health

Breaking News

जौनपुर तिलक तराजू और तलावर इनको मारो जूते चार इस पर क्या बोला रवि किशन गोरखपुर 24UPNEWS.COM पर

जनपद में 14 जनवरी को ही मकर संक्रांति का पर्व हिंदू समुदाय द्वारा मनाया जाएगा-- रामप्रकाश, एडीएम, जौनपुर

  


जौनपुर -अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामप्रकाश द्वारा द्वारा अवगत कराया गया है कि विगत वर्षों की भाति इस वर्ष भी 14 जनवरी 2022 को मकर संक्रान्ति का पर्व हिन्दू समुदाय द्वारा परम्परागत ढंग से मनाया जायेगा। 

          इस अवसर पर जनपद के नगर/ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित सई, गोमती आदि नदियों के प्रमुख घाटों पर हिन्दू श्रद्धालुओं द्वारा प्रातः से ही स्नान कर पूजा-अर्चना/ दान का कार्य सम्पन्न होता है। उक्त अवसर पर नदियों पर स्थित प्रमुख घाटों जैसे थानाक्षेत्र कोतवाली अन्तर्गत हनुमान घाट, गोपी घाट, विसर्जन घाट, थानाक्षेत्र लाइन बाजार अन्तर्गत सुरजघाट, अचलादेवी घाट, थाना क्षेत्र खुटहन अन्तर्गत पिलकिछा घाट, थानाक्षेत्र जलालपुर के अंतर्गत राजेपुर, त्रिमुहानी, थानाक्षेत्र केराकत अन्तर्गत ग्राम विजयीपुर स्थित गोमती नदी तथा सई नदी के संगम स्थल पर त्रिमुहानी पर, थानाक्षेत्र जफराबाद स्थित ग्राम जमेथा में महर्षि युगदग्नि मुनि मन्दिर के घाँट, गोमती नदी नाव घाट, ग्राम धनेजा नाईवीर बाबा घाट सई नदी, थानाक्षेत्र सरायख्वाजा अन्तर्गत गोमती नदी के बैजारामपुर घाट, छुनछा घाट, हल्दीपुर घाट, थानाक्षेत्र बक्सा अन्तर्गत चुरावनपुर घाट, थानाक्षेत्र सिकरारा अन्तर्गत उगापुर घाट, थानाक्षेत्र मड़ियाहूँ अन्तर्गत ऊँचनीकला गांव के पास सई नदी आदि धार्मिक स्थलों पर पुरुष/महिलाओं बच्चों की भीड़ रहती है, जिससे मेल जैसा दृश्य रहता है, उक्त त्यौहार के अवसर पर नवयुवक वर्ग / बच्चों द्वारा पतंग उड़ाया जाता हैं, जिससे दुर्घटना होने की सम्भावना बनी रहती है। उक्त के दृष्टिगत वर्तमान में आदर्श चुनाव आचार संहिता एवं विगत में देश-प्रदेश में कोविड-19 में वृद्धि आदि के दृष्टिगत उक्त अवसर पर नदियों के घाटों एवं भीड़ वाले स्थानों पर समुचित पुलिस/प्रबन्ध/सतर्कता/यातायात व्यवस्था की अपेक्षा की गयी है। 


                उन्होंने आदेशित किया जाता है कि उपरिवर्णित स्थलों पर समुचित पुलिस प्रबन्ध/सतर्कता तथा यातायात की व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाय तथा कोविड 19 गाईडलाइन का अक्षरश पालन सुनिश्चित कराते हुये यह ध्यान रखा जाय कि किसी भी दशा में आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन न हो। समस्त उप जिला मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्र में व्यवस्था सुनिश्चित करें कि कोई समस्या कठिनाई या नियमों का उल्लंघन न हो।

No comments:

Post a Comment