health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

बड़ी खबर-पुलिस व बदमाशों के बीच हुई मुठभेड़,मोनू चौहान की मुठभेड़ में इलाज के दौरान मौत,एक आरोपी फरार

वाराणसी-जिले के सारनाथ थाना क्षेत्र के रिंग रोड पर बदमाशों और पुलिस में मुठभेड़ हो गई। बताया जा रहा है कि 50 हजार का इनामी मोनू चौहान बीते दिनों लालपुर में प्रेमा देवी के घर में घुसकर गोली मारने के मामले में और घड़ी व्यवसाई श्याम बिहारी मिश्रा की हत्या में वांछित था। अभियुक्त मोनू ने पुलिस को देखकर फायरिंग की। जिसके बाद पुलिस की जवाबी कार्यवाही में उसे गोली लगी है। घायल अवस्था में पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई है। एसपी सीटी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि मोनू के साथ उसका एक साथी भी मौजूद था। एनकाउंटर के दौरान अधेरे का फायदा उठाकर वह फरार हो गया है। बताया जा रहा है कि इस एनकाउंटर में पुलिस के भी 2 जवान घायल है। इलाज के लिए उन्हें भी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है।

घटना की जानकारी देते हुए एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि क्राइम ब्रांच और पुलिस को सूचना मिली कि बिते दिनों प्रेमा देवी की और घड़ी व्यवसाय श्याम बिहारी मिश्रा की हत्या में शामिल मोनू चौहान और उसका साथी अनिल इस वक्त रिंग रोड पर मौजूद है और किसी घटना को अंजाम देने की फिराक में है। जिसके बाद पुलिस ने घेराबंदी की, इस दौरान दोनों तरफ से गोलियां चली। इस एनकाउंटर में क्राइम ब्रांच के एक सिपाही और चौकी प्रभारी पांडेपुर इस मुठभेड़ में घायल हुए हैं। जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है। वहीं मोनू की इलाज के दौरान मौत हो गई है। एनकाउंटर के बीच अंधेरे का फायदा उठाकर अनिल मौके से फरार हो गया है जिसके लिए कॉम्बिंग की जा रही है।

बता दें कि शातिर मोनू सनी गिरोह का शूटर रह चुका है। 2015 में वाराणसी के थाना कोतवाली क्षेत्र में कबीरचौरा में एसटीएफ की टीम से हुई एक मुठभेड़ में कुख्यात गैंगस्टर सनी सिंह मारा गया था, जिसमें मोनू चौहान भागने में सफल हो गया था। इसे 2017 में तत्कालीन थानाध्यक्ष शिवानंद मिश्रा ने भी गिरफ्तार किया था। मूल रुप से चोलापुर के लाखी गांव का रहने वाला मोनू हाल में पाण्डेयपुर खजुरी इलाके में रह रहा था।

*जौनपुर-वाराणसी खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से आपका अपना एमएलसी प्रत्याशी रमेश सिंह के चुनाव कार्यालय का उद्घाटन दिनांक 16 नवम्बर को दिन में 11 बजे किया गया है इस कार्यक्रम में आप सादर आमंत्रित हैं-निवेदक दिनेश सिंह*

जौनपुर-वाराणसी खंड शिक्षक निर्वाचन क्षेत्र से आपका अपना एमएलसी प्रत्याशी रमेश सिंह के चुनाव कार्यालय का उद्घाटन दिनांक 16 नवम्बर को दिन में 11 बजे किया गया है इस कार्यक्रम में आप सादर आमंत्रित हैं- निवेदक दिनेश सिंह*

यूपी में 10 एआरटीओ का हुआ तबादला,एआरटीओ यूबी सिंह का सरकार ने बढ़ाया रुतबा,वाराणसी एआरटीओ प्रवर्तन बनाये गए

लखनऊ समेत प्रदेश के दस आरटीओ को मिली नई तैनाती
जौनपुर के एआरटीओ उदयवीर सिंह की रुतबा बढा, वाराणसी के बनाए गये आर0 टी 0ओ0 प्रवर्तन
लखनऊ के आरटीओ समेत प्रदेश के अन्य जनपदों में तैनात 10 अधिकारियों को नई तैनाती दी गयी है। प्रमुख सचिव परिवहन राजेश कुमार सिंह की ओर से आदेश जारी कर दिया गया है। सभी अधिकारियों को कार्यालय आदेश जारी करते हुए तत्काल तैनाती स्थल पर पहुंचकर कार्यभार ग्रहण करने के निर्देश दिए गए हैं।

प्रमुख सचिव ने बताया कि लखनऊ ट्रांसपोर्टनगर आरटीओ कार्यालय में तैनात एआरटीओ (प्रवर्तन) संजीव कुमार गुप्ता को आरटीओ के पद पर प्रोन्नति करते हुए उप निदेशक राजस्व एवं विशिष्ट अभिसूचना के पद पर सचिवालय में तैनाती मिली है। वहीं परिवहन आयुक्त मुख्यालय पर तैनात एआरटीओ राजेश कुमार गंगवार को आरटीओ (प्रशासन) पद पर झांसी में तैनात किया गया है।

इसके अलावा एआरटीओ (प्रवर्तन) अजय कुमार यादव को आरटीओ (प्रवर्तन) गोंडा, एआरटीओ (प्रवर्तन) राजेश कुमार मौर्या को गोंडा से आरटीओ (प्रशासन) प्रयागराज, एआरटीओ (प्रवर्तन) संतदेव सिंह अयोध्या से आरटीओ (प्रशासन) बांदा, एआरटीओ (प्रवर्तन) उदयवीर सिंह को जौनपुर से आरटीओ (प्रवर्तन) वाराणसी, एआरटीओ (प्रवर्तन) हिमेश तिवारी को गौतमबुद्धनगर से आरटीओ (प्रवर्तन) मुरादाबाद, एआरटीओ (प्रशासन) अरूण कुमार को रामपुर से आरटीओ (प्रशासन) आगरा, एआरटीओ प्रवर्तन राजेश सिंह को गाजियाबाद से आरटीओ (प्रवर्तन) मेरठ व एआरटीओ (प्रशासन) आरएन चौधरी को आजमगढ़ से आरटीओ (प्रवर्तन) आजमगढ़ के पद पर तैनाती की गई।

ज्ञानवापी मस्जिद और काशी विश्वनाथ मंदिर को लेकर लंबित मुकदमे में आज वाराणसी की अदालत में हुई सुनवाई

वाराणसी-ज्ञानवापी मस्जिद और काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर को लेकर लंबित मुकदमे में आज वाराणसी की अदालत में सुनवाई हुई। वादी पक्ष की ओर से भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा ज्ञानवापी परिसर का पुरातात्विक सर्वेक्षण कराने की अपील की गई। इस मामले में एक बार फ‍िर सुनवाई टल गई मगर प्रकरण की चर्चा देश भर में होती रही। अदालत में सुनवाई के बाद ज्ञानवापी-विश्वनाथ मंदिर परिसर के विवाद को लेकर लंबित मुकदमे में अदालत ने अगली तारीख 18 मार्च मुकर्रर की है। मुकदमे की सुनवाई सिविल जज (सीनियर डिवीजन-फास्ट ट्रैक) आशुतोष तिवारी की अदालत में चल रही है। भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा ज्ञानवापी परिसर का पुरातात्विक सर्वेक्षण कराने की अपील पर वाद मित्र विजय शंकर रस्तोगी के बहस को जारी रखते हुए उक्त तिथि मुकर्रर की। शुक्रवार को सुनवाई के दौरान प्रतिवादी पक्ष ने हाईकोर्ट में याचिका लंबित होने का हवाला देकर सुनवाई को स्थगित करने की सिविल जज से अपील की थी, लेकिन यह अपील खारिज हो गई।

14 मार्च को राष्ट्रपति दो दिवसीय दौरे पर

वाराणसी- राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आगामी 14 मार्च को दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी आ रहे  है, इसके के बाद वे जनपद सोनभद्र भी जाएंगे। जिला प्रशासन राष्‍ट्रपति के आगमन को लेकर पूरी तैयारी में जुट गया  हैं। फ़िलहाल अंतिम प्रोटोकॉल आने के बाद ही राष्‍ट्रपति के आगमन के दौरान कार्यक्रमों में शामिल होने की स्‍पष्‍ट जानकारी हो पायेग सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आगामी 14 की शाम को  राष्ट्रपति  बाबतपुर एयरपोर्ट पर पहुचेंगे इसकेबाद वे श्री काशी विश्वनाथ मंदिर और कालभैरव मंदिर में दर्शन-पूजन करेंगे। इसके पछतात वे जिला प्रशासन की ओर से आयोजित एक सार्वजनिक कार्यक्रम में भी शामिल होंगे ।खबर तो यह भी है की वे अपने दो  दिवसीय दौरे में वह बीएचयू में आयोजित एक सेमिनार में भी भाग ले सकते है  हैं। इस दौरान वह मीरजापुर मां विंध्यवासिनी के दर्शन करने के लिए भी जा सकते हैं।प्रशासन के अनुसार अगले दिन 15 मार्च को वह सोनभद्र चले जाएंगे। वहां बभनी ब्लाक के चपचपकी में स्थित आरएसएस द्वारा संचालित वनवासी सेवाश्रम भी जाएंगेे और अभी तक राष्ट्रपति कार्यालय से कार्यक्रम नहीं आया है। फिर भी जिला प्रशासन की ओर से तैयारी पूरी है।खबर लिखे जाने तक राष्ट्रपति दफ्त्तर से उनके आगमन का कार्यक्रम नही आया है।  

महाशिवरात्रि महोत्सव में उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या पहुँचे वाराणसी

वाराणसी- महाशिवरात्रि महोत्सवमें शिरकत करने उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य दो दिवसीय दौरे पर पहुँचे वाराणसी,राजघाट पर पर्यटन विभाग की ओर से तीन दिवसीय महाशिवरात्रि महोत्सव के दूसरे दिन शाम में करेंगे शिरकत,कार्यक्रम में शिरकत करने से पहले सर्किट हाउस में पार्टी पदाधिकारियों और विभागीय अधिकारियों संग करेंगे बैठक,बैठक के बाद काशी विश्वनाथ धाम में दर्शन पूजन को जा सकते है।

काशी विश्‍वनाथ की गलियां हर हर महादेव के घोष से गूंज उठीं।

वाराणसी-शिव की नगरी काशी शिवरात्रि पर्व के मौके पर आधी रात से ही बम बम है। शिवरात्रि के मौके पर काशी विश्‍वनाथ दरबार में सुबह से ही दर्शन पूजन का अनवरत क्रम जारी है। गंगा घाट से लेकर बाबा दरबार तक आस्‍था का अनवरत रेला आधी रात से ही जारी है। बैरिकेडिंग पर आस्‍थावानों की भीड़ रात से ही उमड़ी और बाबा दरबार में कपाट खुलने का इंतजार किया। जैसे ही सुबह आरती के बाद दरबार खुला वैसे ही काशी विश्‍वनाथ की गलियां हर हर महादेव के घोष से गूंज उठीं। आधी रात के बाद से ही काशी के घाट क्षेत्र से लेकर बाबा दरबार तक हर-हर गंगे और बम-बम के नारों से काशी की गलियां गूंज उठीं तो आस्‍था का कोई ओर छोर नहीं रहा। आधी रात के बाद से ही गंगा में स्‍नान कर बाबा दरबार की ओर लाखों आस्‍थावानों के कदम बढ़े तो शुक्रवार को दिन चढ़ने तक आस्‍था की कतार बरकरार रहेगी। 

वाराणसी कैंट थाना क्षेत्र के पत्रकारपुरम कालोनी में युवक का सुबह शव मिलने से सनसनी

वाराणसी-कैंट थाना क्षेत्र के पत्रकारपुरम कालोनी,सिकरौल में गुरुवार सुबह एक 20 वर्षीय युवक का संदिग्‍ध हाल में सिर कूचा हुआ शव मिलने से सनसनी फैल गई। जानकारी होने के बाद पहुंची पुलिस ने युवक की शिनाख्‍त अरविंद कुमार के रुप में की। मौके पर पहुंची पुलिस ने परिजनों से पूछताछ शुरू कर दी है। मामले की छानबीन करने के लिए पुलिस ने फॉरेंसिक विशेषज्ञों को बुलाया है। आशंका के आधार पर मृतक के मित्रों हरिओम चौहान, भोनू गुप्ता, कल्लू चौहान और जादू चौहान उर्फ छोटू को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। सभी आरोपित सिकरौल के ही निवासी बताए गए हैं।

इंदौर-वाराणसी के बीच 'काशी महाकाल एक्सप्रैस' ट्रेन का 20 फरवरी से शुभारम्भ

वाराणसी-देश की एक और कारपोरेट ट्रेन काशी महाकाल एक्‍सप्रेस 16 फरवरी को पीएम के द्वारा उद्घाटन किए जाने के बाद से ही चर्चा में है। हालांकि इसकी पहली आधिकारिक रवानगी कल यानि 20 फरवरी को की जाएगी। आईआरसीटीसी द्वारा इंदौर-वाराणसी के बीच 'काशी महाकाल एक्सप्रैस' ट्रेन का 20 फरवरी से शुभारम्भ किया जाना है। शिवरात्रि के मौके पर शुरू हुई यह ट्रेन तीन ज्योर्तिलिंग इंदौरे में श्री ओम्कारेश्वर, उज्‍जैन में श्री महाकालेश्वर और वाराणसी में श्री काशी विश्वनाथ धाम को आपस में जोड़ेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय जनसंपर्क कार्यालय का पता बदल गया है।

वाराणसी- में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय जनसंपर्क कार्यालय का पता बदल गया है। अब तक रवींद्रपुरी में पीएम का संसदीय कार्यालय था जो आज मंगलवार से जवाहरनगर एक्‍सटेंशन में हो गया है। दरअसल 2014 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में अपने सांसद के संपर्क के लिए एक कार्यालय की आवश्‍यता हुई तो इसे रवींद्रपुरी में खोला गया था। वर्षों तक यहीं पर पीएम के संपर्क के लिए लोग आवेदन लेकर आते रहे। साथ ही जनसुनवाई के लिए भी मंत्रियों का यहां आना जाना लगा रहता था। अब 2020 में पीएम का यह संसदीय कार्यालय नए स्‍थान पर पहुंच गया है। मंगलवार को पीएम का संसदीय कार्यालय रवींद्रपुरी से जवाहर नगर एक्सटेंशन स्थित 194 बृज कृपा में हो गया है। पीएम के नए संसदीय कार्यालय के उद्घाटन के अवसर पर सुबह से ही नए कार्यालय में भाजपा नेताओं, कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों का जमावड़ा रहा। इस दौरान कार्यालय में बदली व्‍यवस्‍थाओं का भी लोगों ने अवलोकन किया। अब अगली जनसुनवायी इसी कार्यालय परिसर में ही होगी। वहीं कार्यालय के उद्घाटन के मौके पर भाजपाइयों ने एक दूसरे का मुह भी मीठा कराया। दरअसल रवीन्द्रपुरी स्थित पुराने कार्यालय का एग्रीमेंट पांच साल की अवधि तक का ही था, अवधि समाप्त होने के कारण स्थान बदलना पड़ा।

वाराणसी को तीस से अधिक योजनाओं की सौगात देने के लिए पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

वाराणसी- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रविवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी को तीस से अधिक योजनाओं की सौगात देने के लिए पहुंचे। अपने छह घंटे से अधिक समय तक के प्रवास पर सुबह 10.25 बजे लाल बहादुर शास्‍त्री अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट बाबतपुर पहुंचे तो एप्रन पर राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, मंत्री नीलकंठ तिवारी और अनिल राजभर, आशुतोष टंडन, मछलीशहर सांसद बीपी सरोज, मेयर मृदुला जायसवाल, चेयरमैन अपराजिता सोनकर, पिंडरा विधायक अवधेश सिंह, नवीन कपूर, शैलेश पांडेय सहित भाजपा के अन्य नेताओं ने गुलदस्‍ता भेंट कर अगवानी की।इसके बाद एयरपोर्ट से ही प्रधानमंत्री सेना के हेलीकाप्टर से बीएचयू हेलीपैड की ओर रवाना हो गए जहां से प्रधानमंत्री का काफ‍िला जंगमबाड़ी मठ कीओर रवाना हो गया। इस दौरान श्री जगद्गुरु विश्वाराध्य गुरुकुल शतमानोत्सव के मौके पर आयोजित वीरशैव महाकुंभ में वह शामिल हुए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का यहां पर कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा ने परंपरागत तरीके से स्‍वागत किया। इसके बाद पीएम ने मठ में दर्शन पूजन कर ज्ञानसिंहासन पीठ जंगमबाड़ी में मकर संक्रांति से महाशिवरात्रि तक चलने वाले महाकुंभ में प्रधानमंत्री 19 भाषाओं में अनुवादित ग्रंथ श्रीसिद्धांत शिखामणि एवं मोबाइल एप का शिवार्पण किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आयोजन में शामिल होने से जंगमबाड़ी मठ से पालकी शोभायात्रा निकली।

वाराणसी-प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आयोजन में शामिल होने से एक दिन पूर्व जंगमबाड़ी मठ से शनिवार की सुबह पालकी शोभायात्रा निकली। शोभायात्रा जंगमबाड़ी मठ से आरम्भ हुई तो सड़कों पर पूरे देश के विविध रंग मानो उतर आए। वहीं आयोजन का विशेष आकर्षण गुलवर्गा कर्नाटक से आये 100 कलाकारों की टीम रही। कलाकारों की टीम इस दौरान प्रमुख मार्गों से नृत्य और वाद्य यंत्र बजाते हुए निकली तो सड़क पर लगा मानो पूरा दक्षिण भारत उतर आया हो। जंगमबाड़ी मठ में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में पीएम नरेंद्र मोदी के साथ ही कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा भी शामिल होने पहुंच रहे हैं। पांच पालकी शोभायात्रा में शामिल होकर जंगमबाड़ी मठ से आरम्भ होकर विभिन्न रास्तों से गिरजाघर, नई सड़क होते चेतगंज तक पहुंची तो सड़क पर आस्‍था का पूरा समुंदर नजर आया। शोभा यात्रा में सबसे आगे रम्भापुरी पीठ के भक्त हरे रंग का वस्त्र धारण किये निकले। उज्जैनी के लोग लाल रंग, केदार पीठ नीला रंग, श्रीशैल के भक्त सफेद रंग, सबसे पीछे काशी के भक्‍त पीले रंग की वेश भूषा धारण किये मौजूद रहे। सभी पांचों पीठों के भक्त विविध परिधानों में शामिल होकर नाचते हुए सड़क से गुजरे तो शताब्‍दी वर्ष का उल्‍लास सड़क पर मानो उतर आया। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 फरवरी को काशी दौरे में करीब 12 हजार करोड़ की 35 परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे।

वाराणसी- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 16 फरवरी को काशी दौरे में करीब 12 हजार करोड़ की 35 परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे। ये सभी योजनाएं दो करोड़ रुपये से अधिक लागत की हैं। इन योजनाओं से न केवल वाराणसी बल्कि आस पास के सात राज्यों और नेपाल तक के लोगों को लाभ मिलेगा। बीएचयू में नवनिर्मित 430 बेड का सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल और 74 बेड का मनोरोग अस्पताल इस क्षेत्र के लिए मील का पत्थर साबित होगा। विशेष चिकित्सा सुविधा के लिए लोगों को यहां से दूर नहीं जाना होगा। साथ ही कम खर्च में उन्हें उच्चस्तर की सुविधा मिलेगी। 11 रोगों में मिलेगी सुपर स्पेशिलिटी सुविधा बीएचयू में नवनिर्मित 430 शैय्या युक्त सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल का निर्माण लागत -018373 लाख। इसे प्रधानमंत्री स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत केंद्रीय लोक निर्माण विभाग वाराणसी द्वारा किया गया है। पीएम मोदी ने इसका शिलान्यास 22 दिसंबर 2016 को किया था। इससे पूर्वी उत्तर प्रदेश, आसपास के सात राच्यों तथा नेपाल की जरूरतमंद करीब 20 करोड़ आबादी को उच्च स्तर की चिकित्सा सेवाओं का लाभ मिलेगा। अस्पताल में रेडियोलॉजी, न्यूरो विज्ञान, न्यूरो शल्य चिकित्सा, गैस्ट्रो, किडनी, मधुमेह, जलने से संबंधित इलाज, प्लास्टिक सर्जरी और हृदय रोग में सुपर स्पेशिलिटी सेवाएं आदि क्षेत्र में जटिल रोगों का इलाज प्रदान करेगा । अब तक इस क्षेत्र के मरीजों को बड़े शहरों में जाकर इलाज के लिए भटकना पड़ता था किन्तु अब इस अस्पताल के निर्माण से इस क्षेत्र के करोड़ों लोगों को उच्च स्तर की सेवाएं बिना कहीं दूर गये एवं प्राप्त होंगी। सुविधा न्यूनतम लागत पर प्राप्त होंगी। साथ ही वर्तमान में बीएचयू में चल रहे चिकित्सा विज्ञान संस्थान को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान अस्पतालों के समकक्ष बनाने में काफी सहयोग प्राप्त होगा। नवनिर्मित सात मंजिला अस्पताल पूरी तरह वातानुकूलित हैं जिसका कुल क्षेत्रफल लगभग 37000 वर्गमीटर है। इसमें 430 बेड, 13 अत्याधुनिक आपरेशन थियेटर, ओपीडी इत्यादि जैसी सुविधाएं मरीजों को प्राप्त होगीं। अस्पताल के निर्माण से अध्ययन एवं शोध को भी बढ़ावा मिलेगा। अस्पताल का निर्माण बीएचयू परिसर के अंदर  होने के कारण समीप में चल रहे अन्य अस्पतालों जैसे टाटा कैंसर अस्पताल के साथ भी समन्वय स्थापित होगा। गंभीर बीमारियों से जूझ रहे मरीजों को भटकना नहीं पड़ेगा। यह वाराणसी क्षेत्र को एक मेडिकल हब के रुप में विकसित करने का पं. महामना मदन मोहन मालवीय जी एवं वर्तमान सरकार का सपना भी साकार होगा। अस्पताल पूर्वांचल क्षेत्र में एक मील के पत्थर के रुप में साबित होगा।

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका आजमगढ़ के बिलरियागंज जाने के लिए बुधवार की सुबह करीब दस बजे वाराणसी से रवाना हुईं।

वाराणसी- कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आजमगढ़ के बिलरियागंज जाने के लिए बुधवार की सुबह करीब दस बजे वाराणसी से रवाना हुईं। एलबीएस एयरपोर्ट पर उनका स्‍वागत स्‍थानीय कांग्रेसजनों ने किया और कुछ ही देर में प्रियंका आजमगढ़ के लिए सड़क मार्ग से निकल गईं। बिलरियागंज में करीब डेढ़ घंटे रहेंगी। सीएए का विरोध करने वाली महिलाओं के बीच दोपहर एक से ढाई बजे तक रहने के बाद वाराणसी लौटेंगी। सुरक्षा के लिहाज से बिलरियागंज में फोर्स की ड्यूटी सुनिश्चित कर दी गई है।
प्रियंका से दिल्ली चुनाव और कांग्रेस पार्टी सम्बंधित कई प्रश्न मीडियाकर्मियों द्वारा किया गया लेकिन प्रियंका जवाब दिए बगैर केवल हाथ जोड़ते हुए सीधे गाड़ी में बैठ गईं।कांग्रेस पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी बुधवार को 9.50 पर इंडिगो एयरलाइंस के विमान 6 ई 906 से लाल बहादुर शास्त्री अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचीं।हवाई अड्डे के टर्मिनल भवन के आगमन क्षेत्र में पूर्व सांसद राजेश मिश्रा, पूर्व विधायक अजय राय के साथ ही कांग्रेस के अन्य नेताओं ने उनकी अगवानी की। उसके बाद मुख्य टर्मिनल भवन से बाहर निकलने पर बाहर पहले से ही मौजूद कांग्रेस के अन्‍य नेताओं व कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। इस दौरान वहां मौजूद मीडियाकर्मियों ने दिल्ली में आए चुनाव परिणाम व कांग्रेस पार्टी से संबंधित कई प्रश्न किए लेकिन प्रियंका जवाब दिए बगैर हाथ जोड़ते हुए सीधे गाड़ी में बैठ गईं। प्रियंका 10.05 वाराणसी एयरपोर्ट से सड़क मार्ग से आजमगढ़ के लिए प्रस्थान कीं। प्रियंका के आगमन के दौरान के दौरान मुख्य टर्मिनल भवन के बाहर मौजूद कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उनके समर्थन में नारेबाजी भी किया।

रेलवे के लिए भी विभिन्न मदों में धन आवंटित हो गया है।

गोरखपुर-आम बजट के पांचवें दिन मंत्रालय ने रेल में निर्धारित धन को मदवार आवंटित कर दिया। पूर्वोत्तर रेलवे के लिए भी विभिन्न मदों में धन आवंटित हो गया है। समग्र विकास के लिए लगभग 26 सौ करोड़ मिला है। हालांकि, अभी स्पष्ट नहीं हो पा रहा है कि पिछले बजट के सापेक्ष कितना धन मिला है। जानकारों का कहना है कि कई अन्य मद हैं जिसका उल्लेख नही है। इसबार लगभग तीन सौ करोड़ अधिक बजट आवंटित होने की संभावना है। पिछली बार कुल करीब 29 सौ करोड़ का बजट था। फिलहाल, मंत्रालय ने गोरखपुर के रास्ते कुसम्ही और डोमिनगढ़ के बीच बिछने वाली तीसरी लाइन पर ध्यान दिया है। इसके लिए 126 करोड़ मिला है। इससे निर्माण कार्य में तेजी आएगी। ट्रेनें भी कैंट आदि में बिना वजह नहीं खड़ी होगी। इसके अलावा भटनी, औंडि़हार के बीच विद्युतीकरण के लिए 50 करोड़ मिला है। यह कार्य भी लगभग पूरा ही है। जल्द ही गोरखपुर, देवरिया, भटनी, मऊ, वाराणसी, इलाहाबाद रूट पर भी इलेक्ट्रिक ट्रेनें दौडऩे लगेंगी।

वाराणसी लंका में ईंट भट्ठे पर काम करने वाले युवक की हत्‍या

वाराणसी-लंका थाना के नारायणपुर गांव में सोमवार को एक युवक का शव मिलने से हड़कंप मच गया। आनन फानन पुलिस को सूचना दी गई तो खोजी कुत्‍ते के साथ पहुंची टीम ने हत्‍यारों की शिनाख्‍त का प्रयास किया मगर टीम को सफलता नहीं मिल सकी। वहीं क्षेत्र में युवक की हत्‍या का मामला सामने आने से लोगों में तरह तरह की चर्चा बनी रही। वहीं पुलिस ने प्रेम प्रसंग में हत्‍या का अंदेशा जताते हुए कुछ लोगों को हिरासत में लिया है।
सोमवार की सुबह क्षेत्र में एक युवक का धारदार हथियार से सिर पर वार किया हुआ शव देखे जाने के बाद लोगों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पुलिस ने पहुंचकर जांच की तो पता चला कि युवक की निर्मम तरीके से हथियार से मारकर हत्या की गई है। शिनाख्‍त की गई तो पता चला कि मृत युवक ईंट भट्ठे पर ही लेबर का कार्य करने वाला नरसिंह बिंद है। वहीं मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस टीम खोजी कुत्‍ते के साथ जांच में जुटी रही। वहीं स्‍थानीय लोगों संग पूछताछ कर भी हत्‍या के वजहों को स्‍पष्‍ट करने की कोशिश की मगर सफलता नहीं मिल सकी। 

कुछ समय से शांत चल रहे बीएचयू में एक बार फ‍िर से छात्रों का धरना विरोध प्रदर्शन

वाराणसी- कुछ समय से शांत चल रहे बीएचयू में एक बार फ‍िर से छात्रों का धरना विरोध और प्रदर्शन परवान चढ़ने लगा है। दरअसल कृषि विज्ञान संस्थान के वार्षिक सांस्कृतिक कार्यक्रम सृष्टि-2020 हेतु बीएचयू द्वारा फंड और स्वतंत्रता भवन उपलब्ध नहीं कराया गया। इसकी वजह से नाराज कृषि विज्ञान संस्‍थान के छात्र सोमवार को परिसर खुलने के साथ ही करीब 100 से 120 की संख्या में पहुंचे और धरना प्रदर्शन करने लगे। 
सोमवार की सुबह संस्थान के मुख्य द्वार पर अपनी मांगों के समर्थन में छात्र चाैथे वर्ष के छात्र पुष्पेंद्र के नेतृत्व में सुबह 8.30 बजे से धरने पर बैठ गए। वहीं जानकारी होने के बाद परिसर में छात्रों के विरोध प्रदर्शन को लेकर काफी गहमागहमी शुरु हो गई। वहीं विवि प्रशासन की ओर से छात्रों से वार्ता करने पहुंचे विभाग के प्रोफेसर ने छात्रों को समझाने की कोशिश की परंतु छात्र वार्ता को तैयार नहीं हुए। इसके बाद विवि प्रशासन के अन्‍य अधिकारियों से मंथन कर कार्यक्रम के आयोजन के लिए विवि की ओर से पहल करने पर चर्चा हुई।

जिला जेल में सामानों की बिक्री को लेकर मनमानी का आरोप

वाराणसी जिला जेल में सामानों की बिक्री को लेकर मनमानी का आरोप लगता ही जा रहा है। कुछ दिन पूर्व भोजन की गुणवत्ता को लेकर बंदियों व कैदियों ने जेल परिसर में हंगामा किया था। लेकिन इस बार मामला कुछ अलग है। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर प्रदर्शन करने के आरोप में गिरफ्तार लोग 19 दिन बाद बाहर आए तो आरोपों की झड़ी लगा दी।
रिदम मंच के कार्यकर्ता अनूप श्रमिक ने बताया कि जिला जेल में 10 रुपये के टोकन पर एक कप चाय तो 10 रुपये में एक कलछुल सब्जी मिलती है। बंद कैदियों से बातचीत में पता चला कि यदि वे नशे के आदी हंै तो मोटी रकम चुकानी पड़ती है। पांच रुपये में बाहर बिकने वाली तंबाकू की एक पैकेट जेल में 50 रुपये और 60 रुपये प्रति पैकेट बिकने वाला सिगरेट 250 रुपये में मिलता है 

दूर-दराज से आये कलाकारों ने बिखेरा जलवा झूम उठे भक्तगण

जौनपुर-पूर्वांचल की शक्तिपीठ मां शीतला चौकियां धाम के श्रृंगारोत्सव के दूसरे दिन भी भक्तों का सैलाब उमड़ पड़ा जहां भक्ति की रस खूब धारा बही। देवी गीत का शुभारम्भ मुख्य अतिथि समाजसेवी आनन्द यादव एवं विशिष्ट अतिथि समाजसेवी कौस्तुम्भ सिंह मौर्य ने मां शीतला के चित्र पर आरती करके किया। तत्पश्चात् वाराणसी से आयी अंजली उर्वशी ने ‘चला-चली देख आई दुअरिया ओ शीतला माई के’ प्रस्तुत करके महिलाओं से खूब ताली बजवायी तो लोक गीत गायक धर्मेन्द्र मिश्र शीतल ने ‘चुनरिया ओढ़ के’ प्रस्तुत करके भक्तों को थिरकने पर मजबूर कर दिया। इसी के साथ 6 वर्षीय अतुलिका सिंह ने अपनी छोटी सी कद पर ‘छुन छुन छाना-ना बाजे माई तोरे पांव पजेनिया’ गायक सबको भाव-विभोर कर दिया। इसी क्रम में वाराणसी से आये मनीष उपाध्याय ने ‘मेरी मां चौकियां की रानी किस्मत बना देगी’ प्रस्तुत करके माहौल को बदल दिया। इसके बाद मुख्य अतिथि श्री यादव एवं विशिष्ट अतिथि श्री मौर्य, केराकत के समाजसेवी राजेश साहू, संरक्षक मण्डल रिंकू सिंह सहित अन्य ने अतुलिका सिंह को चुनरी ओढ़ाने के साथ सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर अमर जौहरी, सूरज सेठ, चन्दू यादव, राहुल मोदनवाल, अमित माली, श्याम लाल, मनोज कुमार सहित तमाम लोग उपस्थित रहे। इस मौके पर आये लोगों का स्वागत कार्यक्रम के आयोजक आशीष माली ने किया तो समस्त आगंतुकों के प्रति आभार मन्दिर प्रबन्धक अजय पण्डा ने ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन एक्टर आशीष माली ने किया।

वाराणसी के गंगा घाट पर लाखों श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी

वाराणसी के गंगा घाट पर लाखों श्रद्धालुओं
ने  पवित्र मौनी अमावस्या के अवसर पर
 लगाई डुबकी