health

Breaking News

जौनपुर तिलक तराजू और तलावर इनको मारो जूते चार इस पर क्या बोला रवि किशन गोरखपुर 24UPNEWS.COM पर

डीएम की अध्यक्षता में तहसील केराकत सभागार में संपूर्ण समाधान दिवस का हुआ आयोजन

 


जौनपुर - जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में तहसील केराकत सभागार में संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया। 

            संपूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी के द्वारा शिकायतकर्ताओं की शिकायतों को सुनते हुए संबंधित अधिकारी को गुणवत्तापूर्ण निस्तारण के निर्देश दिया। इस अवसर पर कुल 136 शिकायतें प्रार्थना पत्र प्राप्त हुई जिसमें मौके पर ही 05 शिकायतों का निस्तारण किया गया।   


         

          समाधान दिवस के अवसर पर मुख्य रूप से राजस्व, भूमि विवाद, अवैध कब्जे, पुलिस एवं राशन कार्ड की शिकायते आयी जिसे सम्बंधित अधिकारियों को सौपते हुए निर्देशित किया कि 01 सप्ताह की भीतर गुणवत्तापूर्ण निस्तारण कराये और निस्तारण करने के उपरान्त शिकायतकर्ता से बात अवश्य कर ले।  


  खण्ड विकास अधिकारी केराकत के द्वारा शिकायतकतों के निस्तारण में लापरवाही बरतने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए खण्ड विकास अधिकारी को प्रतिकूल प्रविष्टि देने का निर्देश दिया। 


       इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सहकारी बैंक शाखा केराकत के द्वारा ऋण मेंला में 01 लाभार्थी को एनबीसी, एफडीसी योजना के तहत 01 लाख का चेक एवं 03 लाभार्थियों को ऋण स्वीकृति प्रमाण-पत्र वितरित किया गया।  

             ग्राम महुली पोस्ट रतनपुर केराकत की उषा देवी द्वारा जिलाधिकारी के समक्ष आवास एवं अन्त्योदय राशन कार्ड की मांग की जिस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी केराकत मज अख्तर को जांच कर कार्यवाही करने का निर्देश दिया।

               इस अवसर पर उप जिलाधिकारी, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 लक्ष्मी सिंह, पी०डी०जयकेश त्रिपाठी, जिला विकास अधिकारी बी०बी० सिंह, क्षेत्राधिकारी, जिला दिव्यांगजन अधिकारी दिव्या शुक्ला सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

थाना जफराबाद पुलिस ने चार वांछित अभियुक्तों को किया गिरफ्तार-


जौनपुर-
अजय साहनी, पुलिस उपमहानिरीक्षक/ पुलिस अधीक्षक जौनपुर द्वारा अपराध की रोकथाम एवं अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे विशेष अभियान के क्रम मे अपर पुलिस अधीक्षक नगर के दिशा निर्देशन व क्षेत्राधिकारी नगर जौनपुर के कुशल पर्यवेक्षण में थानाध्यक्ष जफराबाद श्री राजाराम द्विवेदी मय  हमराह के मु0अ0सं0 11/2023 धारा 147/148/302 भादवि  के नामजद वांछित चार अभियुक्तों को मुखबिर की सूचना पर गिरफ्तारी कर विधिक कार्यवाही की जा रही है।  

*गिरफ्तार अभियुक्त  विवरण-*

1. राजेन्द्र प्रसाद मिश्र पुत्र स्व0 नागेश्वर मिश्र निवासी मिसिरपुर थाना जफराबाद जनपद जौनपुर।

2.संदीप कुमार मिश्र पुत्र राजेन्द्र प्रसाद मिश्रा निवासी मिसिरपुर थाना जफराबाद जनपद जौनपुर। 

3. विकास मिश्र पुत्र राजेन्द्र प्रसाद मिश्र निवासी मिसिरपुर थाना जफराबाद जनपद जौनपुर।


4. सुबाष मिश्र पुत्र राजेन्द्र प्रसाद मिश्र निवासी मिसिरपुर थाना जफराबाद जनपद जौनपुर।

*गिरफ्तार अभियुक्तगणो का  आपराधिक इतिहास-* 

1.मु0अ0सं0-11/2023 धारा-147/148/302 भादवि थाना जफराबाद जौनपुर। 

2.मु0अ0सं0-10/2023 धारा-354ए/436/323/504/506भादवि व 3(2)5ए  SC/ST Act थाना जफराबाद जौनपुर। 

*गिरफ्तार करने वाली टीम-*

1.श्री राजाराम द्विवेदी, थानाध्यक्ष थाना जफराबाद जौनपुर।

2. उ0नि0 आशीष कुमार पाण्डेय, थाना जफराबाद जौनपुर।

3.हे0का0 संजय यादव, हे0का0 कमलेश सैनी, हे0का0 विपुल कुमार राय, हे0का0 राजेश सिंह थाना जफराबाद जौनपुर।

डीएम की अध्यक्षता में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक हुई संपन्न जिम्मेदारों को दिया आवश्यक दिशा निर्देश

 


जौनपुर 18 जनवरी - जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा की अध्यक्षता में विकास भवन के सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक संपन्न हुई। 

            बैठक में टीकाकरण की समीक्षा के दौरान बदलापुर, मछलीशहर, शाहगंज में टीकाकरण की प्रगति न होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए संबंधित एमओआईसी को चेतावनी जारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि  हमेशा डयू-लिस्ट अपडेट रहे। आशा एवं आगनबाडी के पास ड्यू लिस्ट रहे। जल्द से जल्द अवशेष बच्चों को शत-प्रतिशत टीकाकरण कराये। 

         


  उन्होंने निर्देश दिया कि जिन क्षेत्रों में टीका लगाने में समस्या उत्पन्न हो रही है, सभी एमओआईसी, एसडीएम बीडीओ, पूर्ति निरीक्षक भ्रमण कर टीका न लगाने वाले परिवारों को जागरूक करें। 

             जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि सभी आशा एवं एएनएम को धड़कन सुनने वाली मशीन उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने कहा कि आशा शत-प्रतिशत होम विजिट करें। विकासखंड डोभी में लो बर्थ वेट की संख्या अधिक पाए जाने पर एमओआईसी को निर्देशित किया कि ऐसे गांव को चिन्हित करें और लोगों को गर्भावस्था के दौरान दी जाने वाली पोषणयुक्त भोजन एवं दवाओं के संबंध में जागरूक किया जाए जिससे बच्चे स्वस्थ पैदा हो। 

             आयुष्मान कार्ड की समीक्षा के दौरान पाया कि पिछले महीने की अपेक्षा इस महीने में कम कार्ड बनाया गया है जिसपर निर्देशित किया कि तेजी से कार्य करते हुए लोगों के आयुष्मान कार्ड बनाए गए। एडीओ पंचायत एवं एमओआईसी मुंगराबादशाहपुर के द्वारा आयुष्मान कार्ड बनाने में अच्छा कार्य किया गया है जिन्हें प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित करने के भी निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिए। 

             जिलाधिकारी ने सभी एमओआईसी को निर्देशित किया कि प्रत्येक सीएचसी एवं पीएचसी पर आयुष्मान कार्ड के लाभार्थियों को स्वास्थ्य सुविधा दी जाए। टेली कंसलटेंसी में कार्य न करने वाले 14 चिकित्सकों को नोटिस देने के निर्देश जिलाधिकारी के द्वारा दिया गया। 

            उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर लक्ष्मी सिंह को निर्देशित किया कि सभी सीएचसी में कम से कम एक डॉक्टर अनिवार्य रूप से तैनात रहे और एनएचएम से स्वीकृत पद जल्द से जल्द भर लिया जाए। सभी सीएचसी पर डॉक्टर के बैठने के दिन एवं समय लिखवाया जाए। 

           इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी साईं तेजा सीलम, सीएमएस महिला अस्पताल सहित एमओआईसी व अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

प्रदेश शासन के विशेष सचिव आबकारी ने गोवंश को लेकर विभागीय अधिकारियों के साथ की समीक्षा बैठक जिम्मेदारों को दिया आवश्यक दिशा निर्देश

 


जौनपुर 17 जनवरी - विशेष सचिव आबकारी रविंद्र जी के द्वारा निराश्रित गो गोवंश के सम्बंध में विकास भवन के सभागार में संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की गई। 

             बैठक में विशेष सचिव के द्वारा जनपद के निराश्रित गो-आश्रय स्थलों की विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने नगरीय क्षेत्रों में गो-आश्रय स्थल कम होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देशित किया कि सभी नगर पालिका/नगर पंचायतों में 1-1 अस्थाई गो आश्रय स्थल बनवाए और उपस्थित समस्त खण्ड विकास अधिकारी को निर्देश दिए गए कि गो-आश्रय स्थल से संबंधित सभी प्रकार के अभिलेख अद्यतन रहे। 


             विशेष सचिव ने मुख्य पशुचिकित्साधिकारी को निर्देशित किया कि सभी गोवंशो की शत-प्रतिशत ईयर टैगिंग हो जाए। उन्होंने कार्यदायी संस्थाओं के प्रोजेक्ट मैनेजर को निर्देशित किया कि जितने भी निर्माणाधीन गो-आश्रय स्थल है शीघ्र पूर्ण करा कर पशुपालन विभाग को हैंड ओवर कराना सुनिश्चित करें। 


             उन्होंने कहा कि खण्ड विकास अधिकारी यह सुनिश्चित कर ले कि गो-आश्रय स्थलों को आवंटित धनराशि का स्वयं के स्तर से देख-रेख/जांच करें। पशु चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिया कि नियमित रूप से पशुओं की जांच की जाए, इलाज के अभाव में किसी की मृत्यु न होने पाए। उन्होंने समस्त नोडल पशु अधिकारी/वीडीओ/ई0ओ0 को निर्देशित करते हुए कहा कि शासन की मंशा के अनुरुप गो-आश्रय स्थल के समस्त बिन्दुओं को ध्यान रखकर निरीक्षण करें और किसी भी बिन्दु पर कमी पायी जाये तो उसका त्वरित निस्तारण करायें। 

             विशेष सचिव के द्वारा निर्देशित गया किया कि अभियान चलाकर सभी गो-आश्रय स्थल में तिरपाल लगाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए और मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी से पशुपालकों की व्यवस्था एवं उनके मानदेय के भुगतान के संबंध में जानकारी प्राप्त की। 

              इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी बी.बी., सिंह जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी आर.डी यादव, जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय सहित समस्त खंड विकास अधिकारी, पशु चिकित्सा अधिकारी सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

प्रदेश सरकार के राजस्व मंत्री ने आज विकास भवन के सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा जिम्मेदारों को दिए आवश्यक दिशा निर्देश.........


 जौनपुर- प्रदेश सरकार के राज्यमंत्री राजस्व विभाग,  अनूप प्रधान द्वारा विकास भवन सभागार में विभागीय समीक्षा बैठक किये। 

             बैठक में राज्यमंत्री द्वारा धारा 24 और धारा 34 में 05 वर्ष से अधिक पुराने वादों के संबंध में जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि पुराने वादों का निस्तारण जल्द से जल्द किया जाए। उन्होंने जनपद में प्राप्त आय, जाति, निवास से संबंधित आवेदनों की जानकारी प्राप्त की और ससमय निस्तारित करने का निर्देश भी समस्त उप जिलाधिकारियों को दिया। 


             मंत्री  द्वारा सरकारी जमीन पर कब्जा की जानकारी प्राप्त की और समस्त उपजिलाधिकारी को निर्देशित किया कि सरकारी जमीन से अवैध कब्जा हटवाया जाए। 


             मंत्री  द्वारा अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व को निर्देशित किया गया कि वरासत का अभियान चलाकर आवेदनों का निस्तारण कराया जाए। राजस्व के 05 बड़े बकायेदारों की जानकारी प्राप्त की और निर्देशित किया कि बडे बकायेदारो को नोटिस जारी करते हुए वसूली की कार्रवाई की जाए। 


             राज्यमंत्री द्वारा चकबंदी की प्रक्रिया की जानकारी प्राप्त करते हुए निर्देशित किया कि चकबंदी प्रक्रिया में जो समस्या आ रही है उसका निस्तारण कराए। 


          अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद में शासन की मंशा के अनुरुप कंबल वितरण का कार्य किया जा रहा हैं,  मंत्री द्वारा निर्देशित किया गया कि गरीबों को कंबल अवश्य मिलना चाहिए। 


             उक्त बैठक में देवी आपदा से हुई मृत्यु में उनके वारिसों को स्वीकृति चेक पत्र प्रदान किया गया जिसमें प्रदीप कुमार निवासी ग्राम चंदवक तहसील केराकत जौनपुर, हिमांशू ग्राम घघरिया, परगना घिसुआ तहसील मछलीशहर, मोनू ग्राम नेवादा बारीगांव तहसील मड़ियाहूं, पंकज कुमार ग्राम पुरुषोत्तमपुर उर्फ पांडेपुर तहसील सदर, प्रथमेश ग्राम दुर्गापुर, परगना करियातदोस्त तहसील सदर को चार-चार लाख का चेक पत्र प्रदान किया गया और 05 लाभार्थियों को अपने हाथों से कंबल वितरण किया गया। 

            इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि0रा0 राम अक्षयबर चौहान, अपर जिलाधिकारी भू0रा0 गणेश प्रसाद, अतिरिक्त उपजिलाधिकारी, समस्त उपजिलाधिकारी, जिला सूचना अधिकारी मनोकामना राय, तहसीलदार, डीडीसी चकबन्दी सहित सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

साइबर सेल, जौनपुर पुलिस टीम ने साइबर ठगी 06 व्यक्तियों के खाते में कुल रुपया 320994/- कराया वापस

 


साइबर ठगी होने पर तत्काल पुलिस के साइबर सेल हेल्प 1930 नंबर पर करें संपर्क,

जौनपुर-उपमहानिरीक्षक / वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जनपद जौनपुर द्वारा जनपद में साइबर अपराध की रोकथाम व अपराधियों की गिरफ्तारी हेतु चलाएं जा रहे अभियान के क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक नगर व साइबर क्राइम नोडल अधिकारी डा0संजय कुमार के निर्देशन व पर्यवेक्षण में  साइबर सेल पुलिस टीम द्वारा कुल  06 व्यक्तियों के खाते में तीन लाख बीस हजार नौ सौ चौरानबे रुपये की धनराशि वापस करायी गयी । 








*साइबर क्राइम से प्रभावित व्यक्तियों का विवरणः-* 

01. श्री निजामुद्दीन  थाना क्षेत्र सिंगरामऊ को साइबर ठगों द्वारा फोनकर धोखे से क्रेडिट कार्ड की डिटेल प्राप्त कर पीड़ित के कार्ड से रूपये आनलाइन निकाल लिए गये थे जिसमें आवेदक के खाते में रूपया— 80000/— वापस कराया गया ।


02. श्री रामाश्रय यादव थाना क्षेत्र चन्दवक के आधार कार्ड का प्रयोग कर एईपीएस पेमेण्ट के माध्यम से पुरा पैसा निकाल लिया गया था जिसमें आवेदक के खाते में रूपया — 61000/— वापस कराया गया।


03. श्री विमलेश यादव थाना क्षेत्र मुगराबादशाहपुर को साइबर ठगों द्वारा फोन कर धोखे से एनीडेक्स ऐप डाउनलोड कराकर आवेदक के फोन को रिमोटली कंट्रोल कर आवेदक के खाते से पैसा उडा लिया गया जिसमें साइबर सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए रूपया 60000/— वापस कराया गया।

04. श्री ब्रिजेश कुमार थाना क्षेत्र चन्दवक का आधार से पैसा निकाल लिया गया था जिसने खाते में रूपया 20000/— वापस कराया गया है।

05. श्री आलोक कुमार थाना क्षेत्र सरायख्वाजा  के खाते में रूपया 5000/— वापस कराया गया ।

06. डा0 विक्रमदेव थाना क्षेत्र सराख्वाजा के खाते से हुए फ्राड में से रूपया 94994 वापस कराया गया ।

*पैसा वापस कराने वाली  साइबर टीम-*

1.हे0का0 ओपी जायसवाल साइबर सेल जनपद जौनपुर

2.का0 संग्राम सिंह यादव, साइबर सेल जनपद जौनपुर । 

3.का0 सत्यम गुप्ता ,साइबर सेल  जौनपुर ।

*नोट* आपके साथ यदि कोई साइबर ठगी होती है तो कृपया आप 1930 पर सम्पर्क करें या पुलिस लाइन जौनपुर स्थित साइबर थाना पर सम्पर्क करें।

डीएम ने सड़क सुरक्षा के लिए महिलाओं द्वारा निकाली स्कूटी रैली को हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

 

   


जौनपुर।* सड़क सुरक्षा माह के तहत जागरूकता के लिए कलेक्ट्रेट परिसर से महिलाओं द्वारा स्कूटी रैली निकाली गई।   रैली को जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।       

             स्कूटी रैली जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा. गोरखनाथ पटेल, एआरटीओ प्रवर्तन स्मिता वर्मा के नेतृत्व मे कलेक्ट्रेट से शुरू होकर रोडवेज, जेसीज चैराहा, ओलंदगंज, सदभावना पुल चहारसू होते हुए शाही किला तक गई, जहाँ लोगों को सड़क सुरक्षा की शपथ दिलाई गई। रैली में महिलाए तखती बैनर लिए सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन करने हेतु नारे लगाती लोगों को प्रेरित व जागरूक करते चल रही थी। 

       


जिलाधिकारी ने लोगों से यातायात नियमों का पालन करने की अपील करते हुए कहा कि सड़क सुरक्षा नियमों का पालन करें, ताकि सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके। बाइक चलाते समय हेलमेट व चार पहिया वाहन चलाते समय सीट-बेल्ट का प्रयोग अवश्य करें। वाहन चलाते समय मोबाइल पर बात न करें, नशे की हालत में वाहन न चलाएं। 

         एआरटीओ प्रवर्तन स्मिता वर्मा ने कहा कि जागरूकता के साथ-साथ यातायात नियमों का पालन न करने वाले वाहन स्वामी-चालक के विरुद्ध ओवर स्पीडिग, नशे की हालत में ड्राइविग, गलत साइड ड्राइविग करना, वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग, हेलमेट व सीट बेल्ट न धारण करने वाले वाहन चालकों के विरुद्ध अभियान चलाया जा रहा है। 

विकास सिंह प्रदेश संगठन मंत्री  PSPSA टीएसआई, राजू सिंह, सैय्यद मोहम्मद मुस्तफा, अर्चना सिंह, प्रीति श्रीवास्तव, ज्योति सिंह, विजय लक्ष्मी यादव, यामिनी सिंह, ज्योति श्रीवास्तव, कुमुदिनी अस्थाना, रंजना राना, ब्रहमशील यादव, रवि यादव, शिवम सिंह सहित महिला शिक्षिकाएं सहित काफी संख्या में महिलाएं शामिल रहीं।