health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

यूपीपीएससी पीसीएस Mains Exam 2019 आज से करें आवेदन, छह मार्च तक भर सकेंगे ऑनलाइन विकल्प

प्रयागराज- यूपीपीएससी पीसीएस Mains Exam 2019 उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने पीसीएस यानी सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा (सामान्य चयन/विशेष चयन) प्रारंभिक परीक्षा 2019 में सफल अभ्यर्थियों से मुख्य परीक्षा के लिए आवेदन मांगा है। यूपीपीएससी की वेबसाइट पर अभ्यर्थियों को बुधवार की दोपहर से ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके लिए छह मार्च तक का समय दिया गया है। सभी अभ्यर्थियों को प्रदर्शित फार्मेट पर विकल्प प्रयागराज या लखनऊ में से वांछित केंद्र तथा एक विकल्प विषय को सेलेक्ट करना होगा। केंद्र व वैकल्पिक विषय के विकल्प में कोई परिवर्तन अनुमन्य नहीं है। अभ्यर्थियों से आवेदन में कोई त्रुटि होती है तो उन्हें एक बार संशोधन करने का मौका मिलेगा। इसके लिए 13 मार्च तक का समय तय किया गया है। जबकि 20 मार्च की शाम पांच बजे तक ऑनलाइन आज से करें आवेदन, छह मार्च तक भर सकेंगे ऑनलाइन विकल्प फार्मों को ऑफलाइन भी भेजना होगा। अभ्यर्थी ऑफलाइन फार्म पंजीकृत डाक या व्यक्तिगत रूप से आयोग भेज सकते हैं। परीक्षा का शुल्क भी ऑनलाइन जमा होगा। आयोग के परीक्षा नियंत्रक अरविंद कुमार मिश्र ने बताया कि तय तारीख के बाद आवेदन स्वीकार नहीं होगा।

पूर्वांचल विश्वविद्यालय सत्र 2019-20 स्नातक परीक्षा आज से शुरू

जौनपुर-वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय सत्र 2019-20 स्नातक परीक्षा आज मंगलवार से शुरू हो गया है।जिसके लिए 692 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इस बार यूजी-पीजी में 4 लाख 79 हजार 489 छात्र परीक्षा देंगे। जिसकी निगरानी के लिए चार जिले में उड़ाका दल की 16 टीमें गठित की गई है।विश्वविद्यालय के कुलपति सभागार में सोमवार को परीक्षा समिति की बैठक हुई। जिसमें पूर्व में लिए गए निर्णय की पुष्टि की गई। इस बार स्नातक परीक्षा 25 फरवरी से 30 अप्रैल तक चलेगी और स्नातकोत्तर की 16 मार्च से 16 अप्रैल तक। परीक्षा दो पालियों में सुबह 7.30 से 10.30 बजे और दोपहर दो से पांच बजे तक होगी। स्नातक में करीब चार लाख 12 हजार 559 और स्नातकोत्तर 66 हजार 930 छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं। जिनके लिए आजमगढ़ में 199, गाजीपुर में 218, जौनपुर में 154, मऊ में 121 और हंडिया प्रयागराज में एक परीक्षा केंद्र बनाया गया है। परीक्षा की सुचिता व पारदर्शिता के लिए अलग-अलग जिलों में चार-चार उड़ाका दल टीम का गठन किया गया है। जिसमें तीन ऐडेड कालेज और एक में सेल्फ फाइनेंस कालेज के चार-चार शिक्षकों को लगाया गया है। हंडिया प्रयागरण के परीक्षा केंद्र की जिम्मेदारी जौनपुर उड़ाका दल के जिम्मे रहेगी। मंगलवार को प्रथम पाली की परीक्षा में बीए भाग एक व तीन उर्दू, अरबी, फारसी व संस्कृत और द्वितीय पाली में बीए भाग दो कंप्यूटर अप्लीकेशन व उर्दू की होगी। पांच जिले में आयोजित परीक्षा को सकुशल ढंग से संपन्न कराने व प्रश्न-पत्र को सुरक्षित रखने और कापियों को जमा करने के लिए करीब 37 ऐडेड कालेजों को नोडल केंद्र बनाया गया है। जहां से अन्य परीक्षा केंद्र प्रश्न-पत्र मंगवाएंगे और उत्तर पुस्तिकाएं जमा करेंगे। परीक्षा केंद्रों पर सीसीटीवी कैमरे और पुलिस की नजर रहेगी।


शादी समारोह में नशे में हुड़दंग कर रहा युवक की पीटकर हत्या

प्रयागराज- नैनी में औद्योगिक इलाके की शादी समारोह में शराब के नशे में एक युवक हुड़दंग कर रहा था। लोगों ने मना किया तो मारपीट करने लगा। इससे आक्रोशित लोगों ने लाठी-डंडा से पीटकर युवक को मौत के घाट उतार दिया। वारदात का पता चला तो युवक के परिवार के लोग बरातियों पर पथराव कर दिया। पुलिस पहुंची और किसी तरह स्थिति को संभाला। मामले में पांच लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज हुआ है।

इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय इविवि में पांच जून 2019 को छात्रसंघ पर लगाया गया प्रतिबंध

प्रयागराज- इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय इविवि में पांच जून 2019 को छात्रसंघ पर लगाया गया प्रतिबंध जल्द ही हट सकता है। 27 फरवरी को होने वाली एकेडमिक काउंसिल की बैठक में इस पर मुहर लग सकती है। बैठक में प्रवेश प्रक्रिया में कई अहम बदलाव की भी तैयारी चल रही है।छात्रसंघ चुनाव पर प्रतिबंध लगाकर छात्र परिषद को किया गया था लागू दरअसल, पूर्व कुलपति प्रोफेसर रतन लाल हांगलू ने पांच जून को हुई कार्य परिषद की बैठक में छात्रसंघ चुनाव पर प्रतिबंध लगाते हुए छात्र परिषद लागू कर दिया। छात्र विरोध करते हुए छात्रसंघ चुनाव की बहाली की मांग पर अड़े रहे। इविवि प्रशासन छात्रों की मांगों को अनसुना करते हुए छात्र परिषद पर ही अड़ा रहा। इस पर छात्रों ने आंदोलन की राह पकड़ ली। हालांकि, छात्रों के भारी विरोध के चलते छात्र परिषद का गठन नहीं हो सका। प्रो. हांगलू के इस्तीफे के बाद छात्रसंघ बहाली की मांग फिर तेज हो गई। अब 27 फरवरी को एकेडमिक काउंसिल में यह मसला प्रमुखता से उठ सकता है। संभावना जताई जा रही है कि छात्रसंघ बहाली पर मुहर लग जाएगी। कहा तो यह भी जा रहा है कि विश्वविद्यालय प्रशासन इसकी पृष्ठभूमि भी तैयार कर चुका है। हालांकि, आधिकारिक रूप से कोई अफसर कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग UPPSC 2019 की प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम जारी

प्रयागराज- उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग UPPSC 2019 की प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम जारी कर दिया है। सोमवार रात घोषित रिजल्ट में 6320 अभ्यर्थी मुख्य परीक्षा के लिए सफल हुए हैं। आयोग की ओर से कहा गया है कि प्रारंभिक परीक्षा में सम्मिलित पदों की विशिष्ट अर्हताओं व अभ्यर्थियों के ऑनलाइन दावों को देखते हुए सामान्य चयन का रिजल्ट सात अलग-अलग ग्रुपों में जारी किया है। इसी के साथ एसीएफ व आरएफओ प्रारंभिक परीक्षा 2019 का भी परिणाम जारी किया गया है। यूपीपीएससी ने सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा पीसीएस, सहायक वन संरक्षक एसीएफ व क्षेत्रीय वन अधिकारी सेवा आरएफओ प्रारंभिक परीक्षा 2019 बीते 15 दिसंबर को एक साथ कराई थी। आयोग ने 16 अक्टूबर 2019 को पीसीएस के 309, एसीएफ के दो व आरएफओ के 53 पदों की भर्ती का विज्ञापन जारी किया था, 13 नवंबर 2019 तक ऑनलाइन आवेदन लिए गए थे। पीसीएस के पदों की संख्या बढ़कर अब 529 हो गई है। प्रदेश के 19 जिलों में 1166 केंद्रों पर दो पालियों में परीक्षा कराई गई जिसमें लगभग 58 प्रतिशत यानी 3,18,624 अभ्यर्थी उपस्थिति हुए। जबकि परीक्षा के लिए 5,44,664 ऑनलाइन आवेदन हुए थे।यह भी पढ़ें आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि परीक्षा परिणाम से संबंधित अंतिम उत्तरकुंजी, प्राप्तांक व श्रेणीवार, पदवार कटऑफ अंक अंतिम चयन परिणाम घोषित होने के बाद आयोग की वेबसाइट पर जारी किया जाएगा। इस संबंध में सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के तहत प्राप्त प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किए जाएंगे।20 अप्रैल से होगी मुख्य परीक्षा उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग के परीक्षा कैलेंडर में पीसीएस 2019 की मुख्य परीक्षा 20 अप्रैल से प्रस्तावित है। आयोग ने इस परीक्षा के दो माह पहले ही प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम जारी कर दिया है। जल्द ही मुख्य परीक्षा के लिए अभ्यर्थियों से आवेदन जाएंगे और फिर अभ्यर्थियों का प्रवेश पत्र जारी होगा। इसके लिए आयोग अलग से विज्ञप्ति जारी करेगा।

सीएम योगी आदित्यनाथ आज दो घंटे प्रयागराज में रहेंगे

प्रयागराज-सीएम योगी आदित्यनाथ आज दो घंटे प्रयागराज में रहेंगे-
शाम साढ़े चार बजे पहुंचेंगे बमरौली एयरपोर्ट,केपी कॉलेज मैदान में एक शादी समारोह में होंगे शामिल,सीएम योगी परेड क्षेत्र में 29 फरवरी को पीएम मोदी के कार्यक्रम की तैयारियों का ले सकते हैं जायजा,सीएम योगी शाम 6:30 बजे वापस लखनऊ के लिए होंगे रवाना।

प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को प्रयागराज आएंगे।

प्रयागराज-प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को प्रयागराज आएंगे। मुख्यमंत्री एक प्रीतिभोज कार्यक्रम में शामिल होंगे। हालांकि उनका प्रोटोकॉल तो प्रयागराज आगमन का नहीं आया मगर अफसरों ने उनके आगमन को लेकर तैयारियां पूरी कर ली हैैं।सीएम योगी प्रीतिभोज कार्यक्रम में शामिल होंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्लेन से बमरौली एयरपोर्ट पर सोमवार की दोपहर में प्रयागराज आएंगे। बमरौली से सीएम योगी सीधे प्रीतिभोज कार्यक्रम में शामिल होने जाएंगे। इसके बाद वह सामूहिक विवाह समारोह और प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की तैयारी की समीक्षा भी कर सकते हैैं। मुख्यमंत्री लगभग दो घंटे तक शहर में रहेंगे। इस दौरान वह पार्टी नेताओं से मुलाकात भी करेंगे।

ACC सीमेंट ने रिटेलरों को किया सम्मानित,मनाया गया 2020 उत्कर्ष वार्षिकोत्सव रंगारंग कार्यक्रम

Acc सीमेंट के टेक्निकल को
एक्सप्रेस बाइक सर्विस रवाना
जौनपुर देश की अग्रणी सीमेंट कंपनी एसीसी लिमिटेड द्वारा अपने अधिकृत रिटेलर विक्रेताओं के लिए वार्षिकोत्सव उत्कर्ष 2020 का आयोजन किया गया, 15 फरवरी को होटल दी ग्रैंड उत्सव जौनपुर में किया गया और इसके साथ ही कंपनी ने ग्राहकों को आवास निर्माण में मदद के लिए टेक्निकल एक्सप्रेस सर्विस (हेल्प बाइक) की सेवा शुरू करने की घोषणा की, इस अवसर पर रिटेलर विक्रेताओं को उनके वर्ष 2019 के विशिष्ट व प्रभावशाली प्रदर्शन के आधार पर सम्मानित भी किया गया।
कम्पनी व सभी रिटेलर एक साथ एक मंच पर
        समारोह में सेल्स यूनिट वाराणसी हेड शैलेश विश्वकर्मा  मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे, एरिया इंचार्ज वरुण गुप्ता, मार्केटिंग के इंचार्ज सौरभ गुप्ता, कस्टमर सर्विस इंचार्ज नितिन जैन एवं अन्य विशिष्ट अधिकारियों ने उपस्थित होकर रिटेलरो का उत्साहवर्धन किया।
सभी रिटेलरों के साथ कम्पनी के लोग
कार्यक्रम में उपस्थित रिटेलर को संबोधित करते हुए श्री शैलेश विश्वकर्मा जी ने एसईसी प्रीमियम प्रोडक्ट एसीसी गोल्ड की विशेषताओं एवं खूबियों के बारे में विस्तार पूर्वक बताया,उन्होंने बताया कि एसीसी गोल्ड एक विशेष प्रकार से तैयार किया गया अपनी तरह का एक विशेष सीमेंट है,जिसमे उच्च गुणवत्ता वाला जल प्रतिरोधी गुण है जो जंगरोधक और सीलन से छुटकारा दिलाता है,जिससे हमारे निर्माण से ज्यादा शक्ति और बेहतर टिकाऊपन आ जाता है।
         कार्यक्रम में उपस्थित मार्केटिंग इंचार्ज सौरभ गुप्ता ने बताया कि टेक्निकल एक्सप्रेस सर्विसेज(हेल्प बाइक) के जरिए कंपनी के प्रतिनिधि ग्राहकों को भवन निर्माण के बारे में अच्छी निर्माण प्रक्रिया उच्च गुणवत्ता सामग्रियों का उपयोग व उनकी मात्रा मटेरियल टेस्टिंग आदि के बारे में विस्तार से जानकारी देकर ग्राहकों का मार्गदर्शन करेंगे।
     पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में इलाहाबाद की फर्म जय मां दुर्गा इंटरप्राइजेज को प्रथम पुरस्कार, संत रविदास नगर की फर्म राज सीमेंट एंड लोहा भंडार को द्वितीय मिश्रा बिल्डिंग मैटेरियल को तृतीय पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया उत्सव के समापन पर कई तरह के सांस्कृतिक एवं रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किए गए जिसका वहां उपस्थित रिटेलर बंधुओं ने अति उत्साह से आनंद लिया।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय पहुंचीं राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा

प्रयागराज-पूर्व कुलपति प्रो. रतनलाल हांगलू पर लगे आरोपों और छात्राओं के यौन शोषण मामले की जांच के सिलसिले में इलाहाबाद विश्वविद्यालय पहुंचीं राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने गर्ल्‍स हॉस्टलों का भी निरीक्षण किया। इसमें उन्हें तमाम खामियां मिलीं। सुधार की अपेक्षा करते हुए उन्होंने कहा कि अब हर दो-तीन माह पर आयोग की टीम विश्वविद्यालय आएगी। वह खुद भी नजर बनाए रखेंगी।राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने सर्किट हाउस में पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने बताया कि इविवि में हॉस्टलों के हालात बदतर हैं। वहां हर तरफ गंदगी का अंबार दिखाई दिया। कमरों की खिड़कियां और बाउंड्रीवाल भी टूटे हैं। छात्राओं ने भी तमाम समस्याओं को गिनाया। महिला आयोग अध्यक्ष ने कहा कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रशासन अब तक कुंभकर्णी नींद में सो रहा था। कहा कि समस्याओं को कार्यवाहक कुलपति प्रो. आरआर तिवारी को बिंदुवार नोट करा दिया गया है।

प्रयागराज सर्वोच्च अदालत के फैसले के बाद अब राम नगरी अयोध्या में श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण

प्रयागराज-सर्वोच्च अदालत के फैसले के बाद अब राम नगरी अयोध्या में श्रीराम के भव्य मंदिर के निर्माण का सभी को इंतजार है। श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का गठन होने के बाद अब मंदिर के निर्माण की तिथि जल्द ही घोषित हो जाएगी। श्रीराम मंदिर न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास भी ट्रस्ट में शामिल हो सकते हैं।अयोध्या में मंदिर निर्माण 25 मार्च से हनुमान जयंती आठ अप्रैल के बीच कोई अच्छा मुहूर्त देखकर तय की जा सकती है। इसका संकेत श्रीराम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य स्वामी वासुदेवानंद ने दिए। उन्होंने बताया कि पहली बैठक 19 फरवरी को दिल्ली में होगी, जिसमें मंदिर निर्माण को लेकर एजेंडा तय किया जाएगा। उन्होंने इस बात के संकेत दिए हैं कि श्रीराम मंदिर न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास भी ट्रस्ट में शामिल हो सकते हैं। भाजपा नेता कामेश्वर चौपाल ने भी ट्रस्ट की बैठक होने की पुष्टि की है।

चालान का जुर्माना भरना अब बेहद आसान

अब घर बैठे ‘वर्चुअल कोर्ट’ से भरें ऑनलाइन चालान का जुर्माना, नहीं काटने पड़ेंगे चक्कर-
ट्रैफिक नियमों के उल्लंघन पर यातायात पुलिस, परिवहन प्रवर्तन दस्ते की ओर से किए जाने वाले ऑनलाइन चालान का जुर्माना भरना अब बेहद आसान होने जा रहा है। वाहन मालिकों को इसके लिए यातायात, परिवहन विभाग व कोर्ट के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे। अब ‘वर्चुअल कोर्ट’ जुर्माना तय करके घर बैठे बता देगा कि कितनी राशि जमा करनी है। 
वाहन मालिक को उसके मोबाइल पर जुर्माने की रकम और इसे जमा करने को ट्रेजरी के एप का लिंक भी भेज दिया जाएगा। इससे जुर्माना भरने के बाद वाहन मालिक खुद रसीद प्रिंट कर सकेगा। इसे दिखाकर यातायात पुलिस या संभागीय परिवहन कार्यालय आरटीओ से जब्त दस्तावेज रिलीज करा सकेगा। इस सुविधा का शुभारंभ जल्द लखनऊ एवं प्रयागराज में होने जा रहा है।वर्चुअल कोर्ट को समझें
‘वर्चुअल कोर्ट’ एक एप है, जिसके सॉफ्टवेयर को एनआईसी द्वारा तैयार किया जाएगा। एप से ई-चालान पोर्टल जुड़ा होगा। साथ ही ट्रेजरी का एप राजकोष भी कनेक्ट किया जाएगा। दोनों एप का जुड़ाव होने के बाद जब यातायात पुलिस और परिवहन प्रवर्तन दस्ते ऑनलाइन चालान करेंगे तो उसका ब्योरा ‘वर्चुअल कोर्ट’ एप पर भी पहुंच जाएगा। वर्चुअल कोर्ट एप तय अवधि यातायात पुलिस व परिवहन प्रवर्तन दस्ते जब तय अवधि में प्रकरण का निपटारा नहीं कर पाएंगे के बाद कार्रवाई शुरू कर देगा।


लखनऊ कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर लगेगी मुहर

लखनऊ- योगी सरकार की कैबिनेट बैठक लोक भवन में शुरू ।
कई महत्वपूर्ण प्रस्तावों पर लगेगी मुहर 
16 परिक्षेत्रीय मुख्यालय पर साइबर क्राइम पुलिस थाने बनाने संबंधी मामले पर लगेगी मोहर
रजिस्ट्रीकरण फीस सारणी में संसोधन किये जाने पर प्रस्ताव पर लग सकती है मोहर
बरेली मुरादाबाद,सहारनपुर आगरा,अलीगढ़,कानपुर,झांसी ,प्रयागराज, चित्रकूट,गोरखपुर,देवीपाटन,बस्ती, बनारस ,मिर्जापुर,व अयोध्या में साइबर थाने बनाये जाने का है प्रस्ताव
आवास व शहरी विकास मंत्रालय द्वारा एक मुश्त समाधान योजना को भी मिलेगी हरि झंडी आगरा में नए थाने के लिए सिचाई विभाग की जमीन ग्रह विभाग को निशुल्क दिए जाने के प्रस्ताव पर मोहर
यूपी उप खनिज परिहार नियमावली 2 हजार में संसोधन करके निजी क्षेत्रों के विश्व विद्यालयों की स्थापना के लिए आशय पत्र निर्गत किये जाने पर लग सकती है मोहर
एक्स जवानों के लिए समेकित सुविधाओ के लिए बिजनौर में निशुल्क जमीन दिए जाने का प्रस्ताव
श्रम विभाग चंदौली की जमीन 11 बटालियन के मुख्यालय को दिए जाने का प्रस्ताव
वही चीनी मिलों द्वारा सहकारी बैंक व जिला सहकारी बैंकों से दी जाने वाली  नगर साख सीमा पर गारंटी शुल्क माफ किये जाने पर प्रस्ताव

2020 वसंत पंचमी पर संगम में पुण्य की डुबकी लगाने के लिए गुरुवार को श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा

 प्रयागराज माघ मेला-2020 के प्रमुख स्नान पर्व वसंत पंचमी पर संगम में पुण्य की डुबकी लगाने के लिए गुरुवार को श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा। भोर में तीन बजे स्नान से घंटा-घड़ियाल और शंखनाद के साथ स्नान का सिलसिला शुरू हुआ है। प्रशासन का दावा है अब तक 20 लाख श्रद्धालुओं ने पुण्य की डुबकी लगाई। श्रद्धालुओं की भीड लगातार संगम की ओर जा रही है। वसंत पंचमी के स्‍नान पर्व को देखते हुए सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए है । मेला क्षेत्र में हाई अलर्ट घोषित किया गया है।

पुर्वांचल के वीसी के विवादित बयान पर राज्यपाल ने मांगा है जवाब,वीसी को अपना पक्ष रखने का राज्यपाल ने वीसी को दिया है समय

प्रयागराज : देवरिया जेल मामले पर राज्यपाल राम नाइक का बयान।इस मामले पर मुख्यमंत्री और डीजीपी से की है बात,सरकार मामले को गंभीरता से लेकर करेगी कार्यवाई, पहले भी जेल से इस तरह के मामले सामने आते रहे है।पूर्वांचल यूनिवर्सिटी के वीसी के विवादित बयान पर भी बोले राज्यपाल।राज्यपाल ने वीसी से पूरे मामले पर मांगा है जवाब वीसी को अपना पक्ष रखने के लिए राज्यपाल ने दिया है अवसर।
रविवार को लखनऊ में राज्यपाल से वीसी ने की है मुलाकात।साल के अंतिम दिन कुम्भ मेला की तैयारियां देखने प्रयागराज पहुँचे राज्यपाल राम नाईक।
राज्यपाल ने संगम और लेटे हनुमान मंदिर का किया दर्शन,किले के अंदर अक्षयवट का भी राज्यपाल ने पत्नी के साथ किया दर्शन।कुम्भ मेला क्षेत्र में बने इंट्रीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का भी राज्यपाल ने किया निरीक्षण।