health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

24upnews.com - वीरो की धरती पर निकाय मतदान के दौरान दो फर्जी आधार कार्ड लेकर पहुंचे मतदान करने,डीएम को शक होने पर कराई आधार कार्ड की जांच

बलिया - प्रदेश के बलिया जिले में आज दो फर्जी मतदाता पकड़े गए हैं। मनियर में जिला मजिस्ट्रेट  सुरेंद्र विक्रम ने आज दो फर्जी मतदाताओं को पकड़ा।
बता दें की ये दोनों फर्जी आधार कार्ड बनवाकर वोट देने पहुंचे थे। अपने भ्रमण के दौरान जिलाधिकारी हर बूथों पर कुछ मतदाताओं के आईडी लगातार चेक कर रहे थे। बैरिया, रेवती, सहतवार, बांसडीह के बाद जब वे मनियर पहुंचे तो वहां प्राथमिक पाठशाला मनियर पर देवापुर निवासी राहुल पुत्र विक्रम व अभय वर्मा पुत्र लल्लन वर्मा पर शक हुआ। इनके आधार कार्ड की जांच कराई तो फर्जी मिला।फिलहाल दोनों युवको को पुलिस ने हिरासत में लेकर जांच में जुट गयी है और जिले के कई कम्प्यूटर सेंटरो पर पुलिस ने सघन तलाशी अभियान भी चलाया। 

बलिया का ऐसा थाना जहां पीर बाबा का है खौफ, नहीं बैठते कोई दरोगा

बलिया। इंसानियत का भौतिक विज्ञान जहा जाकर चुप हो जाता है वहीं से रुहानी दुनिया शुरू हो जाती है। चिकित्सा विज्ञान बहुत आगे निकल गया है लेकिन आज भी लोग अंधविश्वास के मकड़ जाल में फंसे हैं। ऐसी ही एक घटना बलिया की है जहा जनता की सुरक्षा का जिम्मा अपने कंधे पर लेने वाले लोग अंधविश्वास का शिकार हुए हैं। यूपी के बलिया में हल्दी थाना में बना कक्ष जहा कोई भी जाने की हिम्मत नहीं करता। लोगों का कहना है कि यहा एक पीर बाबा हैं अगर वहा कोई जाता है तो उसे कोई न कोई हानि जरुर होती है। लोगों का कहना है कि यहा कोई भी दरोगा बैठने की हिम्मत नहीं जुटा पाए। जो भी आया वे किसी न किसी कारण से चले गए। किसी को लाइन हाजिर होना पड़ा तो कोई सस्पेंड होकर चला गया, तो कोई का एक्सीडेंट हो गया।
वहा के ग्रामीणों का कहना है कि थाने के बीच एक ऐसा खंडहर जिसे ना कोई देखने की हिम्मत करता है, न ही वहा कोई जाना चाहता है। दिन का उजाला हो या फिर रात का अन्धेरा इस खंडहर के पास सन्नाटा ही सन्नाटा पसरा रहता है। कहने को तो ये दरोगा का कक्ष है पर इसकी चौखट पर आने वाले को सिर्फ हानि होती है। जब इस सन्दर्भ में क्षेत्रीय विधायक से बातचीत की गयी तो विधायक जी भी ग्रह दशा और नक्षत्र की बात करने लगे।

सपा नेता की बाइक सवार बदमाशों ने की गोली मारकर हत्या

बलिया। जनपद में सपा नेता की बाइक सवार बदमाशों ने बीती रात्रि गोली मारकर हत्या कर दी। इस घटना से पूरे क्षेत्र में कोहराम मच गया है। 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोकटी थाना क्षेत्र के बहुआरा गाँव के पूर्व ग्राम प्रधान व वर्तमान ग्रामप्रधान प्रतिनिधि सुमेर सिंह गोपालपुर गांव में एक वैवाहिक कार्यक्रम में जा रहे थे, तभी बीच रास्ते में ही मोटर साइकिल पर सवार बदमाशों ने ओवर टेक कर ताबड़तोड़ गोलियां चला दी, जिससे मौके पर ही उनकी मौत हो गयी, वही गाड़ी चला रहा ब्यक्ति सुरक्षित बच गया। 
इस घटना से ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया है। 
सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में कर पोस्टमार्टम हेतु भेजकर आवश्यक कार्यवाही में जुट गयी है।

फर्जी नियुक्ति के मामले में शासन ने सीएमओ को किया सस्पेंड

बलिया। फर्जी नियुक्ति के मामले में शासन ने बलिया के सीएमओ डॉ. पीके सिंह को सस्पेंड कर दिया है। शासन की इस कार्यवाही से विभाग में हड़कम्प मच गया है, सूत्रों की मानें तो इस ‘खेल’ में कुछ और कर्मचारी भी शामिल है। 
सूत्रों की मानें तो वर्ष 2015-16 में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. पीके सिंह ने गलत तरीके से चयन समिति बनाकर चालकों की नियुक्ति किया था, जबकि स्थायी नियुक्ति का कोई अधिकार सीएमओ को नहीं है। बावजूद इसके सीएमओ ने विज्ञापन प्रकाशित कराकर न सिर्फ नियुक्ति प्रक्रिया को अंजाम दिया, बल्कि शुरूआती दौर में वेतन भी रिलीज हो गया। इसकी जानकारी होते ही शासन ने वेतन भुगतान पर रोक लगाते हुए जांच शुरू करा दिया था, जो अभी भी चल रही है। इस बीच शासन ने सीएमओ को निलम्बित कर दिया। 
सूत्रों का दावा है कि जांच की आंच कुछ कर्मचारियों तक जल्द पहुंचने वाली है।

जुलूस की सुरक्षा में सिपाही की मौत

बलिया। जनपद के रेवती कस्बा में महावीरी झंडा जुलूस की सुरक्षा में तैनात आजमगढ़ निवासी एक सिपाही की रविवार की देर रात मौत हो गयी। मौत का कारण हार्ट अटैक बताया जा रहा है। सूचना मिलने के बाद जवान के परिजन भी पहुंच गये।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक आजमगढ़ जिले के कंधरापुर थाना क्षेत्र गौरी नरायनपुर गांव निवासी सिपाही छोटेलाल राम (45) मई 2015 से जिले के नगरा थाने पर तैनात थे। उनकी ड्यूटी रविवार को रेवती में महावीरी झंडा जुलूस में लगी थी। देर शाम करीब आठ बजे जुलूस में ही अचानक वह बेहोश होकर गिर पड़े। साथ में मौजूद जवानों ने छोटेलाल को अस्पताल में भर्ती कराया जहा वहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया है।