health

Breaking News

जौनपुर तिलक तराजू और तलावर इनको मारो जूते चार इस पर क्या बोला रवि किशन गोरखपुर 24UPNEWS.COM पर

दारोगा समेत छह कोरोना संक्रमित,

 


जौनपुर। बुधवार को वाराणसी से आई आरटी पीसीआर रिपोर्ट में शाहगंज रेलवे स्टेशन पर तैनात आरपीएफ के दरोगा आरएल किस्कू समेत छह लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। स्वास्थ्य विभाग की टीम संक्रमितों के संपर्क में आने वाले लोगों की तलाश में जुटी है। 

      आरपीएफ के उप निरीक्षक आरएल किस्कू की रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उन्हें होम आईसोलेशन में रखा गया है। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने आरपीएफ थाने के सभी अधिकारी, जवानों से लेकर उनके संपर्क में आए तीस लोगों का नमूना लेकर जांच के लिए भेज दिया है। इसके अलावा हुसैनाबाद गाँव निवासी जफर अब्बास, हैदरपुर निवासी अजित कुमार, ताखा पश्चिम गाँव निवासी फरजाना पत्नी शफीक, खेतासराय के मुअज्जम, जमदहां के अदनान हबीब संक्रमित पाए गए।



       चिकित्साधीक्षक डा. रफीक फारुकी ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग की टीम सभी संक्रमितों के संपर्क में आने वालों की जांच के लिए भेजी गई है।

जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कोविड-19 के संक्रमण के सम्बंध में समस्त विभागाध्यक्ष एवं कॉलेज के प्रबंधकों के साथ बैठक कलेक्ट्रट सभागार में सम्पन्न हुई

   


 जौनपुर   जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कोविड-19 के संक्रमण के सम्बंध में समस्त  विभागाध्यक्ष एवं कॉलेज के प्रबंधकों के साथ बैठक कलेक्ट्रट सभागार में सम्पन्न हुई       बैठक में  जिलाधिकारी ने कहा कि चुनाव ड्यूटी में लगने वाले  कर्मचारियों को शत - प्रतिशत टीका लग जाए। उन्होंने  सभी विभागाध्यक्षो को निर्देश दिया कि अपने-अपने कर्मचारियों को शत प्रतिशत कोरोना के ठीके का दोनों डोज  लगवाना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि यदि किसी कर्मचारी को गंभीर समस्या है तो अवगत करा दे उसकी ड्यूटी चुनाव में नही लगाई जाएगी। उन्होंने कहा कि बीएसए अपने एबीएसए से प्रमाण पत्र ले कि सभी शिक्षक एवं कर्मचारियों ने कोविड का टीका लगवा लिया है। उन्होंने कहा कि गम्भीर बीमारी से पीड़ित एवं प्रेग्नेंट महिलाओं की ड्यूटी चुनाव में कहि न लगनी चाहिए।  जिलाधिकारी ने  विभागाध्यक्षो से कहा कि जिन कर्मचारियों का दुसरी डोज लगवाये हुए 9 महीना हो गया है,वे बूस्टर डोज अवश्य लगवा ले। कोई भी व्यक्ति कोविड के टीके से छुटे न। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ लक्ष्मी को निर्देश दिया कि कोविड की टैस्टिंग बढ़ाई जाए। 

जिला क्रीड़ा अधिकारी एवं युवा कल्याण अधिकारी को निर्देश दिया कि 14 जनवरी एवं 15 जनवरी 2021 को विशेष कैंप का आयोजन कर खिलाड़ियों, पीआरडी के जवानों को वृहद रूप से कोविड-19 की वैक्सीन लगवाई जाए। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया सभी कोटेदार,ग्राम प्रधान अनिवार्य रूप कोरोना के  दोनों दोज लगवा ले। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी अनुपम शुक्ला,अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व रामप्रकाश सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे।

जनपद जौनपुर में पैरामिलिट्री और पुलिस बल द्वारा किया गया फ्लैग मार्च

 


  जौनपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय साहनी के दिशा निर्देशन में आगामी विधानसभा चुनाव को शांति एवं भयमुक्त वातावरण में  सकुशल सम्पन्न कराने के  दृष्टिगत  जनपद के समस्त क्षेत्राधिकारियों द्वारा सभी सर्किलों में व समस्त प्रभारी निरीक्षक/ थानाध्यक्ष द्वारा अपने-अपने थाना क्षेत्रों में पैरामिलिट्री व पुलिस बल के साथ फ्लैग मार्च किया गया।

निष्पक्ष और भयमुक्त मतदान कराने का दिया गया संकेत

सीएचसी मड़ियाहूं के चिकित्सक और निजी अस्पताल संचालक के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का मुकदमा पंजीकृत

-


स्वास्थ्य विभाग के आलाकमान अधिकारी की उदासीनता के चलते मड़ियाहूं में तमाम अप्रशिक्षित लोग करते हैं महिलाओं का ऑपरेशन   

  जौनपुर- जनपद के  सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मड़ियाहूं के सर्जन व निजी अस्पताल के संचालक के विरुद्ध प्रसव के दौरान ऑपरेशन करते समय प्रसूता की मौत के मामले में आज मंगलवार को गैर इरादतन हत्या का मुकदमा  कोतवाली में पंजीकृत हुआ। बता दें कि प्रसूता की मौत के बाद परिजनो ने अस्पताल के बाहर सोमवार की रात में जबरदस्त हंगामा किया था। पूरे मामले की जांच मडियाहू पुलिस कर रही हैं   

        सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार  मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के मिश्राना मोहल्ला निवासी ललिता मौर्या (28) के पति अजय कुमार मौर्य जीविकोपार्जन हेतु मुंबई प्रवास करते हैं  , उनकी पत्नी  मायके ग्राम गहलाई थाना बरसठी में रह रही थीं। गत सोमवार को दिन में प्रसव पीड़ा होने पर गांव में ही स्थित महिला चिकित्सक डा. रेनू यादव की क्लीनिक पर उसका भाई प्रसव के लिए ले गया लेकिन मामले की गंभीरता को देखते हुए डॉक्टर रेनू यादव ने महिला के आपरेशन के लिए उसे मड़ियाहूं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के पास स्थित राजन हास्पिटल ले आकर भर्ती कराई। 

            परिजन का आरोप है कि मड़ियाहूं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत चिकित्सक डा. दीप्त कुमार ने राजन हास्पिटल आकर लगभग एक बजे आपरेशन किया। इसके बाद प्रसूता को अत्यधिक रक्तस्त्राव होने लगा, जो बंद नहीं हो पाया। अधिक रक्त निकलने के कारण उसकी हालत नाजुक हो गई तो चिकित्सक के हाथ-पांव फूल गए। परिजनों को रक्त लाने के लिए जौनपुर भेज दिया। आनन-फानन परिजनों को जानकारी दिए बिना ही चिकित्सक व अस्पताल के संचालक एंबुलेंस से प्रसूता को लेकर बेहतर उपचार हेतु वाराणसी चले गए। कुछ देर बीतने के बाद फोन करने पर परिजनों को बताया कि वाराणसी के नोवा अस्पताल में लेकर जा रहे हैं। परिवार के लोग जब उस अस्पताल में पहुंचे तो चिकित्सक ने बताया कि अनंत हास्पिटल वाराणसी ले आए हैं। परिवार के लोग जब वहां पहुंचे तो एंबुलेंस में महिला का शव पड़ा था। चिकित्सक व अस्पताल संचालक मौके से गायब थे। 

          मड़ियाहूं कोतवाल शेषनाथ सिंह ने बताया कि नगर के मिश्राना मोहल्ला निवासी संजय कुमार मौर्य की तहरीर पर सीएचसी के चिकित्सक डा. दीप्त कुमार व अस्पताल संचालक डा. राज बहादुर यादव के विरुद्ध गैरइरादतन हत्या का मुकदमा पंजीकृत कर छानबीन की जा रही है। 

          प्रसूता की मौत के बाद अस्पताल का बोर्ड गायब कर कर्मचारी मौके से फरार हो गए हैं। नगर के मिश्राना मोहल्ला निवासी प्रसूता ललिता मौर्या की मौत का यह पहला मामला नहीं है। यहां आएदिन ऐसी घटनाएं होती रहती हैं। नगर में कई निजी नर्सिंग होम मरीजों के लिए खतरे जान बने हैं। अधिकांश अस्पतालों में सीएचसी के चिकित्सक न सिर्फ खुलेआम प्रैक्टिस कर रहे हैं, बल्कि उनके लोग सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के मरीजों को भी बहला-फुसलाकर इन प्राइवेट अस्पतालों में ले जाते हैं।

      यह सारा खेल विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों की जानकारी में बिंदास हो रहा है। दूसरी तरफ कई अस्पताल ऐसे हैं जहां ओटी टेक्नीशियन चिकित्सक बनकर आपरेशन कर रहे हैं।

चिकित्सक में होता है भगवान का दूसरा रूप अध्यक्ष राष्ट्रीय हिन्दू भगवा वाहिनी डॉ रमेश सिंह

 

 


जौनपुर  जौनपुर के मड़ियाहूं तहसील के अंतर्गत जोगापुर जमालपुर निवासी दिव्यांग शेषमणि गौतम की बेटी अंशी का बच्चों के बीच खेलते हुए अचानक से फिसल कर गिर जाने से पैर टूट गया आर्थिक तंगी और गरीबी से जूझ रहे दिव्यांग दंपत्ति इलाज को लेकर दर-दर भटकने लगे कहीं कोई आसरा नहीं दिख रहा था जिसकी जानकारी राष्ट्रीय हिंदू भगवा वाहिनी के पदाधिकारी उक्त गांव निवासी नारायण सिंह जी को हुई जिसकी सूचना उन्होंने तत्काल संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ रमेश सिंह को लगी जिस पर डॉ रमेश सिंह  ने पीड़ित बालिका को लेकर जौनपुर आने को कहा शाम का समय था फिर भी संगठन पदाधिकारियों के प्रयास से जनपद के प्रख्यात ज्वाइंट एवं रिप्लेसमेंट सर्जन डॉक्टर अभय प्रताप सिंह एसआरएस हॉस्पिटल मछली शहर पड़ाव जौनपुर से बातचीत होने पर डॉ रमेश सिंह संगठन पदाधिकारियों के साथ नारायण  को लेकर डॉक्टर साहब के अस्पताल पहुंचे और पीड़ित बालिका के इलाज के लिए अनुरोध किया जिस पर डॉ अभय प्रताप सिंह ने कहा कि मानवता से बढ़कर कोई धर्म नहीं है मानव सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है गरीबी जाति धर्म और मजहब देख कर नहीं आती इस बालिका का इलाज मैं पूरी तरह से निशुल्क करूंगा समय ज्यादा हो गया है दर्द से कराहती बालिका को तत्काल हॉस्पिटल में एडमिट कर इलाज शुरू कर दिया और सायं 8:00 बजे डॉक्टर साहब ने बताया की बालिका का सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया जा चुका है और अब वह पूरी तरह से स्वस्थ है घबराने की कोई बात नहीं है, आप लोग बिल्कुल चिंता न करें

उक्त संदर्भ में पत्रकार बंधुओं से बातचीत करते हुए डॉ रमेश सिंह  ने बताया कि डॉक्टर अभय प्रताप सिंह जी ने न केवल गरीब एवं पीड़ित बालिका का निशुल्क इलाज किया है बल्कि चिकित्सक समाज का सर गर्व से ऊंचा कर दिया है आज आए दिन कहीं ना कहीं चिकित्सकों के ऊपर धन उगाही का आरोप लगता रहता है परंतु जनपद जौनपुर में आज भी ऐसे बहुत से चिकित्सक हैं जो गरीब और मजबूर की सेवा कर्म की पूजा मानकर निशुल्क करते हैं जिसका जीता जागता उदाहरण डॉक्टर अभय प्रताप सिंह जी प्रस्तुत किया चिकित्सक भगवान का रूप होते हैं  कोरोना जैसी भयानक महामारी जब सारे लोग घर में दुबके हुए थे तब भी चिकित्सक एवं चिकित्सा कर्मी योद्धाओं की तरह मानव रक्षा में लगे हुए थे मैं आदरणीय डॉक्टर अभय प्रताप सिंह जी को उनके इस पवित्र सेवा भाव के लिए पूरे संगठन की तरफ से बहुत-बहुत बधाई देता हूं और उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं आशा रखता हूं यह सेवा भाव उनमें सदैव जीवंत रहेगा राष्ट्रीय हिंदू भगवा वाहिनी को श्रीमान नारायण सिंह जैसे कर्मवीर मानव सेवी संगठन पदाधिकारी पर गर्व है उक्त अवसर पर उपस्थित संगठन पदाधिकारियों का धन्यवाद देते हुए डॉक्टर साहब ने लोगों को गरीब असहाय एवं दीन दुखियों की सेवा का व्रत लेने का आवाहन किया

उक्त अवसर पर संगठन के पदाधिकारी देवेश उपाध्याय के नेतृत्व में डॉ रमेश सिंह  प्रदीप तिवारी जी सौरभ मिश्रा दीपक सिंह जी शैलेंद्र सिंह विक्रम गुप्ता  रोहित सिंह  इत्यादि उपस्थित रहे l

चुनाव आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर कांग्रेस के पूर्व विधायक नदीम जावेद के विरुद्ध मुकदमा दर्ज ,पुलिस मामले की जांच में जुटी


जौनपुर
- जौनपुर सदर विधानसभा के कांग्रेस पार्टी से विधायक रहे नदीम जावेद द्वारा खुलेआम चुनाव आदर्श आचार संहित का उल्लंघन करने पर उनके विरुद्ध शाहगंज कोतवाली पुलिस ने उनके विरुद्ध सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत किया है। आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन का सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होते  ही हरकत में आई पुलिस ने जिला निर्वाचन अधिकारी मनीष कुमार वर्मा के निर्देश पर शाहगंज कोतवाली पुलिस ने सुसंगत धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर मामले की जांच शुरू कर दी है। बता दें कि कल ही जिला निर्वाचन अधिकारी मनीष कुमार वर्मा द्वारा सभी राजनीतिक दलों की बैठक कर चुनाव निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशों का अक्षरसह पालन करने का अनुरोध किया गया था, जिसके बावजूद भी खुलेआम हूटर और सायरन का उपयोग करते हुए भारी लाव लश्कर के साथ काफिला निकालना खुलेआम जिला प्रशासन को चुनौती प्रतीत होती है, ऐसे में जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा वायरल हो रहे वीडियो का संज्ञान लेते हुए तत्काल कार्यवाही  करने पर जनपद के बुद्धिजीवीयो ने जिला प्रशासन के प्रति अपना विश्वास जताया है, यह कहते हुए सुना गया कि वर्तमान जिला निर्वाचन अधिकारी /जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा के रहते हुए निश्चित तौर पर जनपद में चुनाव निष्पक्ष और शांत पूर्ण तरीके से  से संपन्न होगा। शाहगंज कोतवाली पुलिस ने सदर विधायक रहे नदीम जावेद के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता की धारा 188 वह लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम - 1960 1961 ,1989 धारा 133 व मोटर वाहन अधिनियम 1954 की धारा-177 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर मामले की जांच शुरू कर दी है।


चुनाव आचार संहिता लगते ही जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी राजनैतिक पार्टियो के साथ बैठक


जौनपुर
-  जिला निर्वाचन अधिकारी मनीष कुमार वर्मा के द्वारा कलेक्ट्रेट सभागार में राजनीतिक दलों के सदस्यों के साथ बैठक की। बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा विस्तार से नामांकन के संबंध में राजनीतिक दलों को जानकारी प्रदान की। 


      उन्होंने बताया कि त्रुटि रहित मतदाता सूची प्रकाशित की गई है यदि किसी मतदाता का नाम छूट गया है तो अपना नाम चेक कर ले जिसे पुनः जोड़ने की कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि आयोग की मंशा है कि कोई भी मतदाता छूटे न। इस दौरान जिलाधिकारी के द्वारा सुविधा एप के बारे में विस्तार से जानकारी दी और कहा कि सुविधा ऐप के माध्यम से नामांकन करा सकते हैं।


          जिलाधिकारी ने कहा कि जनपद जौनपुर में विधानसभा सामान्य निर्वाचन-2022 को पूरी पारदर्शी, निष्पक्ष व स्वस्थ तरीके से सम्पन्न कराने के लिये प्रशासन कटिबद्ध हैं। निर्वाचन की अधिसूचना 10 फरवरी 2022 को, नाम निर्देशन हेतु अंतिम दिनांक 17 फरवरी, नाम निर्देशन की जांच हेतु दिनांक 18 फरवरी, नाम वापसी हेतु अन्तिम दिनांक 21 फरवरी, मतदान 07 मार्च 2022, मतगणना 10 मार्च 2022 एवं 12 मार्च 2022 तक वह दिनांक जिसके पूर्व निर्वाचन पूरी कर लिया जाएगा।


        विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र हेतु नामांकन कक्ष 364- बदलापुर के लिए न्यायालय उप संचालक चकबन्दी, जौनपुर कोर्ट नं. 19, 365-शाहगज के लिए न्यायालय उप जिलाधिकारी (द्वितीय) जौनपुर कोर्ट नं. 16, 366- जौनपुर न्यायालय सिटी मजिस्ट्रेट कोर्ट न. 11, 367-मल्हनी हेतु न्यायालय उप जिलाधिकारी/मजिस्ट्रेट सदर जौनपुर कोर्ट न. 12, 368 मुंगराबादशाहपुर के लिए न्यायालय उप संचालक चकबंदी जौनपुर कोर्ट नं. 20, 369-मछलीशहर (अ0जा0) न्यायालय अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) जौनपुर कोट न. 13, 370-मडियाहूँ न्यायालय सहायक आयुक्त स्टाम्प जौनपुर कोर्ट नं. 15, 371-जफराबाद न्यायालय चकबन्दी अधिकारी सदर जौनपुर कोर्ट नं.17, 372 - केराकत (अ0जा0) न्यायालय उप जिलाधिकारी प्रथम, जौनपुर कोर्ट न. 18 में होगा। 


        उन्होने कहा कि आदर्श आचार संहिता का अक्षरशः पालन कराया जाएगा। विधानसभा चुनाव के साथ ही कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत लोगों को कोरोना संक्रमण से बचाना भी हमारी प्राथमिकता रहेगी। उन्होने कहा कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार चुनाव आयोग ने 15 जनवरी 2022 तक किसी भी तरह का रोड शो, रैली, साइकिल रैली पद यात्रा आदि पर पूर्णतया रोक लगा दी है। इस दौरान किसी भी राजनैतिक दल व किसी अन्य के द्वारा किसी प्रकार का रैली, रोड शो, जनसभा नही किया जायेगा। उन्होने कहा कि 15 जनवरी 2022 के बाद कोविड-19 की स्थिति के बाद निर्णय लिया जाएगा। उन्होने कहा कि लोगों को अधिक से अधिक मतदान करने के लिए स्वीप/मतदाता जागरूकता कार्यक्रमो के माध्यम से प्रेरित किया जा रहा हैं। इसके लिए प्रत्येक विधानसभा में एक-एक आदर्श बूथ बनाया जाएगा। 


        बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी रामप्रकाश, अपर जिलाधिकारी भू-राजस्व रजनीश राय, समस्त उपजिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।