health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

*जौनपुर-वाराणसी खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से आपका अपना एमएलसी प्रत्याशी रमेश सिंह के चुनाव कार्यालय का उद्घाटन दिनांक 16 नवम्बर को दिन में 11 बजे किया गया है इस कार्यक्रम में आप सादर आमंत्रित हैं-निवेदक दिनेश सिंह*

जौनपुर-वाराणसी खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से आपका अपना एमएलसी प्रत्याशी रमेश सिंह के चुनाव कार्यालय का उद्घाटन दिनांक 16 नवम्बर को दिन में 11 बजे किया गया है इस कार्यक्रम में आप सादर आमंत्रित हैं- निवेदक दिनेश सिंह*

संजू अध्यक्ष, सुजीत बने संगठन मंत्री


जौनपुर। एससीएसटी बेसिक टीचर वेलफेयर एसोसिएशन उप्र ने संजू चौधरी को अध्यक्ष और सुजीत सोनकर को संगठन मंत्री मनोनीत किया है। 8 अक्टूबर को नगर के संत शिरोमणि रविदास धर्मशाला में रामधारी जी  की अध्यक्षता में चुनाव सम्पन्न हुआ। पर्यवेक्षक- मण्डल अध्यक्ष चन्द्रिका प्रसाद व चुनाव अधिकारी अजय कुमार गौतम ने  चुनाव प्रकिया को संवैधानिक ढंग से पूर्ण कराया।

इसमें मंत्री पद के लिए अशोक कुमार , कोषाध्यक्ष के लिए अमर नाथ शास्त्री व महिला उपाध्यक्ष अर्चना रानी व अन्य निर्वाचित पदाधिकारियों को मुख्य वाराणसी मंडल अध्यक्ष चंद्रिका प्रसाद ने शपथ ग्रहण कराया। इसके बाद बैठक में जिला अध्यक्ष ने कहा कि विभाग और सरकार से लड़ने के लिए मजबूत संगठन का होना नितांत आवश्यक हैं। वर्तमान समय में लगातार शिक्षकों पर प्रहार किया जा रहा है। सरकार शिक्षक हित की मांग को मानने के बजाय सिर्फ अपने आदेशों-निर्देशों को मनवाने का प्रयास कर रही है। निशुल्क यूनिफार्म एवं कायाकल्प के नाम पर शिक्षकों को प्रताड़ना एवं शोषण किया जाना जैसी तमाम गंभीर समस्याएं हैं। इसको लेकर संघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश कुमार  विद्रोही के नेतृत्व में संघ कार्य कर रहा है। इस अवसर पर जिला संयोजक संजय चौधरी, संरक्षक अच्छेलाल चौधरी, वरिष्ठ उपाध्यक्ष शिव कुमार सरोज, उपाध्यक्ष भानु प्रताप राव, प्यारेलाल, संतलाल, दिलीप कुमार, संयुक्त मंत्री कप्तान सिद्धांत, संगठन मंत्री प्रभात कुमार, आशा अम्बेडकर, विनोद कुमार, प्रचार मंत्री अशोक कुमार राव, मिडिया प्रभारी सुनील कुमार गौतम, आडिटर राम मिलन आदि शिक्षक उपस्थित रहे। संचालन राजेश कुमार गौतम ने किया। अंत में राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

दीवानी बार के चुनाव में समर बहादुर यादव 608 मत पाकर अध्यक्ष,भूपेश रघुवंशी 718 मत मंत्री चुने गए

 

अध्यक्ष पद के लिए*

1- श्रीमती मंजू शास्त्री 131

 2-श्री समर बहादुर यादव 608

3- श्री गौरी शंकर मिश्र 60

4- श्री रमेन्द्र श्रीवास्तव 113


5- जितेन्द्र नाथ उपाध्याय 518

6- अवधेश  सिंह 427

7- अब्दुल सलाम आजाद 12

*वरिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर श्री अरुण कुमार प्रजापति व कनिष्ठ उपाध्यक्ष पद पर श्री वेदभूषण शर्मा चुने गए*

*मंत्री पद के लिए मतगणना के बाद मतो का विवरण*

 1- श्री भूपेश रघुवंशी 718

 2-श्री सुरेंद्र कुमार मिश्र 207

 3- श्री रण बहादुर यादव 317

 4 - श्री जय प्रकाश पांडेय 305

 5- श्री कृष्ण मोहन यादव  149

 6- श्री राकेश कुमार श्रीवास्तव 67

 7- श्री रमेश चंद्र पाल 86

 8- लालसाहब यादव 8


*401 वोटो से श्री भूपेश सिंह रघुवंशी जीते*

*आडिटर पद*

 1- शरद कुमार जायसवाल 914

 2 - हंसराज चौधरी 502

 3 - विकास पटेल 422

जौनपुर में अमित शाह ने सपा कांग्रेस गठबंधन पे खूब कसा तंज

जौनपुर। अमित शाह ने रविवार को बीजेपी रैली को संबोधित करतें हुए सपा-कांग्रेस पर जमकर तंज कसा। उन्होंने शीला दीक्षित के राहुल गांधी पर मैच्योर नहीं होने वाले बयान पर कहा, 'शीला जी, राहुल बाबा को घरमें बैठाकर मैच्योर करो।  भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि सपा और बसपा ने 15 साल में उत्तर प्रदेश को ‘बर्बाद’ कर दिया है। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने पर जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण को समाप्त कर दिया जाएगा , साथही साथ प्रदेश से गुंडागर्दी भी खत्म कर दी जायेगी । श्री शाह   रविवार को जिले के मडियाहू विधान सभा के जमालापुर में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे । उन्होंने मतदाताओं से कहा, ‘‘आपने सपा और बसपा को मौका दिया। कांग्रेस को मौका दिया। अब एक मौका प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को दे दीजिए। उत्तर प्रदेश में जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण समाप्त कर देंगे।’’ भाजपा सरकार बनने पर राज्य के ‘कत्लखाने’ बंद करने का ऐलान करते हुए शाह ने कहा कि वह प्रदेश मेंखून की नहीं, बल्कि दूध और घी की नदियां बहाना चाहते हैं।भाजपा नेता ने कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश में जिस दिन भाजपा का मुख्यमंत्री शपथ लेगा, रात बारह बजे के पहले राज्य के सारे कत्लखाने बंद कर दिये जाएंगे। अब तक प्रदेश में गाय, भैंस और बैल के खून की नदियां बहायी जाएंगी । उन्होंने कहा हाँ नदियां बहेंगी मगर घी और दूध की ,खून की नहीं ।