health

Breaking News

जौनपुर - बीजेपी के लिए जौनपुर से चुनाव का आगाज करना शुभ है-सतीश कुमार सिंह 24UPNEWS.COM पर

जिले में लगातार हो रही हत्याओं से थर्राया जौनपुर ,अचानक क्राइम का पारा चढ़ा,जिम्मेदार मौन ?

जौनपुर-दबंगो ने दिया हत्या को अंजाम, पैसे के लेनदेन को लेकर हुए विवाद के चलते दो युवको ने एक व्यक्ति को लाठी और डंडो से मारकर उतारा मौत के घाट,5800 रुपये के लेनदेन में हुई गोरख की हत्या, प्रत्यक्षदर्शी ने पुलिस के सामने आरोपियों का नाम किया उजागर, मामले की जांच में जुटी पुलिस,जफराबाद थाना क्षेत्र का मामला,पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर जांच में जुटी, सीओ सिटी नृपेंद्र कुमार और एसओ जफराबाद मय फोर्स मौके पर पहुँच कर जांच जुट गए, मौके एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया दो युवको ने करीब आधे घण्टे तक शराब पीकर मारा पीटा, दोनों युवकों के एक युवक शराब सेल्समैन और एक युवक जो बरसठी का बताया जा रहा है,फिलहाल पुलिस परिजनों की तहरीर के आधार पर आगे कार्यवाही होगी।

दो जून की रोटी के लिए विदेश गए व्यक्ति की सैलरी मांगने पर हत्या का आरोप,पीड़ित परिजन ने थाना व डीएम आवास पर दिया परिजनों ने धरना

जौनपुर जफराबाद थाना क्षेत्र के मोथहा गांव निवासी रामसूरत निषाद सूडान में नौकरी कर रहे थे जहां बीते 12 तारीख को  इनकी  सन्दिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई मौत की जानकारी मिलते ही परिजन परेशान हो  गए। आज सुबह परिजन दिल्ली से शव को लेकर  जफराबाद  थाने पहुँचे और शव का दोबारा पोस्टमार्टम कराने की बात कहने लगे थाने पर सुनवाई न होने पर डीएम पहुँचे गए और  पोस्टमार्टम कराने की बात करते हुए घेराव कर दिया । डीएम आवास के घेराव की जानकारी मिलते ही एसडीएम मंगलेश दुबे ने मौके पर पहुंचकर कमान संभाली और परिजनों ग्रामीणों को आश्वासन देते हुए जफराबाद थाना अध्यक्ष को लीगल कार्रवाई करने के लिए निदेश दिया ।
जिला अधिकारी आवास पर घेराव की सूचना मिलते ही एसडीम मंगलेश दुबे भी मौके पर पहुंचकर कमान संभाली और परिजनों को ग्रामीणों को समझाते हुए जफराबाद के थानाध्यक्ष को अग्रिम कार्रवाई करने का आदेश दिया। इस संबंध में एचडी मंगलेश दुबे ने बताया कि रामसूरत निषाद मथुरा गांव के निवासी है इनकी सूडान में मौत हुई है परिवार वाले दोबारा पोस्टमार्टम की बात कह रहे हैं इसके लिए जफराबाद थाना थानाध्यक्ष को लीगल कार्रवाई के लिए आदेश कर दिया गया है हत्या की बात के बाबत उन्होंने कहा कि पोस्टमार्टम के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।
संतोष कुमार ने बताया कि 12 तारीख को इनकी अंतिम बार बात हुई थी। जिस कंपनी में नौकरी करते थे उस कंपनी के मालिक द्वारा बराबर उनको परेशान किया जाता रहा और तनखा भी नहीं दिया जा रहा था जिस से परेशान होकर उन्होंने घर पर फोन किया था और कहा था कि अब हमारे आने की उम्मीद नहीं है हम लोग लाश लेकर जौनपुर पहुंचे हैं हम चाहते हैं कि इसका सरकारी डॉक्टर द्वारा फिर से पोस्टमार्टम कराया जा सके जिससे यह स्पष्ट हो सके की मौत कैसे हुई है हम लोगों को विश्वास है कि उन्होंने आप आते नहीं किया बल्कि उनकी हत्या की गई है
मृतक के बेटे सचिन कुमार का कहना है कि उनके पिता की हत्या की गई है हम लोग जिलाधिकारी आवास पर आए हैं लाश का  पोस्टमार्टम  कराई जाए जिससे ये मालूम हो कि उनकी हत्या हुई है । जिससे उनको न्याय मिल सके ।
फिलहाल इस तरह का जनपद में लोगों ने तो आज़मगढ़ में विदेश में सैलरी न मिलने से तीन लोगों की गई जान,अब देखना यह है कि जिला प्रशासन और विदेश मंत्रालय कितना इन गरीबो को न्याय दिलाता है जो घर छोड़कर दो जून की रोटी के लिए विदेश कमाने के लिए गए थे।

जफराबाद पुलिस हिरासत से वाहन चोर चकमा देकर फरार,पुलिस महकमे में हड़कम्प

जौनपुर- ग्रामीणों की मदद से वाहन चोर को किया था पुलिस के हवाले,पुलिस हिरासत से वाहन चोर शौच के बहाने थाना परिसर से फरार,पुलिस आरोपी चोर के खिलाफ ने उचित धाराओं में मुदकमा पंजीकृत कर सरगर्मी से तलाश जारी,लेकिन जौनपुर पुलिस की कार्य प्रणाली पर सवालिया निशान,जफराबाद थाना क्षेत्र का मामला।
    बता दें कि जफराबाद के मोहल्ल बंधवा निवासी दो सगे भाई गोलू, मोलू पुराने चोर हैं। कई बार इनको पुलिस ने चोरी के मामले में गिरफ्तार किया है। सोमवार को मोहल्ला रसूलाबाद निवासी अनिल प्रजापति की बाइक के साथ मोलू को मोहल्ले के कुछ लड़कों ने देखा। उनको मोलू पर शक हुआ। क्योंकि उक्त बाइक एक माह पूर्व अनिल प्रजापति ने सिरकोनी के एक व्यक्ति के हाथ बेच दिया था। संदिग्ध स्थिति में देखते हुए मोहल्ले के युवकों ने मोलू को बाइक के साथ पकड़ लिया तथा जफराबाद पुलिस को सुपुर्द कर दिया। मामले में जफराबाद की पुलिस ने दोनों से पूछताछ करना शुरू किया तो तो पता चला कि मामला सही है उक्त भाई सिरकोनी  से चोरी की गई थी। इसमें मोलू का भाई गोलू हुई सन लिप्त था। पुलिस ने गोलू को भी गिरफ्तार कर लिया। बीती रात मोलू जफराबाद थाना परिसर में पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। मोलू ने शौच करने का बहाना किया और शौच के बहाने ही थाना परिसर के पीछे के रास्ते से फरार हो गया। उसके फरार होने की सूचना पर पुलिस महकमे में अफरा-तफरी मच गई। मंगलवार  शाम तक  जफराबाद पुलिस मोनू की तलाश करने में जगह-जगह दबिश दे रही है  लेकिन अभी तक मोलू पकड़ा नहीं गया है। थानाध्यक्ष पर्व कुमार सिंह ने बताया कि  मामला सही है मोलू थाने से पुलिस कस्टडी से चकमा देकर फरार हो गया। इस संबंध में उसके खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कर उसकी तलाश की जा रही है। तथा उसके भाई गोलू एवं राम आसरे निवासी समयपुर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है। इनके पास से दो चोरी की मोटरसाइकिल भी बरामद किया गया है।