health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

दोस्ती के रिश्ते को कलंकित करता है कोइलारी के अजय सिंह की हत्या,हत्या के बाद दोस्तों ने शव को जमीन में दफना दिया,हत्या से क्षेत्र में सनसनी

जौनपुर दोस्ती के रिश्ते को कलंकित करने वाला एक मामला जौनपुर में सामने आया है जहां जिले के चंदवक थाना क्षेत्र के कोइलारी गांव निवासी युवक की उसके ही मित्रों ने चार दिन पहले गला रेत कर हत्या कर गाजीपुर सीमा से शव थोड़ी दूर नहर के किनारे गाड़ दिया।इसके बाद युवक की ही मोबाइल से उसके पिता को काल कर तीन लाख रुपये की मांग किया। जिसकी सूचना  पुलिस को दी।पुलिस ने सर्विलान्स के जरिए एक आरोपी को गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही पर शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।घटना में शामिल दो अन्य आरोपियों की तलाश कर रही है।  
सूत्रों के हवाले से खबर है कि जिले के कोइलारी गांव निवासी सुरेंद्र प्रताप सिंह बिट्टू(24)पुत्र अजय कुमार सिंह का विगत शनिवार को घर से गेहूं पिसवाने बाइक से निकला लेकिन वह वापस घर नहीं पहुंचा तो उसके पिता ने पुलिस को सूचना दी।दूसरे दिन युवक की ही मोबाइल से उसके पिता को काल कर तीन लाख रुपये की रंगदारी मांगी न देने पर हत्या करने की धमकी दी।जिसकी लिखित सूचना भुक्तभोगी ने पुलिस को दी।पुलिस सर्विलांस जरिए तलाश कर रही थी कि एक आरोपी अमरौना गांव निवासी सोनम राजभर पुत्र राम किशुन पुलिस के हत्थे चढ़ गया।पुलिस ने उसकी निशान देही पर गाड़े गए शव को गाजीपुर की सीमा से नहर के किनारे पुलिस ने बरामद कर लिया।पुलिस के अनुसार पूछताछ में आरोपी ने बताया कि हम व गांव निवासी दिलीप राजभर पुत्र सोनू,कोइलारी गांव निवासी चंदन सिंह रवि पुत्र देव प्रकाश सिंह तथा सुरेंद्र सिंह बिट्टू आपस में घनिष्ठ मित्र थे शनिवार को तराव गांव के घुट्टा की पाही है पर जुटे और थोड़ी दूर करहट में रवि के कहने पर उसकी हत्या कर दी।और शव नहर किनारे गाड़ दिया।दूसरे दिन रवि सिंह ने ही मृतक की मोबाइल से फोन कर उसके पिता को तीन लाख रुपये के लिए फोन किया था.
  बता दें कि घटना के संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक शहर डॉक्टर अनिल कुमार पांडे ने बताया कि चंदवक थाना पर अजय कुमार सिंह ने सूचना दिया कि उनका पुत्र  सुरेंद्र सिंह 24 वर्ष गायब हो गया है पुलिस गुमशुदगी का मामला दर्ज कर छानबीन कर रही थी कि कल मालूम पड़ा कि सुरेंद्र सिंह की दोस्ती रवि सिंह से थी जो कोलारी का रहने वाला था उसने अपने दो दोस्तों सोनम राजभर व तीसरा संदीप राजभर को साथ लेकर तीन लाख रुपए के लेनदेन को लेकर सुरेंद्र सिंह की गला रेत कर हत्या कर दिया सोनम राजभर पकड़ा गया है इसकी निशानदेही पर मृतक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है कानूनी प्रक्रिया की जा रही है।
मृतक के पिता द्वारा दी गई तहरीर पर यदि पुलिस सक्रिय हुई होती तो आज सुरेंद्र सिंह को बचाया जा सकता था पुलिस की लापरवाही के कारण सुरेंद्र सिंह को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा यदि समय रहते पुलिस ने मृतक के पिता की तहरीर पर गहराई से छानबीन किया होता तो शायद आज दिन न देखना पड़ता।