health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

सपा,बसपा,कांग्रेस में फूट पड़ी है भाजपा में फूट नही पड़ी है ना-डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या

जौनपुर-आज मल्हनी उपचुनाव की जनसभा में भाग लेने प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने क्षेत्र में निर्दल प्रत्याशी को पर वार करते हुए बोला कि गुंडा किस जाति का किस क्षेत्र का है माफिया बदमाश किस इलाके का है इसकी परवाह किये बगैर गुंडों व माफियाओं के खिलाफ चलने वाला अभियान रुकने वाला नही है,भारतीय जनता पार्टी की सरकार केंद्र में है प्रदेश में है हमारी सरकार का संकल्प है कि हमारे यहां गरीब से गरीब व्यक्ति  के जीवन मे खुशहाली कैसे आयी है हमारे किसान का इनकम कैसे बढ़े किसान की आमदनी कैसे बढ़े उसके उज्ज्वल भविष्य का निर्माण कैसे हो हमारे बड़े बुजुर्गों का सम्मान कैसे हो इसके बारे सोचती है भाजपा की सरकार।

बता दें कि जिले के मल्हनी विधानसभा उपचुनाव में जनसभा को भाग लेने पहुचे प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने आज मल्हनी के सैदनपुर में भारी जनसभा में बोलते हुए कहा कि 2017 में मल्हनी की जनता को शायद विश्वास नही रहा होगा कि भाजपा 325 सीट जीत कर सरकार बनाने जा रही है उस समय मल्हनी छूट गयी थी वो कहा जाता है कि जो बकाया होता है सूद समेत वापस किया जायेगा,जो 5 साल में नही हुआ है  वो मल्हनी जनता को डेढ़ साल में करके दिखाऊंगा ये मैं विश्वास दिलाता हूं मल्हनी के विकास में कोई कमी नही होने दूंगा ये आपको विश्वास दिलाता हूं,

भाजपा प्रत्याशी मनोज सिंह का रुपये बांटने का फोटो सोशल मीडिया में वायरल होने से मचा हड़कम्प,पार्टी लाइन का कोई भी जिम्मेदार मीडिया में बोलने से कर रहा परहेज

जौनपुर- जिले की मल्हनी विधानसभा उपचुनाव के लिए मतदान 3 नवंबर को होना है. ऐसे में तमाम प्रत्याशियों द्वारा मतदाताओं को अपने तरफ आकर्षित करने के लिए हर तरह के प्रयास किये जा रहे है,ऐसा ही एक ताजा मामला जनपद के मल्हनी विधानसभा के  एक प्रत्याशी  के द्वारा रुपए बांटे जाने की कुछ तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है.
 वायरल हो रही  तस्वीर  को लेकर चर्चा है कि यह 19 अक्टूबर के मल्हनी विधानसभा क्षेत्र के रामदयालगंज इलाके के परशुरामपुर गांव की है. तस्वीर में दिख रहा है कि जब मनोज सिंह डोर-टू-डोर चुनाव प्रचार कर रहे थे उसी दौरान उनके हाथों में कुछ रुपए थे. इतना ही नहीं वे  रुपए भी मतदाताओं को देते हुए साफ तौर पर दिखाई दे रहे हैं. इसकी तस्वीर सोशल मीडिया पर अब तेजी से वायरल हो रही है.
मल्हनी विधानसभा के उपचुनाव पर बीजेपी ही नहीं सपा और बसपा समेत निर्दल प्रत्याशी धनंजय सिंह भी जीत का ताल ठोक  हो रहे हैं. ऐसे में सवाल यह है कि वायरल हो रही तस्वीर के बाद क्या चुनाव आयोग एक्शन लेगा.इस फोटो के बारे में जब एसडीएम सदर/ रिटर्निंग आफिसर नीतीश कुमार ने मीडिया को बताया कि मीडिया के माध्यम से इस फोटो के वॉयरल होने की जानकारी हुई,इसकी जांच करा कर जल्द से जल्द कार्यवाही का भरोसा दिया गया है, चुनाव आयोग की गाइडलाइन के मुताबिक मतदाताओं को किसी भी तरह का प्रलोभन नहीं दिया जा सकता. अब देखना होगा कि क्या चुनाव आयोग इस वायरल तस्वीर का संज्ञान लेते हुए एक्शन लेती है।
वही इस फोटो के वॉयरल होते ही विपक्षी पार्टियों के लोग सक्रिय हो गए इसी क्रम में सपा पार्टी के छात्रसभा के कार्यकर्ताओ ने इस वॉयरल फ़ोटो व ज्ञापन लेकर डीएम कार्यालय पहुँचे जो इस मामले का संज्ञान लेकर कार्यवाही करने की मांग की है सही स्थिति तो जांच के बाद ही सामने आएगी   ।

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के 30 वरिष्ठ कार्यकर्ताओं ने भाजपा का दामन थामा*


जौनपुर-आज जौनपुर स्थित एक होटल में भारतीय जनता पार्टी के मल्हनी विधानसभा के चुनाव प्रभारी और कैबिनेट मंत्री अनिल राजभर जी ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के 30 वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को भाजपा में शामिल कराया, शामिल होने वाले कार्यकर्ताओं ने शपथ लिया कि आज से हम जी जान लगा देंगे भाजपा के प्रत्याशी को जिताने में कोई भी कोर कसर अपनी तरफ से हम लोग नहीं छोड़ेंगे। उक्त अवसर पर शामिल होने वाले मुख्य रूप से कार्यकर्ताओं का नाम क्रमशः महाराष्ट्र राज्य के महासचिव दीपलाल राजभर, जिला प्रमुख महासचिव संत प्रसाद सिंह, मुन्ना लाल निषाद, रामबली मौर्य, तिलक राज पटेल, सुनील कुमार पटेल, राम शिरोमणि धीवर, जिला मीडिया प्रभारी हरी लाल राजभर, जिला सदस्य जिलों के नाम सुखराज चौहान भैया लाल मौर्य महेंद्र पटेल शीतल चंद्र पटेल रवि कांत पटेल, विधानसभा अध्यक्ष फूलचंद बनवासी  शुभम अग्रहरी विधानसभा उपाध्यक्ष कमलेश राजभर अशोक कुमार राजभर रतन लाल राजभर बाबू राम राजभर विधानसभा महासचिव पंकज राजभर विधानसभा सचिव लाल बहादुर निषाद ब्लॉक अध्यक्ष रमापति चौहान हीरालाल चौहान ब्लॉक उपाध्यक्ष दुर्जन चौहान राज कपूर राजभर ब्लाक महासचिव खरवार राजभर शिवराज शर्मा शेषराज पटेल आदि कार्यकर्ता उपस्थित रहें।

आज भाजपा प्रत्याशी मनोज सिंह ने किया अपना नामांकन

जौनपुर- कलेक्ट्रेट परिसर में  आज  उप जिलाधिकारी  न्यायालय  कक्ष में भाजपा प्रत्याशी मनोज सिंह द्वारा मल्हनी विधानसभा उपचुनाव हेतु नामांकन पत्र दाखिल किया गया। कलेक्ट्रेट प्रवेश द्वार से लेकर पूरे कलेक्ट्रेट परिसर में पुलिस प्रशासनिक व्यवस्था दिखी चुस्त-दुरुस्त

भाजपा ने एक बार फिर पाणिनि सिंह पर खेला दांव, मल्हनी का उपचुनाव की लड़ाई अब लड़ाई होगी त्रिकोणी

जौनपुर मल्हनी विधानसभा के उपचुनाव में भाजपा ने एक बार फिर पाणिनि सिंह पर अपना सवर्ण दाव खेला है विधानसभा मल्हनी उप-चुनाव में पाणिनि सिंह को भारतीय जनता पार्टी ने अपना प्रत्याशी बनाने से कई दिग्गजों की चुनावी रणनीति को अब एक बार फिर से विचार विमर्श करने के लिये मजबूर कर दिया है।

         बता दें इसके पूर्व में भी पूर्व सांसद धनन्जय सिंह व पाणिनि आमने सामने चुनाव लड़ चुके है और एक बार फिर दोनों नेता आमने सामने है अब देखना ये है कि सवर्ण वोटों किसकी ओर आकर्षित होते है,जबकि पूर्व सांसद धनन्जय सिंह का अपना जो वोट बैंक जो लगभग 50 हजार है उसको पार कर पाते हैं कि नहीं लड़ाई त्रिकोणी होने के नाते वह सवर्ण के आने से कहीं न कहीं सपा लकी यादव को फायदा जरूर मिलेगा।

मल्हनी में भाजपा का प्रत्याशी ही लड़ेगा चुनाव,किसी के साथ सीट का नही होगा बटवारा - सुनील बंसल*


जौनपुर-भारतीय जनता पार्टी जौनपुर की समन्वयक बैठक जिले के एक होटल में प्रदेश संगठन महामंत्री सुनील बंसल जी ने ली जिसमें मुख्य रुप से क्षेत्रीय अध्यक्ष काशी महेश श्रीवास्तव, उत्तर प्रदेश में कैबिनेट मंत्री और विधानसभा मल्हनी के चुनाव प्रभारी अनिल राजभर, जिले के राज्य मंत्री गिरीश चंद यादव, बदलापुर के विधायक रमेश चंद्र मिश्रा, जफराबाद के विधायक हरेंद्र हरेंद्र प्रताप सिंह, केराकत के विधायक दिनेश चौधरी के साथ-साथ भाजपा के जिला पदाधिकारी और मल्हनी विधानसभा के पांचों मंडल अध्यक्ष एवं मंडल प्रभारी की बैठक ली, उन्होंने संगठन के कार्यों का समीक्षा की और कोरोना काल मे जो सेवा कार्य जौनपुर के कार्यकर्ताओं ने की उनकी सरहाना की और उन्होंने आगे कहा कि 14 सितम्बर से 21 सितम्बर तक सेवा सप्ताह मोदी जी के जन्मदिवस के अवसर पर चलेगा उसमें प्रत्येक सेक्टर पर भाजपा का झंडा फहराया जाएगा, युवा मोर्चा के द्वारा रक्तदान शिविर लगेगा, प्रत्येक मण्डल पर सफाई का कार्य होगा, उन्होंने मंडल अध्यक्षों से आह्वान किया कि आप लोग कमर कस लीजिए भाजपा ही मल्हनी से चुनाव लड़ेगी, उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता ही पार्टी की रीढ़ हैं इसलिये बूथ पर जाकर आज से ही मेहनत करना शुरू कर दे तो चुनाव जीतने से हमें कोई रोक नहीं सकता। उक्त अवसर पर जिला अध्यक्ष पुष्पराज सिंह जिला महामंत्री सुशील मिश्रा जिला उपाध्यक्ष सुरेंद्र सिंघानिया, सुधाकर उपाध्याय, अमित श्रीवास्तव पूर्व जिलाध्यक्ष सुशील उपाध्यक्ष, जिला मंत्री रविंद्र सिंह राजू दादा, संदीप सरोज,अभय राय मल्हनी विधानसभा के मंडल अध्यक्ष नरेंद्र विश्वकर्मा,जितेंद्र मिश्रा, अजय मिश्रा, भूपेश सिंह, शैलेश सिंह आदि उपस्थित रहे।

भाजपा विचारो की पार्टी है- स्वतन्त्र देव सिंह*


जौनपुर-आज भारतीय जनता पार्टी जौनपुर के मल्हनी विधानसभा में सेक्टर संयोजक, सेक्टर प्रभारी प्रशिक्षण शिविर जिला अध्यक्ष पुष्पराज सिंह जी के अध्यक्षता में संपन्न हुई, इस प्रशिक्षण शिविर के मुख्य अतिथि प्रदेश के मुखिया माननीय स्वतंत्र देव सिंह जी रहे । उन्होंने पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा के कार्यकर्ता ही पार्टी को खून पसीने से सींचते है, पश्चिम बंगाल में विस्तार के लिए भाजपा कार्यकर्ता अपनी लहू तक बहा रहे हैं उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय और श्यामा प्रसाद मुखर्जी द्वारा बनाई गई पार्टी ही इस समय एक परिवार द्वारा चलाई जा रही पार्टी का विकल्प बनी है, भाजपा का कार्यकर्ता संगठन के केंद्र में है, भाजपा एक संस्कारी कार्यकर्ता बनाने के लिए ही काम करती है जिसके फलस्वरूप भाजपा ही एक ऐसा दल है जिसका कार्यकर्ता सांस्कारिक होता है।उन्होंने आगे कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के बल पर ही इस समय 12 राज्यों में सरकार चला रही है और 6 राज्यों में सहयोगी दलों के साथ मिलकर भाजपा सरकार चला रही हैं, और केंद्र में अपने बल बुते पूर्ण बहुमत की सरकार मोदी जी के नेतृत्व में चला रही है। उन्होंने आगे कहा कि भाजपा का कार्यकर्ता भाजपा पार्टी की आत्मा होती है इसलिये आप लोग अपने साथी से हमेशा समन्वय बनाए रखें । संगठन की शक्ति के कारण ही कोरोना काल की विपत्ति के समय में भी इतना बड़ा सेवा कार्य किया जा सका। स्वतन्त्र देव सिंह जी ने मल्हनी चुनाव को ध्यान में रखते हुये सेक्टर प्रभारी और सेक्टर संयोजक का आह्वान करते हुये कहा कि अगर आप लोग बराबर लगे रहे तो आने वाला समय सही राह पर चलेगा, उन्होंने आगे कहा कि सेक्टर संयोजक, सेक्टर प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र के प्रमुख लोगों को अपने घर बुलाकर या उनके घर पर जाकर मिलना चाहिए, अपने कार्यकर्ताओं को हमेशा सकारात्मक दृष्टिकोण लेकर चलना होगा ताकि कोई भी आप से असंतुष्ट ना रह सके, सेक्टर संयोजक ही नेता और कार्यकर्ताओं की बीच की सेतु है, भाजपा ही एक ऐसी पार्टी है जिसके कार्यकर्ता बूथ से चलकर सेक्टर, मंडल, जिला, क्षेत्र, प्रदेश, और राष्ट्रीय स्तर तक राजनीति कर सकता है, एक सामान्य बूथ अध्यक्ष अमित शाह जी आज राष्ट्रीय अध्यक्ष बने ये सिर्फ भाजपा में ही सम्भव है। हमें भारत को एक बार फिर विश्व गुरु बनाने के लिए जातिवाद में नहीं पड़ना होगा बल्कि एक होकर चलना होगा। अंत मे प्रदेश अध्यक्ष जी ने सर झुका कर भाजपा के कार्यकर्ताओ को नमन वंदन करते हुए अपनी वाणी को विराम दिया। प्रदेश के मंत्री शंकर गिरी जी ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता ही पार्टी की पूंजी है। उन्होंने मोदी जी के जन्म दिवस के अवसर पर सेवा सप्ताह कैसे मनाया जायेगा इस पर विस्तार से चर्चा की, प्रदेश के मंत्री अनिल राजभर जी ने कहां की "जीत का कोई भी विकल्प नहीं होता" उन्होंने भाजपा के कार्यकर्ताओं को घोरावल दस्ता से तुलना की। अंत मे जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह जी ने सभी अतिथियों का आभार व्यक्त करते हुए कार्यक्रम के समापन की घोषणा किये, कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री सुशील मिश्रा ने किया, इस कार्यक्रम में नागेंद्र सिंह रघुवंशी, सभी मंडल अध्यक्ष गण, मंडल प्रभारी गण, सेक्टर संयोजक और सेक्टर प्रभारी जुड़े।

भाजपाइयों ने अटल बिहारी वाजपेयी जी को दूसरे पुण्यतिथि पर याद किया

जौनपुर-भारतीय जनता पार्टी के लाइन बाजार स्थित कैम्प कार्यालय पर भारत रत्न अटल विहारी वाजपेयी जी की दूसरी पुण्यतिथि पर जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह जी सहित भाजपाजनों ने वाजपेयी जी के चित्र पर पुष्प अर्पित करके श्रद्धाजंलि दिया श्री पुष्पराज सिंह जी ने उनके व्यक्तित्व पर विचार प्रकट करते हुये कहा कि भारत मां के सच्चे सपूत, राष्ट्र पुरुष, हम सबके मार्गदर्शक, भारत रत्न पंडित अटल बिहारी वाजपेयी जी सही मायने में 'भारत रत्न' थे। जिन्होंने जमीन से जुड़े रहकर राजनीति की और जनता के प्रधानमंत्री के रूप में लोगों के दिलों में अपनी खास जगह बनाई थी, भारत की राजनीति में मूल्यों और आदर्शों को स्थापित करने वाले राजनेता थे।और उनके कार्यों की बदौलत ही उन्हें भारत के ढांचागत विकास का दूरदृष्टा कहा जाता है, सबके चहेते और विरोधियों का भी दिल जीतने वाले अटल बिहारी वाजपेयी का सार्वजनिक जीवन बहुत ही बेदाग और साफ-सुथरा था। इसी बेदाग छवि और साफ-सुथरे सार्वजनिक जीवन की वजह से अटल बिहारी वाजपेयी जी का हर कोई सम्मान करता था। उनके विरोधी भी उनके प्रशंसक थे,  उन्होंने आगे कहा कि अटल बिहारी वाजपेयीजी की बातें और विचार सदैव तर्कपूर्ण होते थे अटल बिहारी वाजपेयी जी जब भी संसद में अपनी बात रखते थे, तब विपक्ष भी उनकी तर्कपूर्ण वाणी के आगे कुछ नहीं बोल पाता था। मछली शहर के सांसद बी पी सरोज ने उनके चित्र पर माल्यार्पण करते हुये कहा कि अपनी कविताओं के जरिए अटलजी हमेशा सामाजिक बुराइयों पर प्रहार करते रहे। उनकी कविताएं उनके प्रशंसकों को हमेशा सही रास्ते पर चलने के लिए प्रेरित करती रहेंगी। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचारक से लेकर प्रधानमंत्री तक का सफर तय करने वाले युग पुरुष वाजपेयी जी ने अपने जीवन में पत्रकार के रूप में भी काम किया और लम्बे समय तक राष्ट्रधर्म, पांचजन्य और वीर अर्जुन आदि राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत अनेक पत्र-पत्रिकाओं का सम्पादन भी किया। उन्होंने बताया कि अटल बिहारी वाजपेयी जी सन् 1968 से 1973 तक भारतीय जनसंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे, अटलजी 1957 से 1977 तक लगातार जनसंघ की ओर से संसदीय दल के नेता रहे। जिला उपाध्यक्ष सुरेन्द्र कुमार सिंघानियां जी अटल बिहारी वाजपेयी के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वाजपेयी जी ने विदेश मंत्री के रूप में संयुक्त राष्ट्र में हिन्‍दी में भाषण देने वाले देश के पहले वक्ता बने, उन्होंने ही लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी जी के साथ मिलकर भारतीय जनता पार्टी की स्थापना की और भाजपा के पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष बने। जिला महामंत्री सुशील मिश्र जी वाजपेयी जी के चित्र पर श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुये कहा कि अटलजी तीन बार प्रधानमंत्री बने पहली बार 1996 में 13 दिन तक देश के प्रधानमंत्री रहे, 1998 में अटल बिहारी वाजपेयी दूसरी बार 13 महीने तक देश के प्रधानमंत्री बने, उस कार्यकाल में अटल जी ने प्रधानमंत्री रहते हुए दृढ़ इच्छाशक्ति का परिचय देते हुए पोखरण में पांच भूमिगत परमाणु परीक्षण विस्फोट कर सम्पूर्ण विश्व को भारत की शक्ति का एहसास कराया तीसरी बार 1999 मे राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के रूप में सरकार बनाई और अटल सरकार ने भारत के चारों कोनों को सड़क मार्ग से जोड़ने के लिए स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना की शुरुआत की और दिल्ली, कोलकाता, चेन्नई व मुम्बई को राजमार्ग से जोड़ा गया।लगातार अस्वस्थ रहने के कारण अटल बिहारी वाजपेयी ने राजनीति से संन्यास ले लिया, अटलजी को देश-विदेश में अब तक अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। उन्हें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने 2015 में भारत के सर्वोच्च सम्मान 'भारत रत्न' से सम्मानित किया। भारतीय राजनीति के युगपुरुष, श्रेष्ठ राजनीतिज्ञ और भारतमाता के सच्चे सपूत, पूर्व प्रधानमंत्री अटल जी का 16 अगस्त 2018 को 93 साल की उम्र में दिल्ली के एम्स में इलाज के दौरान निधन हो गया, किसी के सामने हार नहीं मानने वाले और 'काल के कपाल पर लिखने-मिटाने' वाली वह अटल और विराट आवाज हमेशा के लिए खामोश हो गई, पुष्पाजंलि अर्पित करने में श्रीमती किरण श्रीवास्तव, जिला मंत्री अभय राय, पूर्व जिला मंत्री भूपेन्द्र सिंह, डीसीएफ चेयरमैन धनंजय सिंह, भूपेन्द्र पाण्डे, आमोद सिंह, सिद्धार्थ राय, अनिल गुप्ता,शुभम मौर्य आदि उपस्थित रहे।

भाजपा ने बलिदान दिवस मनाकर मुखर्जी जी को किया याद*

जौनपुर-भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं ने डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी की पुण्यतिथि प्रत्येक मण्डल पर बलिदान दिवस के रूप में मनाई गई । भारतीय जनता पार्टी के शहर लाइन बाजार कचगांव रोड पर स्थित कैम्प कार्यालय पर जिलाध्यक्ष श्री पुष्पराज सिंह जी ने डॉ मुखर्जी जी के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह ने कहा कि डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी ने देश को एक सूत्र में बांधने के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया, उन्होंने कश्मीर को भारत से अलग करने का विरोध किया था,1953 में डॉ मुखर्जी को कश्मीर में घुसने के प्रयास के कारण 11 मई को गिरफ्तार किया गया और 23 जून 1953 को कश्मीर के जेल में उनकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह ने कहा कि अनुच्छेद 370 और 35 ए का हटाया जाना हमारे प्रेरणास्रोत पुरुषों को सच्ची श्रद्धांजली है डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने इसके लिए अपना सर्वोच्च बलिदान दिया जम्मू कश्मीर के तत्कालीन मुख्यमंत्री शेख मोहम्मद अब्दुल्ला और भारत के प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की साजिश के कारण श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने अब्दुल्ला के कारागार में 23 जून 1953 को एक "शहीद की मृत्यु" को अंगीकार किया। जनसंघ के तत्कालीन अध्यक्ष डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने 6 मई 1953 को दिल्ली से कश्मीर मार्च की घोषणा कर दी और कश्मीर की ओर निकल पड़े, उनका स्थान-स्थान पर हजारों लोगों ने स्वागत किया। बिना परमिट कश्मीर जा रहे डॉ. मुखर्जी को नेहरू सरकार ने जालंधर में नजरबंद कर लिया लेकिन इस लौह आवरण को भेदकर डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी जम्मू के लिए चल पड़े। एक देश मे दो प्रधान-दो निशान-दो विधान नहीं चलेगा के गगनभेदी नारों के बीच हजारों लोगों ने डॉक्टर मुखर्जी के साथ कश्मीर में प्रवेश किया। जहां पर शेख अब्दुल्ला सरकार ने उनको गिरफ्तार करके श्रीनगर जेल में बंद कर दिया भारत सरकार और कश्मीर सरकार के इस षडयंत्र और डॉक्टर मुखर्जी जी की गिरफ्तारी से पूरे देश में रोष फैल गया। आम जनता का दबाव नेहरू और शेख को भारी पड़ने लगा। डॉक्टर मुखर्जी की गिरफ्तारी पर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय 23 जून को ही आने वाला था की 23 जून की रात में ही जेल में डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी जी का निधन हो गया। जनसंघ ने पूरे देश में जांच की मांग को लेकर जबरदस्त आंदोलन किया परन्तु सरकार कांग्रेस की होने के कारण न्याय नही मिला। अन्ततः 2019 में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने इस विधान को समाप्त करके एक कलंक को मिटा दिया।जिलाध्यक्ष पुष्पराज सिंह जी ने कहा कि हमारे देश का लोकतंत्र बहुत मजबूत है, लेकिन जम्मू-कश्मीर में दशकों तक लाखों ऐसे लोग थे जिनको लोकसभा में वोट का अधिकार था लेकिन विधानसभा और स्थानीय निकायों में वोट नहीं डाल पाते थे प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और गृह मंत्री अमित शाह के अमिट निर्णय से अब सभी को अधिकार मिल गए हैं, केंद्र के इस दृढ़ निर्णय से जम्मू-कश्मीर में भी जनप्रतिनिधि अब वहां के लोगों द्वारा चुना जाएगा। इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से उपस्थिति जिला के उपाध्यक्ष सुरेंद्र कुमार सिंघानिया, ई. अमित श्रीवास्तव, जिला महामंत्री सुशील मिश्रा, पीयूष गुप्ता, जिला मंत्री रविंद्र सिंह राजू दादा, अभय राय, डीसीएफ चेयरमैन धनंजय सिंह, भूपेंद्र पांडेय, आमोद सिंह, विनीत शुक्ला, रोहन सिंह, राजवीर सिंह, सिद्धार्थ राय, सुशांत चौबे, इन्द्रसेन सिंह प्रमोद, अनिल गुप्ता, प्रमोद प्रजापति, जिला  भाजयुमो महामंत्री अजय यादव, शुभम मौर्य आदि कार्यकर्ता मौजूद थे।

सतीश कुमार सिंह को बीजेपी से प्रदेश परिषद सदस्य बनाये गये,समर्थको में ख़ुशी की लहर

लखनऊ- सतीश कुमार सिंह भाजपा पूर्व प्रत्याशी मल्हनी विधानसभा, एवं अनिता रावत जी पूर्व प्रत्यासी विधानसभा मछलीशहर,ब्रम्हदेव मिश्रा जी पूर्व जिलाध्यक्ष आप सबको भारतीय जनता पार्टी द्वारा मनोनीत प्रदेश परिषद सदस्य बनाये जाने पर बहुत बहुत बधाई एवं प्रदेश नेतृत्व का आभार .

जौनपुर-जनपदवासियों को भाजपा नेत्री किरन श्रीवास्तव जिला उपाध्यक्ष भाजपा जौनपुर की तरफ से हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं

जौनपुर-जनपदवासियों को भाजपा नेत्री किरन श्रीवास्तव जिला उपाध्यक्ष भाजपा जौनपुर की तरफ से हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं

मछलीशहर में भाजपा और बसपा गठबंधन में बड़े ही कांटे की टक्कर, 25 हजार के अंतर 1900 तक आया भाजपा,अभी गिनती जारी

जौनपुर- आज चल।रहे मतगणना मर मछलीशहर लोकसभा में सुबह से भाजपा और गठबंधन में कांटे की टक्कर जिसमे सुबह से बसपा के टी0राम लगभग एक बार करीब 25 हजार से वोट से आगे चल रहे थे उसके बाद बीपी सरोज ने पीछा करते हुए, हार के मार्जिन को कम करते हुए जिसमे अभी तक कि गिनती मर 1900 वोट से बसपा के टी0राम अभी भी आगे चल रहे है,लेकिन अंत जो भी हो इस लड़ाई का लेकिन इस लोकसभा में खूब उठापटक चल रहा है,अभी कुछ देर में अंतिम फैसला आ सकता है।