health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

जनपदवासियों को समाजसेवी/ उद्योगपति प्रत्याशी लोकसभा अशोक सिंह की तरफ से जनपदवासियों को स्वतंत्रता दिवस व रक्षाबंधन की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं

जनपदवासियों को समाजसेवी/ उद्योगपति प्रत्याशी लोकसभा अशोक सिंह की तरफ से जनपदवासियों को स्वतंत्रता दिवस व रक्षाबंधन की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं

जौनपुर की गलियों में निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह के लिए मुंबई वासियों का जमावड़ा

जौनपुर-लोकसभा चुनाव प्रचार के अंतिम चरण में जैसे-जैसे मतदान की तारीख नज़दीक आती जा रही है वैसे वैसे चुनावी घमासान बढ़ता जा रहा है। फिलहाल जौनपुर की गलियों में मुंबई की दिग्गज हस्तियों का जमावड़ा देखने को मिल रहा है। यह जमावड़ा 73 लोकसभा जौनपुर के प्रत्याशी अशोक सिंह के समर्थन में सड़क पर उतरा है ।
जौनपुर रेलवे स्टेशन पर गोदान एक्सप्रेस से उतरने वाली भीड़ ने पूछताछ में कहा कि मुंबई में अशोक सिंह के कार्यों से प्रभावित हो कर हम जौनपुर में उन्हें जिताने के लिए आए हैं। पिछले पांच दिनों से हो रहे धुआंधार प्रचार के बीच बुधवार को अशोक सिंह ने जौनपुर शहर से मुंगरा बादशाहपुर तक जबरदस्त रोड शो किया । इसमें स्थानीय नागरिकों के साथ साथ मुंबई से आए हुए 5गररTपंर कई दिग्गज समर्थक शामिल रहे।
 अशोक सिंह भले ही निर्दलीय प्रत्याशी हैं लेकिन बड़े राजनीतिक दलों को प्रचार में टक्कर दे रहे हैं । सबसे बड़ी बात यह है कि हर चौराहे और नुक्कड़ पर उनको जनता का समर्थन मिल रहा है। भरी दोपहरी में भी जगह जगह नागरिकों के झुंड ने उन्हें रोककर उनका स्वागत किया और अपना समर्थन जाहिर किया। इस व्यापक समर्थन को बारे में अशोक सिंह का कहना है कि लोगों से मिल रहे लगातार समर्थन से मैं गदगद हूं  और जौनपुर की जनता के प्यार को देखते हुए मैं उनका अभिवादन करता हूं और आशा करता हूं कि 12 तारीख को मतदान के दिन वह भारी संख्या में इसी तरह निकल कर मुझे अपना प्यार देंगे ।

अशोक सिंह के रोड शो ने बढ़ाई विरोधियों की चिंता

जौनपुर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के निर्दलीय प्रत्याशी अशोक सिंह के  भीड़ भरे  रोड शो ने विपक्षी दलों की दुविधा बढ़ा दी है । पॉलिटेक्निक चौराहे से शुरू हुए इस रोड शो में मशहूर हास्य कलाकार एहसान कुरेशी भी शामिल हुए। उनके  शामिल होने से जहां अशोक सिंह के हौसले बुलंद हुए हैं वहीं जगह जगह मिले भारी जनसमर्थन को देखते हुए जौनपुर का चुनावी समीकरण बदलने का अनुमान लगाया जाने लगा है। रोड शो के दौरान कई जगहों पर नागरिकों ने उनका जबरदस्त स्वागत किया । यही नहीं कुछ सामाजिक और व्यापारिक संगठनों ने उन्हें अपना समर्थन भी दिया । लोगों के मिल रहे भारी समर्थन के चलते यह कयास लगने लगा है कि  यहां की माहौल में नया बदलाव आ सकता है। स्थानीय व्यापारियों और युवाओं ने अशोक सिंह के निशान बोतल को उछाल कर अपना समर्थन व्यक्त किया। कुत्तूपुर और और ओलंदगंज चौराहे पर जनता ने अशोक सिंह को फूल मालाओं से लाद दिया।  हालात यह बन गए कि काफी देर तक सड़क पर जाम लगा रहा। लगभग सभी वर्ग  के लोगों ने अशोक सिंह  को अपना समर्थन जारी किया । भारी गर्मी और यातायातजाम की परवाह किए बिना लोग सड़कों के दोनों ओर खड़े होकर अशोक सिंह का अभिवादन स्वीकार करते रहे। रोड शो की सफलता को देखते हुए चुनाव में खड़े कई राजनीतिक दलों के नेताओं ने भी अपनी पहचान छुपाते हुए कहा कि समझ में नहीं आता कि अशोक सिंह को मिल रहे इस जनसमर्थन का खामियाजा किसे भुगतना पड़ेगा । क्योंकि किसी निर्दलीय प्रत्याशी को इतना व्यापक समर्थन अब तक नहीं मिला है। जबकि समर्थकों का कहना था कि यह अशोक सिंह की ईमानदार छवि और सबका सहयोग करने की प्रवृत्ति का प्रभाव है कि जौनपुर की जनता ने उन्हें हाथों हाथ उठा लिया है।

अशोक सिंह निर्दल प्रत्याशी आज कुद्दुपुर में करेंगे भारी जनसभा,भारी संख्या भीड़ आने की उम्मीद

जौनपुर - समाजसेवी  एवं निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह 27 अप्रैल को कुदुपुर..में विशाल जनसभा को करेंगे संबोधित
संपन्न होने जा रहे जौनपुर संसदीय क्षेत्र के चुनाव में निर्दल प्रत्याशी समाजसेवी अशोक सिंह 27 अप्रैल को कुदुपुर गांव की राजभर बस्ती में शाम 4:00 बजे से चुनावी जनसभा को संबोधित करेंगे.इस कार्यक्रम के मुख्य वक्ता समाजसेवी व जौनपुर संसदीय क्षेत्र के निर्दलीय प्रत्याशी अशोक सिंह होंगे श्री सिंह के अलावा अन्य वक्ता भी सभा को संबोधित करेंगे,इस अवसर पर मुंबई महानगर के प्रसिद्ध लोक गायक अमर रघुवंशी अपनी पूरी टीम के साथ सभा को अपने मधुर गीतों से छटा बिखेर गे.कार्यक्रम के आयोजक अर्पित सिंह ने लोगों से अपील की है कि अधिक से अधिक संख्या में पहुंचकर समाजसेवी व निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह के संबोधन को सुनें.
l बता दें कि अशोक सिंह जो बसपा के महाराष्ट्र प्रभारी रहे हैं  एवं जौनपुर संसदीय क्षेत्र से  बहुजन समाज पार्टी  से टिकट के दावेदारों में प्रमुख रहे हैं  लेकिन  अचानक  बसपा की नीतियों से  व्यथित होकर  उन्होंने  अपने को निर्दल प्रत्याशी के रूप में  चुनाव लड़कर  जनता के बीच जाने का  मन बना लिया है..l बता दें कि पिछले करीब 10 वर्षों से जनपद की विभिन्न सामाजिक संगठनों एवं जनहित के कार्यों में लोगों के साथ अपनी सहभागिता निभाते रहे हैं.l एक अनौपचारिक मुलाकात में उन्होंने बताया कि मेरे जीवन का मकसद यह है कि हम अपने जनपद के विकास हेतु निरंतर
प्रयत्नशील रहे.l जौनपुर संसदीय क्षेत्र से जहां भाजपा के नि वर्तमान सांसद के पी सिंह केंद्र की मोदी सरकार के 5 वर्षों के कार्यकाल में अपने क्षेत्र में कराए गए कार्यों को लेकर जनता के बीच जाकर भाजपा के पक्ष में मतदान करने की बात कर रहे हैं .वहीं बहुजन समाज पार्टी व समाजवादी पार्टी के  गठबंधन के प्रत्याशी  श्याम सिंह यादव भी अपने समर्थकों के साथ क्षेत्र में प्रचार कर चुनाव जीतने  के लिए. हर संभव प्रयास कर रहे हैं.l जबकि निर्दल प्रत्याशी एवं समाजसेवी अशोक सिंह  भी अपने पिछले 10 वर्षों से जनपद के लोगों के बीच तमाम सामाजिक संगठनों के साथ अपनी सहभागिता निभाने को लेकर जनता के बीच जाकर अपने पक्ष में मतदान करने की अपील कर रहे हैं..  वही  कांग्रेस प्रत्याशी भी कांग्रेस के वोट बैंक कहे जाने वाले लोगों के बीच जाकर अपने पक्ष में मतदान कर जिताने की बात करें l फिलहाल यह तो वक्त बताएगा की जनता किसके पक्ष में अपना मतदान कर क्षेत्र के विकास के लिए  एक अच्छे सांसद को निर्वाचित करती है.

जौनपुर लोकसभा का सर्वांगीण विकास करना ही मेरी प्राथमिकता- अशोक सिंह

जौनपुर लोकसभा का सर्वांगीण विकास करना ही  मेरी प्राथमिकता- अशोक सिंह
जौनपुर-निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह जौनपुर लोकसभा से निर्दल।प्रत्याशी है अपने विपक्षियों को कड़ी टक्कर दे रहे है तो देश मे।संपन्न होने जा रहे 17वीं लोकसभा के लिए  चुनाव को लेकर जौनपुर की राजनीतिक रंग धीरे-धीरे उभरने लगा है ..मुख्य रूप से सभी प्रत्याशियों के घोषणा के बाद अब प्रत्याशी को लेकर ऊहापोह की स्थिति अब स्पष्ट हो चुकी है ।जौनपुर में मुख्य रूप से तस्वीर लगभग साफ दिखाई दे रही हैं। जौनपुर संसदीय क्षेत्र के भाजपा प्रत्याशी निवर्तमान सांसद के पी सिंह व बहुजन समाज पार्टी समाजवादी पार्टी से गठबंधन के प्रत्याशी श्याम सिंह यादव व कांग्रेस के प्रत्याशी एवं निर्दल प्रत्याशी के रूप में समाजसेवी अशोक सिंह अपने अपने पक्ष में मतों के ध्रुवीकरण को लेकर अपने राजनीतिक आकाओं से  गुड़ा गणित कर अपनी-अपनी जीत हासिल करने में जुट गए हैं।जिसमे मुख्य रूप से भाजपा,  व निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह ,और गठबंधन के अलावा कांग्रेस भी मतो को प्रभावित कर रहे है।पर मुकाबला लगभग त्रिकोणीय बनने का अंदेशा है।क्योंकि निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह ने जौनपुर के विकास के नाम पर लोगो से कीमती मत मांग रहे है एक अनौपचारिक मुलाकात में निर्दल प्रत्याशी के रूप में चुनावी मैदान में उतरे समाजसेवी अशोक सिंह ने कहा कि भाजपा और गठबन्धन तुष्टिकरण की राजनीति करके मतो का विभाजन का खेल, खेल रही है।जब जब चुनाव हुआ हर बार जाति धर्म को भुनाने की कोशिश हुई है।उसी फार्मूला पर इस बार भी अपनाया जा रहा हैlll  जौनपुर संसदीय क्षेत्र के निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह  जौनपुर के विकास के नाम पर मत मांग रहे है और मतदाता विकास के नाम पर अपना रुझान खुलकर बता रहे है।  जौनपुर क्षेत्र के जौनपुर संसदीय क्षेत्र के मतदाता भी यह मन बना चुके हैं कि इस बार वे उसी प्रत्याशी के पक्ष में मतदान करें करेंगे जो जनपद का सर्वाधिक विकास करें और उनके बीच हमेशा मौजूद रहे ऐसे में  मतदाता  चुनावी समर में उतरे  प्रत्याशियों में से ऐसे प्रत्याशियों के पक्ष में मतदान करने का मन बना रहे हैं  जो  वास्तव में जौनपुर मैं विकास कार्यों की गंगा बहा दे
इस बार का चुनाव मतदाता अगर विकास के नाम पर रुख करती है निश्चित रूप से इस बार बदलाव की बयार बह चुकी हैं जो कि विकास को लेकर चट्टी, चैराहा, चायपान की दुकान, गली, मोहल्ला पर चुनावी चर्चा जोर पकड़ती जा रही हैं कि जौनपुर के विकास की अलख अभी तक जगी नही है जो भी जीतकर जाता है फिर पांच साल बाद ही जनता की सुध लेता हैं परंतु निर्दल प्रत्याशी अशोक सिंह ने पूरे विशवास और दमखम के साथ विकास के नारा को बुलंद कर रखा है। अब देखना है कि जौनपुर सांसद क्षेत्र के मतदाता अपने क्षेत्र के सर्वांगीण विकास के लिए चुनावी मैदान में उतरे प्रत्याशियों में से किसको अपना सांसद निर्वाचित करते हैं..l

आज मायावती जौनपुर की सीट पर अशोक सिंह के नाम पर लगा सकती है मुहर

जौनपुर- आज हो सकता है बीएसपी के टिकट का ऐलान, जिसमे अशोक सिंह का नाम सबसे आगे चल रहा है,बहन जी अभी सवर्ण के वोटों को बंटवारे को देखकर टिकट बांट सकती है ,फिलहाल बसपा के टिकट पर भाजपा की निगाहें लगी हुई है,क्योकि बसपा और भाजपा दोनों पर सवर्ण होने से वोट कट सकता है,इसलिये दोनों पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर निगाह बनी हुई है तो दूसरी तरफ पूर्व सांसद धनन्जय सिंह भी अपना राजनीतिक गुणा गणित में भी लगे है लेकिन अभी किसी के पत्ते साफ नही दिख रहे है।
     बता दें कि कल लखनऊ में बसपा की मीटिंग हुई थी जिस पर कई नामों पर चर्चा हुई जिसपर सबसे आगे अशोक सिंह का नाम चर्चा पर है जिस पर मायावती को अंतिम मुहर लगाना बाकी है।