1 व एल2 अस्पतालों के बिल बाउचर अटके,डीएम मरीजों व तीमारदारों से कराएंगे पूछताछ, होगी जांच।


कुँवर दीपक सिंह 

जौनपुर। जिले के डेढ़ दर्जन से अधिक कोविड 19 के लिए अधिग्रहीत निजी अस्पतालों के बिल बाउचर जिला प्रशासन ने बीच मझधार में लटका दिया है, फिलहाल हुआ यह कि जब कोरोना ने पूरे देशभर में जब अपने चरम पर था तबाही मचा रहा था उस दौरान ऑक्सीजन, रेमडीसीवीर इंजेक्शन, बेड और तमाम दवाओं की कालाबाजारी भी चरम पर थी। बहती नदी में निजी अस्पताल भी हाथ धोने की बजाय नहाना शुरू कर दिए। इसी दौरान जागरूकता के मद्देनर पोल खोलो अभियान शुरू कर दिया।प्रशासन सख्त हुआ तो स्थिति नियंत्रण में आने लगी लेकिन कुछ निजी चिकित्सक लूट खसोट से बाज़ नहीं आए, अब वही लूट उनके गले की फांस बन गई है।


ध्यान रहे कि अप्रैल व मई मध्य तक कोरोना ने जमकर तबाही मचाई। चारो ओर हाहाकार मच गया। अस्पतालों, दवा की दुकानों से लेकर श्मशान तक कफ़न खसोटी जारी थी। दाह संस्कार के लिए जो लकड़ी 400 रुपए मन यानी 40 किलो थी वह 1200 रुपये में भी नहीं मिली, यहां तक कि आग के लिए शवों की कतार लगी रही। दूसरी ओर कोरोना का परफेक्ट इलाज किसी को नहीं पता, ऐसे में नकली रेमडेसीवीर इंजेक्शन 20-20 हजार रुपये में बिकने लगे वह भी इन्हीं अस्पतालों से जुड़े दलालों के जरिए। इसी तर्ज पर ऑक्सीजन सिलेंडर भी चल पड़ा। दलालों की फौज मैदान में थी। आम आदमी मरता क्या न करता वाली हालत में अपने परिजन की जान बचाने को जेवर जमीन गिरवी रखकर धरती के कथित भगवानों के आगे गिड़गिड़ा रहा था। अब सबकुछ देकर भी वह जान बचाने की भीख मांग रहा था ऐसे में वह उन अस्पतालों से किसी दवा, इंजेक्शन, ऑक्सीजन की रसीद कैसे मांगता लेकिन स्वास्थ्य विभाग लिखित शिकायतों का इंतजार करता रहा। कुछ ने रसीद मांगी तो उनके मरीजों को ही निकाल दिया गया।

हालांकि उस दौरान 24upnews ने सीएमओ, डिप्टी सीएमओ, प्रशासनिक अफसरों से पूछा तब पता चला कि अधिग्रहीत अस्पतालों को तीन रेट 4800, 7800 और नौ हजार रुपये लेने के अधिकार शासन की ओर से प्रशासन ने दिए थे। कहा था कि इससे अधिक रकम यदि भर्ती मरीज से ली गई तो शिकायत पर कार्रवाई होगी। हर दो घण्टे में सभी अस्पतालों को डिस्प्ले देना था कि कितने बेड खाली हैं। मरीजों की हालत कैसी है ताकि आमजन को भी समुचित जानकारी मिले पर ऐसा किसी अस्पताल में नहीं हुआ। कई अस्पतालों में तो लाखों हजारों रुपये रोज लिया जाता रहा। बाकी चीजों का कृतिम आभव ऐसा बनाया गया था कि तमाम लोग दहशत में भी मरने लगे।

स्वास्थ्य सूत्रों के मुताबिक अब जब कोरोना की रफ्तार धीमी होने लगी तब अस्पतालों के बिल जिला प्रशासन तक पहुंचने लगे। यानी मरीजों को लूटा और अब सरकार को भी चपत लगाने के कागज़ देना शुरू किया लेकिन डीएम ने एहतियात बरतते हुए पारदर्शिता के तहत रोक लगा दिया यह कहकर कि जब तक रेंडम मरीजों , तीमारदारों जो पूर्व में भर्ती थे उनको दिए गए बिल या भुगतान से मिलान नहीं कर लिया जाता है तबतक कोई बाउचर नहीं पास होगा।

आक्सीजन प्लांट के कंटेनर वाहन के चालक से देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मनकी बात पर की वार्तालाप

जौनपुर-जिले के मडियाहूँ तहसील क्षेत्र के ग्राम हसनपुर जमूआ निवासी दिनेश उपाध्याय पुत्र बाबूलनाथ उपाध्याय जो मध्यप्रदेश के जिला रायगढं मे स्थित सकारी आक्सीजन प्लांट पर आक्सीजन का कन्टेनर वाहन चलाता है।

   उसके पास शनिवार को साम 6-00 बजे के आसपास मोबाईल पर एक फोन आया फोन पर फोन करने वाले ने अपना परिचय बताया की मैं देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र कुमार मोदी जी का पी.ए. बोल रहा हूँ। और कहां कि रविवार को समय10 बजे आप के मोबाईल पर दिन में मनकी बात पर आप से प्रधानमंत्री बात करेंगे।

  रविवार को सुबह 10-00 बजे ठीक मोबाइल की घंटी बजी मैने मोबाईल को आन किया तो दुसरी तरफ से प्रधानमंत्री ने अपना परिचय कराते हुये। मेरा नाम पिता का नाम प्रदेश व पैत्रिक स्थान की जानकारी ली उसके उपरांत मेरे नौकरी की जानकारी लेते हुये।उन्होंने कहां की कोरोना जैसी महामरी के समय जब देश के आवाम आक्सीजन के लिये बेहाल थे अस्पतालों में आक्सीजन नहीं के बराबर थी उस समय मेरे द्वारा रात दिन जाग कर अस्पतालों को प्लांट से कन्टेनर वाहन चला कर आक्सीजन पहुंचाने का कार्य किया, प्लेन,  से भी जगह जगह आक्सीजन पहुंचाया उसी को मद्देनजर रखते हुये प्रधानमंत्री ने मेरे द्वारा किये गये कुशल कार्यों की सराहना करते हुये बहोत सारी बधाईयां दी।और साथ ही अपना नीजि मोबाइल नम्बर भी दिया ।

साथ साथ यह भी कहा की भविष्य मे तुम्हें को भी परेशानी अथवा आवश्यकता हो तो निःसंकोच मुझसे बात कर सकते हो।

 मेरे द्वारा लिये गये शिक्षा व परिवार की भी डिटेल में जानकारी ली। 

मै अपने गांव हशनपुर जमूआ में स्थित जनता जनार्दन इण्टर कालेज से इण्टर मिडियट करने के उपरांत आज लगभग 18 वर्ष से आक्सीजन प्लांट का कंटेनर वाहन चला रहा हूं।

     मेरे परिवार में मेरे पिता बाबूलनाथ उपाध्याय, माता कलावती देवी,हम चार भाई है मेरे तीन भाई घर पर ही खेती करते मै ही मध्यप्रदेश के जिला रायगढं मे सरकारी आक्सीजन प्लांट का कन्टेनर वाहन चलता हुं। मेरी पत्नी निर्मला देवी व मेरे तीन बच्चे जो मेरे माता पिता के साथ गांव मे ही रहते है।

पिता बाबूलनाथ उपाध्याय से बात करने पर उन्होंने कहां कि मेरे पुत्र दिनेश ने मेरा सर गर्व से उचा कर दिया। घर से लेकर पूरे गांव मे मिठाईयां बाटी जा रही है गांव मे खुशी का माहौल बना हुआ है।

कपिल देव सिंह संवाददाता

जौनपुर सहित प्रदेश के 20 जिले में अभी भी रहेगा लॉक डाउन

जौनपुर। आज प्रदेश सरकार ने प्रदेश के 55 जिले को कोरोना कर्फ्यू से राहत मिलेगी लेकिन जौनपुर समेत 20 जिलो में अभी लाॅकडाउन चलता रहेगा। उत्तर प्रदेश शासन ने पांच से छह सौ केश वालों जिलो में अभी पाबंदिया लागू रखने का एलान किया है। 

सम्भावना है कि अभी 15 दिन में कोरोना का संक्रमण का प्रभाव समाप्त हो जायेगा। उसके बाद ही जनता को राहत मिलेगी। 

एसपी ने देर रात 3 साल से ज्यादा समय तक रहने वाले दर्जनों आरक्षियों व मु0आरक्षियों के कार्य क्षेत्र में किया भारी फेरबदल

जौनपुर-देर रात एसपी राजकरन नय्यर ने ने जिले के सभी थानों में 3 साल से ज्यादा समय तक रहने वाले दर्जनों आरक्षियों व मु0आरक्षियों के कार्य क्षेत्र में किया भारी फेरबदल


24UPNEWS परिवार की तरफ से अरविंद सिंह प्रबन्धक जी माउंट लिट्रा को जन्मदिन की ढेर सारी बधाई व शुभकामनाएं


24UPNEWS परिवार की तरफ से अरविंद सिंह प्रबन्धक जी माउंट लिट्रा को जन्मदिन की ढेर सारी बधाई व शुभकामनाएं

बेखौफ बदमाशो ने चिकित्सक को गोली मारकर उतारा मौत के घाट,


जौनपुर बदलापुर कोतवाली क्षेत्र के पूरामुकुन्द गांव निवासी निजी चिकित्सक फौजदार प्रजापति उम्र करीब 45 वर्ष  बदलापुर के पुरानी बाजार मे अपनी दवा की दुकान बंद कर बाइक से घर वापस जा रहे थे ।

     जिले के बदलापुर थाना क्षेत्र के पूरामुकुन्द के।रहने वाले फौजदार प्रजापति प्रतिदिन की तरह बीती रात भी अपनी दवा की दुकान को बंद करके अपने गांव के समीप पहुंचे थे कि जहां  पहले से ही घात लगाए हौसला बुलंद बाइक सवार अज्ञात बदमाशों ने उनपर गोलियां बरसा दी जहा फैजदार सड़क पर गिरकर लहूलुहान हो गए आनन-फानन मे स्वजनो ने जिसे लेकर बदलापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे डाक्टर ने देखते ही मृत्यु घोषित कर दिया। सूचना मिलते ही मौके पर बदलापुर प्रभारी निरीक्षक पवन उपाध्याय पुलिस बल के साथ पहुंचकर छानबीन मे जुटे हुए है। 

वही परिजनो की माने तो वह पुरानी रंजिश को लेकर हत्या की बात कह रहे है। घटना से गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है।

डीएम और एसपी ने जिला जेल का किया औचक निरीक्षण कोविड-19 के अनुपालन हेतु दिया आवश्यक दिशा निर्देश

 


जौनपुर;--जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक राजकरन नय्यर द्वारा जिला जेल का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान देखा गया कि किसी कैदी के पास आपत्तिजनक   वस्तु तो नही है, गहन छानबीन के उपरांत जिला जेल में कुछ भी आपत्तिजनक नही मिला। कोविड  19 के प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है। कैदियों की प्रत्येक दूसरे दिन कोरोना टेस्ट कराया जाता है एवं उनका टीकाकरण किया जा चुका है। 

इस अवसर पर जेलर राजकुमार जेल अधीक्षक एस. के पांडे उपस्थित रहे।


अवैध असलहे से चली गोली, युवक की मौत, पुलिस मामले की जांच में जुटी मौके पर अफरा-तफरी का माहौल

 


 जौनपुर-जनपद के बदलापुर थाना क्षेत्र के छगा पुर गांव में  बीती रात दावत के दौरान अवैध असलहे से असावधानी चली गोली से युवक की मौत हो गई ।मौके पर पहुची पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है।  प्रथम दृष्टया पुलिस की जांच में आया की  कहीं से खरीदे गए अवैध तमंचा देखते समय गोली चल गई।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बदलापुर थाना क्षेत्र के छंगापुर गांव के निवासी दुखहरन सिंह के कुछ रिश्तेदारों के आने पर दावत की व्यवस्था थी। 

     बता दे की   दुखहरन सिंह के 27 वर्षीय पुत्र मुकेश सिंह व उसका चचेरा भाई राहुल सिंह तमंचा देख रहे थे। इसी बीच असावधानीवश चल गई गोली मुकेश सिंह के सीने में बाईं तरफ लग गई। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना से अफरा-तफरी मच गई। परिजन रोने-बिलखने लगे। खबर लगते ही थाना प्रभारी निरीक्षक पवन उपाध्याय पहुंचकर मौके पर सहयोगियों के साथ पहुंचकर छानबीन में जुट गए। उन्होंने घटना की सूचना उच्चाधिकारियों को दी। रात में ही अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) त्रिभुवन सिंह व पुलिस उपाधीक्षक चोब सिंह भी घटनास्थल पर आ गए। मृतक के परिजनों से पुलिस अधिकारियों ने घटना के बारे में गहन पूछताछ की। प्रभारी निरीक्षक ने का कहना है कि गोली 315 बोर के तमंचे से चली है। तहरीर मिल गई है। शव को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। पुलिस को छानबीन में पता चला है कि तमंचा कहीं से खरीदा गया था। मुकेश व चचेरा भाई राहुल उसे देख रहेे थे, इसी बीच लापरवाही के चलते गोली चल गई। इस पूरे मामले में क्षेत्राधिकारी बदलापुर ने बताया  शव को कब्जे में लेकर शव को कब्जे में लेकर मिली तहरीर के मुताबिक विधिक कार्यवाही संपादित की जा रही है।

अनियंत्रित तेज रफ्तार टवेरा की चपेट में आने से युवक की मौत


जौनपुर-बक्शा थाना क्षेत्र के राष्ट्रीय राज्यमार्ग लखनीपुर गांव के पास सड़क के मध्य डिवाइडर पर बैठे एक 40 वर्षीय युवक की टवेरा वाहन की चपेट में आने से मौके पर मौत हो गई। उधर घटना के बाद टवेरा चालक वाहन सहित भाग जाने में सफल रहा। बदलापुर थाना क्षेत्र के सरोखनपुर गांव निवासी सतीश कुमार निगम उर्फ नाटे पुत्र देवीप्रसाद सुबह करीब 9 बजे लखनीपुर के पास सड़क के मध्य डिवाइडर पर बैठ कही जाने की फिराक में था। उसी दौरान जौनपुर की तरफ जा रही तेजगति से टवेरा चालक अनियंत्रित होकर डिवाइडर पर वाहन चढ़ा दिया। उसी डिवाइडर पर सामने बैठे सतीश जब तक सँभल पाते टवेरा उन्हें रौंदते हुए पुनः सड़क पर आ गई। मौका देख चालक वाहन सहित फरार हो गया। स्थानीय लोगों ने मौके पर पहुँच एम्बुलेंस व पुलिस को फोन किये। सूचना पर पहुँचे पुलिसकर्मियों ने सतीश को बक्शा नौपेड़वा सीएचसी अस्पताल ले गए जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। पुलिसकर्मियों ने मृतक के पास से मिले पहचान पत्र से पहचान कर परिजनों को सूचना दी। पुलिस शव को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्यवाही में जुट गई है।

दावत खाने गए युवक की संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत

जौनपुर-जिले के बदलापुर थाना क्षेत्र के छगापुर गांव में दावत के दौरान संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से एक युवक की मौत हो गई। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। आरंभिक छानबीन के आधार पर पुलिस का कहना है कहीं से खरीदे गए अवैध तमंचा देखते समय गोली चल गई।

        बता दें कि जिले के बदलापुर थाना क्षेत्र के छंगापुर गांव के निवासी दुखहरन सिंह के कुछ रिश्तेदारों के आने पर दावत का इंतजाम किया गया था।  दुखहरन सिंह के 27 वर्षीय पुत्र मुकेश सिंह व उसका चचेरा भाई राहुल सिंह तमंचा देख रहे थे। इसी बीच असावधानीवश चल गई गोली मुकेश सिंह के सीने में बाईं तरफ लग गई। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। घटना से अफरा-तफरी मच गई। परिजन रोने-बिलखने लगे। खबर लगते ही थाना प्रभारी निरीक्षक पवन उपाध्याय पहुंचकर मौके पर सहयोगियों के साथ पहुंचकर छानबीन में जुट गए। उन्होंने घटना की सूचना उच्चाधिकारियों को दी। रात में ही अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) त्रिभुवन सिंह व पुलिस उपाधीक्षक चोब सिंह भी घटनास्थल पर आ गए। मृतक के परिजनों से पुलिस अधिकारियों ने घटना के बारे में गहन पूछताछ की। प्रभारी निरीक्षक ने का कहना है कि गोली 315 बोर के तमंचे से चली है। तहरीर मिल गई है। शव को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्रवाई की जा रही है। छानबीन में पता चला है कि तमंचा कहीं से खरीदा गया था। मुकेश व चचेरा भाई राहुल उसे देख रहेे थे, इसी बीच लापरवाही के चलते गोली चल गई।

रेलवे ट्रैक पार करते समय ट्रेन से कटकर युवक की मौत


जौनपुर-जिले के बक्शा थाना क्षेत्र के शिवगुलामगंज रेलवे क्रासिंग के समीप शुक्रवार की रात्रि ट्रेन से कटकर युवक की मौत हो गई। सूचना पर पहुँची पुलिस ने शव को कब्जे में लेते हुए पीएम हेतु भेज दिया। थाना क्षेत्र के चकपटैला गांव निवासी 38 वर्षीय अरविंद यादव रात्रि में रेलवे लाइन पार कर रहें थें उसी समय ट्रेन की चपेट में आ जाने से अरविंद की मौत हो गई। सूचना पर पहुँची पुलिस ने घटना की सूचना परिजनों को देते हुए पीएम हेतु भेज दिया।

ग्रामीणों और महंतों के समर्थन से बालक दास कुटी का शिवमुनि दास को प्रबंधक मठाधीश बनाया गया


जौनपुर-जिले के मड़ियाहूं तहसील के ग्राम पंचायत मोकलपुर के बाबागंज में स्थित बाबा बालक दास कुटी पर उत्तराधिकारी का विवाद अंततःहुआ खत्म कपिल चौरा मठ के मठाधीश विवेक दास के निर्देश पर सभी ग्राम वासियों और अन्य महंतों के समर्थन से शिव मुनि दास को प्रबंधक मठाधीश बनाया गया ।आपसे बता दें कि इस मठ पर काफी दिनों से उत्तराधिकारी को लेकर के बाद विवाद चल रहा था। जिसमें प्रथम पक्ष कपिल चौरा मठ के मठाधीश विवेक दास के नेतृत्व में शिव मुनि दास को प्रबंधक मठाधीश बनाए जाने का प्रस्ताव रखा गया था लेकिन एक अराजक तत्व जो अपने आप को महंत बताकर और इस मठ का उत्तराधिकारी बताकर जिसका नाम अनिल दास है के बीच में काफी दिन से विवाद चल रहा था। जिसमें मड़ियाहूं प्रशासन  संज्ञान में लेते हुएआज 28 तारीख को भंडारे का आयोजन किया गया था ।जिसमें उप जिलाधिकारी मड़ियाहूं मंगलेश दुबे ने यह निर्देश दिया था कि पहले आप भंडारे का कार्य पूरा करें। उसके बाद अपने-अपने पेपर दिखाए । उसके बाद फैसला लिया जाएगा । जिस पर विवेक दास जो कि कपिल चौरा कबीरपंथी मठ के संचालक है उन्होंने अपना कागजात पेश किया लेकिन मौके पर अनिल दास मौजूद नहीं थे। इस पर सारे लोग की सहमति से और मड़ियाहूं कोतवाली के प्रशासन इंस्पेक्टर घनश्याम शुक्ला , दीवान अनिल सिंह दीवान कालिका यादव दीवान बबूल और पूरे मैं फोर्स के उपस्थिति में शिव मुनि दास को प्रबंधक मठाधीश बनाया गया।

किसान फसल की बुवाई से पहले भूमिशोधन/बीजशोधन अवश्य करें-जिला कृषि रक्षा अधिकारी


जौनपुर-खरीफ अभियान के तहत शासन के निर्देशानुसार भूमिशोधन/बीजशोधन कार्यक्रम का विशेष अभियान चलाकर फसलों को भूमिजनित तथा बीजजनित रोगों से बचाया जाना है ताकि स्वस्थ एवम् रोगमुक्त फसल तथा अधिक उत्पादन प्राप्त किया जा सके। इस क्रम में जिला कृषि रक्षा अधिकारी राजेश कुमार राय ने जनपद के किसान भाइयों को सलाह दी है कि वे खरीफ फसलों में लगने वाले विभिन्न रोगों से बचाव हेतु निम्न विवरण के अनुसार बीजशोधन कार्य अवश्य करें साथ ही भूमिजनित रोगों से बचाव हेतु फसल की बुवाई करने से पूर्व भूमिशोधन भी अवश्य करें।

       बीज जनित रोगों से आगामी बोई जाने वाली फसल के बचाव हेतु बीजशोधन का अत्यधिक महत्व है। “उपचार से बचाव बेहतर है“ की अवधारणा का पालन कर ”बीजशोधन” द्वारा फसल की रोगों से सुरक्षा कर अधिक पैदावार ली जा सकती है जिससे कृषकों की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी। फसल का नाम, रोग का नाम, बीजशोधन प्रक्रिया से उपचार, धान, बीज जनित रोग थीरम 3 ग्राम या कार्बेण्डाजिम 2 ग्राम या ट्राइकोडरमा 5 ग्राम प्रति कि0ग्रा0 बीज के लिये, धान जीवाणु धारी/ जीवाणु झुलसा, 4 ग्राम स्ट्रेप्टोसाइक्लीन 25 कि0ग्रा0 बीज के लिये, अरहर उकठा रोग ट्राइकोडरमा 5 ग्राम प्रति कि0ग्रा0 बीज के लिये, अरहर बीज जनित रोग थीरम 3 ग्राम या कार्बेण्डाजिम 2 ग्राम प्रति कि0ग्रा0 बीज के लिये, उर्द/मूॅग बीज जनित रोग कार्बेण्डाजिम 2 ग्राम प्रति कि0ग्रा0 बीज के लिये, मक्का/ज्वार/बाजरा बीज जनित रोग थीरम 3 ग्राम या कार्बेण्डाजिम 2 ग्राम प्रति कि0ग्रा0 बीज के लिये, विभिन्न फसल दीमक से बचाव हेतु क्लोरपाइरीफाॅस 20 प्रतिशत 4 मि0ली0 प्रति कि0ग्रा0 बीज के लिये

        उक्त की अधिक जानकारी हेतु अपने निकटतम कृषि रक्षा इकाई के प्रभारी, ए0डी0ओ0(एजी0) या जनपद मुख्यालय पर जिला कृषि रक्षा अधिकारी से सम्पर्क करें।

कृत्रिम अंग व सहायक उपकरण के लिये आवेदन करें दिव्यांगजन


जौनपुर। जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी सुरेश मौर्य ने जनपद के समस्त दिव्यांगजनों को अवगत कराया कि दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग द्वारा संचलित कृत्रिम अंग/सहायक उपकरण योजनान्तर्गत ऐसे पात्र दिव्यांगजन जिनकी मुख्य चिकित्साधिकारी द्वारा प्रदत्त दिव्यांगता प्रमाण पत्र जो न्यूनतम 40 प्रतिशत से कम न हों, आय प्रमाण पत्र, सक्षम प्राधिकारी/तहसीलदार द्वारा निर्गत, आधार कार्ड, दिव्यांगता दर्शाती फोटो आदि अभिलेखीय साक्ष्यों की स्वप्रमाणित छाया प्रति के साथ सहायक उपकरण (ट्राईसाइकिल, बैसाखी, व्हीलचेयर, नेत्रहीन छड़ी आदि) हेतु पात्र एवं इच्छुक दिव्यांगजनों के आवेदन पत्र आमंत्रित किये जाते हैं। इच्छुक आवेदक आवेदन पत्र कार्यालय जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी विकास भवन स्थित से किसी भी कार्य दिवस में प्राप्त प्राप्त करके सायंकाल 5 बजे तक जमा कर सकते हैं। चयन शासनादेश/गाइडलाइन एवं पात्रता के आधार पर किया जायेगा।

सिटी कोतवाली पुलिस ने दो शातिर चोर को किया गिरफ्तार , कब्जे से चोरी की दो मोटर साइकिल व 230 ग्राम नशीला पाउडर बरामद

जौनपुर- एसपी जौनपुर राज करन नय्यर के द्वारा अपराध एवं अपराधियो के विरुद्ध चलाये गये अभियान के तहत अपर पुलिस अधीक्षक नगर  व क्षेत्राधिकारी नगर के पर्यवेक्षण एवं दिशा निर्देशन में प्रभारी निरीक्षक संजीव कुमार मिश्र मय हमराह फोर्स,उ0नि0 विवेक कुमार तिवारी मय हमराह व उ0नि0 चन्दन कुमार राय मय हमराह फोर्स के किला रोड तिराहा- मानिक चौक रोड पर आपस मे अपराध एवं

अपराधियों के सम्बन्ध मे वार्ता कर रहे थे कि जरिये मुखबीर खास सूचना प्राप्त हुई कि 02 शातिर चोर, चोरी की 02 मोटर साइकिल व नशीला पाउडर के साथ बेचने हेतु जा रहे है। यदि जल्दी किया जाय तो पकडा जा सकता है। मुखबीर खास की इस सूचना पर विश्वास कर हम पुलिस बल द्वारा उनके आने वाले रास्ते पर घेराबन्दी कर अभि0गण  1. वीरु गौतम पुत्र महेन्द्र गौतम नि0 सपही थाना रामपुर ,जौनपुर 2. योगेश पुत्र दयाशंकर गौतम नि0 बाबागंज थाना मङियाँहू,जौनपुर को पकङ लिया गया । पकङे गये अभियुक्तगण के पास से चोरी की 02 मोटर साइकिल  तथा 230 ग्राम सफेद नशीली पाउडर बरामद हुआ। जिसके सम्बन्ध मे थाना स्थानीय पर मु0अ0सं0- 140/21  धारा 41/411/414 भादवि0 तथा मु0अ0सं0- 141/21 ,142/21 धारा-8/22 एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत कर विधिक कार्यवाही की जा रही है।  

*गिरफ्तार अभियुक्तों  का नाम व पता-*

 1. वीरु गौतम पुत्र महेन्द्र गौतम नि0 सपही थाना रामपुर ,जौनपुर उम्र 21 वर्ष

 2. योगेश पुत्र दयाशंकर गौतम नि0 बाबागंज थाना मङियाँहू,जौनपुर, उम्र 20 वर्ष

*बरामदगी-*

1. T.V.S. STAR रंग नीला रजिस्ट्रेशन नं0- UP 62 L7581 , जिसका इ0नं0- 51122989 व चेचिस नं0- MB625KF585IP15403

2. बिना नम्बर हीरो होण्डा पैशन रंग काला , चेचिस नं0-02B21C37258 व इ0नं0-05CO8M3339

 3-230 ग्राम नशीला पाउडर(डायजापाम)

*अपराधिक इतिहास अभियुक्त वीरु गौतम-*

1. मु0अ0सं0 695/21 धारा 41/411 भादवि थाना  कोतवाली,जौनपुर।

2. मु0अ0सं0 599/19 धारा 379  भादवि थाना लाइन बाजार,जौनपुर।

3. मु0अ0सं0 140/21  धारा 41/411/414 भादवि थाना कोतवाली,जौनपुर।

4. मु0अ0सं0 141/21 धारा 8/22 एनडीपीएस एक्ट भादवि थाना कोतवाली, जौनपुर।

*आपराधिक इतिहास अभियुक्त  योगेश गौतम*-

1. मु0अ0सं0 694/19 धारा 3/25  भादवि थाना  कोतवाली,जौनपुर।

2. मु0अ0सं0 695/21 धारा 41/411 भादवि थाना  कोतवाली,जौनपुर।

3. मु0अ0सं0 599/19 धारा 379  भादवि थाना लाइन बाजार,जौनपुर।

4. मु0अ0सं0 140/21  धारा 41/411/414 भादवि थाना कोतवाली,जौनपुर।

5. मु0अ0सं0 142/21  धारा-8/22 एनडीपीएस एक्ट भादवि थाना कोतवाली, जौनपुर।

*गिरफ्तार करने वाली पुलिस  टीम-*

1.प्र0नि0 संजीव कुमार मिश्र प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली जौनपुर।

2.उ0नि0 विवेक कुमार तिवारी चौकी प्रभारी भण्डारी थाना कोतवाली जौनपुर।

3.उ0नि0 चन्दन कुमार राय प्रभारी चौकी राजकालेज,थाना कोतवाली,जौनपुर।

4.हे0का0अभयनारयण सिंह, हे0का0 पंकज पुरी ,हे0का0 दिलीप कुमार सिंह, हे0का0 अमित कुमार सिंह, का0 सत्यप्रकाश सिंह,का0 पप्पू प्रकाश गौङ,का0 विनयशंकर,का0 अंकित कुमार सिंह ,का0 अजय कुमार,थाना कोतवाली,जौनपुर।


केराकत के औरी अंडर पास बना वाटर पार्क ,राहगीरो की बड़ी मुश्किलें, हल्की बारिश ने खोली जिला प्रशासन की पोल


जौनपुर-जिले के केराकत विधानसभा के औरी में बने अंडर पास में पानी भर जाने से राहगीरो को आने जाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। बता दे कि इसके पहले भी कई बार अंडर पास में पानी भरने की खबर मीडिया की सुर्खियां बनी रही जबकि तीन जिलों को जोड़ने वाला केराकत मार्ग  पर रोजाना लगभग हजारो लोग यात्रा करते हुए आज़मगढ़, गाजीपुर व वाराणसी जाते है। ऐसे में औरी अंडर पास लोगों के लिए बरसात के दिनों ने मुश्किलो भरा सफर हो रहा है। राहगीरो से सवाल करो तो एक ही बात कह रहे हैं कि रेलवे क्रांसिंग से लोगों को निजात दिलाने के लिये अंडर पास  बनवाया गया अब वही अंडर पार्क बरसात के दिनों में सबसे बड़ी परेशानियों का सबक बन गया है। अब सबसे बड़ा सवाल की प्रदेश सरकार करोड़ो रूपये खर्च कर के  अंडर पास तो बना दी पर अंडर पास बनवाने से पहले जल निकासी कैसे की जाय इस पर विचार क्यो नही किया गया ?यह सवाल पूछे तो आखिर किससे पूछे? क्या किसी कर्मचारी, अधिकारी व जनप्रतिनिधि की निगाह पानी से भरे अंडर पास पर नही पड़ रही ? क्या आम जनता बरसात के दिनों में अपनी जान को जोखिम में डाल कर यात्रा करने को मजबूर होगी?

किस बात को लेकर ग्राम पंचायत की पहली बैठक में जमकर चले लाठी,बेल्ट व कुर्सी तोड़ मारपीट,एक्ससीलुसिव



जौनपुर में ग्रामपंचायत की पहली बैठक में ही मामूली विवाद को लेकर जमकर घमासान हुआ , दो पक्षों में जमकर कुर्सियो से वार हुआ , लाठियां बरसाई गई और ईट पत्थर फेंके गए। इस वारदात में आधा दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए है , बैठक में शामिल महिला सदस्य किसी तरह से भागकर अपनी जान बचायी, दोनों पक्षो की तहरीर लेकर पुलिस कार्रवाई में जुट गई है । 

   बता दें कि पूरा मामला जिले में नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों को 26 और 27 मई को शपथ दिलाई गई , उसके बाद ग्राम पंचायतो में विकास को गति देने के लिए गुरुवार को समितियों के गठन के लिए बैठक बुलाई गसी थी , इसी कड़ी में सुजानगंज ब्लाक के पतहना ग्राम पंचायत की बैठक प्राथमिक स्कूल पर बुलाई गई थी ,  बैठक में कुल 11 सदस्यों में से सिर्फ 04 सदस्य ही उपस्थित हुए जिससे कोरम के अभाव में सचिव राम बहादुर ने प्रधान की सहमति से बैठक स्थगित करते हुए अगली तिथि पर बैठक कराने की बात कही। तत्पश्चात मौके पर उपस्थित गांव के लोगो ने इसका विरोध किया तो देखते ही देखते स्कूल परिसर युद्ध का मैदान बन गया ,दोनों तरफ से  लाठी-डंडे और कुर्सियां चलने लगा ,  इस वारदात में दोनों तरफ से आधा दर्जन लोग चोटिल हो गए है ।
 इस मामले पर एसपी देहात त्रिभुवन सिंह ने बताया कि दोनों तरफ से तहरीर लेकर जांच किया जा रहा है ।

जौनपुर के ए0 सी0 एम0 ओ0 कोरोना संक्रमण से खुद के भाई को खोने के बाद भी कोरोना संक्रमितों के उपचार में रहते हैं तल्लीन

 


   जौनपुर-जनपद के स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (एसीएमओ) डॉ एसपी मिश्रा स्वयं तो कोरोना से ठीक हुए लेकिन वह अपने भाई को कोरोना से गंवा बैठे। बावजूद इसके डरे नहीं और कोरोना उपचाराधीनों की देखभाल में लग गए। अपनी हर जिम्मेदारियों को फिर से निभाने लगे। भाई की तेरहवीं हो जाने के बाद फिर से विभाग में सक्रिय हैं। बात हो रही है स्वास्थ्य विभाग की ऐसी शख्सियत की जिनके पास छह कार्यक्रमों के नोडल अधिकारी का चार्ज है। 

      एसीएमओ डॉ एसपी मिश्रा ही कोविड पॉजिटिव को कोविड अस्पताल अलाटमेंट का काम देखते हैं। हर दिन सुबह के समय मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) कार्यालय पहुंचने पर कोविड पॉजिटिव की संख्या का पता लगाते हैं। साथ ही तय करते हैं कि उन्हें किस कोविड हॉस्पिटल में भेजना है। गांव वार कोरोना मामलों की संख्या देखते हैं कि किस गांव में कितने मामले निकले हैं। यह लिस्ट तैयार कर छह बजे तक कोविड कंट्रोल रूम को उपलब्ध कराते हैं। जहां से यह सूची संबंधित उप जिलाधिकारी (एसडीएम) और ब्लॉक विकासखंड अधिकारी (बीडीओ) को भेजी जाती है और वह देखते हैं कि उन जगहों पर कैंटेनमेंट जोन बना या नहीं। 

    डॉ एसपी मिश्रा ही विभाग की तरफ से निकलने वाले टेंडर का काम विभाग की तरफ से बतौर एक्सपर्ट देखते हैं और अपने निर्णयों से मुख्य चिकित्सा अधिकारी को अवगत कराते हैं। जिला महिला तथा जिला पुरुष चिकित्सालयों से भी निकलने वाले टेंडर की प्रक्रिया में शामिल होते हैं। किसान दुर्घटना बीमा मामले में स्वास्थ्य विभाग की तरफ से सदस्य हैं। इस समय कलक्ट्रेट स्थित भूलेख आफिस में भूलेख बाबू के साथ मिलकर इन मामलों को भी निपटा रहे हैं। मानव अंग प्रत्यारोपण विभाग के नोडल हैं और किडनी ट्रांसप्लांट के नो आब्जेक्शन सर्टिफिकेट (एनओसी) देने का काम करते हैं। जन सूचना अधिकार (आरटीआई) के तहत मांगी गई सूचना के मामले भी देखते हैं। विभाग की तरफ से इंटीग्रेटेड ग्रीवांस रीड्रेसर सेल (आईजीआरएस) के भी नोडल अधिकारी हैं और विभाग की जितनी भी शिकायतें आती हैं, उन्हें भी देखते हैं। कोविड-19 से संबंधित रैपिड एंटीजन टेस्ट किट से टेस्ट के बाद पोर्टल पर फीडिंग के भी वह नोडल हैं। वेक्टर बार्न डिजीज नोडल अधिकारी हैं और जिला मलेरिया अधिकारी भानु प्रताप सिंह के सहयोग से इसका भी काम देखते हैं।

    12 अप्रैल को आरटीपीसीआर जांच में कोविड पॉजिटिव होने का पता चला और उस दिन से लेकर 26 अप्रैल तक वह आइसोलेट रहे। वहां से ठीक भी नहीं हुए थे कि कोरोना के चलते 28 अप्रैल को परिवार की आर्थिक ताकत अपने बड़े भाई को गंवा बैठे। अपने भाई की तेरहवीं का कार्य पूरा कर 11 मई से जिम्मेदारियों को लेकर सक्रिय हैं।


अनियंत्रित वाहन की चपेट में आने से मासूम बालिका की मौत, कई जख्मी,

 


जौनपुर।जनपद के बदलापुर थाना क्षेत्र के लेदुका कस्बे में आज गुरूवार को अनियंत्रित क्वाइलिस वाहन की चपेट में आने से 8 वर्षिय मासूम बालिका की मौत हो गई। मिली खबरो के अनुसार अनियंत्रित क्वालिस वाहन लेकर चालक सड़क किनारे आटो गैरेज घुस में गया। अचानक हुई इस घटना से दुकान का टीनसेड गिर पडा और 8वर्षीया मासूम परी की मौके पर मौत हो गई,वही बाबूराम अग्रहरी का पैर कट गया। चालक सहित चार अन्य लोग घायल हो गये। 

            मिली खबरो के अनुसार महराजगंज थाना क्षेत्र के अमारी गांव निवासी रबीन्द्र सरोज क्वाइलिस गाड़ी में हरिओम सरोज को बैठाकर वह सम्भलगंज रिश्तेदारी गये थे। वहाँ से वापस  लौटते समय चालक ने अचानक वाहन से अपना नियंत्रण खो दिया। इसके बाद वह लेदुका बाजार में स्थित मुस्कान आटो गैरेज में क्वाइलिस गाड़ी को लेकर अंदर घुस गया।

       इस दौरान कई किराने के दुकान पर लगे टिन सेड भी गिरने लगा। वहाँ खड़ी 8वर्षीय एक बालिका की मौत हो गई।

 जबकि स्थानीय लोगों की मदद से सभी घायलों को बदलापुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया गया। जहां क्वाइलिस चालक की हालत गंभीर देखते हुए डाक्टर ने प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज हेतु जिला अस्पताल  भेज  दिया।

बच्चों के अभिभावकों को कोविड का लक्षण दिखने पर तुरंत पीडियाट्रिक्स से करें सम्पर्क-डा. तेज सिंह

जौनपुर। आज पूरा देश कोरोना जैसी महामारी की दूसरी लहर से प्रभावित है। जैसा कि हर महामारी का स्वभाव होता है कि अनेक लहरों में आना और हर लहर असंख्य लोगों को प्रभावित करती है। इस तरह हम यह कह सकते हैं कि कोरोना की तीसरी लहर की संभावना प्रबल है। तमाम वैज्ञानिकों व विश्लेषकों का कहना है कि तीसरी लहर में बच्चों में संक्रमण की संभावना बहुत ज्यादा है। इस भविष्यवाणी से तमाम अभिभावकों के मन में चिंता होना स्वाभाविक है। इस तरह के भय को दूर करने का कार्य एवं जागरूकता फैलाना जनपद के समस्त चिकित्सकों (मुख्यतः बाल रोग विशेषज्ञों), मीडिया एवं शासन-प्रशासन को मिलकर करना है।

       बताया दें कि यह जानकारी नवजात शिशु, बाल रोग एवं सघन चिकित्सा विशेषज्ञ डा. तेज सिंह ने जनहित के बाबत मीडिया को जारी बयान के माध्यम से कही। उन्होंने आगे बताया कि कोरोना संक्रमित बच्चों की संख्या जनपद में धीरे-धीरे बढ़ रही है। बच्चों में कोरोना के मुख्य लक्षण बुखार, खांसी, भूख न लगना, दस्त/उल्टी होना, आंखों का लाल होना, शरीर पर लाल धब्बे पड़ना इत्यादि हैं। अभिभावकों से उन्होंने अनुरोध किया कि यदि उनके बच्चों में कोई भी लक्षण पाये जाते हैं या उनका बच्चा किसी कोरोना मरीज के सम्पर्क में आता है तो तत्काल बाल रोग विशेषज्ञ से परामर्श लेकर कोरोना का टेस्ट अवश्य करायें। डा. सिंह ने बताया कि बच्चों की प्रतिरोधक क्षमता वयस्क की तुलना में ज्यादा होती है। लगभग 90 प्रतिशत से ज्यादा संक्रमित बच्चों में यह रोग बिना लक्षण या एकदम साधारण लक्षण के साथ होते हैं जिन्हें घर पर ही रहकर ठीक किया जा सकता है। लगभग 2-3 प्रतिशत संक्रमित बच्चों को ही आईसीयू केयर की आवश्यकता होती है। नगर के लाइन बाजार के मेडिकल चौराहे के पास स्थित एस.एस. हास्पिटल एण्ड डायग्नोस्टिक सेण्टर के संचालक डा. तेज सिंह ने कोरोना से बचाव के लिये 2 साल से ऊपर के बच्चों में मास्क की अनिवार्यता पर जोर दिया। साथ ही कहा कि वयस्कों से 2 मीटर की दूरी बनाना एवं हाथों को साबुन से बार-बार धोना तो अत्यन्त आवश्यक है। श्री सिंह ने बताया कि बच्चों में टीकाकरण की प्रक्रिया इस समय अण्डर ट्रायल है एवं जल्द ही 18 वर्ष से कम उम्र के लोगों का टीकाकरण शुरू होने की संभावना है। 18 वर्ष की आयु से ऊपर वाले सभी लोग अपना क्रम आने पर टीकाकरण अवश्य करायें। इसके द्वारा बच्चों में कोरोना के संक्रमण की दर को काफी हद तक कम किया जा सकता है।

ट्रक और डम्फर में हुई आमने सामने भिंड़त,ट्रक चालक व खलासी की आग में झुलसने से दर्दनाक मौत


जौनपुर- प्रयागराज मार्ग पर बक्शा थाना क्षेत्र के फतेहगंज बाजार के पास बीती रात लगभग साढ़े 12 बजे ट्रक व डम्फर में हुई आमने सामने टक्कर में ट्रक में लगी भीषण आग। ट्रक के चालक व खलासी की झुलसने से मौत। आस पास के लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया लेकिन तब तक दोनों की मौत हो चुकी थी। डम्फर में फंसे चालक को बड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाल कर अस्पताल भेजवाया गया।  उक्त मार्ग पर चल रहे कार्य के लिए मिट्टी लदा डम्फर मछलीशहर की ओर से जौनपुर की ओर सीहीपुर जा रहा था। सामने से आ रहा तेज रफ्तार ट्रक अपने दाहिने साइड में जाकर डम्फर में  जोरदार टक्कर मार दिया। सूचना पर बक्शा पुलिस व सिकरारा पुलिस मौके पर पहुँच राहत व बचाव कार्य मे लगे।फायर ब्रिगेड की गाड़ी एक घण्टे बाद मौके पर पहुची। बक्शा पुलिस शवों को कब्जे में लेकर  कार्यवाई में जुटी।गुरुवार को सबेरे क्रेन से दोनों वाहनों को हटाया जा रहा है।

कलेक्ट्रेट के युवा अधिवक्ता अभिनव सिंह की कोरोना संक्रमण से उपचार के दौरान असामायिक निधन------


 --जौनपुर- कलेक्ट्रेट के माने जाने  अधिवक्ता रहे श्री प्रकाश सिंह के पौत्र व टीडी कॉलेज के छात्र नेता रहे विनीत सिंह के भतीजे तेजतर्रार युवा  अधिवक्ता अभिनव सिंह (40 वर्ष )की कोरोना संक्रमण के चलते लखनऊ में उपचार के दौरान निधन हो गया। युवा अधिवक्ता  अभिनव सिंह के असामयिक निधन से कलेक्ट्रेट के  अधिवक्ताओं ने अपनी गहरी शोक संवेदना जताई है। बता दें कि कोरोनावायरस के चलते युवा अधिवक्ता अभिनव सिंह का उपचार लखनऊ के एक निजी चिकित्सालय में चल रहा था उपचार के दौरान उनका निधन हो गया,  उनका अंतिम संस्कार बैकुंठ धाम पर आज प्रातः कर दिया गया । उनके आकस्मिक निधन से कलेक्ट्रेट के अधिवक्ता जगत में एक अपूरणीय क्षति हुई है। जनपद के तमाम बुद्धिजीवी अधिवक्ता एवं पत्रकारों ने युवा अधिवक्ता  के आकस्मिक निधन पर अपनी शोक संवेदना जताई है।

जिला प्रशासन ने प्रशिक्षण एवं टूलकिट हेतु आवेदन-पत्र आमंत्रित

जौनपुर- उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र ने सर्व साधारण को अवगत कराया है कि उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित  एक जनपद एक उत्पाद (ओ0डी0ओ0पी0) प्रशिक्षण एवं टूलकिट योजना के अन्तर्गत वर्ष 2021-22 में प्रशिक्षण एवं टूलकिट हेतु आवेदन-पत्र आमंत्रित किये जा रहे हैं। इच्छुक अभ्यर्थी अपना आवेदन-पत्र www.diupmsme.upsdc. gov.in पोर्टल पर आन-लाइन आवेदन कर सकते हैं। अधिक जानकारी के लिये प्रमोद कुमार मोबाइल नं0-91254039212 अथवा किसी भी कार्य दिवस में कार्यालय उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र, जौनपुर से सम्पर्क कर सकते है।

जौनपुर में भी यास तूफान का होगा असर,लोगों को सतर्क रहने की आवश्यकता-एडीएम

जनहित में ए0 डी0 एम0 ने मातहत, अधिकारियों व कर्मचारियों को  किया अलर्ट 

जौनपुर-अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामप्रकाश ने बताया है कि अवगत कराया है कि   पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय भारत सरकार एवं भारत मौसम विज्ञान विभाग मौसम केंद्र DC लखनऊ द्वारा जारी दैनिक पूर्वानुमान बुलेटिन संख्या 146/ 2021 दिनांक 26.5.2021 के माध्यम से निर्देशित किया गया है कि आज दिनांक 26 और 27 को एक या दो स्थानों पर गर्जन के साथ बिजली चमकने एवं झोंकेदार हवा (30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे ) चलने की संभावना है  तथा  दिनांक 28 -30 मई 2021 के मध्य  उपरोक्त के साथ साथ भारी वर्षा होने की भी संभावना है प्राप्त चेतावनी के आधार ।पर चक्रवात यास के कारण तेज हवाओं के साथ भारी वर्षा होने की संभावना है ।

उक्त के दृष्टिगत यह आवश्यक है की समस्त कार्यालय अध्यक्ष/ अधिकारीगण जनपद में घटित होने वाली संभावित घटना को न्यून करने हेतु आवश्यक मानव एवं भौतिक संसाधनों सहित अलर्ट मोड में रहे जिससे कि समयावधि के अंतर्गत प्रत्युत्तर कार्य किया जा सके एवं जन सामान्य को भी सचेत किया जाए।

सभी उपजिला अधिकारी/ तहसीलदार संबंधित राजस्व निरीक्षक एवं लेखपाल को कार्यक्षेत्र में क्रियाशील रहने हेतु निर्देशित करें एवं प्रतिदिन सुबह 7:00 बजे किसी भी प्रकार की घटना होने पर उसकी सूचना व्हाट्सएप ग्रुप Revenue Officers Jaunpur में भेजना सुनिश्चित करें यदि सूचना शून्य हो तो शून्य ही भेजें

सपा ने जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए निशी यादव को बनाया अपना प्रत्याशी,पूर्व विधायक राजबहादुर एवं पूर्व अध्यक्ष कलावती यादव की बहू है निशी


परिवार की सास बहू है जिला पंचायत सदस्य,

जौनपुर। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने जौनपुर जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए राजनीतिक घराने की  निशा यादव को प्रत्याशी घोषित कर दिया । साथ ही सीट सपा की झोली में इस सीट को डालने का जोर दिया है।

 जानकारी के अनुसार वार्ड संख्या दो से नव निर्वाचित जिला पंचायत सदस्य निशी यादव पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष कलावती यादव  एवं पूर्व विधायक स्व राजबहादुर यादव की बहू सपा नेता डॉ जितेंद्र यादव की पत्नी है, उनकी शिक्षा परस्नातक है।

      बता दें कि पूर्व सांसद स्वर्गीय अर्जुन सिंह यादव व सपा के वरिष्ठ नेता लालचंद यादव लाले की भयेहु है। समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर इस राजनीतिक परिवार पर अपना दांव लगाया है।

         बता दें कि इनके परिवार में अमित यादव की पत्नी व निशी यादव की बहु अनीता यादव वार्ड संख्या तीन से जिला पंचायत सदस्य हैं। स्थिति मजबूत है।

      समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने परिवारिक राजनीतिक पृष्ठभूमि को देखते हुए निशी यादव पर दांव लगाया है। सीट को सपा की झोली में डालने का जोर दिया है। जिले के सभी सपा नेताओं और नव निर्वाचित सपा के जिला पंचायत सदस्यों, कार्यकर्ताओं को अधिकृत प्रत्याशी निशी यादव को जिताने के लिए एकजुट होने का निर्देश दिया है।

        निशी यादव को प्रत्याशी बनाए जाने की जानकारी सपा के जिला अध्यक्ष लाल बहादुर यादव ने दिया है।

मदरसों के प्रधानाचार्यों, शिक्षकों व मुस्लिम धर्मगुरूओं ने लगवाया टीका


जौनपुर। कोरोना महामारी को देखते हुए अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के कहने पर जिले के सभी धर्मगुरुओं, प्रधानाचार्यों, शिक्षकों ने लीलावती नेत्र अस्पताल में टीकाकरण कराया। इस दौरान अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी कमलेश मौर्य ने बताया कि कोरोना महामारी की तीसरी लहर को रोकने के लिए हम लोगों को शत-प्रतिशत टीका लगवाना है जिसमें कोई भी न छूटे अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी ने टीका लगवाने आए हुए सभी धर्मगुरुओं, प्रधानाचार्यों व शिक्षकों को कोरोना महामारी से बचने के उपाय बतायें और सरकार की बताई हुई गाइडलाइन का पालन करने को कहा। वहीं इमरान खान ने अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी की सराहना करते हुये छूटे सभी लोगों से वैक्सीन लगवाने को कहा जिससे इस महामारी से बचा जा सके।

गैंगेस्टर के वांछित अभियुक्त के घर पुलिस ने चस्पा किया नोटिस

जौनपुर। स्थानीय थाने के गैंगस्टर एक्ट में वांछित अभियुक्त के घर पहुंचकर पुलिस ने डुगडुगी पिटवाकर 82 की नोटिस चस्पा किया। जानकारी के अनुसार रामपुर थाना प्रभारी निरीक्षक विजय शंकर सिंह द्वारा गैंगस्टर एक्ट में वांछित अभियुक्त सतीश मिश्र पुत्र उपेंद्र मिश्र निवासी संवरपुर थाना चौरी जनपद भदोही के विरुद्ध गैंगस्टर कोर्ट जौनपुर द्वारा जारी 82 की नोटिस के पालन में पुलिस ने पहुंचकर गांव में डुगडुगी पिटवाकर आरोपी को हाजिर होने के लिए घर और गांव के कई स्थानों पर नोटिस चस्पा किया गया। इस दौरान भारी संख्या में पहुंची पुलिस को देखकर गांव में हड़कंप मचा रहा।

जिला पंचायत अध्यक्ष पद की कुर्सी के लिए भाजपा नेता लाखों रुपयों की खरीद फरोख्त से लेकर कानून के भरोसे चुनाव जितने की बात करने का वीडियो वॉयरल होने से जौनपुर की सियासत में आया भूचाल


जौनपुर। जिले में एक वीडियो वॉयरल होंने से सियासी महकमे में हड़कम्प मच गया,जिसमे जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में सदस्यों की खरीद फरोख्त व जिला प्रशासन के मिली भगत की बात का वीडियो तेजी से वॉयरल हो रहा है,जिसमे जिले के वार्ड-18 के भाजपा के जिला पंचायत सदस्य सूबेदार सिंह फोन पर बात करते हुए ये कह रहे है कि जिसमे सदस्यों की कीमत 10 लाख से 50 लाख की बात की जा रही है और जो मदद नही करेगा उसके लिए जिले के पुलिस कप्तान 5 कुंतल गांजा लेकर बैठे है, उनको जेल भेज दिया जाएगा उससे भी नही भी सदस्य नही मानेगा तो छोटे मोटे मुकदमे में फंसा कर जेल भेज दिया जाएगा।


            बता दें कि आज वीडीओ वॉयरल होने के बाद सपा जिला अध्यक्ष समाजवादी पार्टी लाल बहादुर के नेतृत्व में भाजपा नेता के वायरल वीडियो को संज्ञान में लेते हुए जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया गया,सोशल मीडिया में एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें भाजपा नेता द्वारा जिला पंचायत सदस्य को पैसे से जिला पंचायत सदस्य को खरीदने एवं सदस्य को न बिकने की दशा में उसे गांजा के फर्जी मुकदमें में फंसा कर बंद कराने की धमकी दी जा रही है वहीं भाजपा नेता द्वारा विडियों मे कहा जा रहा है कि जिले में पुलिस विभाग के एक अधिकारी ने 05 कुंतल गाजा मंगा कर कप्तान साहब ने रख दिया है यह वायरल वीडियो देख सुनकर समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष लाल बहादुर ने जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया गया जिसमें उन्होंने वीडीओ का संज्ञान लेकर जांच की मांग की है , जिस तरह भारतीय जनता पार्टी की सरकार लोकतंत्र को खत्म करने की साजिश रच रही है वह बहुत निंदनीय है जिस तरह पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को बुरी तरह हार का सामना करना पड़ा उसको भाजपा  स्वीकार नहीं कर रही है बल्कि शासन प्रशासन के जरिए  दबाव बना कर जिला पंचायतों अध्यक्ष का चुनाव कराना चाह रही है चुनाव टालना भी इस साजिद का एक हिस्सा है आज भाजपा नेताओं द्वारा जिस तरह वायरल वीडियो में सुना और देखा जा रहा है।वही जिला अध्यक्ष के साथ सपा के प्रवक्ता राहुल त्रिपाठी व श्याम बहादुर पाल व हिसामुद्दीन भी रहे मौजदू।

सीएमओ डॉ.राकेश कुमार को मातृ शोक, पूरे स्वास्थ्य महकमे में शोक की लहर

जौनपुर-जनपद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ 0 राकेश कुमार की माता का असामयिक निधन होने की खबर है। पिछले कुछ दिनों से वे अस्वस्थ चल रही थी। निधन की खबर लगते ही पूरे स्वास्थ्य महकमे में शोक की लहर व्याप्त    है। लोगों ने शोक संतप्त परिवार के प्रति अपनी संवेदना जताई है।

नवागत चौकी इंचार्ज ने बैंक व बाजार का किया भ्रमण, लाकडाउन का उलंघन करने वाले व्यापारियों का काटा चालान


जौनपुर।लॉकडाउन का कड़ाई से पालन न करने की शिकायत पर चौकी इंचार्ज अरविंद कुमार सिंह ने अपने हमराहियों के साथ चौकी क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मार्केट में भ्रमण किया, इस दौरान चौकी इंचार्ज ने अनावश्यक रुप से बैंक के इर्द-गिर्द घूम रहे लोगों को जोरदार फटकार लगाते हुए शक्त हिदायत दिया, इन्होंने सुभाष चौक, कटरा चौराहा, कंधीकलां चौराहा, अटरा चौराहा, तेजीबाज़ार मार्केट, कलिंजरा बाजार सहित क्षेत्र में भ्रमण कर लाकडाउन का कड़ाई से पालन करने की अपील किया,वही तेजीबाज़ार मार्किट में लाकडाउन का उलंघन करने वाले दुकानदार का चालान भी काटा।


सिटी कोतवाली पुलिस ने 4 साल से फरार चल रहे दो वांछित अभियुक्तों को किया गिरफ्तार

जौनपुर-पुलिस अधीक्षक जनपद जौनपुर के द्वारा अपराध नियंत्रण एवं वारंटी वाछिंत अपराधियो के गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान के तहत अपर पुलिस अधीक्षक नगर के कुशल मार्गदर्शन एवं क्षेत्राधिकारी नगर के नेतृत्व में दिनांक 24.05.2021 को थाना  कोतवाली पुलिस द्वारा मुखविर की सूचना पर मु0अ0सं0-481/18 धारा-379/411/413/414 भा0द0वि0 थाना कोतवाली व मु0अ0स0-498/18 धारा-411/413/414 भा0द0वि थाना लाइन बाजार से सम्बन्धित वांछित अभियुक्तगण संजय यादव पुत्र पारसनाथ यादव व महेन्द्र यादव व पुत्र लालता यादव निवासी गण अंगुली थाना खुटहन जनपद जौनपुर को शाहीपुल से गिरफ्तार किया गया, जो वर्ष 2018 से फरार चल रहे थे।  

*गिरफ्तार अभियुक्तगण-*

1.संजय यादव पुत्र पारसनाथ यादव निवासी अंगुली थाना खुटहन जनपद जौनपुर। 

2.महेन्द्र यादव व पुत्र लालता यादव निवासी अंगुली थाना खुटहन जनपद जौनपुर। 

*अपराधिक इतिहास-*

1.मु0अ0सं0-481/18 धारा-379/411/413/414 भा0द0वि0 थाना कोतवाली जौनपुर। 

2.मु0अ0स0-498/18 धारा-411/413/414 भा0द0वि थाना लाइन बाजार जौनपुर। 

*गिरफ्तारी करने वाले पुलिस टीम-* 

1.श्री संजीव कुमार मिश्र, प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली जनपद जौनपुर।

2.उ0नि0 विक्रम लक्ष्मण सिंह चौकी प्रभारी सरायपोक्ता थाना कोतवाली जनपद जौनपुर।

3.हे0का0 दिनेश कुमार यादव,का0जितेन्द्र प्रताप सिंह चौकी, का0आशीष साहनी, का0नीतीश यादव चौकी सरायपोक्ता थाना कोतवाली जौनपुर।

डीएम ने इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर कोविड-19 का किया औचक निरीक्षण,शिकायतों का शत प्रतिशत हो निस्तारण


जौनपुर-जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा कलेक्ट्रेट स्थित इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर कोविड-  19 का औचक निरीक्षण किया गया,निरीक्षण के दौरान कंट्रोल रूम में लगे अधिकारियों को निर्देशित किया कि कंट्रोल रूम एवं आई.जी.आर.एस पोर्टल पर आने वाली शिकायतों का शत- प्रतिशत निस्तारण कराया  जाए*

सड़क हादसे में ससुर व बहु की मौत तो तीन साल की बच्ची सही सलामत जिंदा बच गयी,


जौनपुर-जाको राके साईया मार सके ना कोई,यह कहावत जौनपुर की इस घटना में एकदम सटीक बैठती है जहां सड़क हादसे में ससुर व बहु की मौत हो जाती है जबकि 3 साल की बच्ची सही सलामत जिंदा बच जाती है पूरा मामला जिले के लाइन बाजार थाना क्षेत्र के नईगंज के सीहीपुर रेलवे क्रासिंग के पास आज सुबह करीब पौने दस बजे ट्रक की चपेट में आने से ससुर व बहू की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। मृतका की तीन साल की बच्ची बाल-बाल बच गई। हादसे के बाद चालक ट्रक लेकर भाग गया,घटना की सूचना पर इंस्पेक्टर लाइनबाजार योगेंद्र यादव मय फोर्स घटनास्थल पर पहुँच कर ट्रक व चालक का पता लगाने का प्रयास कर रही है,वही मृत दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है,

 बता दें कि जिले के सिकरारा थाना क्षेत्र के अलीशाहपुर गांव निवासी मुन्ना प्रसाद बिंद (50) अपनी बहू संगीता बिंद (28) व उसकी तीन साल की बेटी परी को बाइक पर बैठाकर उसके मायके गांव बबुरा थाना बदलापुर पहुंचाने जा रहे थे। सीहीपुर रेलवे क्रासिंग का फाटक पार करने के बाद नईगंज की तरफ बढ़ते ही गति अवरोधक पर बाइक असंतुलित हो गई। उसी समय पीछे से आ रहे ट्रक के धक्के से बाइक समेत तीनों गिर गए। ट्रक के पहिए के नीचे आ जाने से मुन्ना प्रसाद बिंद व संगीता की कुचल जाने से मौके पर ही मौत हो गई। वहीं छिटककर दूर गिरी परी बाल-बाल बच गई। हादसे के बाद चालक ट्रक लेकर फरार हो गया। मौके पर पहुंचे लाइन बाजार थाना प्रभारी निरीक्षक योगेंद्र यादव व एसआइ जय सिंह व उनके सहयोगियों ने शिनाख्त होने के बाद हादसे की सूचना स्वजन को दी तो घर मेें कोहराम मच गया। मालूम हो कि संगीता के मायके में 28 मई को वैवाहिक कार्यक्रम आयोजित है और वह उसी में शामिल होने जा रही थी। पुलिस शवों को कब्जे में लेकर आवश्यक कार्रवाई में जुटी है।

घर से लापता बहु का संदिग्ध परिस्थिति में शव कुएं में साड़ी के सहारे लटकती मिली,इलाके में सनसनी

कपिल देव सिंह संवाददाता
जौनपुर-संदिग्ध परिस्थितियों घर से लापता बहु का शव कुएं में साड़ी के सहारे लटकती मिलने से मचा हड़कम्प,ग्रामीणों ने पुलिस को दी सूचना,पुलिस की मौजूदगी में शव को कुएं से निकाला गया,घटना की सूचना से इलाके में मचा हड़कम्प,कल इस महिला की गुमसुदगी की सूचना पुलिस को दी गयी थी,स्थानीय पुलिस ने शव को लिया कब्जे में,नेवढ़िया थाना क्षेत्र के भाऊपुर चौकी के कसियांव गांव का मामला*

      बता दें कि नेवढ़िया थाना क्षेत्र के कसियांव गाव में 25 वर्षी एक महिला  का शव संदिग्ध परिस्थितियों में कुए में लटकता हुआ मिला। घटना कीी सूचना पर गांव में मची सनसनी, घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने जब आसपास के लोगों से पूछताछ की तो मृतक महिला की पहचान किरन पटेल पत्नी अनिल पटेल के रूप में हुई है जो कि ग्राम पंचायत सैदुपुर की निवासी है और प्राप्त जानकारी के अनुसार यह भी पता चला है कि वह साथ में 3 साल के एक बच्चे को लेकर भी निकली थी ।जो कि कल से ही लापता थी घर वाले ढूंढ रहे थे लेकिन आज करीब 3 बजे यहां गांव में एक मशीन पंपिंग सेट के के कुएं में खुद की ही साड़ी से लटकता हुआ मिला मौके पर नेवढिया थानाध्यक्ष  व चौकी प्रभारी  की टीम ने शव को कुएं से बाहर निकाला गया वही  ग्रामीणों ने बताया कि मृतक महिला  कल  से अपने घर से लापता थी जो अपने साथ 3 साल के बच्चे को भी लेकर घर से निकली थी और सारे लोग ढूंढ रहे थे जैसे ही पता चला कि यहां पर एक शव बरामद हुआ है तो वहां से लोग आए और उसका शिनाख्त किए प्राप्त जानकारी के अनुसार यह भी पता चला है कि महिला का मायका मुरारपुर थाना सुरेरी और ससुराल सैदुपुर थाना ने नेवढ़िया हैप्राप्त जानकारी के अनुसार 21 तारीख को यह घर से रात में 2:00 बजे के बाद एक 3 साल के बच्चे के साथ गायब हुई थी 22 तारीख को घर वाले ढूंढने के बाद जब पता नहीं चला तो कल नेवढ़ियां थाने में गुमशुदगी का रिपोर्ट में लिखाया गया था।