health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

सभी कार्डधारकों को प्रति यूनिट 5 किलो चावल सरकार की तरफ से आम जनता को दिया जाएगा मुफ्त में-डी0के0सिंह डीएम

जौनपुर- डीएम दिनेश कुमार से ने आज मीडिया को बताया कीप्रॉक्सी पर राशन वितरण उज्जवला कार्ड धारकों को गैस सिलेंडर का मूल्य उनके खाते में भेजा जाना,12 अप्रैल को प्राकसी से राशन वितरण होगा जिनका अंगूठा लगने के बाद वितरण अंगूठा मैच होने के कारण नहीं हो पाया है।15 अप्रैल से आ गया पर यूनिट 5 किलो चावल दिया जाएगा। 15अप्रैल से 26 अप्रैल तक प्रत्येक कोटे की दुकान पर सभी कार्ड धारकों को चावल का वितरण होगा चाहे वह अंत्योदय कार्ड धारक हो या पात्र गृहस्थी का कार्ड धारक हो सबको यूनिट के अनुसार प्रति यूनिट 5 किलोग्राम चावल दिया जाएगा और किसी से भी कोई मूल्य नहीं लिया जाएगा इस प्रकार का शासन ने आदेश किया है। चावल का वितरण  सबके लिए फ्री होगा। उज्जवला गैस कनेक्शन वालों के खाते में जो गैस का वर्तमान मूल्य है उतने के बराबर धनराशि कनेक्शन धारक के खाते में चली जाएगी ।कनेक्शन धारक उसमें से पैसा निकाल कर के डिलीवरी मैन को देगा और उसे सिलेंडर मिल  जाएगा। बुकिंग अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से करानी होगी।उज्जवला गैस कनेक्शन धारकों के खातों में पैसा डालना प्रारंभ कर दिया गया है गैस कंपनियों ने अब तक 98000 लोगों के खातों में पैसे डालने हैं तो बैंक को भेज दिया है। चार-पांच दिनों में उज्जवला कनेक्शन धारकों के खाते में गैस सिलेंडर का मूल्य पहुंच जाएगा। जनपद में उज्जवला कार्ड धारक 30 5286 है।

आज जौनपुर से बड़ी और राहत भरी खबर,दिल्ली मरकज में शामिल 34 जमातियों की रिपोर्ट निगेटिव आने से जिला प्रशासन ने ली राहत की सांस

जौनपुर आज दिल्ली मरकज के जमात में शामिल 34 रिपोर्ट नेगेटिव मिलने से जौनपुर जिला प्रशासन ने राहत की सांस ली है फिलहाल जब से इन 34 लोगों का सैंपल वाराणसी बीएचयू के लिए गया था तब से जिला प्रशासन इन सबके रिपोर्ट आने का इंतजार कर रहा था और इसके पूर्व 14 बांग्लादेशियों की रिपोर्ट में एक बांग्लादेशी वह किनके गाइड की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया था तो आज यह 34 रिपोर्ट नेगेटिव आने से जिला प्रशासन और स्वास्थ्य महकमा राहत की सांस ले रहा है और जिला अधिकारी दिनेश कुमार सिंह भी 34 रिपोर्ट नेगेटिव आने से खुश दिखे है।

एसपी जौनपुर का सर्जिकल स्ट्राइक जारी,आदेश की अवहेलना पर मुख्य आरक्षी को किया निलंबित

अशोक कुमार एसपी जौनपुर
जौनपुर-पुलिस अधीक्षक जौनपुर महोदय द्वारा थाना चन्दवक पर नियुक्त मुख्य आरक्षी मनोज उपाध्याय द्वारा दिनांक 03.04.2020 को थाना चन्दवक स्थित बैरियर कनौरा मुख्य मार्ग आजमगढ़ रोड पर डियूटी के दौरान कोरना संक्रमण के दृष्टगत लाँक-डाउन में आवश्यक वस्तुओं को ले जा रहे ट्रकों को अनुचित रुप से रोके रखने एवं उच्चाधिकारियों के निर्देशों का अनुपालन न किये जाने पर उक्त मुख्य आरक्षी को निलम्बित किया गया ।

मा0शिक्षक संघ ने कोरोना वॉयरस महामारी में सभी शिक्षक अपना एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में देने का किया ऐलान

जौनपुर-कोरोना वायरस और लाक डाउन के चलते जबकि सभी लोग एडवाइजरी का पालन करते हुए अपने-अपने घरों में बन्द हैं,मा0शिक्षक संघ अपने शिक्षकों/कर्मचारियों के हित संरक्षण में समर्पित भाव से लगा हुआ है ।शिक्षकों/कर्मचारियों की विभिन्न समस्याओं के समाधान हेतु मा0शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष सरोज कुमार सिंह द्वारा आज जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय से दूरभाष पर ही वार्ता की गयी ।वार्ता के दौरान जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय द्वारा   समाधान का आश्वासन दिया गया ।साथ ही जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय ने कोरोना वायरस से प्रभावित प्रदेश को आर्थिक सहयोग के लिए शिक्षकों/कर्मचारियों से एक दिन का वेतन मुख्यमंत्री राहत कोष में दिए जाने की अपील की ।उनकी अपील पर मा0शिक्षक संघ और शिक्षणेत्तर संघ के जनपदीय पदाधिकारियों ने मानवीय आधार पर सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि शिक्षकों/कर्मचारियों के वेतन से एक दिन के वेतन की कटौती करते हुए उसे # मुख्यमंत्री राहत कोष # में भेजें जाने की व्यवस्था जिला विद्यालय निरीक्षक महोदय सुनिश्चित करने का कष्ट करें ।जनपदीय माध्यमिक शिक्षक संघ और शिक्षणेत्तर संघ ने मानवता की सेवा हेतु इस योगदान के लिए सभी शिक्षकों/ कर्मचारियों के प्रति हार्दिक कृतज्ञता ज्ञापित की है।

गरीब की मनरेगा मजदूरी पर डाका डालना ग्राम प्रधान को पड़ा महंगा,डीएम ने भ्रष्टाचारी ग्राम प्रधान को भेजा जेल

जौनपुर। जहां पूरे देेश में  कोरोना वायरस के कारण लॉक डाउन लगा लगा हुआ है,देश मे ट्रेन के पहिये रुके हुए है,सभी के रोजी रोजगार ठप्प पड़े है,ऐसे में योगी सरकार गरीबों की मदद के लिए तत्पर है,सीएम अपने मातहतों लगातार सभी के खाते में पैसे भेजे जा रहे है, यूपी के ग्राम प्रधान भोली भाली जनता से पैसा लेने से बाज नही आ रही है,मनरेगा मजदूरी ग्रामप्रधान बैंक मित्र की मिली भगत से रुपये निकालने का मामला सामने है प्रदेश की ग्राम प्रधानों के भ्रष्टाचार लगातार के मामले लगातार आ रहे है ऐसा ही एक मामला डीएम जौनपुर को उनके मोबाइल पर मिली कि एक मजदूर का पैसा खाते से निकालने पर प्रधानपति को जेल भेज दिया। उन्हें ऐसी शिकायत लगातार मिल रही थी। जिस पर उन्होंने सभी अधिकारियों से इस मामले को गंभीरता से लेने का निर्देश दिया था। 
बता दें कि जिले के लाईन बाजार थाना क्षेत्र के पचोखर के ग्राम प्रधान की शिकायत जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह को मिली कि उक्त प्रधान गरीबों के मनरेगा की मजदूरी का पैसा प्रधान ने बैंक मित्रों से मिलकर मनरेगा में आया पैसा अंगूठा लगाकर निकाल ले रहे हैं जिससे पात्र मजदूर मनरेगा के ठगे जा रहे हैं। शनिवार को भी लाइन बाजार थाना क्षेत्र के एक मनरेगा मजदूर का बयान जिलाधिकारी के मोबाइल पर व्हाट्सएप किया गया जिसके बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए डीएम ने एसओ लाइन बाजार को निर्देशित किया कि पचोखर गांव में जाकर उक्त मामले की जांच करें। जांच में मामला सही पाया गया जिस पर प्रधान पति पहाडू यादव को गिरफ्तार कर एससो लाइन बाजार थाना कोतवाली लाकर डीएम के समक्ष प्रस्तुत किया। पहाडू यादव आरोपित के साथ सुभाष निषाद पीड़ित भी आया था जिससे डीएम ने बात की सुभाष निषाद ने बताया कि प्रधान पति ने शुक्रवार को मेरे खाते से 4900 निकाल लिया और मुझे केवल 400 ही दिए। इतना सुनते ही डीएम ने मुकदमा लिखकर प्रधान पति को जेल भेजने का आदेश दिया।

जौनपुर 14 बांग्लादेशी में से एक पॉजिटिव और रांची के एक गाइड का कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने से जौनपुर प्रशासन में हड़कम्प

जौनपुर- जनपद के कुशल व मेहनती जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह की कड़ी मेहनत पर पानी फेरता हुआ नजर आया है जब जनपद के लिये बड़ी दुखद समाचार है कि आज जनपद में दो क्रोना पॉजिटिव मामले पाए गए ।परसों 16 लोग ऐसे चिन्हित किए गए थे जो बड़ी मस्जिद में रह रहे थे और निजामुद्दीन दिल्ली की जमात में शामिल होकर के जौनपुर महामना एक्सप्रेस से 14 मार्च को आए थे। इन 16 लोगों में 14 बांग्लादेश के थे एक पश्चिम बंगाल का था और एक रांची का था।सभी 16 लोगों की रिपोर्ट आ गई है जिसमें 2 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव है। एक बांग्लादेशी है इस्माइल हुसैन जिनकी उम्र लगभग 21 वर्ष दूसरे यासीन अंसारी यह रांची के रहने वाले उम्र लगभग 68 साल है जिनके पॉजिटिव रिपोर्ट आई है ।उनको जिला अस्पताल में भर्ती करके इलाज प्रारंभ कर दिया गया है।  सभी जनता से अपील है कि इस संक्रमण से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा कोई रास्ता नहीं है। इसका सभी लोग पालन करें जिससे संक्रमण एक  व्यक्ति से दूसरे  व्यक्ति को फैल न सकें ।लाकडाउन का कड़ाई से पालन करें।घरों से अनावश्यक रूप से बाहर ना निकले किसी अन्य को स्पर्श ना करें और ना ही कोई आप को स्पर्श करें ।थोड़े-थोड़े अंतराल पर अपने हाथों को धोते रहें सैनटाइज करते रहें।यह सुनिश्चित करना हम सबका दायित्व है। और ऐसा करके हम संक्रमण को फैलने से रोक सकते हैं।

जिले में 91 जमाती चढ़े जिला प्रशासन के हत्थे,26 लोग ऐसे जो दिल्ली के जामत में हुए थे शामिल,सभी को किया गया कोरण्टाइन

जौनपुर-पूरा देश मे जहां कोरोना का सक्रमण से लॉक डाउन 14 अप्रैल तक लगा हुआ है ऐसे में पूरे देश मे जमात में शामिल हुए लोगो को प्रशासन चिन्हित किया गया ऐसे में डीएम जौनपुर दिनेश कुमार सिंह व एसपी अशोक कुमार की मुस्तैदी के कारण पूरे जनपद में 91 ऐसे लोग चिन्हित किए गए हैं जो विभिन्न जमातो में शामिल थे इनमें 26 ऐसे लोग हैं जो दिल्ली में निजामुद्दीन की जमात में शामिल थे। इन सब के सैंपल लेकर के बीएचयू जांच के लिए भेजे गए ।तथा इन सबको शेल्टर क्वॉरेंटाइन में रखा गया है। प्रथम सूचना रिपोर्ट भी इनके खिलाफ दर्ज कराई गई।


कल पूरे जनपद में राशन की दुकानों पर कोटे का राशन बटेगा,बिना राशन कार्ड धारकों को भी मिलेगा राशन-डी0के0सिंह डीएम

जौनपुर- जिले के सभी कोटेदारों ने तैयारी कर ली होगी ।सभी कोटे की दुकान पर डिटॉल की लिक्विड की शीशी या सैनिटाइजर मौजूद रहे। एक_एक  मीटर की दूरी पर गोले बना लें जिन पर ही लोग खड़े हो ।पहले से ही आज रात में ही प्रचार कर दिया जाए कि सब एक साथ न लेने आएं । हर कोटे की दुकान पर एक वितरण अधिकारी उपस्थित रहेगा और अपनी देखरेख में वितरण करायेगा। जिला आपूर्ति अधिकारी आज हर हाल में कंट्रोल रूम के माध्यम से सभी वितरण अधिकारियों से वार्ता करने और सुनिश्चित करले कि वह हर हाल में जाएं अगर उसमें से कोई ना जाए तो उसकी जगह रिजर्व से ड्यूटी लगाई जाए इसमें किसी प्रकार की लापरवाही ना हो जिससे कि कल हर हाल में  सभी कार्ड धारकों को राशन मिल सके। मुंह में ब्लाक बार फोन लगे हैं उनको यह जिम्मेदारी सौंपी जाएगी वह अपने ब्लॉक के सभी कोटे की दुकान की कोटेदारों और उस पर लगे हुए वितरण अधिकारियों से आग हर हाल में रात तक वार्ता करें और उनको निर्देशों से अवगत कराएं। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न हो। ग्राम प्रधान और उस गांव के लेखपाल की जिम्मेदारी है कि गांव में जो भी गरीब है और राशन कार्ड नहीं है तो उसकी सूची बनाकर उनको भी राशन उपलब्ध कराया जाए। सूची उप जिला अधिकारी को उपलब्ध कराई जाए।उपजिलाधिकारी ,तहसीलदार, नायब तहसीलदार सभी मिलकर के अपनी तहसील में राशन वितरण की समीक्षा करेंगे और परयवेक्षण करेंगे।

लॉक डाउन के दौरान गरीबो की सेवा व अनाज पहुचाने वाले पहले जौनपुर के पहले डाक्टर लाल बहादुर सिद्धार्थ आये सामने

जौनपुर। समाजसेवा के मामले में हमेशा चर्चित रहने वाले डा. लालबहादुर सिध्दार्थ एक बार फिर सुर्खियों में आ गये है। उन्होने कोरोना महामारी के कारण देश में लागू हुए लाॅकडाउन के चलते रोजी रोटी की विकराल समस्या झेल रहे मजदूरो के मदद के लिए आगे आ गये है। उन्होने सोमवार को अपने पैतृक गांव बसारतपुर में सैकड़ो परिवारों को राशन बांटा। खाने पीने का समान मिलते ही गरीबों चेहरे पर मुस्कान आ गयी। 
बता दें कि जनपद व उसके आसपास के इलाके में गरीब मरीजो का मुफ्त इलाज करके गरीबो के मसीहा बन चुके डा.लालबहादुर सिध्दार्थ भूखमरी के कगार पहुंचे गरीबों का मदद करने के लिए वाहनों पर आटा,चावल,दाल,मसाला और सब्जी लेकर उनके द्वार पर पहुंच गये। उन्होने राशन वितरण से पहले सोशल डिस्टेसिंग के लिए एक एक मीटर पर चुने का घेरा बनाया और पात्रों को मुंह ढ़कवाने के बाद अन्नदान किया। इस मौके पर उन्होने जनता से अपील किया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए अपने अपने घरो में रहे तथा घर व आसपास साफ सफाई रखे। उन्होने सभी अश्वस्त किया कि घर से निकलने की जरूरत नही है। उनके खाने पीने का इंतजाम जिला प्रशासन,समाजसेवी संगठन व मैं करता रहूंगा।

कोर्ट के आदेश पर कोरोना वायरस के चलते जेल से रिहा किये गये 75 कैदी

जौनपुर। जिला जेल में बंद दो महिलओं समेत 75 विचाराधीन कैदियों को रविवार को निजी मुचलके पर अल्प समय के जमानत पर रिहा कर दिया गया। जेल छुटते ही कैदियों के चेहरे पर खुशी छा गयी। बंदियों को छोड़ने का आदेश सुर्पीम कोर्ट ने कोरोना वायरस को देखते हुए दिया था ै। जेल अधीक्षक ने बताया कि अभी 44 और कैदियों को रिहा करने की प्रक्रिया चल रही है।
 देश में बढ़ते कोरोना वायरस के प्रकोप को देखते हुए सुर्पीम कोर्ट ने जेल में बंद सात वर्ष से कम सजा वाले मामले में जेल में बंद कैदियों को रिहा करने का आदेश दिया था। इस आदेश के अनुपालन में यूपी सरकार ने बंदियों को छोड़ने की प्रक्रिया पूरी करके कैदियों को छोड़ने का काम शुरू कर दिया। रविवार को जिला जेल में बंद 75 कैदियों को निजी मुचलके पर रिहा कर दिया गया।  

लॉक डाउन के दौरान दवाओं की दुकानों पर भीड़ कम करने के लिए अब होम डिलेवरी के लिए डीएम ने 14 मेडिकल स्टोरों को किया है नामित

जौनपुर- 27 मार्च से मेडिकल की दुकानों पर भीड़ कम करने के उद्देश्य से,सोशल डिस्टेंसिंग बनाने के उद्देश्य से और इस उद्देश्य की लोग घर से बाहर ना निकले और घर पर ही उनको दवा भी मिल जाए 14 दुकानें अधिकृत की गई है ।जहां पर कोई भी व्यक्ति अपने घर से मोबाइल पर फोन करके अपनी दवाई नोट करा सकता है और उसकी दवा का पैकेट बना करके उसके घर पर दुकानदार उपलब्ध करा देगा। साथ ही साथ अपने दवा के पर्चे को भी दुकानों के नंबरों पर व्हाट्सएप भी कर सकता  है।अच्छा यह रहेगा कि अपने घर के पास वाली दुकानदार की नंबर पर ही बात करें व्हाट्सएप पर अपना पर्चा भेजें जिससे आसानी से आपके घर पर आप की दवा पहुंच सके।मेरी विनती है कि प्रधानमंत्री के लाकडाउन के   आह्वान का हम सभी पालन करे। निवेदक इस दिनेश कुमार सिंह जिलाधिकारी जौनपुर.

समाजसेवी ज्ञान प्रकाश सिंह लाक डाउन के दौरान असहायों और गरीबों को देंगे मुफ्त भोजन

संवेदनशील जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह की कार्य प्रणाली से प्रभावित होकर श्रीमती अमरावती श्रीनाथ सिंह चैरिटेबल ट्रस्ट के ट्रस्टी ने लिया निर्णय 
जौनपुर | लाक डाउन के दौरान जौनपुर में कोई भी गरीब भूखा न रहे इस बात को जिला  प्रशासन ने गंभीरता से लिया है. | संवेदनशील और कर्मठ जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह की कार्य प्रणाली से प्रभावित होकर श्रीमती अमरावती श्रीनाथ सिंह चैरिटेबल ट्रस्ट के ट्रस्टी और समाजसेवी ज्ञान प्रकाश सिंह ने "लाक डाउन" के दौरान असहायों और गरीबों को मुफ्त भोजन देने की घोषणा की है | ट्रस्ट के लोग घर घर जाकर भोजन का पैकेट देंगे |
         मुबई के प्रमुख उद्योगपति और समाजसेवी ज्ञान प्रकाश सिंह ने बताया कि इस समय पूरा विश्व कोरोना जैसी महामारी की चपेट में है | देश की जनता की सुरक्षा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 21 दिन के लाक डाउन की घोषणा की है | इसका पालन करना हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी बनती है | उन्होंने कहा कि जौनपुर मेरी मातृभूमि है | इस संकट की घड़ी में मैं अगर जिले के असहायों और गरीबों के किसी काम आ सका तो मेरा सौभाग्य होगा | पहली बार जौनपुर जिले को दिनेश कुमार सिंह के रुप में ऐसे जिलाधिकारी मिले हैं जो 24 घंटे जनता की भलाई के बारे में सोचते हैं | ऐसे में हम सभी का नैतिक कर्तव्य बनता है कि ऐसे कर्मठ और कर्तव्यनिष्ठ जिलाधिकारी का पूर्ण सहयोग करें | 
      उन्होंने कहा कि अब जनपद में कोई भी गरीब भूखा नहीं सोने पायेगा | इतना ही नहीं भविष्य में जिला प्रशासन और भी जो सहयोग चाहेगा हम करने को तैयार हैं |अधिक जानकारी के लिए शिवा सिंह से मोबाइल नंबर -8765450555 पर सम्पर्क कर सकते हैं

जौनपुर पुलिस का एक चेहरा यह भी आधी रात को लाक डाउन के दौरान भूखे परिवार को भोजन लेकर पहुँचे सीओ सिटी

सीओ सिटी व सिटी कोतवाल भूखे परिवार
को आधी रात को खाना लेकर पहुंचे
जौनपुर जनपद की पुलिस का एक और चेहरा आया सामने जहां पूरे जनपद में लाकडाउन के दौरान लोग अपने घरों में दुबकने को मजबूर रहे 24 घंटे जौनपुर पुलिस आपकी सेवा में तत्पर रहें,यही नही जैसे कोई सूचना मिली कि कोई परिवार जो देहाडी मजदूरी करके अपना जीवन यापन करते है तो जौनपुर पुलिस इस लॉकडाउन द्वारा संकट मोचन के रूप में एक यह भी चेहरा सामने आया है जिसकी जनता सराहना कर रही है
बता दें कि सिटी कोतवाली के ताड़तला मोहल्ले में एक मुस्लिम परिवार जिसका पति कैंसर पीड़ित होने के कारण 2019 में मौत हो चुकी थी चार बच्चों के पेट पालने के लिए महिला झाड़ू पोछा करती है  यह परिवार 22 तारीख जनता कर्फ्यू से घर मे रहने को मजबूर है भजैसे ही जिला प्रशासन जौनपुर पुलिस को सूचना मिली वैसे ही जिलाधिकारी जौनपुर दिनेश कुमार सिंह व एसपी जौनपुर अशोक कुमार के आदेश पर सीओ सिटी सुशील कुमार सिंह व सिटी कोतवाल पवन उपाध्याय और सरायपोखता चौकी इंचार्ज अरविंद यादव की टीम ने आधी रात करीब 11:00 बजे परिवार को भोजन लेकर उनके दरवाजे पर पहुंच भोजन पाकर परिवार ने जिला प्रशासन के प्रति खुशी जाहिर की और सीओ सिटी के प्रति धन्यवाद प्रेषित किया है।

कल से किराना की दुकाने सुबह 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक और मेडिकल की दुकानें 24 घण्टे खुली रहेंगी-डीएम

जौनपुर-कल किराना की दुकान ,और फल सब्जी की दुकान, जानवरों के चारे की ,और मुर्गी दाने की दुकानें सुबह 6:00 बजे से दोपहर 12:00 बजे तक खुलेगी। दुकानदार दुकान खोलने से पहले एक एक  मीटर की दूरी पर  पेंट से गोले बना लेंगे और ग्राहक जो आएंगे उन्हीं गोलों में खड़े होंगे जिससे ग्राहक एक दूसरे के संपर्क में न आए और एक दूसरे को स्पर्श ना करें ।इसका पालन कराना अत्यंत आवश्यक है ।इन गोले बनाने से पहले दुकान ना खोलें। इसी प्रकार जो दवा की दुकानें उन पर भी दुकानदार पहले पेंट से गोले बना लेगा तब दुकान खुलेगा और दुकानें 24 घंटे खोले जा सकती है।

जिला प्रशासन द्वारा 20 रुपये में भोजन और गरीब लोगों को निशुल्क भोजन के लिए होम डिलीवरी की व्यवस्था की गई है -दिनेश कुमार सिंह डीएम

जौनपुर जिले में पीएम के आव्हान पर जनपद में  लाकडाउन के दौरान और जिला प्रशासन द्वारा गरीब और असहाय लोगों के लिए ₹20 में पूडी-सब्जी और वेज बिरयानी की व्यवस्था की है ऐसे में आसरा द होफ संस्था द्वारा भोजन को होम डिलीवरी करने की व्यवस्था की गई है और गरीब लोगों को जिला प्रशासन द्वारा होम डिलीवरी करने की व्यवस्था की गई,नगर की समाज सेवी संस्था  ज्ञान प्रकाश सिंह की संस्था श्रीमती अमरावती श्रीनाथ सिंह चैरिटेबल ट्रस्ट  ने करीब गरीब लोगों को निःशुल्क भोजन अपनी तरफ से जौनपुर की गरीब व असहाय जनता को पेट भरने की व्यवस्था की गई है.कृपया आप इस नम्बर पर सम्पर्क कर सकते है mo.no.- 8726727578, 8869907336, फोन पर आर्डर देने के आधे घण्टे के अंदर आपके बताये गये स्थान पर भोजन पहुँच जाएगा,जिसकी कीमत 20 रुपये रखी गयी है,वही जिला प्रशासन ने गरीब व असहाय लोगो को निःशुल्क व्यवस्था की गई है,इस काम को करने के लिए एक 
     बता दें कि कल 12 बजे दिन में इस व्यवस्था द्वारा भोजन वितरण का कार्य शुरू कर दिया जाएगा जो सिटी कोतवाली के नगर पालिका के कैम्पस में एक जगह भी चिन्हित किया गया,वही जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ऐसे होम डिलीवरी करने वाली संस्था हो जो जिला प्रशासन या जिला अधिकारी जौनपुर दिनेश कुमार सिंह को 9454417578 इस नम्बर पर सम्पर्क कर सकते है।

कोरोना संक्रमण के दृष्टिगत लाकडाउन की कार्यवाही के दौरान कुल 230 वाहनों का चालान, 15 वाहन सीज व 39500 रुपया समन शुल्क वसूला गया।*

जौनपुर में कोरोना के संक्रमण के दृष्टिगत लाकडाउन के दौरान जनपदीय पुलिस द्वारा दिनांक-24.03.2020 को 61 बैरियर / नाका बनाकर 1070 वाहन चेक किये गये जिसमें 230 वाहनों का चालान, 15 वाहन सीज व 39500 रुपया समन शुल्क वसूला गया। 
        पुलिस अधीक्षक जौनपुर के निर्देशन में जनपद के समस्त थानों द्वारा अपने-2 थाना क्षेत्रों में राज्य मार्गों व लिंक मार्गो पर निरन्तर पेट्रोलिंग कर लाउड हेलर के माध्यम से जनता को कोरोना संक्रमण के सम्बन्ध में जागरुक करते हुए घर से बाहर न निकलने की सलाह दी जा रही है।

राज्यमंत्री गिरीश, एमएलसी बृजेश व विधायक जगदीश ने दिये 20-20 लाख रूपये,हरेंद्र सिंह,पारस नाथ ने 15 लाख और दिनेश चौधरी ने 10-10 लाख रुपये तो

जौनपुर। देश में महामारी के रूप में पनपे नोवल कोरोना वायरस को लेकर जहां पूरा देश जूझ रहा है और केन्द्र सहित सभी राज्य सरकारें अपने तरीके से बचाव में लगी हुई हैं, वहीं के जनपद के आधा दर्जन जनप्रतिनिधियों ने अपने निधि से पीड़ितों के सहायतार्थ धनराशि देने की घोषणा किया। मुख्य विकास अधिकारी को जारी पत्रक के माध्यम से ज्ञात हुआ कि कोरोना वायरस पीड़ितों के सहायतार्थ जिलाधिकारी कोष में सूबे के राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव, विधान परिषद सदस्य बृजेश सिंह सहित तमाम विधायकों ने अपने निधि से सहायतार्थ देने की घोषणा किया है। जारी पत्रक के माध्यम से जहां सूबे के राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव ने 20 लाख रूपये देने की घोषणा किया, वहीं विधान परिषद सदस्य बृजेश सिंह ने भी 20 लाख रूपये रूपये देने की घोषणा किया। इसी तरह मछलीशहर विधायक इस कार्यक्रम के माध्यम से जगदीश सोनकर ने 20 लाख रूपये तो पूर्व मंत्री एवं वर्तमान में मल्हनी विधायक पारसनाथ यादव ने 15 लाख रूपये देने की घोषणा किया। इसी तरह शाहगंज विधायक शैलेन्द्र यादव ने 10 लाख रूपये, जफराबाद विधायक डा. हरेन्द्र सिंह ने 10 लाख रूपये, मुंगराबादशाहपुर विधायक सुषमा पटेल ने 5 लाख रूपये देने की घोषणा किया। अपने निधि से सहायतार्थ धनराशि देने वाले उपरोक्त जनप्रतिनिधियों ने मुख्य विकास अधिकारी को जारी पत्रक के माध्यम से जिलाधिकारी कोष में धनराशि भेजने की बात कही है।

मुश्किल वक्त में सपा विधायक ललई यादव ने अपनी निधि से कोरोना पीड़ितों के लिए दिए 10 लाख रुपये

जौनपुर। कोरोना वायरस की जंग में जनप्रतिनिधि भी आगे आने लगे हैं। विधायक शैलेंद्र यादव ललई ने कोविड-19 कोरोना वायरस से रोकथाम और उपचार के लिए अपनी निधि से 10 लाख रुपए दी हैं। यह धनराशि जिलाधिकारी राहत कोष में दी है। उन्होंने जिलाधिकारी से बचाव एवं सुरक्षा से सम्बंधित उपकरण की खरीद के लिए धन निर्गत किया जाए। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार की तरफ से तमाम प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन मास्क और सेनेटाइजर की कमी से लोगों में परेशानी है। खासकर गरीब वर्ग के लोगों को मास्क और सेनेटाइजर न मिलने से उनके अंदर डर का माहौल बना हुआ है। इसी के दृष्टिगत शाहगंज विधायक शैलेंद्र यादव ललई ने अपने विधायक निधि से 10 लाख रुपए देने की संस्तुति की है। उन्होंने शाहगंज विधानसभा क्षेत्र के लोगों के लिए बचाव के उपकरण व मास्क और सेनेटाइजर खरीद के लिए डीएम से राहत कोष.में दिया।  
   बता दें कि शैलेंद्र यादव ललई नें विधायक निधि से 10 लाख रुपये कोरोना वायरस की लड़ाई के लिए पत्र भेज दिया है। जिला प्रशासन जरूरत के अनुसार इसे खर्च कर सकता है। उन्होंने कहा कि इस धनराशि से मास्क, सैनिटाइजर समेत बचाव के उपकरण की खरीदारी की जा सकती है। वहीं विधायक ललई ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकना हम सभी का कर्तव्य है।

26 मार्च को रात 12 बजे तक रहेगा जौनपुर लाक डाउन,डीएम का जनता से अपील आप लोग कृपया धैर्य और बनाये रखें

लाक डाउन आदेश का पालन न करने वालों पर होगी कठोर कार्रवाई-डी0के0 सिंह डीएम

जौनपुर-जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने सभी थानाध्यक्षों से कहा है कि लॉक डाउन को पूरी तरह से लागू करना है ।अगर कोई भी व्यक्ति इसको नहीं मानता है तो उसके खिलाफ धारा 1८८ के तहत वाद मुकदमा दर्ज किया जाए। कोई बाहर निकलता है बिना अनुमति के तो उसका चालान किया जाए और उसके खिलाफ एफ आई आर भी दर्ज की जाए