health

Breaking News

जौनपुर - बीजेपी के लिए जौनपुर से चुनाव का आगाज करना शुभ है-सतीश कुमार सिंह 24UPNEWS.COM पर

गंगा में डूबने से तीन लड़कियों की मौत


इलाहाबाद। माण्डा थानान्तर्गत नरवर घाट पर रविवार की सुबह दीपावली पर्व गंगा स्नान करने गयी तीन लड़कियों डूबने से मौत हो गयी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव की तलाश की कर रही है।

       हादसे के सम्बन्ध में मिली जानकारी के अनुसार गंगा में डूबी तीनों लड़कियां डिघिया गांव की रहने वाली है। रविवार की सुबह तीनों स्नान करने के लिए घर से नरवर घाट पर गयी थी। जहां स्नान करते समय अचानक गहरे पानी में चली गयी और डूबने लगी। आस-पास के लोग जबतक बचाने के लिए कुछ कर पाते इस बीच तीनों गहरे पानी में समा गयी। हादसे की सूचना पर तीनों के परिजन बदहवास हालत में मौके पर पहुंची। दीपावली के पर्व अचानक मातम में तब्दील हो गया।
    थानाध्यक्ष माण्डा के मुताबिक डिघिया गांव की कुमारी पिन्टू 18वर्ष, प्रीती 8वर्ष एवं अनीता 14वर्ष की है जो डूब गयी है। गोताखारों के सहयोग से कुमारी पिन्टू एवं अनीता के शव को खोज लिया गया है। लेकिन प्रीती का शव अभी नहीं मिल पाया है। तलाश की जा रही है। हालांकि खबर लिखे जाने तक पूर्ण जानकारी नहीं मिल पायी थी।

शिक्षकों के वेतन से होगी जीपीएफ की कटौती -हाईकोर्ट

इलाहाबाद। हाईकोर्ट ने विशिष्ट बीटीसी शिक्षकों के वेतन से जीपीएफ की कटौती करने का निर्देश दिया है। कोर्ट ने कहा कि यह कटौती नई पेंशन स्कीम का लाभ देने से इंकार करने के खिलाफ दाखिल याचिका के निर्णय पर निर्भर करेगी।
सूत्रों के मुताबिक यह आदेश न्यायमूर्ति बी अमित स्थलकर ने विशिष्ट बीटीसी शिक्षक वेलफेयर एसोसिएशन व 94 अन्य की ओर से दाखिल याचिका पर सुनवाई करते हुए दिया। कोर्ट ने राज्य सरकार सहित अन्य विपक्षियों से याचिका पर छह सप्ताह में जवाब भी मांगा है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार याचिका में 16 अप्रैल 2014 के उस आदेश को रद्द करने की मांग की गई है, जिसके तहत याचियों को नई पेंशन स्कीम का लाभ देने से इंकार कर दिया गया है। याचिका के अनुसार याचियों ने बीटीसी ट्रेनिंग पूरी करने के बाद दिसंबर 2005 में नियुक्ति हासिल की, साथ ही उन्होंने स्टाइपेंड भी हासिल किया, इसलिए वे भी पेंशन स्कीम के लाभ के हकदार हैं।

केशव प्रसाद मौर्या ने किया नमामि गंगे परियोजना का शुभारंभ

इलाहाबाद। भाजपा यूपी चीफ केशव प्रसाद मौर्या ने गुरुवार को नमामि गंगे परियोजना का शुभारंभ किया। इस मौके पर साध्‍वी निरंजन ज्‍योति, सांसद श्यामा चरण गुप्ता और कई भाजपा वर्कर्स मौजूद रहे। 
केशव मौर्या ने कहा कि जो लोग अच्छे कामों और देश की योजनाओं को पूरा करने में बाधा बन रहे हैं, उनको 2017 में जनता सबक सिखाएगी, केंद्र सरकार यूपी में जो भी परियोजना का काम करना चाहती है,प्रदेश सरकार उसमें रोड़ा बन जाती है। वहीं यह भी बताया कि पूरे देश में 112 परियोजनाओं का शुभांरभ किया जाएगा। 
वहीं, साध्वी निरंजन ने कहा कि मोदी जी के पास परियोजनाएं बहुत हैं, लेकिन इसमें प्रदेश सरकार रुकावट पैदा करती है, वह कोई भी काम नहीं करने देती है। नमामि गंगे प्रोजेक्ट मोदी जी का सपना है, जिसे साकार करना ही है। 
मोदी जी का कहना है कि पहले अपनी संस्‍कृति को बचाएं, देश और गंगा को साफ रखें, तभी हम भी स्वस्थ रहेंगे और देश को प्रदूषण मुक्त कर पाएंगे।

चयन बोर्ड के दो सदस्यों पर हाईकोर्ट ने लगाई रोक

इलाहाबाद। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड के दो सदस्यों के कामकाज पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। दोनों की नियुक्ति को कोर्ट में चुनौती दी गई है।
प्राप्त सूचना के अनुसार प्रतियोगी छात्रों की ओर से याचिका दाखिल कर कहा गया है कि माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में सदस्यों की नियुक्ति मनमाने ढंग से की जा रही है। वर्तमान सदस्य ललित श्रीवास्तव और अनीता यादव की नियुक्ति भी नियम ताक पर रखकर की गई है। ऐसे में बोर्ड के जरिए होने वाली भर्तियों में पारदर्शिता और निष्पक्षता की उम्मीद नहीं है।
याचिका पर सुनवाई करते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट की खंडपीठ ने इन आरोपों को गंभीरता से लिया है। कोर्ट ने दोनों सदस्यों ललित श्रीवास्तव और अनीता यादव के काम करने पर तत्काल रोक लगा दी है।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड में फिलहाल ललित श्रीवास्तव, अनीता यादव के अलावा विनय कुमार रावत, मो. उमर, नरेन्द्र नाथ, नरेन्द्र सिंह यादव और रमेश शर्मा सदस्य हैं। हीरालाल गुप्ता अध्यक्ष और रूबी सिंह सचिव हैं। चयन बोर्ड इन दिनों एडेड कॉलेजों में शिक्षक भर्ती के लिए टीजीटी-पीजीटी 2013 के साक्षात्कार करा रहा है। इसके साक्षात्कार बोर्ड में ये दोनों सदस्य भी शामिल हैं। ऐसे में इंटरव्यू बोर्ड में बदलाव करना पड़ सकता है।

समय के साथ संगठन में बदलाव जरूरी - पीएम नरेंद्र मोदी

इलाहाबाद। पीएम नरेंद्र मोदी इलाहाबाद पहुँच गये हैं।  पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में मोदी का बयान 
पीएम ने संगठन में बदलाव के दिए निर्देश  हमें नई सोच और नया विचार लाना होगा। 

हाईकोर्ट ने ग्राम पंचायत अधिकारियों की भर्ती पर लगाई रोक, यूपी सरकार से मांगा जवाब

इलाहाबाद. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा ग्राम पंचायत अधिकारी के 3,587 पदों की भर्ती प्रक्रिया पर रोक लगाई है।हाईकोर्ट ने आयोग के वकील के० एस०  कुशवाहा व सरकार से याचिका में उठाए गए बिंदुओं पर जानकारी मांगी है। याचिका की सुनवाई 21 सितंबर को हेागी।
यह आदेश न्यायमूर्ति पीकेएस बघेल ने आजमगढ़ के अभिषेक कुमार सिंह की याचिका पर दिया है। आयोग ने 18 जून 15 को भर्ती विज्ञापन निकाला था। याची का कहना है कि भर्ती यूपी पंचायत सेवा नियमावली 1978 के तहत की जा रही है, जबकि इस भर्ती के लिए राज्य सरकार ने उत्‍तर प्रदेश पंचायत विकास अधिकारी भर्ती नियमावली 1999 बनाई है। इसी तरह की भर्ती को 2013 में चुनौती दी गई थी, जिस पर हाईकोर्ट ने रोक लगाते हुए राज्य सरकार से जवाब मांगा है।
कोर्ट ने दोनों याचिकाओं को एक साथ सुनवाई हेतु पेश करने का भी आदेश दिया है। कोर्ट ने आयोग से यह भी पूछा है कि किस नियमावली के तहत ग्राम पंचायत अधिकारियों की भर्ती की जानी चाहिए। याचिका की सुनवाई 21 सितंबर को होगी।

कुंदौरा महादेव में भी भक्तों की भारी भीड़

इलाहाबाद जनपद के धनुपुर ब्लाक स्थित कुंदौरा महादेव मंदिर पर भी आज सुबह से ही भोले भक्तों की भारी भीड़ देखी जा रही है लोग सुबह सुबह ही कुंदौरा महादेव को जल चढ़ा देना चाहते हैं।एस ओ सराय ममरेज अब्दुल सप्तार ने बताया कि भक्तों की भारी भीड़ को देखते हुए हमने कई थानों से सहयोग लिया है,महिलाओं के लिए स्पेशल रूप से दो बटालियन महिला पुलिस को भी लगाया गया है।आज के दिन यहां पर भव्य मेले का भी आयोजन किया जाता है जिस कारण क्षेत्रिय लोगों के साथ ही आस पास के भदोही,सुरियांवा,सरायकंसराय,दुर्गागंज,जंघई,चंपापुर,वारी,हंडिया,भेलखा,धनूपुर,उग्रसेनपुर,प्रतापपुर,सहितकई जनपदों से भी भक्त दर्शन करने व मेले का आनंद लेने आते हैं।जिस कारण सुरक्षा की जिम्मेवारी भी बहोत बढ़ जाती है हमारा प्रयास है कि मेले में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटित न हो।

शिवालयों में लगा भक्तों का तांता

इलाहाबाद।श्रावण माह अपने इस आखरी सोमवार के साथ ही भक्तो से विदाई ले रहा है।इस माह में खासकर सोमवार के दिन शिव की भक्ति के लिए सबसे पवित्र दिन माना जाता है वैसे तो पूरा श्रावण मास ही धन दौलत,इज्जत,शोहरत व बरकत देने वाला माना जाता है पर श्रावण सोमवार की अपने आप में ही एक अलग पहचान है।नगर व अंचल में श्रावण के आखरी सोमवार पर शिव मंदिरो में आज सुबह से ही भक्तो का तांता लगा हुआ है।इलाहाबाद शहर के मनकामेश्वर मंदिर में सुबह के 3 बजे से ही महादेव को जल चढ़ाने के लिए भक्तों की लंबी कतार लगी है,बता दें कि मनकामेश्वर मंदिर में महादेव के शिवलिंग का भव्य श्रिंगार किया जाता है।इस मंदिर की मान्यता यह है कि यहां भोलेनाथ के शिवलिंग दर्शन व जल चढ़ाने से मन की मुराद पूरी हो जाती है।


हाई कोर्ट का अहम फैसला अब सरकारी स्कूलों में ही बच्चों को पढ़ाएं जज-ब्यूरोक्रेट-नेता-, नहीं तो होगी कड़ी कार्यवाही

सुभाष पाण्डेय 
लखनऊ -इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आज एक अहम फैसला सुनाते हुए कहा कि यूपी के सभी जजों ,सरकारी अफसरों ,जनप्रतनिधियो व् कर्मचारियों अपने बच्चों को सरकारी प्राइमरी स्‍कूलों में पढ़ाना होगा। हाईकोर्ट के निर्णय के मुताबिक यदि सरकारी कर्मचारियों ने अपने बच्‍चों को कॉन्‍वेंट स्कूलों में पढ़ाया तो उन्‍हें फीस के बराबर की राशि प्रत्येक माह सरकारी कोष में जमा करना पड़ेगा। न्यायालय ने स्पष्ट रूप से यह भी कहा है कि ऐसे लोगों का प्रमोशन और इंक्रीमेंट कुछ समय के लिए रोक दी जाएगी ।  
प्रदेश के सरकारी जूनियर और सीनियर स्कूलों में पढ़ाई की बदत्तर स्थिति को गंभीरता से लेते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यह कड़ा कदम उठाया है , जिसकी भूरी- भूरी प्रशंसा प्रबुद्धजनो द्वारा की जा रही है। 
न्यायलय ने कहा कि जब तक जजों और जनप्रतिनिधियों, नौकरशाहों, टॉप लेवल पर बैठे अधिकारियों  के बच्चे सरकारी स्कूलों में अनिवार्य रूप से नहीं पढ़ेंगे, तब तक इन स्कूलों की स्थिति सुदृण नहीं हो पायेगी ।

अब वाहनों में फर्जी तरीके से प्रेस या पुलिस लिखने वाले जाएंगे जेल-हाईकोर्ट


इलाहाबाद। वाहनों पर फर्जी तरीके से प्रेस या पुलिस लिखकर धौंस जमाने वालों की अब खैर नहीं। इलाहाबाद हाईकोर्ट ने इस मामले में निर्देश जारी कर दिए हैं। इसके तहत अब यदि कोई व्यक्ति फर्जी तरीके से अपने वाहन पर प्रेस या पुलिस लिखवाएगा, तो उसके खिलाफ 420 धारा के तहत कार्रवाई होगी। इसमें संबंधित व्यक्ति को कैद भी हो सकती है।
भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 420 के तहत किसी को व्यक्ति को कपट पूर्वक या बेईमानी से उत्प्रेरित कर आर्थिक, शारीरिक, मानसिक, संपत्ति या ख्याति संबंधी क्षति पहुंचाना शामिल है। यह एक दंडनीय अपराध है। इसके तहत सात साल तक के कारावास की सजा का प्रावधान है। 

500 प्रधानाचार्यों के पदों की नियुक्ति के लिए 26 से होगा इंटरव्यू

इलाहाबाद- प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की ओर से प्रधानाचार्यों के रिक्त 500 पदों के लिए इंटरव्यू गुरुवार को सुबह 10 बजे से चयन बोर्ड कार्यालय एलनगंज में होगा। पहले दिन वाराणसी मंडल के अभ्यर्थियों का इंटरव्यू शुरू होगा जो 27 मार्च की शाम तक चलेगा। इसमें एक पद के लिए सात अभ्यर्थी बुलाए गए हैं।  
खबरों के अनुसार इलाहाबाद मंडल के अभ्यर्थियों का इंटरव्यू 30 मार्च से शुरू होकर 16 अप्रैल तक चलेगा। लखनऊ मंडल के अभ्यर्थियों का इंटरव्यू 21 अप्रैल से 27 अप्रैल तक चलेगा। बोर्ड के सचिव जीतेंद्र कुमार ने बताया कि सभी अभ्यर्थियों को कॉल लेटर भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि अभ्यर्थियों के इंटरव्यू के लिए कुल छह बोर्ड गठित किए गए हैं। प्रत्येक बोर्ड में बोर्ड के सदस्य और उनके साथ दो विशेषग्य होंगे।