health

Breaking News

जौनपुर में भीड़ की तालिबानी सजा देखिये लाइव पिटाई का वीडियो 24UPNEWS.COM पर

सावन के पहले ही दिन कांवरियों के रंग में रंगी काशी

वाराणसी। सावन में महादेव की आराधना को शिवभक्तों के साथ ही समस्त देवी-देवता भी यहीं विचरण करने आते हैं। सावन के पहले ही दिन बुधवार को कांवरियों के रंग में काशी रंगी दिखी। घाट से लेकर बाजार और बाबा की गलियां बोल बम से गूंज रही हैं। साथ ही कांवरिया शिविरों में शिव सेवक, शिव भक्तों की सेवा में लग गए हैं।
श्रावण की शुरुआत पूजन-आस्था के साथ तो हो गयी लेकिन रिमझिम फुहार पहले दिन नहीं हुई। बता दें कि दूर-दराज से काशी विश्वनाथ मंदिर में जल चढ़ाने पहुंचे कांवरियों को बांसफाटक से प्रवेश कराया गया। इसके चलते गली में घंटों जाम की स्थित रही। 
भक्तों के इस कावरिया के माहौल में ‘ऊं नम: शिवाय’ जप गूंजायमान रहा। गंगा तट पर कांवरियों की भीड़ सावन को केशरिया रंग में रंगें रही।
काशी में सावन का आगाज शिवशंकर का आशीर्वाद पाने के लिए रुद्राभिषेक के साथ हुआ। नगर में पहले सैकड़ों स्थानों पर लघुरूद्र, महारूद्र और रूद्राभिषेक किया गया। बाबा के दरबार सहित अन्य प्रमुख शिवालयों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम दिखे। विश्वनाथ मंदिर में कमाण्डों ने विशेष सुरक्षा कमान संभाली है।

गंगा में डूबने से बीएचयू के स्टूडेंट की हुई मौत

वाराणसी। जनपद के शूलटंकेश्वर घाट पर दोस्तों के साथ मौज-मस्ती के लिए गए बीएचयू के स्टूडेंट की गंगा में डूबकर मौत हो गई। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार मृतक गौरव सिंह उर्फ उज्ज्वल बिहार के शेखपुर जनपद का रहने वाला था। गौरव ने इसी सेशन में बीएचयू में एडमिशन लिया था। उसके डूबने की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे गोताखोरों ने घंटों की मशक्कत के बाद रविवार देर शाम उसका शव ढूंढ निकाला। 

विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने हेतु नियुक्त होंगे मास्टर ट्रेनर

वाराणसी। प्राथमिक और जूनियर विद्यालयों में शिक्षा की गुणवत्ता सुधारने के लिए चुनिंदा सौ शिक्षकों को प्रशिक्षित किया जाएगा। प्रत्येक ब्लाक से 10-10 शिक्षक चुने गए हैं। ये शिक्षक 'मास्टर ट्रेनर' कहलाएंगे।
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वे अपने-अपने ब्लाक के शिक्षकों को प्रशिक्षित करेंगे। प्रशिक्षण के दौरान उन्हें मुख्य रूप से 'शिक्षागृह' साफ्टवेयर का प्रशिक्षण दिया जाएगा।
बता दें कि एक जुलाई से 'शिक्षागृह' साफ्टवेयर का संचालन शुरू हो जाएगा। साफ्टवेयर का उपयोग शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए किया जाएगा। साफ्टवेयर में सभी सरकारी स्कूलों के शिक्षकों और छात्रों का विवरण दर्ज किया गया है एवं इसकी अलग से सीडी तैयार की गई है। प्रत्येक छात्र और शिक्षक को अलग-अलग कोड दिया जाएगा।
बता दें कि पिछले दिनो जिला शिक्षा समिति की बैठक में यह तय हुआ था कि शिक्षकों को इस बात का प्रशिक्षण दिया जाए कि कैसे वे तैयार होकर क्लास में जाएं। कक्षा में पढ़ाते समय इस बात का ध्यान रखें कि सबसे कमजोर विद्यार्थी कितना समझ रहा है। उसके अभिभावकों से भी बात करें। ऐसे बच्चों पर लागातार नजर रखें। नगर क्षेत्र के शिक्षकों की ट्रेनिंग जूनियर हाईस्कूल (कबीरचौरा) में होगी।
'शिक्षागृह' साफ्टवेयर में यूनिट टेस्ट के नंबर अपलोड किए जाएंगे। जिसके आधार प्रत्येक स्कूल के छात्रों का भी आकलन होगा। उसी के आधार पर शिक्षकों का मूल्यांकन होना है। इसलिए जिला प्रशासन और शिक्षा विभाग पहले ही शिक्षकों को पूरी प्रक्रिया समझा देना चाहता है।

यात्री प्लेटफॉर्म पर अपनी कार से पहुंचकर चढ़ सकते हैं सीधे ट्रेन में

मंडुवाडीह स्टेशन पर हाईटेक सुविधाओं का किया जा रहा विस्तार
वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र का मंडुवाडीह स्टेशन पूर्वांचल के विशिष्ट सुविधायुक्त स्टेशनों में शामिल हो गया है। अब यहां यात्री प्लेटफॉर्म पर अपनी कार से पहुंचकर सीधे ट्रेन में चढ़ सकते हैं। इस सुविधा का सोमवार को रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने उद्घाटन किया।
सूत्रों के मुताबिक मंडुवाडीह स्टेशन को पूर्वोत्तर रेलवे का मॉडल स्टेशन बनाने के पायलट प्रोजेक्ट के तहत यहां हाईटेक सुविधाओं का विस्तार किया जा रहा है। इसी कड़ी में सोमवार को कैब-वे, अतिरिक्त प्रवेश द्वार, वीआईपी एसी वेटिंग हॉल, दो बुकिंग काउंटर, दो ऑटोमेटिक टिकट मशीन का लोकार्पण हुआ। इसके निर्माण पर कुल 10 करोड़ रुपये खर्च किये गये। इसके अलावा चार एस्केलेटर लगाने का काम अंतिम दौर में है। जल्द ही इसे भी जनता के लिए खोल दिया जायेगा।
पूर्वांचल का दूसरा स्टेशन है जहां प्लेटफॉर्म तक यात्री अपनी कार लेकर जा सकता है। इसके पहले यह सुविधा केवल गोरखपुर जंक्शन पर थी।
बता दें कि मंडुवाडीह स्टेशन पर बना वीआईपी वेटिंग हॉल किसी फाइव स्टार होटल के कमरे से कम नहीं है। इसकी दीवारों पर आकर्षक डिजाइनिंग की गई है। यहां महंगे सोफे, आधुनिक सुविधाओं से युक्त शौचालय बनाये गये हैं।

ट्रक की चपेट में आने से पिता-पुत्र की दर्दनांक मौत

वाराणसी। जनपद के भदोही में ऊंज के वहीदानगर पावर हाउस के समीप जीटी रोड पर शनिवार सुबह खड़े ट्रक में तेज रफ्तार ट्रक ने पीछे से टक्कर मार दी। ट्रक की चपेट में आने से सड़क किनारे खड़े होकर बस का इंतजार कर रहे पिता-पुत्र की मौके पर ही मौत हो गयी। 
सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ऊंज के नवधन क्षेत्र में रहनेवाले विनोद कनौजिया का बेटा विकास सूरत (गुजरात) में रहकर ड्राइ क्लीनिंग का काम करता था, उसकी शादी नवम्बर में होनी थी। शनिवार की भोर में पिता-पुत्र गोपीगंज जाने के लिए वहीदा नगर पावर हाउस के पास बस का इंतजार कर रहे थे। विकास को ज्ञानपुर रोड रेलवे स्टेशन से ट्रेन पकड़कर सूरत जाना था। विनोद बेटे को स्टेशन छोड़ने जा रहे थे। इसी बीच, वहां खड़े आलू लदे ट्रक को इलाहाबाद की ओर से आ रहे प्याज लदे तेज रफ्तार ट्रक टक्कर मार दी। इससे खड़ा ट्रक आगे बढ़ गया, जिसकी चपेट में आने से विनोद और विकास की मौत हो गयी। ट्रक वासुदेव यादव के रेस्टूरेंट को तोड़ते हुए भीतर घुस गया। संयोग ही रहा कि होटल बंद था। फिलहाल इस घटना के बाद दोनों ट्रकों के चालक और खलासी मौके से भाग निकले।
सूचना पाकर मौके से पहुंची पुलिस ने क्रेन की मदद से ट्रक के नीचे दबे पिता-पुत्र का शव बाहर निकलवाकर मामले की जांच में जुट गई है।

चार फीट जमीन के लिए चाचा बना भतीजे का हत्यारा

वाराणसी। जनपद में चार फीट जमीन के विवाद का बदला लेने के लिए युवक ने अपने चचेरे भाई के आठ साल के बेटे का अपहरण कर हत्या कर दी। 
प्राप्त सूचना के अनुसार सारनाथ के भैसोड़ी निवासी विजय मौर्य के बेटे की लाश आठ दिन बाद जंसा थानाक्षेत्र के भिटकुरी में वरुणा नदी के किनारे मिली।
बताया जाता है कि घर के सामने इस जमीन को पंकज (चाचा) घेरने की कोशिश कर रहा था जिसका विजय (मृतक) ने विरोध किया और चाचा तभी से उससे नाराज था। 
फिलहाल सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस के कड़ाई से पूछता्छ के बाद  गुरुवार को आरोपी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया तथा उसकी निशानदेही पर पुलिस ने बच्चे का शव भी बरामद कर लिया।

लेडी सिंघम बन निकली शहीद पति के अधूरे सपनो को करने पूरा

वाराणसी। एसएसपी आकाश कुलहरी ने शिवपुर थाने की कमान तारावती यादव को सौंपी है। इसके साथ ही जिले का 25 साल का रिकॉर्ड टूट गया है। इसके पहले 1989-90 में एसएसपी राजीव सब्बरवाल ने प्रीतम कौर भाटिया को जिले के लक्सा थाने की जिम्मेदारी दी थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार तारावती को पति की जगह नौकरी मिली है। मुठभेड़ के दौरान पति शहीद हुए थे। तारावती यादव बताती हैं कि उनके पति राम राज यादव 2006 में फर्रुखाबाद में सब इंस्पेक्टर पद पर तैनात थे। 16 सितंबर 2006 को कलुआ गिरोह के अपराधियों से मुठभेड़ के दौरान गोली लगने से वह शहीद हो गए थे।  उनके दो बच्चे हैं। जिले की कई महिलाएं और लड़कियां उन्हें लेडी सिंघम कहकर पुकारती हैं।
तारावती ने बताया कि पति की मौत के बाद दो बच्चों के साथ जिंदगी बिताना मुश्किल था। 2010 में उन्हें सरकार से ऑफर मिला कि गैस एजेंसी या पुलिस विभाग में नौकरी में से कोई एक चीज आप चुन सकती हैं। पति के सपनों को पूरा करने का मौका मिलते ही उन्होंने नौकरी ज्वाइन करने का डिसिजन लिया।
उन्होंने बताया कि ट्रेनिंग के बाद बनारस में पोस्टिंग हुई। शुरुआती दिनों में काफी दिक्कतें हुई। अपराधियों का मास्टर प्लान समझ में नहीं आता था। लेकिन, कुछ करने का जुनून था। उन्हें पुलिस के किरदारों वाली फिल्में  बहुत पसंद है। सिंघम, राउडी राठौर और दबंग जैसी फिल्में उन्होंने कई बार देखी है। इससे वह मोटिवेट होती हैं।  तारावती ने तीन दर्जन से ऊपर गुड वर्क किए हैं।लेडी सिंघम के नाम से हैं मशहूर महिलाओं पर हो रहे
अत्याचार को लेकर तारावती बहुत चिंतित रहती हैं। जैसे ही कोई सूचना देता है, वह अपने दस्ते के साथ वहां  पहुंच जाती हैं।

"बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय" में एसी पाइप लीक होने से ब्लास्ट

वाराणसी। जनपद में स्थित "बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय" के सर सुन्दर लाल अस्पताल की इमरजेंसी में एसी पाइप लीक होने से ब्लास्ट हो गया है।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ पुलिस ने इमरजेंसी को सील कर दिया है। इस घटना में एक दर्जन से ज्यादा लोग घायल हुए हैं जिन्हें इलाज हेतु अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। इस मामले में पुलिस ने बीएचयू प्रशासन से सीसीटीवी फुटेज मांगा है और एसपी सिटी  ने घटना का कारण एसी में ब्लास्ट बताया है। इस घटना में 3 नर्स और 2 वार्ड ब्वाय भी घायल हुए हैं। इमरजेंसी में ब्लास्ट के बाद सिलिंग फैन गिरने के बाद कई मरीज घायल हो गए। 
बता दें कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी 12 मई को बीएचयू आएंगे और उससे पहले हुए इस ब्लास्ट के चलते प्रशासन और भी ज्यादा सतर्क हो गया है। इस मामले में चिकित्सा अधीक्षक का कहना है कि पाइपलाइन फटने से इतना धमाकेदार ब्लास्ट नही हो सकता और यह जांच का विषय  है।

पीएम मोदी ने हाथ हिलाकर वाराणसी के जनता का किया अभिवादन,

देश के प्रधानमन्त्री आज वाराणसी के अस्सी घाट पर 
वाराणसी। देश के प्रधानमन्त्री ने आज नगर के अस्सी घाट पर पहुंचकर लोगों का अभिवादन स्वीकार किया। 
पीएम नरेंद्र मोदी ने हर हर महादेव से शुरुआत करते हुए अपने उद्बोधन में कहा कि देश की पूर्व सरकारों ने जो राजनैतिक योजनायें बनाई उससे उनका वोट बैंक तो मजबूत बना लेकिन देश का नागरिक , गरीब , मजबूत नहीं बन सका। उन्होंने चिंतन करते हुए कहा कि पूर्व सरकारों की सोच रही की हिन्दुस्तान मजबूत बने या नहीं लेकिन मेरा वोट बैंक मजबूत बने , इसपर हम मनन करें। 
उन्होंने जनधन योजना की चर्चा करते हुए कहा कि देश को आजाद हुए 70 वर्ष होने को हैं लेकिन कितने दुर्भाग्य की बात है कि मेरे देश के 40 % किसान बैंकों के दरवाजे तक नहीं देखे थे। मेरी सरकार ने 21 करोड़ लोगों को जनधन योजना से जोड़ा। उन्होंने यह स्वीकार किया कि इस योजना को कुशल तरीके से संचालित कराने पर बैंकों ने अपने हाथ खड़े कर दिए और तर्क दिए की खाते खोलने में स्टेशनरी चार्ज अधिक पड़ रहा है जिससे खातों को खोलने में सरकार को आर्थिक क्षति पड़ रही है। लेकिन मैंने बैंकों को स्पष्ट निर्देश दे रखा था कि यह बैंक गरीबों के हैं और गरीबों के खाता खोलने में जो घाटा लगेगा उसे मैं देख लूंगा और बैंकों ने मेरे निर्देश पर गरीब किसानों के जीरो % बैलेंस पर जनधन योजना के तहत 21 करोड़ लोगों के खाते विभिन्न बैंकों में खुलवाये। 
आज पीएम मोदी के वाराणसी आगमन पर पीएम के मंच के समीप उनके पहुँचने के कुछ देर पहले इलेक्ट्रिक शार्ट सर्किट हुई, जिससे मौके पर अफरा - तफरी मच गयी। जिसको लेकर प्रशासनिक अधिकारियों के पसीने छूटने लगे आखिर ऐसा कैसे हुआ। जो भी हो पीएम की सुरक्षा व्यवस्था में कुछ क्षणों के लिए हुई इन दिक्कतों से जिम्मेदार अधिकारी कारणों की जांच में जुट गये। 

पूर्व सांसद तूफानी सरोज के यहां मांगलिक कार्यक्रम में वाराणसी पहुंचे सीएम

वाराणसी। सूबे के मुखिया अखिलेश यादव आज मछलीशहर के पूर्व सांसद तूफानी सरोज के पैतृक गांव कठेरवा में शादी समारोह में शामिल हुए।
पूर्व निर्धारित समय से एक घंटे विलम्ब से पहुंचे सीएम कवतपुर एयरपोर्ट से वाई रोड काफिले के साथ ,पूर्व सांसद के यहां पहुंचे।
बाबतपुर एयरपोर्ट पर सीएम का स्वागत प्रशासनिक अधिकारियों के आलावा पार्टी पदाधिकारियों ने किया। 

अंतर्जनपदीय कटिहार गैंग के दो लुटेरे पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तार

बदमाशों के पास से लूट में प्रयुक्त अपाची मोटर साइकिल 11 हजार की नगदी ,2 मोबाइल फ़ोन ,मास्टर चाबी  व खुजली करने वाला क्यू वाच पाउडर बरामद 
वाराणसी। एसएसपी वाराणसी के निर्देश पर लुटेरों के विरूद्ध छेड़े गये अभियान के तहत पुलिस ने दो लुटेरों को गिरफ्तार किया ,उनके पास से लूट के 11 हजार की नगदी ,2 तमंचा ,कारतूस ,लूट में प्रयुक्त अपाची मोटर साइकिल अपाची चाबी समेत गिरफ्तार कर लिया है। 
यह कार्यवाही एएसपी ग्रामीण व सीओ पिंडरा के नेतृत्व में सम्पादित हुयी। मिली खबरों के अनुसार उच्चाधिकारियों के निर्देश पर थानाध्यक्ष फूलपुर राजीव सिंह अपने सहयोगी जवानों के साथ डिग्गी हाई वे पर संदिग्ध व्यक्तियों एवं वाहनों की चेकिंग कर रहे थे। इसी बीच जौनपुर की तरफ से अपाची मोटर साइकिल पर मुंह बांधे 2 युवक आते दिखायी पड़े। इन्हें जब रुकने का संकेत दिया गया तो रुकने की बजाय ये लोग बाइक की गति तेज कर दिए और सिधौरा की तरफ भागने लगे जिसकी सूचना जरिए वायरलेस सेट से सिधौरा चौकी प्रभारी को दी गयी और बदमाशों को पकड़ने का निर्देश दिया गया जिसपर पुलिस ने जब बदमाशों की घेराबंदी की तो पुलिस दल पर फायर कर भागने लगे जिस पर पुलिस ने आवश्यक बल प्रयोग कर गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार अभियुक्त राहुल यादव पुत्र ब्रिजेश यादव एवं रितेश यादव पुत्र कपूर यादव निवासी घेरावाडी नया टोला जुराबगंज थाना कटिहार (बिहार )है। 
पुलिस की पूछताछ में अभियुक्त राहुल और रितेश ने बताया कि हमलोग कटिहार के रहने वाले हैं। हमारे गैंग के सरगना राजा यादव उर्फ़ राजू यादव निवासी नया टोला जुराबगंज थाना कोढ़ा जनपद कटिहार है जो वाराणसी में पहले से ही रह रहा है। उसी ने हम लोगों को 20 अप्रैल को लूट करने के लिए बुलाया था तथा हम लोगों को मोबाइल व अपाची मोटर साइकिल दिया था और यह भी कहा था कि जौनपुर शहर के आईसीआईसीआई बैंक के पास चले जाओ वहाँ से लूट का अच्छा पैसा मिल जायेगा। इसके मुताबिक हम लोग 22 अप्रैल को जौनपुर शहर गये और बैंक के आस - पास निगरानी कर रहे थे तभी एक पुलिस वाले की नजर हम लोगों पर पड़ी तो हम लोग वहाँ से वाराणसी की तरफ निकलने लगे तभी रास्ते में जलालपुर स्टेट बैंक के पास एक महिला पैसा निकालकर झोले में ला रही थी जिसे हमलोग छीनकर भाग लिए। 
पुनः 23 अप्रैल को हमलोग जौनपुर लूट करने के लिए वापस आये जहाँ हमें पकड़ लिया गया है। 
बदमाशों ने बताया कि गैंग के लीडर राजा यादव से हम लोगों का सिर्फ मोबाइल से सम्पर्क कर वाराणसी रेलवे के बाहर मिलते हैं। राजा यादव हम लोगों को कभी भी अपने आवास पर नहीं ले गये और लूट के पैसो में 20 प्रतिशत कमीशन लेता है। 
पुलिस टीम को प्रोत्साहन स्वरूप डी आई जी ने 11 हजार व एसएसपी ने 5 हजार की राशि प्रदान की है। 

वाराणसी के कलेक्ट्रेट स्थित न्यायिक परिसर में टाइम बम मिलने से लोगों में दहशत

जिला प्रशासन हुआ संवेदनशील 
पूर्वांचल मे पांव पसार रही है आतंकी गतिबिधियां। 
वाराणसी। जनपद के कलेक्ट्रेट स्थित न्यायिक परिसर में  टाइमबम मिलने से लोगों में दहशत फ़ैल गई। प्रशासन सतर्क हो कर पूरे जनपद के मन्दिरों व स्टेशन पर छान बीन कर रही है और आतंकी घटनाओं की संम्भावना जता़यी जा रही है। इस घटना ने संकेत दे दिया है कि पूर्वांचल एक बार फिर आतंकवादियों के निशाने पर आ गया है।
मिली सूचना के मुताबिक आज सुबह 10 बजे के आसपास सूचना मिली कि डीएम चैम्बर के पास टाइम बम रखा है सूचना मिलने पर सक्रिय पुलिस ने छापा मारा और बम बरामद किया। तत्पश्चात बगल स्थित दीवानी कोर्ट में जज चैम्बर के पास पड़े दो बड़े बम मिले इसके बाद पूरे जनपद में हड़कम्प मच गया। तत्काल कोर्ट परिसर खाली करा दिया गया इसके बाद सभी भीड़ भाड़ वाले क्षेत्र में चौकसी बढ़ा दी गयी है। 
मन्दिरों स्टेशन व अन्य सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर छानबीन की जा रही है। प्रशासन सतर्क हो कर जिले में सुरक्षा का पहरा कड़ा कर दिया है। सूत्र के मुताबिक किसी बड़ी घटना के अंजाम देने के लिए यह घटना किसी आतंकी समूह का कृत्य माना जा रहा है।

साबरमती ट्रेन में लगी आग दमकल की गाड़ियां मौक़े पर

वाराणसी। शिवपुर स्टेशन पर खड़ी साबरमती ट्रेन में आग लग गई। सूचना पाकर मौक़े पर पहुंची दमकल की गाड़ियां आग को क़ाबू करने में जुट गई है।

आग का कहर -कुर्सियां गांव में आग लगने से दो भैंसें जलीं ,एक की मौके पर मौत,एक की हालत गम्भीर

वाराणसी। जनपद के चौबेपुर थाना क्षेत्र के कुर्सियां गांव में लगभग 11.30 बजे शिवनाथ राम की झोपड़ी में अचानक से आग लग गयी, देखते -देखते आग इतनी ज्यादा फ़ैल गई कि समीप में स्थित छेदी राम व शोभनाथ राम की झोपड़ी को भी आग ने अपने आहोश  में कर लिया। 
बताया जाता है कि शिवनाथ राम की झोपड़ी में दो भैंसें  भी बंधी थीं ,वो भी आग की चपेट में आ गयी। ग्रामीण आग पर जब तक काबू पाते तब तक एक भैंस की मौके पर ही मौत हो चुकी थी। ग्रामीणों ने दूसरी भैंस को आग के कहर से बचा लिया ,,परन्तु उसकी हालत गम्भीर है। 
फ़िलहाल पशु चिकित्सक की देखरेख में उसका इलाज चल रहा है।  घटना की सूचना मिलने पर एस.एस.आई. रविचन्द पाण्डेय सदल बल मौके पर फायर ब्रिगेड के साथ पहुंचे और आग पर काबू पाया गया। 
 बता दें कि अचानक लगी आग से पूरा क्षेत्र दहशत में हैं,  आग के बरसे कहर से तीनों झोपड़ियों में अनाज समेत गृहस्थी का पूरा सामान जलकर खाक हो गया है।  
फ़िलहाल पुलिस की सूझ -बूझ से समय पर फायर ब्रिगेड पहुंच गयी ,जिससे आग पर समय रहते काबू पा  लिया गया अन्यथा आग का कहर पूरे गांव को अपनी चपेट में ले लेता। 

वाराणसी की सोनी चौरसिया पहुंची विश्व रिकॉर्ड के समीप

वाराणसी। शहर की कथक डांसर सोनी चौरसिया ने लगातार 5 दिन (124 घंटे) तक नाचने का रिकॉर्ड बनाने की ठानी है। इसके लिए सोनी सोमवार शाम 6 बजे से लगातार नाच रही हैं। बता दें कि प्रेजेंट में यह वर्ल्ड रिकॉर्ड केरल की हेमलता कमंडलू के नाम है, जिन्होंने मोहिनी अट्टम नृत्य लगातार 123 घंटा 20 मिनट तक किया था।
शहर की पॉपुलर क्लासिकल डांसर्स में शुमार, सोनी चौरसिया के पिता श्यामचंद्र बनारसी पान की दुकान चलाते हैं। सोनी लॉन्गेस्ट मैराथन डांसिंग का वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़ने की कोशिश कर रही हैं। इसके लिए वे गणेश वंदना की धुन पर लगातार नाच रही हैं। सोनी ने अपने रिकॉर्ड के लिए खुशीपुर के माउन्ट लिट्रा स्कूल का मल्टीपरपज हॉल चुना है। उन्होंने लंबे समय तक बिना थके डांस करने के लिए योगा की ट्रेनिंग ली है। सोनी को विश्वास है कि बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से इस बार वे वर्ल्ड रिकॉर्ड बना लेंगी।
सोनी की मां मधु चौरसिया ने बताया, "लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड " में मेरी बेटी के नाम 87 घंटे लगातार कथक करने का रिकॉर्ड दर्ज है। उम्मीद है बाबा काल भैरव के आशीर्वाद से 124 घंटों में उसके कदम न रुकें। पिछली बार 37 घंटे बच गए थे, इस बार 7 घंटे ज्यादा डांस करे, यही दुआ है।

महामहिम राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने लोक संगीत गायिका मालिनी अवस्थी की पद्मश्री किया संम्मानित

वाराणसी।काशी नगरी में गंगा की गोद में बैठकर, प्रख्यात गायिका पद्मविभूषण गिरजा देवी के शिष्य परंपरा की ध्वज वाहक, देश की जानी, मानी लोक संगीत गायिका मालिनी अवस्थी को महामहिम राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने पद्मश्री से सम्मानित किया। पद्मश्री पाने के पश्चात मालिनी अवस्थी ने फेसबुक के माध्यम से अपने प्रशंसकों से सीधा संवाद स्थापित किया। उनका यह विचार इस बात की गवाही है कि कलाकार जितना भी बड़ा हो जाये पर उसे अपने देश, अपनी माटी और माँ - बाप, गुरूजनों के योगदान को कभी नहीं भूलना चाहिए। अपने अतीत को याद रखने से बड़ा कोई पुरस्कार नहीं होता। आप पढ़ सकते हैं, क्या लिखा है, मालिनी अवस्थी ने।
अपने देश की जागृत वाचिक परंपरा को नमन! गंगा और गोमती की सुरीली माटी को नमन, माँ पिताजी जिन्होंने इस पगडंडी पर चलना सिखाया उन्हें नमन! गुरुजनों को नमन, देश के सभी परम्परासाधक लोककलाकारों को नमन, मुझमे विश्वास रखने वाले आप सभी प्रशंसकों को नमन!

अमरावती ग्रुप ने गरीबो असहाय लोगों को किया कम्बल वितरण

वाराणसी । आज अमरावती ग्रुप ने अपने पैतृक गांव में गरीबो और असहाय लोगों को कंबल वितरण किया गया , जिसमे हजारो लोगों को कंबल वितरित किया गया , इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में वाराणसी के एसएसपी आकाश कुलहरी ने कहा की पढ़ाई के बिना जागरूकता नहीं आती है बच्चों को पढ़ाने के लिए महिलाओं को जिम्मेदारी निभानी होगी। महिलायें ही एक स्वस्थ्य समाज की स्थापना कर सकती है। पुरूष धन कमाता है तो महिला को भी अपनी जिम्मेदारी निभानी होगी। 
उक्त बातें वाराणसी के एसएसपी आकाश कुलहरि ने रविवार को अमरावती गु्रप द्वारा रतनपुर गांव में आयोजित कंबल वितरण कार्यक्रम के दौरान बतौर मुख्य अतिथि लोगों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि जब कोई व्यक्ति अपने क्षेत्र में आकर इस प्रकार के सामाजिक कार्य करता है तो प्रशासन को ऐसेे क्षणों में पूरा सहयोग करना चाहता है। उन्होंने अमरावती गु्रप के दोनों डायरेक्टर रजनीकांत मिश्र तथा रवि पांडेय को बधाई देते हुए कार्यक्रम में आये बुजुर्गों तथा जरूरतमंदों को अपने हाथों से कंबल प्रदान करते हुए कार्यक्रम की शुरूआत की। इसके पूर्व अमरावती ग्रुप के डायरेक्टर रजनीकांत ने कार्यक्रम को संबोधित करे हुए कहा कि हमे आप ने ही बनाया है मुझे यह कार्य करके जो सुकून मिलता है वह किसी भी कार्य से नहीं मिलता है। उन्होंने कार्यक्रम में आये बुजुर्गों से कहा कि आप आर्शीवाद दीजिये कि मै आपके लिए निरंतर ऐसे कार्यक्रम करता रहूं। अमरावती ग्रुप के ही डायरेक्टर रवि पांडेय ने कहा कि धन्य है महिलायें जिनकी वजह से यह समाज है। महिलाओं को अपनी अपनी शक्ति पहचाननी चाहिये तथा बच्चों की शिक्षा पर ध्यान देना चाहिये। उन्होंने कहा कि 500 पात्र लोगों का टारगेट था किन्तु कार्यक्रम में 100 लोग अधिक आ गये उन्हें भी कंबल दिया गया। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि पूर्व सांसद विद्यासागर सोनकर ने कहा कि इस परिवार से मेरा पुराना लगाव है। रजनीकांत व रवि बधाई के पात्र है जो अपने व्यवसाय के अतिरिक्त असहायों के लिए इतनी वृहद सोच रखकर उसका क्रियान्वयन कर रहे हैं। पूर्व आयोजित कार्यक्रम उक्त कार्यक्रम से पूर्व अमरावती गु्रप द्वारा विभिन्न गांवों से सर्वे कराकर एक हजार पात्र लोगों का चयन किया गया था जिन्हे कार्ड देकर कार्यक्रम में बुलाया गया था। कार्यक्रम की अध्यक्षता राजकीय डिग्री कालेज के प्रवक्ता डा. नीलकांत त्रिपाठी ने की तथा कार्यक्रम का संचालन देवी गीत गायक अवनीन्द्र तिवारी ने किया। कार्यक्रम में संजय चतुर्वेदी, मुकेश श्रीवास्तव, जुबेर, शशिकांत मिश्रा, निशांत मिश्र, श्रीकांत मिश्र, संजय, राजन प्रकाश पांडेय समेत गु्रप के दर्जनों सदस्य तथा गांव वाले सहयोग में लगे रहे।

गरीबों मजलूमों को कम्बल वितरण करते अमरावती ग्रुप के निदेशक रजनीकांत मिश्रा

स्थानीय मीडिया के नाम पर बस दो चार को ही झुनझुना ,केवल ‘हवाई’ पत्रकार ही होंगे प्रेस दीर्घा में

वाराणसी। जब मनमाफिक खबर लिखवानी हो तो जाहिर है मनमाफिक लिखने वाला भी होना चाहिए। सो राजकीय अतिथि जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ अपने संसदीय क्षेंत्र आ रहे प्रधानमंत्री मोदी अपने साथ चहेते पत्रकारों की पूरी एक टीम लेकर आ रहे है। इनमें से बहुतेरे ऐसे दिग्गज शामिल है जिनके लैपटाप में पहले से ही प्रधानमंत्री की इस यात्रा का इम्बारगो तैयार है। बस केवल दिन और तारीख ही भरनी शेष है। जाहिर है ऐसे कारसाजों के पास समय की कोई कमी या खबर भेजने का कोई दबाव नही है ऐसे में सितारा होटलों में मौके को इन्जवाय करने का इससे शानदार मौका भला और क्या हो सकता है। रही स्थानीय पत्रकारों की बात तो उनसे हल्ला करने वालों को छांटबीन कर पासेज का झुनझुना थमा दिया गया है। कुछ इस अंदाज में कि ‘ऐ भोला तू लोला लेल सुखले शंख बजाव’।
जैसी की उम्मीद की जानी चाहिए वे कार्यक्रम के एक दिन पूर्व ही गलें में रजधनिया पास लगाये बांहें भांज रहे हैं। भेदभाव भरे इस गैर जिम्मेदरानां रवैये से उन पत्रकारों में गहरी नाराजगी है जो हर रोज ही प्रधानमंत्री मोदी उनकी गतिविधियों, उनकी योजनाओं, उनके कार्यालय की नियमित रिपोर्टिंग किया करते है। शुक्रवार को इसके विरोध में लामबंद पत्रकारों का एक प्रतिनिधिमंडल ने मोदी के संसदीय कार्यालय में ज्ञापन सौंपा। इस गैर बराबरी पर अपनी कड़ी आपत्ति दर्ज करायी। पत्रकारों का कहना है कि जिधर जिला सूचना कार्यालय अधिकार क्षेत्र के बाहर का रोना रोकर दोनों हाथ खड़ा कर दिये वहीं केन्द्रीय सूचना कार्यालय की भी तरह-तरह के बहानों से पत्रकारों को समझाता बुझाता और बरगलाता रहा।

दोनों प्रधानमंत्री 4 घंटे 50 मिनट वाराणसी में रहेंगे एक साथ

वाराणसी -आज वाराणसी में पीएम नरेंद्र मोदी और जापान के पीएम शिंजो अबे दिल्ली से एक विशेष एयर विमान से करीब शाम 4 बजकर 5 मिनट पर वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुचेंगे। उसके बाद दोनों देश के पीएम का एअरपोर्ट पर करीब 15 मिनट का उनका स्वागत कार्यक्रम हुआ और उसके बाद एयरपोर्ट से  4 बजकर 20 मिनट पर सड़क मार्ग से नदेसर स्थित होटल गेटवे ताज पहुंचे। तत्पचात दोनों देश पीएम होटल गेटवे ताज के नदेसर कोठी पहुचने के बाद का 5 बजकर 25 मिनट तक का समय सुरक्षित रहेगा।शाम 5 बजकर 30 मिनट पर दोनों प्रधानमंत्री होटल से सड़क मार्ग द्वारा घाट के लिए चलेंगे।
दोनों प्रधानमंत्री शाम 5 बजकर 45 मिनट पर दशाश्वमेध घाट गंगा आरती स्थल पर पहुचेंगे। शाम 6 बजकर 30 मिनट तक गंगा आरती में शामिल होने के बाद 6 बजकर 30 मिनट पर आरती स्थल घाट से होटल के लिए प्रस्थान करेंगे।होटल गेटवे ताज 6 बजकर 45 पर पहुचेंगे।दोनों प्रधानमंत्री शाम 7 बजे से लेकर 8 बजकर 5 मिनट तक होटल में आयोजित डिनर और सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होंगे।रात 8 बजकर 10 मिनट पर दोनों प्रधानमंत्री गेटवे होटल ताज के नदेसर कोठी से लाल बहादुर शास्त्री अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए स्थान करेंगे. रात 8 बजकर 55 मिनट पर दोनों प्रधानमंत्री वापस दिल्ली चले जायेंगे।
     सूत्रों के अनुसार पीएम मोदी और जापान के पीएम शिंजो अबे अभी करीब 5:05  मिनट पर होटल गेटवे पहुंचे जहाँ उनकी गर्म जोशी से स्वागत किया गया।