health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

OLX पर ट्रैक्टर खरीदने के चक्कर मे किसान ने गंवाए एक लाख पैतालीस हजार,भुक्तभोगी ने चार लोगों के नाम तहरीर देकर दर्ज करवाया मुकदम


जौनपुर-जिले के गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के धर्मापुर गांव में एक अजीव वाकया घटित हुआ। जिससे एक किसान ने ओलएक्स पर ट्रैक्टर खरीदने में 1 लाख 45 हजार गवा दिया।

बता दें कि जिले के गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के धर्मापुर गांव का निवासी सभाजीत मौर्य बीते 2 सितंबर को ओलएक्स ऐप्स पर ट्रैक्टर खरीदने के लिए सर्च किया। सर्च के बाद उसे एक सोनालिका ट्रैक्टर 2016 मॉडल का मात्र दो लाख दस हजार में बेचने का लिंक दिखा। उस नम्बर पर सभाजीत ने कॉल किया तो सामने वाले ने अपना नाम गुरभेद निवासी लखनऊ बताया। उसने कहा कि हमे जल्दी है ट्रेक्टर बेचने की। इसलिए अकाउंट में डील फाइनल करने के लिए एक हजार भेजने को भेजा एक एकाउंट नम्बर पर। सभाजीत ने भेज दिया। फिर 3 सितंबर को भी 34 हजार , 21 हजार, 42 हजार व 28 हजार भेजने को बोला। सुभाष ने गूगल पे के माध्यम से उक्त के अकाउंट नम्बर पर पैसा भेज दिया। जब सुभाष ने डिलेवरी के लिए कहा कि कब तक ट्रैक्टर की डिलेवरी मिलेगी। उसके बाद गुरभेद व तीन अन्य ठगों का नम्बर ही स्वीच ऑफ बता रहा है। यह समझते देर नही हुई कि वह अब ठगों के द्वारा ठगा गया है। सुभाष ने रविवार को उक्त चारो फ्राडो के नाम से गौराबादशाहपुर थाने में पहुचकर  तहरीर दी और उनके द्वारा कॉल रिकॉर्डिंग सुनाई। 

एसओ गौराबादशाहपुर राम प्रवेश कुशवाहा ने उन चारों ठगों के ऊपर आईटी एक्ट का मुकदमा दर्ज कर लिया है। वही अपने को लूटा देख सुभाष जो कि एक बेरोजगार किसान था। थाने पर ही दहाड़े मारकर रोने लगा।

चकबन्दी प्रक्रिया का पालन कराने गयी पुलिस टीम पर ग्रामीणों ने बोला हल्ला,एसडीएम,सीओ समेत महिला आरक्षी को आई हल्की चोटें,40 अराजकतत्वों पर पुलिस ने किया मुकदमा दर्ज

जौनपुर- जनपद के गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के धर्मापुर ब्लाक के कुरेथू गांव में कल चकबंदी प्रक्रिया को भारी फोर्स की मौजूदगी में अधिकारियों ने आरम्भ करा दी,इसी दौरान चकबंदी का विरोध करने वालों से पुलिस की तीखी झड़प भी हुई जिसके बाद भीड़ को खदेड़ने के लिये पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया और लाठियां भी भांजी। इस घटना में ग्राम प्रधान समेत आठ लोग घायल हुए हैं। जवाब में ग्रामीणों ने ईंट-पत्थर भी चलाए। इसमें डिप्टी कलेक्टर, ट्रैफिक सीओ तीन लोगों को भी हल्की चोटें आईं। पुलिस ने गांव के 40 लोगों के विरुद्ध केस दर्ज किया है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।
बता दें कि जिले गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के कुरेथू गांव में चकबंदी प्रक्रिया को लेकर ग्रामीण दो खेमे में बंटे हुए हैं। एक पक्ष चकबंदी कराना चाहता है तो दूसरा पक्ष इसका विरोध कर रहा हैं। तीन वर्षों से चकबंदी प्रक्रिया इसके चलते अटकी हुई है। सोमवार को गांव पहुंचे पुलिस-प्रशासन के अफसरों को घंटों मशक्कत के बाद लौटना पड़ा था। मंगलवार भारी फोर्स के साथ अफसर गांव पहुंचे।
डिप्टी कलेक्टर मंगलेश दुबे, सीओ यातायात राजेंद्र कुमार के नेतृत्व में पहुंची टीम ने चकबंदी शुरू कराई तो एक पक्ष के लोग विरोध जताने लगे। पुलिस ने पहले तो उन्हें समझाने की कोशिश की। बात न बनने पर लाठियां भांजनी शुरू की। इससे भगदड़ मच गई। इसमें ग्राम प्रधान समेत आठ लोग घायल हो गए,जिसके जवाब में ग्रामीणों ने भी ईंट-पत्थर चलाए। इसमें डिप्टी कलेक्टर मंगलेश कुमार दुबे, यातायात सीओ राजेंद्र कुमार और महिला आरक्षी सीमा को भी चोटें आई। पुलिस ने विरोध कर रहे चालीस लोगों पर केस दर्ज किया है। उनकी तलाश की जा रही है। गांव में तनाव को देखते हुए भारी संख्या में पीएसी और महिला पुलिस को तैनात किया गया है। डिप्टी कलेक्टर मंगलेश दुबे ने बताया कि कुछ लोग निजी हित में विरोध कर रहे थे। उनके विरुद्ध कार्रवाई की गई है। चकबंदी प्रक्रिया शुरू करा दी गई है।

डीएम के रात्रि भ्रमण में एक लेखपाल,एक कोटेदार व एक धान क्रय केंद्र के मार्केटिंग इंस्पेक्टर को किया निलम्बित

जौनपुर-जिला अधिकारी दिनेश कुमार सिंह रात्रि भ्रमण में निकले,इस दौरान श्री सिंह को मिली कई खामियां,जहां एक तरफ हवेली में रहने वालों को शौचालय वो भी मानक के विपरीत देने के मामले कड़ी नाराजगी जताते हुए सख्त निर्णय लिया,ग्राम सचिव से शौचालय के पैसे की रिकवरी का दिया आदेश व लेखपाल को किया निलंबित व एक कोटेदार को विपणन प्रणाली में धांधली के आरोप में दुकान को किया निलंबित,धान क्रय केंद्र में धांधली के मामले में मार्केटिंग इंचार्ज को भी किया निलंबित, डीएम की इस कार्यवाही से लापरवाह व भ्रष्ट  अधिकारियों व कर्मचारियों में हड़कम्प,धर्मापुर ब्लाक के कमरुद्दीनपुर का मामला।

सड़क चौड़ीकरण से आक्रोशित महिलाओं ने किया तांडव,महिलाओं को पीछे खदेड़ने पुलिस के हांथ पांव फूले

जौनपुर- जिले के जफराबाद थाना क्षेत्र के किरतापुर गांव में आज सुबह सड़क चौड़ीकरण के विवाद में महिलाओं ने एक व्यक्ति के निर्माण कार्य को तथा मड़हा को गिरा कर ध्वस्त कर दिया। मामले की सूचना पर जफराबाद पुलिस मय फोर्स महिला पुलिस के साथ मौके पर पहुंचकर लोगों को हिरासत में ले लिया। घटना से संबंधित 28 लोगों का चालान कर दिया गया,लेकिन इन घटना में आक्रोशित महिलाओं को पीछे खदेड़ने के लिए पुलिस को छूटे पसीने,फिलहाल स्थित को पुलिस ने अन्तोगत्वा संभालने में सफल रही।
बता दें कि जिले के जफराबाद थाना क्षेत्र के किरतापुर गांव के ठाकुरद्वारा हरिजन बस्ती में पूर्व में बने दो मीटर चौड़े खड़ंजा सड़क का चौड़ीकरण का कार्य होना था। 200 मीटर तक उक्त खड़ंजा सड़क को एक मीटर और अधिक चौड़ा करना था। रास्ते में संतोष उर्फ तूफानी गिरी का मकान पड़ता है। उन्होंने सोमवार को सड़क चौड़ीकरण होने से पूर्व दो मीटर चौड़ी सड़क के बाद बाउंड्री निर्माण का कार्य शुरू करवा दिया था। हरिजन बस्ती के लोगों की सूचना पर हंड्रेड डायल पुलिस मौके पर पहुंचकर उक्त निर्माण कार्य को रुकवा दिया था। मामले के निपटारा के लिए दोनों पक्ष को थाने पर बुलाया गया था। मंगलवार को सुबह संतोष तथा हरिजन बस्ती के लोगों से सड़क चौड़ीकरण के मामले में एक बार फिर विवाद शुरू हो गया। किरतापुर हरिजन बस्ती की दर्जनों महिलाएं मौके पर पहुंच गई।  निर्माण किये गए कार्य को ध्वस्त कर दिया। तथा रास्ते पर पूर्व में बने हुए मड़हे को भी उजाड़ कर फेंक दिया। तथा सड़क किनारे लगाए गए पौधों को भी काटकर तथा उखाड़कर फेंक दिया। मामले की सूचना पर जफराबाद पुलिस मौके पर पहुंची। थानाध्यक्ष ने मौके पर पहुंचकर लोगों को शांत कराने की कोशिश किया। महिलाओं की दबंगई को देखते हुए थानाध्यक्ष के भी हाथ-पांव फूलने लगे। उन्होंने जफराबाद थाने से सूचना कर महिला पुलिसकर्मियों को मौके पर बुलाया। मौके पर उपद्रव करने वाली महिलाओं को हिरासत में लेकर थाने ले आए। पूछे जाने पर थानाध्यक्ष मधु कुमार सिंह ने बताया कि मामले में सम्मिलित एक पक्ष से दो लोगों को तथा दूसरे पक्ष से कुल 26 महिलाओं का चालान किया गया है।