health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

रास्ते के विवाद को लेकर पूर्व प्रधान को चाकुओं से गोंदकर हत्या से सनसनी,समर्थको ने अस्पताल में काटा बवाल

जौनपुर- जिले के बरसठी थाना क्षेत्र के जरौटा गांव में रास्ते के विवाद को लेकर पंचायत मित्र ने पूर्व प्रधान पति नीलू को सिंह को गुरुवार की10 बजे रात चाकू मार दिया चाकू उनके गर्दन पर जाकर लगी। जिससे रक्त बहने लगा और उनकी हालत खराब होते देख परिजनों ने जिला अस्पताल लेकर गए जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई सूचना पाकर थानाध्यक्ष मुन्नाराम और सीओ अवधेश कुमार शुक्ला गांव में पहुंचकर स्थिति को संभाले हुए हैं।वही शव को जिला अस्पताल पहुचते ही उनके समर्थक भी भारी संख्या में पहुचे,घटना की सूचना मिलते ही जिला अस्पताल  में एसपी जौनपुर रवि शंकर छवि,एसपी आर ए संजय राय, सीओ सिटी सुशील कुमार सिंह मौके पर पहुँचे।
बता दें कि जिले के बरसठी थाना क्षेत्र के जरौटा गांव के पूर्व प्रधान पति प्रेम प्रकाश “नीलू” सिंह के गांव में एक पटेल बिरादरी का पंचायत मित्र सैकड़ों वर्ष पुराने रास्ते को बाउंड्री बनवा कर घेर लिया है। गुरुवार को नीलू सिंह कहीं से घर जा रहे थे। कि गांव के कुछ लोगों ने रोककर उन्हें रास्ते के विवाद को हल करने के लिए कह रहे थे कि उसी समय बताया जाता है कि पंचायत मित्र भी पहुंच गय। नीलू सिंह ने पंचायत मित्र से कहा कि आपके द्वारा बाउंड्री बनाने से बस्तियों के लोगों को आने जाने में परेशानी हो रही है इसी बात को लेकर पंचायत मित्र को समझा रहे थे कि गुस्से में उसने चाकू निकाला और सीधे उनकी गर्दन पर मार दिया। चाकू सीधे उनके गर्दन पर लगी और खून बहने लगी धीरे-धीरे हालत गंभीर होने पर उन्हें सीधे जिला अस्पताल ले गए जहां बताया जा रहा है कि उनकी मौत हो गई।

साड़ के हमले से वृद्ध घायल, हालत नाजुक, रेफर

जौनपुर। बरसठी थाना क्षेत्र के खोइरी गांव में राजेन्द्र तिवारी 75 वर्ष नामक वृद्ध पर साड़ से हमला बोल दिया। इस हमले में वह गम्भीर रूप से घायल हो गये जिन्हें उपचार हेतु जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री तिवारी शनिवार को तड़के अपने बिस्तर से उठकर शौच हेतु घर के बाहर लगे इण्डिया मार्का हैण्डपम्प पर पानी ले रहे थे। इसी दौरान साड़ ने उनके ऊपर हमला बोल दिया। किसी तरह अपना जान बचाकर उन्होंने आवाज लगायी जिस पर परिवार सहित अगल-बगल के लोग जग गये। लोगों ने किसी तरह साड़ के हमले से राजेन्द्र को छुड़ाये लेकिन तब तक वह गम्भीर रूप से जख्मी हो गये थे। आनन-फानन में घायल को अस्पताल ले जाया गया जहां हालत नाजुक देखते हुये जिला अस्पताल रेफर कर दिये गये। उधर ग्रामीणों ने साड़ को एक घर में बन्द कर दिया तथा इसकी सूचना थाना प्रभारी विरेन्द्र कुमार व पशु चिकित्सा अधिकारी बरसठी डा. अजय सिंह को दी गयी। मौके पर पहुंचे सम्बन्धित लोगों ने अगली कार्यवाही शुरू कर दिया है।