health

Breaking News

जौनपुर तिलक तराजू और तलावर इनको मारो जूते चार इस पर क्या बोला रवि किशन गोरखपुर 24UPNEWS.COM पर

सरकार विकास कार्यो को संपन्न कराने में लेगी कठोर निर्णय सरकार लेगी कठोर फैसले : अखिलेश यादव

 सुबाष पाण्डेय
लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव  ने स्पष्ट रूप से कहा है की हमारी सरकार जान विकास के कार्यो में कड़ाई से लेगी व विकास कार्यो के प्रति लापरवाही बरतने वाले जिम्मेदार किसो को भी बक्सा नहीं जायेगा।  प्रदेश सरकार देश के सर्वाधिक विकसित राज्य की श्रेणी में लाने को कटिबद्ध हैं। अपने सरकारी आवास पांच कालीदास मार्ग पर राज्य पोषण मिशन योजना के शुभारंभ के दौरान उन्होंने इसका संकेत भी दिया।
समारोह में अखिलेश यादव ने साफ कहा कि हमारी सरकार विकास के लिए कठोर से कठोर फैसला लेने से भी पीछे नहीं हटेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने प्रदेश से पोलियो को बाहर किया है। अब इससे बड़ी चुनौती के लिए भी हम तैयार है। पोलियो की तरह ही प्रदेश को विकास की राह पर लाने की चुनौती से भी हम निपटेंगे। उन्होंने कहा कि पोषण मिशन के तहत जरूरतमंद लोगों तक पोषण पहुंचाना हमारा मकसद है। इस मिशन से सूबे की लाख महिलाओं को जोड़ा जाएगा। कार्यक्रम में सांसद डिंपल यादव भी मौजूद थीं।

नरेन्द्र मोदी भारत को स्वच्छ भारत के रूप में देखना चाहते हैं: अशोक सिंह

भाजपा कार्यकर्ताओं ने सफाई अभियान चलाकर किया सफाई
    जौनपुर। भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत शनिवार को भारतीय जनता पार्टी नगर इकाई द्वारा भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष अशोक सिंह व सांसद डा. केपी सिंह के मोहल्ला नखास स्थित आवास से विसर्जन घाट, सद्भावना पुल एवं नखास वार्ड में सफाई अभियान चलाया गया। सफाई अभियान का शुभारम्भ अशोक कुमार सिंह ने झाड़ू लगाकर किया। इसके पश्चात् बाद भाजपा जिलाध्यक्ष हरिश्चन्द्र सिंह, पूर्व विधायक सुरेन्द्र प्रताप सिंह, सांसद प्रतिनिधि अनिल परिवर्तन, नगर अध्यक्ष राजेश श्रीवास्तव ‘बच्चा भईया’ व अन्य सभी पदाधिकारियों ने वार्ड में जगह-जगह झाड़ू लगाकर कूड़ा उठाकर जनता को सफाई के लिए प्ररित किया। कार्यक्रम संयोजक श्री सिंह ने कहा कि नरेन्द्र मोदी भारत को स्वच्छ भारत के रूप में देखना चाहते हैं, इसलिए हम सब को मिलकर सफाई अभियान में लगना होगा तभी स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत का सपना पूरा होगा। पूर्व विधायक सुरेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा कि मोदी जी ने 2 अक्टूबर (महात्मा गांधी जयंती) को पूरे देश में सफाई अभियान की शुरूआत कर संदेश दिया कि गांधी जी भी यही चाहते थे कि भारत एक स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत बने तभी देश का विकास होगा। विश्व में भारत का नाम रोशन होगा। वहीं जिलाध्यक्ष हरिश्चन्द्र सिंह ने कहा कि आज जनता को जागरूक होना पड़ेगा, उन्होंने लोगों से अपील किया कि अपने आस पड़ोस, दफ्तर आदि जगहों पर सफाई करके स्वच्छता बनाये रखें, सभी भाजपा के मण्डल अध्यक्ष मोदी जी के आह्वान पर अपने-अपने मण्डल में सफाई अभियान चलाकर स्वच्छ भारत बनाने का संकल्प लें। आज विपक्षी पार्टी के कई नेता भी सफाई अभियान में भाग लेकर अच्छा कार्य कर रहे हैं, भारत सबका है इसे साफ रखना हम सब की जिम्मेदारी है। वहीं भाजपा कार्यकर्ता सद्भावना पुल पर गन्दगी देखकर आक्रोशित हो उठे जहां पर दोने, पत्तलों, अण्डे के छिलके आदि गन्दगी का ढेर पड़ा था जो कि गोमती नदी में गिर रहा था। भाजपा नेताओं व कार्यकर्ताओं ने जिला प्रशासन, पालिका प्रशासन से सद्भावना पुल, शाही पुल पर खाद्य पदार्थों की दुकान ठेला नहीं लगाने देने की मांग की है, उसे रोककर गोमती नदी में गन्दगी होने से रोका जा सके। इस अवसर पर कमलेश नारायण मिश्र, युवा नेता सुधान्शु सिंह, मीडिया प्रभारी राजवीर दुर्गवंशी, अतुल गुप्ता, धरमपाल कन्नौजिया, संतोष आर्या, डा. विजेन्द्र नाथ सिंह, जगदीश खरवार, राम कृष्ण बिन्द, अरविन्द मिश्र, अभिषेक ब्रह्म, श्रीमती मेनका सिंह, कृष्ण कुमार यादव, आशीष श्रीवास्तव सहित आदि लोग मौजूद रहे।

गोपी घाट पर देव दीपावली के अवसर पर होगा रंगोली महोत्सव

 जौनपुर। सामाजिक एवं धार्मिक संस्था श्री संकट मोचन संगठन के तत्वावधान में देव दीपावली पर्व पर आगामी 6 नवम्बर को रंगोली महोत्सव का भव्य आयोजन सुनिश्चित किया गया है जो नगर के नखास मोहल्ला स्थित गोपी घाट (निकट शाही पुल) पर होगा। इस आशय की जानकारी देते हुये कार्यक्रम संयोजक सूरज निषाद ने बताया कि प्रातः 9 से 12 बजे तक चलने वाली रंगोली प्रतियोगिता के समापन अवसर पर गोपी घाट को 11 हजार दीपक से सजाया जायेगा। संस्थाध्यक्ष रविन्द्र निषाद ने समस्त नगरवासियों से उक्त अवसर पर अधिक से अधिक संख्या में पहुंचकर रंगोली व देव दीपावली को सफल बनाने की अपील किया है।

चकबंदी अधिकारी की शिकायत का मामला पहुंचा मुख्यमंत्री दरबार

    जौनपुर। समाजवादी चिंतक रामसरन यादव ने सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव सहित चकबंदी आयुक्त उत्तर प्रदेश को एक शिकायती पत्र प्रेषित करते हुये केराकत तहसील में नियुक्त सीओ चकबंदी पर चयनित ग्राम नरहन की चकबंदी की कार्यवाही में शिथिलता बरते जाने का आरोप लगाया है। उनके अनुसार चकबंदी अधिकारी किर्तापुर द्वितीय ने उन्हें प्रेषित पत्र के माध्यम से अवगत कराया है कि ग्राम नरहन का धारा 9 पूर्ण हो चुका है। इतना ही नहीं, धारा 9ए (2) के अधिकांश वादों का निस्तारण चकबंदी अधिकारी द्वारा किया जा रहा है। श्री यादव के अनुसार ग्राम नरहन का कार्यक्रम नियोजित बनाया गया है जिसके तहत ग्राम नरहन की धाराओं तक पूर्ण कर दिया जायेगा। उत्तर प्रदेश शासन व चकबंदी आयुक्त के आदेशों व निर्देशों का अनुपालन करने में चकबंदी अधिकारी किर्तापुर अपने आपको कितना सक्षम साबित कर पाते हैं, यह तो फिलहाल आने वाला समय ही बतायेगा।

लेखपालों के हड़ताल पर रहने से प्रभावित हो रहे हैं कार्य , आम जन परेशान

    जौनपुर। उत्तर प्रदेश  लेखपाल संघ के आह्वान पर अपनी मांगों के समर्थन में किये गये हड़ताल के चलते केराकत तहसील के दर्जन भर से अधिक गांव के कार्य प्रभावित हैं। हड़ताल के चलते जहां सभी गांव लेखपालविहीन चल रहे हैं, वहीं क्षेत्र के किसान सहित अन्य कार्यों के सिलसिले में तहसील आने वाले लोग निराश होकर वापस लौट रहे हैं। बता दें कि अतिरिक्त हल्कों का कार्य बहिष्कार जारी रखने, 8 हजार रिक्त लेखपाल पदों की भर्ती करने, अतिरिक्त हल्का कार्य का मानदेन देने की मंजूरी तक हड़ताल जारी रखने का निर्णय लिया गया है। वहीं दूसरी तरफ लेखपालों की हड़ताल के चलते आय, जाति आदि प्रमाण पत्र के साथ अन्य आवश्यक कार्यों के सिलसिले में दूर-दराज से आये लोगों को निराश होकर वापस होना पड़ रहा है। उधर स्थानीय लेखपाल संघ के अध्यक्ष बृजेश यादव, वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुन्नी लाल यादव, महामंत्री प्रभात यादव, उपमंत्री अरूण यादव सहित अन्य पदाधिकारियों का कहना है कि उनकी मांगें पूर्ण न होने तक हड़ताल जारी रहेगा।

पुलिस की उदासीनता व विपक्षी की दबंगाई से परेशान पीड़ित पहुंचा एसपी दरबार

    जौनपुर। आबादी की जमीन पर  जबर्दस्ती कब्जा करने एवं परिवार को जान से मारने की धमकी से परेशान पीडि़त ने पुलिस कप्तान  के दरबार में पहुंचकर न्याय की गुहार लगायी है। गौराबादशाहपुर थाना क्षेत्र के बमैला गांव निवासी पंचम प्रजापति के अनुसार उसके भाई प्रेमचन्द्र व माता रमराजी ने 27 नवम्बर 2007 को अपने हिस्से की आबादी सहित जमीन को बंजारेपुर गांव निवासी रेशमा के हक में  तहरीर कर दिया था लेकिन वे लिखाये गये आराजी से अधिक अंश पर निर्माण करने लगे। इस पर जब प्रार्थी ने मना किया तो वे मारपीट पर आमादा हो गये जिस पर प्रार्थी ने जिलाधिकारी, पुलिस कप्तान , उपजिलाधिकारी सदर से गुहार लगायी लेकिन आज तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। कहीं से न्याय का कोई आस न दिखने पर पीडि़त ने क्षेत्रीय लोगों की मौजूदगी में 8 फरवरी 2014 को गौराबादशाहपुर पुलिस चैकी पर समझौता किया जहां दोनों पक्ष सहमत भी हो गये लेकिन इसके बावजूद भी विपक्षी समझौते से अधिक जमीन पर निर्माण कर रहा है। ऐसे में जब प्रार्थी अपने हिस्से की जमीन पर निर्माण शुरू किया तो विपक्षी मिस्त्री, मजदूर को भगाते हुये पीडि़त को जान से मारने की धमकी देने लगा। इसकी शिकायत थानाध्यक्ष गौराबादशाहपुर से की गयी तो वह डांटकर भगा दिये। ऐसे में हताश होकर पीडि़त ने पुलिस कप्तान  के दरबार में गुहार लगाकर न्याय की फरियाद की है।

बेखौफ बदमाशो ने शिक्षक समेत दो लोगों पर ताबड़तोड़ गोलिया चलकर लहूलुहान किया

मऊ- जनपद के सरायलखंशी थाना क्षेत्र के बगली पिजङा गांव के पास स्थित जिला कारागार के समीप मेन रोड  पर  उस समय अफरातफरी मच गयी जब  बैखौफ नकाब पोश बदमाशों ने दो लोगों को दौङा दौङा कर गोली मारी ।जहां  बाइक पर सवार हो कर  जा रहे दो लोगों पर पहले से घात लगा कर रोड के किनारे  दो बाइक पर सवार  4  नकाबपोश बदमाशों ने सतेन्द्र सिंह और उनके साथ दूसरे बाइक सवार शिवमूरत दूबे  पर फायरिगं करना शुरु कर दिया। जिसमें दोनों व्यक्ति गंभीर रुप से घायल हो गये । उन्हे प्राथमिक उपचार के बाद वाराणसी रेफर कर दिया गया वही  घटना की जानकारी होते ही पुलिस हमलावरों  के  धर पकङ में जुट गई वही मामला सरकारी शिक्षक से जुड़ा होने से प्रशासन के हाथ पांव फूल ग़ये  ।
       गौरतलब हो कि 24 जूलाई को मऊ सदर जिलास्पताल के एमर्जेन्सी वार्ड  में घुस कर एक राजकुमार सिंह नामक व्यक्ति आरटीआई कार्यकर्ता को गोली मार कर घायल कर दिया गया था जब  वे  उन्हीं बदमाशो  के हमले में घायल हो कर अपना ईलाज़ करा रहे थे ।
          स्थानीय शिक्षक श्रीनिवास और उनके साथी का   कहना है कि  इसी मामले  को लेकर बदमाशों ने आज फिर एक बार इस गोली कांड को अंजाम दिया हैं । इस फायरिंग में घायल सतेन्द्र आरटीआई कार्यकर्ता के चचेरे भाई हैं और पेशे से सरकारी  शिक्षक भी हैं ए और घटना के समय ये स्कूल को जारहे थे । सम्भवतः  मुकदमें को वापस लेने का दबाव बनाने के लिए बदमाशों ने सतेन्द्र सिंह और उनके साथ दूसरे बाइक सवार शिवमूरत दूबे  को गोली मार दी । जिला अस्पताल में प्राथमिक इलाज के बाद डाक्टरों ने दोनों की हालत नाजुक  देखते  हुए उन्हें बेहतर ईलाज हेतु  वाराणसी के लिए रेफर कर दिया हैं।
        इस मामले में अपर पुलिस अधिक्षक तेज सवरूप सिंह  ने बताया की हमलावर छ की शंख्या में दो बाइक पर सवार  थे , इस  घटना के बाद जेल पुलिस चौकी के जवानों  ने उनका पीछा शुरू भी कर दिया था , फरार बदमाशो की पुलिस सरगर्मी से तलास कर रही है।