health

Breaking News

जौनपुर - बीजेपी के लिए जौनपुर से चुनाव का आगाज करना शुभ है-सतीश कुमार सिंह 24UPNEWS.COM पर

बसपा ने जारी किया 16 प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से श्याम सिंह यादव तो भदोही से रंगनाथ,घोषी से अतुल राय, सुलतापुर से चन्द्रभान पर जताया अपना विश्वास

लखनऊ-आज बीएसपी ने 16 प्रत्याशियों के नाम।की घोषणा की उसमे जौनपुर लोकसभा 73 से श्याम सिंह यादव पर अपना विश्वास जताया तो सुरक्षित सीट मछलीशहर से टी राम के नाम का ऐलान किया तो भदोही आए रंगनाथ मिश्रा की टिकट देकर प्रदेश में चल रहे चुनावी माहौल को और हवा दे दी है,गाजीपुर से अफजाल अंसारी तो सलेमपुर से आर एस कुशवाहा,घोषी से अतुल राय,लालगंज सुरक्षित सीट से संगीता,बांसगांव सुरक्षित से सदल प्रसाद,देवरिया से विनोद कुमार जायसवाल ,संतकबीरनगर से भीष्म शजर उर्फ कुशल तिवारी,श्रावस्ती से राम शिरोमणि वर्मा,अम्बेडकनगर स3 रितेश पांडेय,प्रतापगढ़ से अशोक कुमार त्रिपाठी,सुल्तानपुर से चन्द्रभान सिंह को प्रत्याशी बनाया है,यह सूची बसपा के राष्ट्रीय महासचिव मेवालाल गौतम ने जारी की है।

ओपी राजभर का भाजपा 24 घण्टे का दिया अल्टीमेटम आज खत्म, मांगे न मानने पर कांग्रेस के साथ जा सकते है राजभर,कांग्रेस 8 सीटे देने को तैयार

जौनपुर- भासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कल भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को 24 घण्टे का अल्टीमेटम दिया था कि 5 सीटे अगर बीजेपी नही देती है तो भाजपा के गठबंधन से बाहर हो जाएंगे।
       सूत्रों के हवाले से खबर है कि आज ओपी राजभर कांग्रेस के सम्पर्क में है जो 8 सीट ओपी राजभर को देने पर अंदर खाने सहमति या यूं कहें कि बातचीत हो गयी, आज देर शाम बीजेपी से ओमप्रकाश राजभर के बाहर होने की खबर आ जाये तो कोई आश्चर्य की बात नही होगी।
      वही दूसरी तरफ सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव प्रेस कांफ्रेंस कर निषाद राज पार्टी के अध्यक्ष ने सपा के साथ गठबंधन का ऐलान किया है,इस गठबंधन से सपा बसपा के गठबंधन को एक तरफ तो बल मिलेगा तो दूसरी तरफ भाजपा के गठबंधन को कम करने के लिए सभी विरोधी एक जुट हो गए है।

राजीव गुप्ता से रंगदारी मांगने को बताया राजनीति से प्रेरित,राजीव गुप्ता हिस्ट्रीशीटर व पंजीकृत भूमाफिया भी है- धनन्जय सिंह पूर्व सांसद

गाटा संख्या  3सी में 4.5 बीघा के स्थान पर 16 बीघा फर्जी मुआवजा के भुगतान के सम्बंध में न मुझे कोई जानकारी है न ही मेरा कोई वास्ता है।
लखनऊ- जौनपुर के पूर्व सांसद धनंजय सिंह आज सुबह ही लखनऊ के जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा से मुलाकात कर अपने ऊपर दर्ज की गई एफआईआर के संदर्भ में बातचीत किया और लिखित पत्र भी दिया है जिसमे वादी के बारे मे खुलासा किया है ।
बता दें कि कल जौनपुर के पूर्व सांसद धनन्जय के ऊपर जानकीपुरम थाने में भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष राजीव गुप्ता उर्फ राजू गुप्ता ( अवध ग्रुप) ने मेरे ऊपर गलत आरोप लगाया है और कहा कि मेरे राजनैतिक ग्रुप के प्रतिद्वंद्वी से मिल कर मेरे ऊपर फर्जी व अनावश्यक रूप से रंगदारी मांगने का लगाया जा रहा है आरोप, राजू यादव ने फर्जी रूप से प्रॉपर्टी डीलिंग कर करोङो रूपये की ठगी का कार्य करता है और राजीव गुप्ता हिस्ट्रीशीटर व पंजीकृत भूमाफिया भी है।।             उधर पूर्व सांसद धनन्जय सिंह आज डीएम लखनऊ से मिले और एक पत्र डीएम लखनऊ को संदर्भित कर दिया है जिसमे उन्होंने कहा है कि किसानों के नेता राजीव गुप्ता द्वारा कुछ भूमाफिया और प्रॉपर्टी डीलरों जिन्होंने अवैध तरीके से सरकारी भूमि व राज्य सरकार में निहित भूमि व गरीब किसानों की भूमि पर जबरन कब्जा कर प्लाटिंग करके बेचने व आगरा एक्सप्रेस वे में।अधिग्रहित भूमि की कूटरचित अभिलेख बनाकर व सरकारी कर्मचारियों की मिलीभगत से गाटा संख्या  3सी में 4.5 बीघा के स्थान पर 16 बीघा फर्जी मुआवजा के भुगतान के सम्बंध में न मुझे कोई जानकारी है न ही मेरा कोई वास्ता है।

खनन माफियाओं के हौसलें बुलंद,एसडीएम और नायब तहसीलदार पर जान लेवा हमला,दर्ज हुआ मुकदमा

महोबा- प्रदेश में पुलिस और प्रशासन से बेख़ौफ़ खनन माफियाओ का आतंक थमने का नाम नही ले रहा है । यूपी के जालोंन में सीओ के साथ घेराबंदी कर मारपीट के बाद आज महोबा में दबंग खनन माफिया ने अवैध खनन पर लगाम लगाने वाली स्पेशल टॉस्क फोर्स की टीम पर जानलेवा हमला कर पुलिस और प्रशासन को सकते में ला दिया है । अवैध बालू से लदे ट्रेक्टर को पकड़ने के दौरान माफिया ने अपनी मारुति कार से ओवरटेक कर एसडीएम नायब तहसीलदार के वाहन को खाई में गिराने का प्रयास करते हुए जान से मारने की कोशिश की है ! एसडीएम ने मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्काल पुलिस फोर्स बुला आरोपी को गिरफ्तार कराने में सफलता हासिल की है । खनन टॉस्क फोर्स टीम के साथ भारी पुलिस प्रशासन को देख आरोपी के अन्य साथी मौके का फायदा लेकर फरार हो गए है ।


बता दें कि जनपद महोबा के पनवाड़ी थाना क्षेत्र में खनिज विभाग द्वारा निजी भूमि के खनन पट्टे स्वीकृत किये गए है । खनन माफिया जल्द से जल्द अमीर बनने की लालच में बड़े पैमाने पर अवैध बालू खनन के कारोबार को अंजाम देने में लगे हुए है । शासन प्रशासन के तमाम निर्देशों के बाद भी पुलिस और प्रशासन से बेख़ौफ़ बालू खनन माफिया रात-दिन अवैध बालू का खनन करने में जुटे हुये है । पनवाड़ी के वराना घाट से अवैध बालू के परिवहन की सूचना मिलते ही एसडीएम जंग बहादुर यादव,नायब तहसीलदार लखन लाल राजपूत ने पुलिस जवानों के साथ अवैध बालू से भरे ट्रेक्टर को रोकने का प्रयास किया । पुलिस और प्रशासन द्वारा ट्रेक्टर को रोकने की लोकेशन मिलते ही खनन माफिया मदन पाल सिंह अपनी मारुति आल्टो से आ धमका ओर प्रशासनिक आलाधिकारियों को गाली गलौज के साथ अभद्रता करने लगा । साथ ही अपनी कार से ओवरटेकिंग कर एसडीएम और नायब तहसीलदार के चार पहिया वाहनों को खाई में गिराने की कोशिश की है । इस बड़ी घटना को लेकर कुलपहाड़ एसडीएम ने डीएम महोबा से बात कर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया है । तहसीलदार सुबोध मणि शर्मा ने अंदेशा जताया है कि खनन माफिया के साथ और भी तमाम साथी इधर-उधर छिपे हुए थे । पुलिस बल को देख सभी भाग खड़े हुए है । यह खनन माफिया पहले भी कुलपहाड़ के पूर्व सीओ संदीप यादव से मारपीट कर चुका है ।

फिर एक और प्रश्न पत्र हुआ लीक,पूरे प्रदेश में बीटीसी चतुर्थ समेस्टर की परीक्षा हुई निरस्त

लखनऊ सोशल मीडिया पर प्रसारित बीटीसी 2015 चतुर्थ सेमेस्टर की परीक्षा के प्रथम प्रश्न पत्र लिक होने के संबंध में जिला विद्यालय निरीक्षक कौशांबी द्वारा प्रस्तुत आख्या दिनांक 8/10/2018 द्वारा अवगत कराया गया है कि सोशल मीडिया वायरल किए गए प्रश्न पत्र का मिलान करने पर यह पाया गया कि वायरल हुआ प्रश्न पत्र वार्षिक प्रश्नपत्र एक समान है साथ ही उठ के अतिरिक्त अन्य 7 प्रश्न पत्र द्वितीय प्रश्न पत्र से लेकर अंत तक के भी व्हाट्सएप पर लीक होने की सूचना दी गई है तब संबंध में उपलब्ध कराए गए प्रश्न पत्रों की छाया प्रति का मिलान इस कार्यालय में उपलब्ध प्रस्तुत किया गया है मिलान करने पर इस तथ्यों की पुष्टि की हुई की उपलब्ध कराए गए प्रश्न पत्र की प्रतियां समान है|. 
अतः उक्त परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए तत्काल प्रभाव से 6:10 2018 से 10 10 2018 तक प्रदेश के समस्त निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर संपादित होने वाले बीटीसी प्रशिक्षण 2013 सेवारत मृतक आश्रित, उर्दू बीटीसी 2014 अवशेष/अनुत्तीर्ण एवं बीटीसी सेमेस्टर की परीक्षा निरस्त की जाती है, परीक्षा के आगामी तिथि के संबंध में सूचना दी जाएगी यह सूचना जनहित में जारी।

पेंशन बहाली को लेकर हजारो की संख्या में कर्मचारी पहुँचे लखनऊ

लखनऊ में आज पुरानी पेंशन बहाली को लेकर शिक्षक अधिकारी और कर्मचारी पूरे प्रदेश से लाखों की संख्या में कर्मचारी और शिक्षक लखनऊ के इको गार्डन में पहुंचे, जौनपुर से भी कर्मचारी नेता और कर्मचारी संघ
के अध्यक्ष, पेंशन बहाली नेतृत्व के संयोजक राकेश श्रीवास्तव के नेतृत्व में हजारों की संख्या में पेंशन बहाली को लेकर कर्मचारी प्रदेश के लखनऊ के इको गार्डन पहुचे,जनपद से दो दर्जन से ज्यादा बस और सौ से ज्यादा चार पहिया वाहन से पेंशन बहाली को लेकर एक साथ लखनऊ में दिखे।

मूट कोर्ट प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

लखनऊ। एमिटी विश्वविद्यालय के विधि संकाय एमिटी लॉ स्कूल में दो दिवसीय मूट कोर्ट का आयोजन सम्पन्न हुआ। इस प्रतियोगिता में कुल 36 टीमों ने भाग लिया, यह कार्यक्रम एमिटी लॉ स्कूल के निर्देशक प्रो. बलराज चौहान के दिशा निर्देश पर सम्पन्न हुआ, प्रतियोगिता में अदिति, शाश्वत की टीम विजयी हुई एवम शांतनु, हर्षित, यशवर्धन की टीम उपविजेता घोषित हुई।प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ वक्ता अदिति शुक्ला को मिला सर्वश्रेष्ठ शोधकर्ता यशवर्धन एवं सर्वश्रेष्ठ मेमोरियल आकांक्षा, खुश्बू को दिया गया।
कार्यक्रम के छात्र संयोजक नलिन मिश्रा, अमन श्रीवास्तव, मेधा सिंह एवम तान्या राय रही।
कार्यक्रम उपरांत कार्यक्रम संयोजक मुद्रा सिंह ने सभी अतिथियों एवम प्रतिभागियों के प्रति आभार व्यक्त किया एवम शुभकामनाये दी।

प्रदेश शासन ने किया 6 आईपीएस अफसरों का तबादला

लखनऊ। प्रदेश शासन ने 6 आईपीएस अफसरों का तबादला कर दिया है। तबादले के क्रम में अनिल कुमार राय एसपी,स-03 को पुलिस उपमहानिरीक्षक स्थापना, पीएचचक्यू, इलाहाबाद से हटाकर पुलिस उपमहानिरीक्षक, देवीपाटन परिक्षेत्र .गोंडा , अमिताभ यश  आरआर-96 बिहार को पुलिस महानिरीक्षक यातायात लखनऊ से हटाकर पुलिस महानिरीक्षक,पीएसी मुख्यालय उत्तर प्रदेश लखनऊ ,एस बी शिरडकर आरआर- 1993 महाराष्ट्र को पुलिस महानिरीक्षक पी,सी मुख्यालय उ0प्र0, लखनऊ से हटाकर, पुलिस महानिरीक्षक, आईटेक्स (यूपी-100), उ0प्र0 लखनऊ, जितेन्द्र प्रताप सिंह, ,एससपीएस-2000 अम्बेडकरनगर को पुलिस उपमहानिरीक्षक देवीपाटन परिक्षेत्र गोंडा से हटाकर पुलिस उपमहानिरीक्षक, पीटीएस, गोरखपुर, सन्तोष कुमार मिश्र आरआर-2012 पटना को पुलिस महानिदेशक मुख्यालय से सम्बद्ध को हटाकर पुलिस अधीक्षक, तकनीकी सेवा,तकनीकि सेवाएं  उ0प्र0, लखनऊ, तथा देवरंजन वर्मा आरआर-11 लखनऊ को  पुलिस अधीक्षक तकनीकी सेवायें उ0प्र0, लखनऊ से हटाकर पुलिस अधीक्षक, आईटेक्स (यूपी-100), उ0प्र0 लखनऊ स्थानान्तरित किया गया  है।

शासन ने जिलाधिकारी का किया तबादला

K.P.SINGH अब वाराणसी के नए डीएम होंगे योगेश्वर राम मिश्र
शासन ने डीएम विजय किरण आनंद को जिम्मेदार मानते हुए किया तबादला 
लखनऊ । प्रदेश शासन ने गत दिवस वाराणसी के राजघाट पुल पर भगदड़ के दौरान हुई 24 लोगों की मौत के मामले में डीएम विजय किरण का तबादला कर नये जिलाधिकारी के रूप में योगेश्वर राम मिश्र को जिम्मेदारी सौंपी है।
बताते चलें कि गत दिवस वाराणसी के राजघाट पुल पर जयगुरुदेव के अनुयाई सत्संग में शामिल होने आए थे ,लौटते समय रस्ते में कुछ शरारती तत्वों ने उस समय यहाँ भूकंप आने की अफवाह उड़ा दिया जब भरी संख्या में श्रद्धालु राजघाट पुल पर पहुंचे थे उसी दौरान पुल के एक तल के रेलवे ट्रैक से ट्रेन गुजर रही थी उस दौरान पुल पर कम्पन सा आभास हुआ जिससे पुल पर से गुजर रहे श्रधालुओं में भगदड़ मच गयी।
इस घटनाक्रम में जहाँ 24 लोगों की मौत हुई है और सैंकड़ों लोगों के घायल होने की खबर है।

लीपिक संजय सिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

sid लखनऊ।  प्रदेश के सरोजनीनगर जनपद में संदिग्ध परिस्थितियों  में क्लर्क का शव मिलने से हडकंप मच गया।
सूत्रों के मुताबिक क्लर्क संजय सिंह ने अधिशाषी अभियंता के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत  कराया था ,जिसे लेकर परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।
फ़िलहाल पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को कब्जे में ले लिया है तथा आवश्यक छानबीन में जुट गयी है।

असलहा लैस लुटेरों ने एक ही दिन 3 ट्रेनों में लूटपाट की घटना को दिया अंजाम

Image result for इमेज ऑफ़ वैशाली ट्रेन
ट्रेनों में लूटपाट की दुस्साहसिक वारदात से सहमे यात्री
लखनऊ । प्रदेश के कानपुर रेलवे स्टेशन के पास आज तीन ट्रेनों में लूटपाट करने का मामला प्रकाश में आया है। सूत्रों के मुताबिक असलहों से लैस लुटेरों ने ट्रेन में घुसकर यात्रियों से सामान की लूट-पाट की इसके बाद मौके से फरार हो गए।
जानकारी के मुताबिक, वैशाली एक्सप्रेस, लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस और एक पैसेंजर ट्रेन जब आउटर सिग्नल पर खड़ी थी, तभी लुटेरे ट्रेन के अंदर घुस गए। बता दें कि 4 लुटेरे जो कि  बंदूकों और चाकुओं से लैस थे वे यात्रियों से बैग, वॉलेट, मोबाइल और कीमती सामान छीन रहे थे जिसका विरोध करने पर यात्रियों पर हमला भी कर दिया जिससे एक यात्री भी घायल हो गया है ।
फ़िलहाल रेलवे पुलिस मामले को संज्ञान में लेकर लुटेरों की तलाश में जुट गयी है।

प्रदेश शासन ने 13 सीनियर पीसीएस अफसरों का किया तबादला

लखनऊ।  प्रदेश शासन ने  13 सीनियर पीसीएस अफसरों के तबादला कर दिया है  ।  तबादले के क्रम में राजेंद्र यादव द्वितीय एडीएम वित्त संभल ,विजय नारायण पांडेय एडीएम वित्त चित्रकूट ,अक्षय लाल यादव सीडीओ बदायूं ,प्रताप सिंह भदौरिया सीडीओ एटा ,करमेंद्र सिंह अपर आयुक्त आगरा मंडल ,मुनींद्रनाथ उपाध्याय एडीएम प्रशासन वाराणसी ,जितेंद्र कुमार शर्मा एडीएम प्रशासन शाहजाहंपुर ,देवरिया एडीएम उमेश मंगला प्रतीक्षारत किए गए ,बच्चा लाल एडीएम वित्त देवरिया बने ,आनंद कुमार एडीएम वित्त महोबा 
संतोष कुमार एडीएम वित्त बस्ती ,अनूप श्रीवास्तव अपर आयुक्त वाणिज्य कर ,अंजनी कुमार सिंह सीडीओ बस्ती बनाए गए हैं। 

सड़क दुर्घटना में 8 लोगों की मौत

लखनऊ। यमुना एक्सप्रेसवे पर हुए दो दर्दनाक हादसों में आठ लोगों की मौत हो गई। 
सूत्रों के मुताबिक सुबह लगभग  चार बजे सुरीर थाना क्षेत्र में खराब खड़ी बॉल्वो बस में केंटर ने टक्कर मार दी।आपको बता दें कि  बस खराब हो जाने की वजह से यात्री बस से  उतर गए थे। 
इस हादसे में चार पुरुष,एक महिला और एक बच्चे की मौत हो गई और आठ लोग गभीर रूप से घायल हो गए हैं । शवों की सिनाख्त अभी नहीं हो पाई है।
बताया जा रहा है कि गाड़ी की रफ्तार लगभग 140 किलोमीटर के आस-पास थी।कार दंपति का बेटा सत्येंद्र चला रहा था। नींद में झपकी आने की वजह से कार अनियंत्रित होकर अज्ञात वाहन में जा घुसी। दंपति के बेेटे और कार चालक सत्येंद्र घायल है। 
इसी क्रम में एक और बड़ा हादसा  सुरीर थाना क्षेत्र के  माइल स्टोन 89 के नजदीक हुआ। इस हादसे में अज्ञात वाहन में पीछे से तेज रफ्तार से  आ रही स्विफ्ट कार ने टक्कर मार दी।
इस हादसे में बुजुर्ग दंपति सत्यपाल (60) और लज्जावती (55) की मौके पर ही मौत हो गई वहीं बेटा सत्येंद्र घायल हो गया है। 

मुख्यमंत्री ने खून से ख़त लिखने वाली बहनों को आर्थिक सहायता और नौकरी देने का किया वादा


cm akhilesh helps bulandshahr sisters who wrote blood letterलखनऊ ।  माँ के हत्यारे पिता को सजा दिलाने की आस में दो बहनों ने सीएम को खून से चिट्ठी लिखी।
सीएम ने दोनों बहनों को 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद, मकान और बच्चियों के मामा को नौकरी देने का वादा किया है।
14 जून को बुलंदशहर में रहने वाली 15 साल की लतिका ने जो देखा, उसे वो कभी भूल नहीं सकती।एक ऐसी घटना जिसने लतिका और उसकी छोटी बहिन तान्या के दिलो-दिमाग पर गहरा आघात किया है। इस घटना के बाद इन्साफ की लिए लतिका ने सभी छोटे बड़े पुलिस अधिकारीयों के दरवाज़े खटखटाये. लेकिन, इन्साफ नहीं मिला।
आखिर में लतिका ने सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को अपने खून से लिखकर पत्र भेज दिया।इसके बाद प्रशासनिक हलके में खलबली मच गई. मुख्यमंत्री ने भी इस खत को गंभीरता से लिया है और दोनों बहनों से मुलाकात कर उनकी समस्या सुनने को बुलाया है. पुलिस भी अब इस मामले में हरकत में आ गई है।
दो महीन पहले यूपी के बुलंदशहर में रहने वाली 15 साल की लतिका बंसल ने एक ऐसा मंजर देखा जिसे वह कभी भूल नहीं पाएगी. बीती 14 जून को लतिका और उसकी 11 साल की मासूम बहन तान्या के सामने ही उनकी मां अनु बंसल को जिंदा जलाकर मार दिया गया. दोनों बहनों का कहना है कि उनकी मां की हत्या इसलिए की गई क्योंकि उन्होंने बेटे के बजाय दो लड़कियों को जन्म दिया था।
रिपोर्ट के मुताबिक, जिस वक्त लतिका की मां को जलाया जा रहा था, उस वक्त उसने मदद के लिए 100 नंबर पर कॉल भी किया था. लेकिन, उसके कॉल पर कोई जवाब नहीं मिला. इसके बाद उसने एंबुलेंस को भी कॉल किया. लेकिन, एंबुलेंस भी मौके पर नहीं पहुंची. इसके बाद लतिका ने अपने मामा को कॉल किया, तब जाकर उसकी मां को अस्पताल ले जाया गया।
उसने बताया कि ‘मैं उस मंजर को कभी नहीं भूल सकती।मेरी मां को मेरी आंखों के सामने जलाया जा रहा था. जिस वक्त मेरी मां ने मुझे जन्म दिया, उस वक्त भी उन्हें टॉर्चर किया गया. क्योंकि उन्हें लड़का नहीं हुआ था. इसके बाद जब 11 साल पहले मेरी बहन तान्या का जन्म हुआ, तब हम तीनों को घर से बाहर फेंक दिया गया.’
लतिका ने बाताय कि ‘जिसके बाद से हम किराए पर रह रहे थे.बीती 14 जून की रात मेरी दादी दूसरे रिश्तेदारों के साथ हमारे घर आईं. उन्होंने कहा कि वह मेरे पिता की शादी उससे करने जा रही हैं जो बेटे को जन्म दे सके. इसी बात पर विवाद हो गया. उन लोगों ने मेरी मां को जिंदा जला दिया. मेरी छोटी बहन रोती जा रही थी, लेकिन मैंने हिम्मत जुटाकर 100 नंबर पर कॉल किया.’
करीब 95 फीसदी तक चल चुकी लतिका की मां अनु बंसल आखिरकार जिंदगी की जंग हार गईं. इस बीच पुलिस ने अपनी जांच में दावा किया कि यह मामला आत्महत्या का था. मां की मौत को दो महीने बीत जाने के बाद लतिका ने न्याय के लिए अब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से गुहार लगाई है. लतिका ने खून से चिट्ठी इसलिए लिखी है ताकि सीएम अखिलेश इस पर तत्काल कार्रवाई करें।
लतिका के मुताबिक, वह अपने मामा के साथ सभी रैंक के पुलिस अधिकारियों के पास न्याय मांगने जा चुकी है. लेकिन, किसी ने भी उसकी मदद नहीं की. लतिका के मामा तरुण जिंदल के अनुसार ‘जब उसने(लतिका) कॉल किया तो मैं वहां पहुंचा. मैं देखकर हैरान रह गया. उन्होंने मेरी बहन को जला दिया था.’
उन्होंने कहा कि ‘हम उसे हॉस्पिटल लेकर गए लेकिन वह 95 फीसदी तक जल चुकी थी. जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई. अगर पुलिस उस वक्त कॉल उठा लिया होता और समय से पहुंच जाती तो शायद मेरी बहन बच जाती. मेरी बहन की हत्या उसके देवर राजेश बंसल और सास स्नेहलता ने की है. वह अभी भी खुलेआम घूम रहे हैं. मुझे यकीन है कि उन लोगों ने पुलिस को घूस दी है।

मोहल्ले में रामायण होता है तो बुलाया जाता है चार साल की अनन्या को !

लखनऊ। आपको हम एक ऐसी होनहार लड़की के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी उम्र महज चार साल है ,लेकिन आपको यह सुन के जरुर आश्चर्य होगा कि इस नाजुक सी उम्र में अनन्या वर्मा को रामायण कंठस्थ है इतना ही नहीं फर्राटेदार अंग्रेजी पढ़ती है और उच्चारण इतना साफ है कि संस्कृत, हिन्दी व अंग्रेजी के कठिन से कठिन शब्दों का उच्चारण आसानी से करती है।इतना ही नहीं अनन्या को सुपर वंडर गर्ल भी लोग कहने लगे हैं । 
आपको बता दें कि फीनिक्स मॉल के पास देवा मंदिर के पीछे बीबीएयू में सुपरवाइजर तेज बहादुर वर्मा के घर पर लोगों का तांता लगा रहता है। अनन्या के टैलेंट से रूबरू होने के लिए मोहल्ले ही नहीं आसपास के इलाकों से भी लोग आते हैं। ऐसा नहीं है कि अनन्या इस परिवार की पहली वंडर गर्ल है। इससे पहले अनन्या की बहन सुषमा वर्मा व भाई शैलेंद्र ने भी अपने हुनर का परचम फहराया है।
तेज बहादुर वर्मा बताते हैं कि अनन्या शुरू से ही पढ़ाई में रुझान दिखाने लगी थी। चूंकि, घर पर रामायण रखी हुई थी, इसलिए जब उसका पाठ होता तो अनन्या भी पढ़ने की कोशिश करती। इसी सिलसिले में उसे रामायण के काफी अंश मुंहजबानी याद हो गए। इतना ही नहीं उसकी आवाज इतनी साफ है कि जब मोहल्ले में रामायण पाठ होता है तो अनन्या को बुलाया जाता है।खबरों के अनुसार अनन्या को पढ़ाई के अलावा कार्टून देखने का शौक है। घर पर मौका मिलते ही कार्टून देखने बैठ जाती है। जब मां के पसंदीदा धारावाहिक चलते हैं तो उसके लिए लैपटॉप पर कार्टून या फिर एनिमेशन मूवी लगा दी जाती है, जिसे वह एंजॉय करती है। मां ने बताया कि अनन्या को टॉम एंड जेरी की नोकझोंक बहुत पसंद है। हालांकि, मोटू-पतलू, पोकेमॉन, निंजा हट्टोरी भी वह देखती है।हिन्दी, अंग्रेजी व संस्कृत के कठिन से कठिन शब्द अनन्या की जुबान पर आते ही आसान व सरल बन जाते हैं। अनन्या का तलफ्फुज इतना साफ है कि वह एक झटके में कठिन से कठिन शब्दों का उच्चारण कर लेती है। परिजन इंग्लिश स्पीकिंग की भी प्रैक्टिस करवा रहे है। मां उसे उर्दू सिखाने की भी ख्वाहिश रखती हैं।अनन्या देखने पर गुमसुम सी लगती है। पर, कुछ ही देर में ऐसे घुलमिल जाती है कि अपनी-सी लगने लगती है। परिजनों ने बताया कि अनन्या कभी भी किसी चीज के लिए जिद नहीं करती। खाने में ऐसा कोई शौक नहीं रखती और न ही कभी डिमांड करती है। फिर भी हम उसकी हर ख्वाहिश पूरी करते हैं।

अनुप्रिया के राज्यमंत्री बनने से नाराज कृष्णा पटेल ने अपना दल को बीजेपी से किया अलग

लखनऊ।  अपना दल अध्यक्ष कृष्णा पटेल और बेटी अनुप्रिया पटेल के बीच पार्टी पर मालिकाना हक़ को लेकर जंग तेज हो गई है। अनुप्रिया पटेल के केंद्र में राज्यमंत्री बनने से नाराज अपना दल अध्यक्ष कृष्णा पटेल ने एनडीए से गठबंधन तोड़ने की घोषणा कर दी है। 
अनुप्रिया पटेल की मां कृष्णा पटेल ने कहा कि उनकी बेटी का अब अपना दल से कोई वास्ता नहीं है,उन्हें 2015 में ही पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होजने की वजह से निकाला जा चुका है। 
कृष्णा पटेल ने कहा कि अनुप्रिया अब अपना दल की सांसद नहीं हैं। उन्होंने कहा कि अपना दल का अब बीजेपी से कोई वास्ता नहीं है. अब अपना दल एनडीए का घटक नहीं है। 
बता दें अनुप्रिया पटेल ने मंगलवार को मोदी कैबिनेट में राज्यमंत्री के रूप में शपथ लिया था। 
गौरतलब है कि अपना दल के संस्थापक सोनेलाल पटेल की सड़क हादसे में मौत के बाद अनुप्रिया पटेल ने पार्टी को संभाला था ,लेकीन 2014 लोक सभा चुनाव के दौरान बीजेपी से गठजोड़ को लेकर मां-बेटी में खटास पैदा हो गई थी. जिसके बाद जनवरी 2015 में अनुप्रिया को पार्टी से निकाल दिया गया था। 
लेकिन अनुप्रिया और कृष्णा पटेल दोनों ही पार्टी पर अपना-अपना हक़ जताती रहीं हैं।  अब केंद्र में मंत्री बनने के बाद मां कृष्णा पटेल को अपना कुर्मी वोट खिसकता नजर आ रहा है।  यही वजह है कि उन्होंने पार्टी का एनडीए के साथ हुए गठजोड़ को तोड़ दिया। 

राजू पाल हत्याकांड प्रकरण में पूजा पाल से सीबीआई टीम करेगी पूछताछ

लखनऊ। बसपा के विधायक रहे राजू पाल हत्याकांड के मामले में सीबीआई की टीम इलाहाबाद में डेरा डाले हुयी है। जाँच टीम बसपा विधायक पूजा पाल से भी उनके पति राजू पाल की हत्या के बिंदुओ पर जानकारी हासिल की है । 
सूत्रों की मानें तो बसपा विधायक पूजा पाल से काफी देर तक बातचीत की बता दें कि इस हत्या कांड में बाहुबली पूर्व संसद अतीक अहमद के साथ 11 लोग हत्या रोपी हैं। 
विधायक राजू पाल की हत्या 25 जनवरी वर्ष 2005 में ताबड़तोड़ गोलियां बरसा कर ,कर दी थी। जाँच टीम ने उस स्थल का भी जायजा लिया जहाँ बदमाशों ने विधायक पर गोलियां चलायी थीं। 
खबर है कि इस हत्या कांड के गवाह किन्ही दबाव के चलते बयान देने से कतरा रहे हैं।